Powered by Blogger.

दो और दो पांच के धमाल में पहुंची सुमन !


रामप्यारी ने आजकल ताऊ टीवी का काम संभालना शुरू कर दिया है. उसी की पहल पर ब्लाग सेलेब्रीटीज से "दो और दो पांच" खेलने का यह प्रोग्राम शुरू किया गया है. दो और दो पांच में, ब्लॉग सेलिब्रिटीज  से निवेदन है कि वे सवाल के जवाब कुछ चटपटे रखें ताकि ब्लोगर साथियों का मनोरंजन भी हो , इस प्रोग्राम का मकसद  सिर्फ़  हंसना हंसाना सीखना है. प्रतिभागियों  द्वारा दिये गये जवाबों का  गंभीर या वास्तविक  अर्थ निकालने की कोशिश न करे 
और हलके फुल्के मजाक का आनंद लें !   यानि सिर्फ़ और सिर्फ़   मनोरंजन......... 
ब्लाग सेलेब्रीटीज को रूबरू पकडना बहुत ही मुश्किल होता है, नेट पर तो जब चाहे तब पकड लिजीये.....पर रामप्यारी भी कोई कम नही है.  रामप्यारी ने सबसे पहले 2 + 2 = 5 का खेल शुरू किया  सतीश सक्सेना के साथ, इसके बाद सवाल जवाब किये हरकीरत ’हीर’ ,  काजल कुमार  और संगीता स्वरूप  (गीत) , अरविंद मिश्र  ,  वंदना गुप्ता   और खुशदीप सहगल के  साथ.   और आज तो रामप्यारी  की बातों में आगई सुमन..... बस तो फ़िर क्या था....रामप्यारी उनको ले आयी सीधे ताऊ स्टूडियो में और  हो गया गेम शुरू..  फ़िलहाल आप  बिना ब्रेक  देखिये अटपटे सवालों के चटपटे जवाब... सीधे...ताऊ, रामप्यारी और रामप्यारे  की सुमन  से   दो और दो पांच.....


 ताऊ और रामप्यारी के साथ "दो और दो पांच" खेलते सुमन
(कैमरामैन - रामप्यारे)




सवाल ताऊ के जवाब सुमन के यानि 2 + 2 = 5

ताऊ : आपसे सबसे ज्यादा दुखी कौन है?
जवाब : मेरे परम मित्र

ताऊ. आपने आखिरी बार किसे रूलाया था?
जवाब : किसी को नहीं, अक्सर कोशिश यही रहती है किसीको न रुलाऊं !

ताऊ : दिन में आप कितनी बार हंस लेती हैं?
जवाब : कभी गिनती नहीं की, खुद की बेवकूफियो पर रोज हंस लेती हूँ !

ताऊ : कल रात को आपने कौन सी सब्जी खायी थी?
जवाब : खाना मै ही बनाती हूँ तो याद है गोभी की सब्जी !

ताऊ : आपकी किस आदत से आपके पति ज्यादा परेशान रहते है?
जवाब : हमेशा पुस्तकों में खोई हुई रहने की आदत से !

ताऊ. : कौन सा ट्रेफ़िक रुल आप सबसे ज्यादा तोडती हैं?
जवाब : मुझे गाडी कहाँ चलानी आती है ? लेकिन जीवन की गाडी अपने रूल्स से चलाती हूँ सभी परंपरावादी ट्रेफ़िक रूल्स तोड़ते हुए !

ताऊ. : अगले जन्म मे आप क्या बनना चाहेंगी?
जवाब :पहले आप सुनिश्चित करे कि, अगला जन्म होगा भी?

ताऊ : एक चुटकला सुनाइये.
जवाब : शाम हो रही थी, परन्तु पत्नी शापिंग समाप्त करने का नाम नहीं ले रही थी ! 
पति बिल अदा करते -करते थक कर चूर हो गए थे !
पति का ध्यान बंटाने के लिए पत्नी ने कहा … "देखो खिड़की से चांद कितना सुन्दर लग रहा है "!
पति एकदम भड़क कर बोले "अब इसे खरीदने के लिए मेरे पास बिलकुल पैसे नहीं है "!

ताऊ : साढे अढाई और साढे एक कितने होते हैं?
जवाब : हो सकता है चार, पर श्योर नहीं हूँ गणित में फेल हूँ !

