Powered by Blogger.

रोमांचक खेल "दो और दो पांच" में वंदना गुप्ता

रामप्यारी ने आजकल ताऊ टीवी का काम संभालना शुरू कर दिया है. उसी की पहल पर ब्लाग सेलेब्रीटीज से "दो और दो पांच" खेलने का यह प्रोग्राम शुरू किया गया है. दो और दो पांच में, ब्लॉग सेलिब्रिटीज  से निवेदन है कि वे सवाल के जवाब कुछ चटपटे रखें ताकि ब्लोगर साथियों का मनोरंजन भी हो , इस प्रोग्राम का मकसद  सिर्फ़  हंसना हंसाना सीखना है. प्रतिभागियों  द्वारा दिये गये जवाबों का  गंभीर या वास्तविक  अर्थ निकालने की कोशिश न करे और हलके फुल्के मजाक का आनंद लें !   इस एपिसोड में  रामप्यारे का  "हां या ना " कालम जोडा गया है सिर्फ़   मनोरंजन के लिये, 

ब्लाग सेलेब्रीटीज को रूबरू पकडना बहुत ही मुश्किल होता है, नेट पर तो जब चाहे तब पकड लिजीये.....पर रामप्यारी भी कोई कम नही है.  रामप्यारी अब तक  2 + 2 = 5 के  खेल में शामिल कर चुकी है  सतीश सक्सेना ,  हरकीरत ’हीर’ ,  काजल कुमार ,   संगीता स्वरूप  (गीत) और दबंग हीरो अरविंद मिश्र. को.   और आज तो रामप्यारी  वंदना गुप्ता के साथ ही दाखिल हुई स्टूडियो में..........बस तो फ़िर क्या था....हो गया गेम शुरू..  फ़िलहाल आप  बिना ब्रेक देखिये अटपटे सवालों के चटपटे जवाब... सीधे...ताऊ,  रामप्यारी और रामप्यारे की वंदना गुप्ता से "दो और दो पांच"......आईये जोरदार तालियों से स्वागत कीजिये......


ताऊ और रामप्यारी के साथ "दो और दो पांच खेलते" वंदना गुप्ता 
 (कैमरामैन - रामप्यारे)


सवाल ताऊ के जवाब वंदना गुप्ता के यानि 2 + 2 = 5


ताऊ : सबसे ज्यादा दुखी कौन है?
जवाब : ताऊ

ताऊ: आप आखिरी बार कब रोई थी?
जवाब : जब पैदा हुयी थी. :)

ताऊ : पैदा होते समय रोना आपको सच मे याद है या सुनी सुनाई बात कह रही हैं?
जवाब : मुझे तो पिछला जन्म भी याद है..कहो तो तुम्हारे पिछले जन्म की पोल भी खोल दूं ताऊ?

ताऊ : कल रात आपने कौन सी सब्जी खायी थी?
जवाब : जो आज तक दुनिया में बनी ही नहीं.:)

ताऊ : आपकी किस आदत से आपके पति ज्यादा परेशान है?
जवाब : सारा दिन की ब्लोगिंग से.:)

ताऊ. : कौन सा ट्रेफ़िक रुल आप सबसे ज्यादा तोडती हैं?
जवाब : यहाँ तो ट्रैफ़िक ही नहीं है तो रुल कहाँ से तोडें?

ताऊ. : अगले जन्म मे आप क्या बनना चाहेंगी?
जवाब : ताऊ की टीम मैम्बर ………फ़ुल टू मस्ती रामप्यारे और रामप्यारी के साथ

ताऊ : एक चुटकला सुनाइये.
जवाब : सबसे मुश्किल काम यही है

ताऊ : सवा छ: और पोने दस कितने होते हैं?
जवाब : बस सरदारों के बारह नहीं होते.:)

ताऊ : सास से आखिरी बार डांट कब खायी थी?
जवाब : साँस आये तो ना,  यहाँ तो साँस आती ही नहीं फिर भी ज़िन्दा हैं हम

ताऊ : कौन से कलर के सैंडल फ़ोकट मे भी नही पहनना चाहेंगी?
जवाब : जो रंग आज तक बना ही नहीं

ताऊ : लिपस्टिक का कौन सा कलर आपको आकर्षित करता है?
जवाब :  नेताओं के खून वाली या फिर काली जिसे देख हर किसी को लगे साक्षात् काली माई ही प्रगट हो गयी है बच के रहना कोई गलती से छेड़ न देना वर्ना अपने हश्र को खुद तैयार रहना

ताऊ : खुद आप की एक खराब आदत कौन सी है?
जवाब : अपनी बुराई आप कैसे करूँ ?