ताऊ : सासू मां से आखिरी बार डांट कब खायी थी?
जवाब :मेरी सासू मां बड़ी प्यारी थी मुझे कभी डांट नहीं खिलाई ! लेकिन मैं आज भी मन ही मन उन्हें प्यार से डांटती हूँ यह कह कर कि, "आप अपनी अमानत मुझे सौंप गई हो कितना मुश्किल है सासु माँ आपकी इस अमानत को संभालना "!

ताऊ : कौन से कलर के सैंडिल फ़ोकट मे भी नही पहनना चाहेंगी?
जवाब :लाल कलर हाई हिल्स के !

ताऊ : कौन सा परफ़्य़ुम आपको ज्यादा अच्छा लगता है?
जवाब : कोई एक ब्रैंड नहीं है लेकिन खुशबु भीनी-भीनी होनी चाहिए !

ताऊ : खुद अपने आप की एक खराब आदत कौन सी है?
जवाब : कुछ ज्यादा विनम्र होना

ताऊ : अपने मुंह मियामिठ्ठू बनिये
जवाब : मै भोजन बहुत बढ़िया बनाती हूँ !

ताऊ : ऐसा ब्लागर जिससे आपको जलन होती हो और क्यों?
जवाब :जलन मुझे किसी से नहीं होती हर एक से कुछ न कुछ सीखती हूँ !

ताऊ : ऐसा गाना, जिसकी हीरोईन आप अपने आपको समझने लगती हों?
जवाब : नहीं, मैने खुद को कभी इस लायक नहीं समझा है !

ताऊ : वे हसरतें जो अधूरी रह गयीं?
जवाब –ईश्वर की कृपा से सभी पूरी हुई है !

ताऊ : आपको एक दिन के लिये छोटी बच्ची बना दें तो क्या करना चाहेंगी?
जवाब - तितलियों के पीछे भागुंगी फिर से !

ताऊ : सबसे बढ़िया बीता समय कौन सा था?
जवाब – सबसे बढ़िया समय वो था जब हम पुराने शहर में रहा करते थे और अपने बाईक पर यहाँ नए शहर में सेकण्ड शो फिल्म देखने के लिए आते थे !

ताऊ : सबसे घटिया समय?
जवाब – जब मेरे बेटे का अक्सिडेंट हुआ था !

ताऊ : दुश्मन को कोई संदेश देना चाहेंगी?
जवाब –दुश्मन और मेरा ? कोई हो नहीं सकता सभी मुझसे प्यार करते है !

ताऊ – दोस्त के लिये कोई संदेश?
जवाब – प्रशंसा के प्रति अपने कान बंद कर के रहना तथ्यपरक आलोचना के प्रति अपने कान खुले रखना !

ताऊ : अपने जीवन साथी से कुछ कहना चाहेंगी जो आप कभी रूबरू ना कह सकी हों?
जवाब : "यह घर है जनाब,  बहस करने की   आपकी अदालत नहीं है"

ताऊ : ऐसा एक शब्द जिससे आप चिढ आती हो?
जवाब : नेता

ताऊ : पसंदीदा अभिनेत्री?
जवाब : रेखा जी

ताऊ : पसंदीदा ब्लागर?
जवाब : कोई एक नहीं लंबी लिस्ट है सभी पसंदीदा है जिनको मै पढ़ती हूँ !

ताऊ : फ़ेवरिट गायक
जवाब : आशा जी

ताऊ: पसंदीदा लेखक
जवाब : ओशो

ताऊ : ब्लागर ताऊ की इमेज आपके दिमाग में क्या है?
जवाब : एक अनजान ब्लोगर मित्र जिनकी लेखन शैली इतनी बढ़िया है तो उनका व्यक्तित्व कितना बढ़िया होंगा ?

ताऊ : ब्लागर्स के लिये कोई मेसेज देना चाहेंगे?
जवाब – "सुन्दर है" टिप्पणी कम प्रशंसा लगती है पोस्ट से रिलेटेड टिप्पणियाँ करने में कभी कंजूसी मत करना !

ताऊ : आपकी पसंद के 10 टाप ब्लाग्स बिना किसी वरीयता क्रम के?

जवाब – सभी टॉप मोस्ट ब्लॉग है नाम किसीका नहीं ले रही हूँ लेकिन "स्वास्थ्य" ब्लॉग का नाम लिए बिना नहीं रह सकती ! मेडिकेशन और मेडिटेशन दोनों का हमारे जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है और यह दोनों इस ब्लॉग पर निरपेक्ष रूप से उपलब्ध करा कर महत्वपूर्ण काम कर रहे है मेरे छोटे भाई जैसे ब्लोगर कुमार राधा रमण जी !

ताऊ : बच्चे परेशान करें तो उन्हें मारेंगी या समझायेंगी?
जवाब - पहले समझाउंगी अगर न समझे तो एक झापड़ लगाउंगी वैसे छोटे बच्चों से ज्यादा परेशान बड़े बच्चे करते है !

ताऊ : तो धन्यवाद सुमन  जी ..अब फ़टाफ़ट राऊंड के लिये तैयार हो जाईये. रामप्यारी तैयार है अपने सवाल दागने के लिये..... ठीक है?
सुमन  : ठीक है ताऊ . मैं तैयार हूं.

अब रामप्यारी का फ़टाफ़ट राऊंड शुरु होता है.

रामप्यारी का फ़टाफ़ट राऊंड सुमन के साथ

रामप्यारी : हां तो ...... आंटी...आप तैयार हैं फ़टाफ़ट खेलने के लिये? तो बताईये कि आपको क्या पसंद है? – मूंछ वाला या क्लीन शेव्ड?

जवाब : क्लीन शेव्ड !

रामप्यारी - हिल स्टेशन या समुद्र तट?
जवाब : समुद्र तट

रामप्यारी - ट्रेन का सफ़र, बस का सफ़र या हवाईजहाज का?
जवाब : ट्रेन का सफर !

रामप्यारी - पुस्तक पढना या फ़िल्म देखना?
जवाब :पुस्तक पढ़ना !

रामप्यारी - सलमान खान या आमिर खान?
जवाब :आमिर खान !

रामप्यारी - कैटरीना कैफ़ या करीना कपूर?
जवाब : करीना कपूर !

रामप्यारी - कारों में हैचबैक या सेडोन?
जवाब : दोनों अपने बस की नहीं !

रामप्यारी – साडी या आधुनिक लिबास?
जवाब : सलवार सूट, साड़ी दोनों अच्छी लगती है !

रामप्यारी - मिरिंडा, पेप्सी या रूहफ़्जा?
 जवाब : पेप्सी

रामप्यारी - गांव या शहर
जवाब : शहर

रामप्यारी - लैंड लाईन या मोबाईल
जवाब : मोबाईल

रामप्यारी - स्प्लिट एसी या विंडो एसी
जवाब :स्प्लिट एसी

रामप्यारी - लेप टोप या डेस्कटोप
जवाब :डेस्कटोप पर काम करना ही आसान लगता है !

रामप्यारी - ब्लेक व्हाईट फ़ोटो या कलर फ़ोटो
जवाब : ब्लेक व्हाईट फ़ोटो

रामप्यारी - ज्वाईंट फ़मिली या न्युक्लियर्फ़ेमिली?
जवाब : ज्वाईंट फ़मिली में चार साल रहने के बाद यही निष्कर्ष निकाला कि चौबीस घंटे का कोलाहल है जिसमे मेरी पहचान खो सी गई है, इसलिए न्युक्लियर्फ़ेमिली !

रामप्यारी - कांच की चूडियां या मेटल की?
जवाब : साड़ी पर मैचिंग करती कांच की चूड़ियां सूट पर मेटल की !

रामप्यारी - शिफ़ोन की साडी या काटन की?
जवाब : घर में शिफ़ोन बाहर काटन की !

रामप्यारी - चश्मा या कांटेक्ट लैंस?
जवाब : चश्मा

रामप्यारी - नौकरी या बिजनैस?
जवाब :बिजनैस

रामप्यारी - प्यार शादी के पहले या बाद?
जवाब :पहले प्यार फिर शादी

रामप्यारी - ताऊ की बकबक? या रामप्यारी की चकचक?
जवाब :बकबक,चकचक दोनों

रामप्यारी - धन्यवाद सुमन आंटी...अब मैं आपको लिये चलती हूं रामप्यारे के पास हां या ना राऊंड के कुछ सवालों के लिये.....
सुमन - ठीक है रामप्यारी...अब तू कहती है तो उसके सवालों का जवाब भी दे देती हूं.

हां या ना राऊंड विद रामप्यारे

रामप्यारे - नमस्कार सुमन जी, कैसी हैं आप?
सुमन - मैं ठीक हूं रामप्यारे...तुम्हारे क्या हाल हैं? 