ताऊ : अपने मुंह मियामिठ्ठू बनिये
जवाब : हमसे अच्छा कौन है.:)

ताऊ : .ऐसा ब्लागर जिससे आपको जलन होती हो और क्यों?
जवाब : सबसे ही होती है सब आगे भाग रहे हैं और हम पीछे की तरफ़ दौड लगा रहे हैं.

ताऊ : ऐसा कोई गीत, जिसकी हीरोईन आप अपने आपको समझने लगती हों?
जवाब : आज तक जितने गीत बने या गाये गये हैं हर गीत की हिरोइन मैं ही तो हूँ.

ताऊ : ऐसा एक शब्द जिससे आपको  चिढ आ जाती हो ?
जवाब : चिढ

ताऊ : पसंदीदा फ़िल्म अभिनेता और अभिनेत्री?
जवाब : कोई नहीं

ताऊ : पसंदीदा ब्लागर?
जवाब : सिर्फ़ मैं अब अपने से ज्यादा पसंदीदा भी क्या कोई हो सकता है ताऊ ………? प्रश्न तो सोच कर करना चाहिये था ना.:)

ताऊ : फ़ेवरिट गायक ?
जवाब : जो या तो होठों पर मुस्कान ला दे या आँख में आँसू

ताऊ: पसंदीदा लेखक
जवाब : जिसके लेखन में खुद की तस्वीर देख लूँ बस वो ही

ताऊ : ब्लागर ताऊ की इमेज आपके दिमाग में क्या है?
जवाब : ब्लोगर ताऊ, लठैत ताऊ, सम्माननीय ताऊ, आग लगाऊ ताऊ , झगडा करवाउ ताऊ , निर्देशक बनता ताऊ , रौब गाँठता ताऊ , हंसमुख ताऊ , ताई से पिटता ताऊ , गधा सम्मेलन कराता ताऊ ………असल में तो आल इन वन ताऊ.:)

ताऊ - चलते चलते ब्लागर्स के लिये कोई मेसेज देना चाहेंगी?
जवाब : बिलकुल ताऊ मेसेज देना तो  बहुत जरूरी है। ब्लोगिंग करो , सब की ऐसी तैसी करो और जब अपना नंबर आये तो बुक्का फाड़ के रोने लगो......

ताऊ : इसके अलावा भी मेसेज में कुछ कहना चाहेंगी?
जवाब : अभी बात पूरी कहां हुई है ताऊ? अभी तो सुनते जाईये...हां तो मैं क्या कह रही थी?....

ताऊ : अब ये तो आप ही जानो....
जवाब : हां तो मैं ब्लागर्स को मेसेज दे रही थी....बुक्का फ़ाडकर रोने के बाद..... टंकी आरोहण करो और जब सब मनाने लगें.....  वाद विवाद इतना बढ़ जाए की दो गुट बन जाएँ तो दबे पाँव किनारा कर लो और कह दो मैंने तो ऐसा कुछ किया ही नहीं था और तब भी कोई न माने तो ताऊ और रामप्यारी को बुला लो.... सारा झूठ का सफ़ेद कर देंगे..... और जो ना माने तो ताऊ के डंडे को तेल पिलाकर तैयार रखो जब भी पड़ेगा बे आवाज़ ही पड़ेगा और दबा कर पड़ेगा। ……तो ब्लोगर हो जाओ तैयार ताऊ स्टाइल की ब्लोगिंग के लिए

ताऊ : तो धन्यवाद  वंदना जी ..अब फ़टाफ़ट राऊंड के लिये तैयार हो जाईये. रामप्यारी तैयार है अपने सवाल दागने के लिये..... ठीक है?

 अब रामप्यारी का फ़टाफ़ट राऊंड शुरु होता है. 


रामप्यारी : हां तो वंदना आंटी...आप तैयार हैं फ़टाफ़ट खेलने के लिये?
वंदना गुप्ता - अरे रामप्यारी एक मिनट...कितनी गर्मी हो रही है तुम्हारे स्टूडियो में? आज एसी नही चल रहा क्या?......जरा सांस तो लेने दे.......हां अब बोल...