रामप्यारे - सुमन जी...मेरे हाल खराब हैं, यहां ताऊ टीवी में कैमरे के पीछे काम करते करते थक गया हूं, अब रामप्यारी को देखिये, जरा सी है पर सारी दुनियां जानती है उसको, आपसे अनुरोध है कि मेरे सवालों के बढिया से जवाब दिजीयेगा...जिससे मैं भी पापुलर हो जाऊं...
सुमन - जरूर रामप्यारे जरूर...सवाल शुरू करो....

सवाल -  सपने  में कोई हीरो दिखा?
जवाब - कम से कम इस सपने पर तो हमारा अधिकार होना चाहिए की नहीं ?

सवाल - ये बताईये कि  कभी भूत से सामना हुआ?
जवाब - नहीं, भूतों पर मुझे विश्वास नहीं इसलिए मेरे सामने आने से वो डरते होंगे?

सवाल -  प्यार से पति को क्या कह कर बुलाती है ?
जवाब -" अहो " मराठी में प्यार से यही कहा जाता  है :)

सवाल - पति से सबसे अधिक झगडा कब हुआ  )
जवाब - जब तक द्वैत है... झगडे है.... कम अधिक की क्या बात करनी :) रामप्यारे इसका जवाब तुझे शादी करने के बाद मिल जायेगा.....

सवाल -  शीशे के सामने अपने से  क्या सवाल करती हैं?
जवाब - शीशे में प्रतिबिंबित चेहरा मुझे देख रहा है या मै उसे देख रही हूँ ?

सवाल - राह चलते कभी  किसी शोहदे ने बदतमीजी की?
जवाब - नहीं.

सवाल - सपने में कभी भगवान दिखे?
जवाब -सपने में क्यों ? वो तो मेरे  घर में ही रहते हैं, तुझे मिलवाऊं?

सवाल - क्या किसी शोप ओपेरा (टीवी सीरियलों) की नियमित दर्शक हैं तो  क्या उससे प्रभावित होती हैं?
जवाब -नहीं बिलकुल नहीं,  मुझे सीरियल देखना  समय बर्बाद करना लगता है !

सवाल - तो फ़िर ताऊ टीवी इतना पापुलर क्यों है?
जवाब - सोप ओपेरा और हास्य में फ़र्क है कि नही रामप्यारे?

सवाल -  कोई  ऐसी घटना जिसका आपको आज भी  दर्द हो?
जवाब - मत पूछो  दर्द होता है !

सवाल - घर में सुरक्षा के लिये बेलन को उपयोगी मानती हैं?
जवाब - बेलन के साथ बर्तन भी उपयोगी मानती हूँ ! रामप्यारे, मेरी सलाह मान और शादी करके तो देख, इन सवालों के जवाब तुझे बिना मांगे ही मिल जायेंगे.:)


सवाल - साक्षात भगवान आकर आपसे कोई एक वरदान मांगने को पूछें तो क्या मांगेगी?
जवाब -अगर मांगूंगी तो कुछ कम ही मांगूंगी,  मांगने की मेरी औकात कहाँ ? इसलिए जो भी देना हो तू ही देना प्रभु !

सवाल - सबसे ज्यादा खुशी कब मिलती है?
जवाब - जब अनायास कोई कविता की, गीत की पंक्तियाँ ह्रदय से झर जाती है !

रामप्यारे -  तो धन्यवाद सुमन जी आपके सटीक जवाबों के लिये...
सुमन - आभार रामप्यारे...पर तू शादी कब कर रहा है? और देख... अपनी शादी का निमंत्रण देना मत भूलना....

रामप्यारे - सुमन जी....शादी  करनी या नही करनी यह  तो मैं अपने दोस्त मक्खन और मक्खनी भाभी से सलाह के बाद ही करूंगा

सुमन - रामप्यारे...तूने स्लाग ओवर तो पढा ही होगा कि जब मक्खन ने  मक्खनी से शादी कर ही ली  तो समझ ले कोई भी शादीशुदा आदमी, नक कटों के गांव की तरह कभी सही सलाह दे ही नही सकता...मेरी मान ये दिल्ली के लड्डू हैं...इन्हें खा ही डाल...यूं भी तू ऊंट के जितना तो बडा हो ही गया है.....

रामप्यारे अपने बडे बडे दांत निपोरते हुये सोचने लगा कि  मैने इंटर्व्यू लेने की कोशीश की थी पर सुमन जी मुझे उल्टा ज्ञान दे गयी.....अच्छा है मैं कैमरे के पीछे ही रहूं..या मक्खन से सलाह करके कोई फ़ैसला करूं?

तो दोस्तों यह थी ताऊ,  रामप्यारी और रामप्यारे  के साथ  सुमन  की दो और दो पांच.... जिसमे सुमन जी ने रामप्यारे को नई उलझन में डाल दिया.... 

अगली बार  हम किसी और ब्लाग सेलेब्रीटी के साथ खेलेंगे दो और दो पांच....तब तक मस्त रहिये.

43 comments:

  1. सुमन जी के स्वभाव के अनुसार ही सात्विक साक्षात्कार...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  2. अब समझ आया कि अहो भाग्य क्यों कहते हैं...


    जय हिंद...

    ReplyDelete
  3. मक्खनी तो मक्खन को ए जी कह कर बुलाती है...एक दिन बहुत पूछने पर उसने मतलब भी समझाया...ए का मतलब तो ए ही...लेकिन जी गधे का शार्ट फॉर्म है...अब पति लोग बताएं, किन्हें किन्हें उन्हे घर में ए जी बुलाया जाता है...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. खुशदीप जी, आज समझ आया कि ताई हमें लठ्ठ मारते हुये एजी क्यों बुलाती है? हम इसे अपनी इज्जत समझकर चुपचाप पिट लेते हैं पर यहां तो माजरा उल्टा ही लग रहा है?

      रामराम

      Delete
    2. सतीश जी, "मुझे तो नही" से आपका क्या आशय है? भाभीजी आपको "ए जी" नही कहती या पीटती नही हैं?

      यारों की महफ़िल में गोलमाल बात करना ठीक नही है.:) स्पष्ट बताईये.

      रामराम.

      Delete
  4. मक्खन की सलाह पर राम प्यारे ने शादी के लिए विज्ञापन दिया...पत्नी चाहिए...100 से ज़्यादा जवाब आए...हमारी ले जा...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. रामप्यारे आता ही होगा, अभी डाक्टर दराल का इंटर्व्यू शूट कर रहा है.

      रामराम.

      Delete
    2. हम इतनी जल्दी नहीं छोड़ने वाले इन्हें।

      Delete
  5. बहुत बढ़िया , सादगी भरे जबाब दिए सुमन जी ने !

    ReplyDelete
  6. बहुत सुन्दर जबाब दिए हैं सुमनजी नें !!
    राम राम !!

    ReplyDelete
  7. खूब ..... अच्छा लगा सुमनजी से मिलकर :)

    ReplyDelete
  8. सादगीपूर्ण सुन्दर जबाब दिया सुमन जी ने,,,,

    RECENT POST : तस्वीर नही बदली

    ReplyDelete
  9. लोगों को, मूंछ वाले क्यों पसंद नहीं आते ??
    पहले हीर और अब सुमन ..

    ReplyDelete
    Replies
    1. वो इसलिए सतीश जी कि, महिलाये जरा फ्याशन के हिसाब से
      चलती है, मुछों का फ्याशन इन दिनों जरा आउट डेटेड हो गया है :)

      Delete
    2. सतीश जी, अब इन वड्डी वड्डी मुंछों के बारे में क्या ख्याल है?

      रामराम.

      Delete
    3. किसी बुरे ख्याल में मत डालिए ताऊ,
      सतीश जी को सूट करती है मूछे :)

      Delete
    4. बुरे ख्याल में नही डाल रहे हैं, हम तो मित्रता के नाते उन्हें सिर्फ़ चेता रहे थे.:)

      रामराम.

      Delete
    5. सुमन जी से सहमत, सतीश जी की पर्सनेल्टी का पार्ट एंड पार्सल हैं मूछें...

      एक किस्सा याद आ गया...लेकिन ये सतीश जी पर नहीं हरियाणवी ताऊ पर है...

      एक बार एक ताऊ साइकिल पर हवा हवाई हुआ जा रहा था...ताऊ से ब्रेक लगा नहीं और साइकिल एक बुढ़िया काकी से जा टकराई...अब काकी ने ताऊ की खबर लेनी शुरू की...तेरिया इतनी व़ड्डी वड्डी मूंछा, तैणे शर्म ना आवे से, ब्रेक ना मार सके से...इस पर ताऊ ने कहा...माई, एक बात बता, मेरिया मूछां में के ब्रेक लाग रे से...

      जय हिंद...