रामप्यारी का फ़टाफ़ट वंदना गुप्ता  के साथ 

रामप्यारी : हां तो वंदना  आंटी...आप तैयार हैं फ़टाफ़ट खेलने के लिये? तो बताईये कि आपको क्या पसंद है? – क्लीन शेव्ड या मूंछ वाला?
जवाब : दोनो में से कोई नहीं रामप्यारी... नई जाति पैदा करो.

रामप्यारी - हिल स्टेशन या समुद्र तट?
जवाब : हिल स्टेशन चलो मेरे साथ दौड लगायेंगे दोनो

रामप्यारी - ट्रेन का सफ़र, बस का सफ़र या हवाईजहाज का?
जवाब : ट्रेन तक की ही औकात है अभी तो

रामप्यारी - पुस्तक पढना या फ़िल्म देखना?
जवाब : जो मज़ा पुस्तक में है वो फ़िल्म में कहाँ

रामप्यारी - सलमान खान या आमिर खान?
जवाब : आमिर

रामप्यारी - कैटरीना कैफ़ या करीना कपूर?
जवाब : करीना

रामप्यारी - कारों में हैचबैक या सेडोन?
जवाब : है ही नहीं कोई भी तो पता भी नहीं

रामप्यारी - साडी या जीन्स?
जवाब : भारतीय नारी की जो है पहचान उसे साडी कहते हैं मेरी जान.:)

रामप्यारी - मिरिंडा, पेप्सी या रूहफ़्जा?
जवाब : जो भी कोई प्यार से पिला दे फिर ज़हर दे या मिरिंडा , पेप्सी या रूह अफ़ज़ा

रामप्यारी - गांव या शहर?
जवाब : शहर

रामप्यारी - लैंड लाईन या मोबाईल
जवाब : जो भी वक्त पर साथ दे फिर लैंड हो या मोबाइल

रामप्यारी - स्प्लिट एसी या विंडो एसी
जवाब : स्प्लिट की तो बात ही और है शोर नहीं करता तभी तो जवाब दे रही हूँ रामप्यारी

रामप्यारी - लेप टोप या डेस्कटोप
जवाब : नया नौ दिन पुराना सौ दिन रामप्यारी,  तो डेस्कटाप से बेहतर क्या होगा?

रामप्यारी – ब्लेक एंड व्हाईट फ़ोटो या कलर फ़ोटो
जवाब : जिसमें मैं तुमसे ज्यादा सुन्दर लगूँ बस वो ही फ़ोटो

रामप्यारी - ज्वाईंट फ़मिली या न्युक्लियर फ़ेमेली?
जवाब : जो मुझे आराम से ब्लोगिंग , सर्फ़िंग करने दे

रामप्यारी - कांच की चूडियां या मेटल की?
जवाब : जिनके खनकने से पिया जी का दिल हिंडोले लेने लगे

रामप्यारी - शिफ़ोन की साडी या काटन की?
जवाब : जिसे पहन कर ऐश्वर्या सी लगने लगूँ.:)

रामप्यारी - चश्मा या कांटेक्ट लैंस?
जवाब : कांटेक्ट करने के लिये तो कांटेक्ट लैंस ही जरूरी हैं ना इतना भी नही समझती रामप्यारी ……हाँ नहीं तो ………आँखें चार चश्मे से कहाँ होती हैं?

रामप्यारी - नौकरी या हाऊस वाईफ़?
जवाब : कोई भी बस मेरी स्वतंत्रता मेरी ही रहे

रामप्यारी - प्यार शादी के पहले या बाद?
जवाब : अबे राम प्यारी.... प्यार भी कभी शादी के बाद होता है ………?  प्यार तो पहले होता है और जो शादी के बाद होता है वो समझौता

रामप्यारी - ताऊ की बकबक या रामप्यारी की चकचक?
जवाब : अरे छोडो रामप्यारी ये बताओ मेरी चकल्लस कैसी लगी?:)

रामप्यारी - वाह वंदना आंटी....आपने तो सच में ही बहुत ही चटपटे जवाब दिये.....मुझे तो बस मजा ही आ गया.....अब आपको स्पेशल राऊंड के लिये रामप्यारे के पास लिये चलती हूं....
वंदना गुप्ता : ओह...तो अभी रामप्यारे का स्पेशल राऊंड भी बाकी है? खैर चलो...उससे भी निपटते हैं.....

स्पेशल राऊंड विद रामप्यारे


रामप्यारे - नमस्कार वंदना जी...कैसी हैं आप?
वंदना गुप्ता - मैं अच्छी हूं रामप्यारे...पर आजकल तुम कैमरामैन के अलावा  इंटर्व्यू भी लेने लगे...क्या बात है डबल डबल काम?

रामप्यारे - क्या करूं वंदना जी...मुझे भी कैमरे के सामने आकर प्रसिद्ध होना है तो यह सब करना ही पडेगा...अब मैं आपसे कुछ सवाल करूंगा....आप चाहें तो मुझे रामप्यारे के बजाय प्यारे के नाम से भी पुकार सकती हैं....
वंदना गुप्ता -  प्यारे के नाम से और तुमको? अपने दांत देखे हैं कभी? चल सवाल पूछ फ़टाफ़ट...

सवाल -  सपने  में कभी कोई हीरो दिखा?
जवाब - पहले तो हीरो की परिभाषा बता रामप्यारे.... किसे कहते हैं हीरो तब ना बताऊँगी?

सवाल - कभी भूत से सामना हुआ?
जवाब - कभी क्या रामप्यारे.... मेरे यहाँ तो भूत रोज सलाम ठोंकने आते हैं, आते ही नमस्ते करते हैं फ़िर पूछते हैं  बताओ आज किसकी खाट खडी करनी है जो तुम्हें तंग करे उस  ब्लोगर का  बस एक बार नाम बता देना फिर हमारा काम ।


सवाल -  प्यार से पति को क्या कह कर बुलाती है ?
जवाब - ले रामप्यारे.... अब तू  घर में भी सेंध लगाने की सोचने लगा?  ये तो गलत बात है...अगला सवाल पूछ ।

सवाल - पति से सबसे अधिक झगडा कब हुआ  )
जवाब - झगडा करेगा तो निकाल के घर से बाहर  नहीं फ़ेंक दूँग़ी... और ताई की तरह लट्ठ भी भांजूँगी।

सवाल -  शीशे के सामने अपने से  क्या सवाल करती हैं?
जवाब - अरे रामप्यारे... शीशा तो खुद मुझे देख पानी भरने लगता है...उफ़्फ़  ब्रह्माँड सुन्दरी मेरे आगे... और यही सोचते सोचते  बेचारा बेहोश होकर गिर पडता है ।

सवाल - फ़िर तो आपका रोज का नुक्सान होता होगा?
जवाब - रामप्यारे...वो कौनसा मेरी जेब से जाता है...उसके लिये पतिदेव हैं ना....

सवाल - राह चलते कभी  किसी शोहदे ने बदतमीजी की?
जवाब - अरे रामप्यारे...तू वाकई निरा गधा ही लगता है मुझको....बेवकूफ़,  अगर शोहदे जुमले ना कसें तो मुझे  कैसे पता चलेगा कि  अभी तो मैं जवान हूँ :)।

सवाल - सपने में कभी भगवान दिखे?
जवाब - अरे रामप्यारे.... सपने में क्या वो तो रोज मेरे साथ चौपड खेलने आते हैं और तुम सपने की बात करते हो? थोडी देर रुको वो आते ही होंगे...

"म्याऊँ म्याऊँ बोले कौन" टीवी धारावाहिक में वंदना गुप्ता

सवाल - क्या किसी शोप ओपेरा (टीवी सीरियल) की नियमित दर्शक हैं? यदि हां तो क्या उससे प्रभावित होती हैं?
जवाब - रामप्यारे... लगता है अब बताना ही पडेगा कि  सोप ओपेरा की दर्शक क्या मैं तो खुद उसमें लीड रोल कर रही हूँ.