      Delete
    6. खुशदीप जी, हमने काकी से क्या गलत पूछा था?:)

      रामराम.

      Delete
    7. हा हा हा. मजा आ गया बढ़िया चुटकुला सुनाया
      आभार खुशदीप भाई, पोस्ट को मजेदार बनाया है !

      Delete
  10. @ आप अपनी अमानत मुझे सौंप गई हो कितना मुश्किल है सासु माँ आपकी इस अमानत को संभालना

    यह तो सभी अपनी सास या ससुर से कहते होंगे ..

    ReplyDelete
  11. @ लेकिन जीवन की गाडी अपने रूल्स से चलाती हूँ सभी परंपरावादी ट्रेफ़िक रूल्स तोड़ते हुए !

    यह आपके व्यक्तित्व में सबसे अधिक पसंद आया सुमन जी ,

    संस्कार और परम्पराओं में, समय समय पर "विद्वानो" द्वारा सुविधानुसार बदलाव किया जाता रहा है, नतीजा उनसे पीछा छुड़ाना अधिक बेहतर है हालांकि परिवारों में से इन्हें पूरी तौर पर हटाना आसान नहीं !

    ReplyDelete
  12. बहुत सुन्दर जबाब..बहुत खूब .....

    ReplyDelete
  13. बहुत ही सुन्दर जवाब और सवाल पैना पन लिए

    ReplyDelete
  14. जीवन की गाडी के ट्रैफिक रुल अपने हो तो कहना ही क्या !
    रामप्यारे की शादी लगभग तय ही कर दी सुमन जी ने.
    रोचक साक्षात्कार !

    ReplyDelete
  15. अच्छा साक्षात्कार दिया सुमन जी ने.

    ReplyDelete
  16. ब्लॉगरों के अन्य पक्ष जानकर भी आनन्द आ रहा है।

    ReplyDelete
  17. आ हा हा हा ....ताऊ जी...ताऊ जी कई दिन से आपके अगले पोस्ट का इंतज़ार था ...मजा अयियो..आहा हा हा ...सुमन जी का मस्त जबाब सुनकर...और मेरे मन का जबाब उन्होंने दिया की लाल और उची हिल तो फ़ोकट में भी ना पहनू....
    चुटकुले भी मजेदार ...
    बहुत बढियां पहल है आपका..अपने ब्लॉग के जरिये दूसरों को इतनी खुशियाँ देने के लिए दिल से आभार ताऊ जी ..
    अगले की इंतजारी में ....

    ReplyDelete
  18. बढ़िया रहा सुमन जी का साक्षात्कार.
    रामप्यारे से येही निवेदन है कि कैमरे के पीछे जाने का मन है तो जाओ लेकिन अपने सवाल भी पूछना जारी रखो.
    मज़ेदार सवाल-जवाब होते हैं आप के स्तम्भ में भी.

    ReplyDelete
  19. @ लेकिन जीवन की गाडी अपने रूल्स से चलाती हूँ सभी परंपरावादी ट्रेफ़िक रूल्स तोड़ते हुए !
    बहुत शानदार जवाब सुमन जी !
    रामप्यारे को सलाह लोगो को दूसरो की खुशियों से जलन होती है , संभल के रहना ;)

    ReplyDelete
  20. ताऊ टीवी का उनकी टीम मेम्बर्स का बहुत बहुत आभार, मुझे सेलेब्रिटी बना दिया, और आभार उन सभी ब्लॉगर मित्रों का जिन्होंने मेरे लिए टिप्पणियाँ करने में अपना कीमती समय निकाला है, मै तो रामप्यारे को सास बहु वाले सीरियल न देखने की बात कर रही थी, लेकिन इस प्रकार के आयोजन रोज ही अगर ताऊ टीवी करता हो तो कौन देखना पसंद नहीं करेगा :) ??
    बहुत बहुत आभार … !

    ReplyDelete
  21. सुमन जी के साक्षात्कार से उनका व्यक्तित्व परिलक्षित हो रहा है ... बहुत सुंदर ।

    ReplyDelete
  22. सुन्दर है जी दो और दो पांच।

    ReplyDelete
  23. badiya aur majedar raha sakshatkar ...suman ji ke saral vyaktitv ki jankari mili..

    ReplyDelete
  24. बहुत बढ़िया लगी यह मुलाकात!

    ReplyDelete
  25. चुटकुला मजेदार है :-)
    फटाफट चल रहा है इंटरव्यू :-)

    ReplyDelete