सवाल - वो कौनसा सीरियल है?
जवाब -  रामप्यारी प्रोडक्शन का "म्याऊँ म्याऊँ  बोले कौन"  में ।

सवाल -  कोई  ऐसी घटना जिसका आपको आज भी  दर्द हो?
जवाब - रामप्यारे..... दर्द की क्या मज़ाल जो यहाँ फ़टके भी,  उसे पता है लट्ठ लेकर पिल पडेगी उसी पर इसलिये दूर से ही राम राम करके निकल जाता है।

सवाल - घर में सुरक्षा के लिये बेलन को उपयोगी मानती हैं?
जवाब - घर में तो मेरी बोली ही काफ़ी है मुझे बेलन आदि की जरूरत नहीं पडती,  एक आँख दिखाकर ही सबको  भीगी बिल्ली बना देती हूँ।

सवाल - साक्षात भगवान आकर आपसे कोई एक वरदान मांगने को पूछें तो क्या मांगेगी?
जवाब - भगवान को कहूँगी तू मुझसे व्ररदान माँग आज तो,  पहले सब तुझसे माँगते रहते हैं और कोई तेरे को कुछ देता नहीँ तो आज जो चाहे माँग ले...

सवाल - ओह क्या क्या दे सकती हैं भगवान को वरदान में?
जवाब - रामप्यारी प्रोडक्शन में काम करती हूँ.... ताऊ समेत सबको मुहैया करवा दूँगी और भगवान के अकेलेपन को दूर करवा दूँगी.... जब रामप्यारी नाचेगी और रामप्यारे  वहां  झाडू लगायेगा।

सवाल - सबसे ज्यादा खुशी कब मिलती है?
जवाब - मैं तो हमेशा ही खुश रहती हूँ....हां ये अलग बात है कि   जब ताऊ की खिंचाई और पिटाई  ताई करती है ना..... तब जो खुशी मुझे मिलती है उसको शब्दों में बयान नही कर सकती...असली और सच्ची खुशी तभी मिलती है.

तो दोस्तों यह थी ताऊ, रामप्यारी और रामप्यारे  के साथ वंदना गुप्ता ’ की "दो और दो पांच"....अगली बार हम किसी और ब्लाग सेलेब्रीटी के साथ खेलेंगे दो और दो पांच....तब तक मस्त रहिये.

42 comments:


  1. वाह वाह वाह ! वंदना जी जवाब पढ़ कर मजा आगया इसे कहते है हास्य जवाब , जिसे पढ़ कर मुस्कान नहीं हंसी आ जाये , अब हुई कुछ टक्कर की बात , वन्दना जी के लिए तालिया :)))

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपकी मेहरवानी है.:)

      रामराम.

      Delete
  2. मजेदार जवाब दिए है वंदना जी ने !
    @ अबे राम प्यारी.... प्यार भी कभी शादी के बाद होता है ………? प्यार तो पहले होता है और जो शादी के बाद होता है वो समझौता
    मुझे सबसे बढ़िया जवाब लगा !

    ReplyDelete
  3. प्यारी रामप्यारी,
    अब तो ताऊ और ताई के बीच भी यह
    दो और दो पांच का खेल होना चाहिए
    क्या कहती हो :) ??

    ReplyDelete
  4. आपकी यह रचना कल बुधवार (07
    -08-2013) को ब्लॉग प्रसारण : 78 पर लिंक की गई है कृपया पधारें.
    सादर
    सरिता भाटिया

    ReplyDelete
  5. वंदना जी ने तो ताऊ , रामप्यारी , रामप्यारे -- सब की खाट खड़ी कर दी. :)

    ReplyDelete
  6. वैसे अब समझ में आया कि एक अकेली औरत को भी चुप रखना कितना मुश्किल है.

    ReplyDelete

  7. अब तो इंटरव्यू के मास्टर बन गए ताऊ ,फटाफट मौनी बाबा का इंटरव्यू ले डालो
    latest post: भ्रष्टाचार और अपराध पोषित भारत!!
    latest post,नेताजी कहीन है।

    ReplyDelete
    Replies
    1. डाक्टर साहब, ताऊ , रामप्यारी , रामप्यारे -- की खाट तो पैदायशी खडी हुई है, युं कहिये कि खाट चारों खाने चित हो गई.:)

      रामराम.

      Delete
  8. रामप्यारी : हां तो वंदना आंटी...आप तैयार हैं फ़टाफ़ट खेलने के लिये? तो बताईये कि आपको क्या पसंद है? – क्लीन शेव्ड या मूंछ वाला?
    जवाब : दोनो में से कोई नहीं रामप्यारी... नई जाति पैदा करो.

    ये जवाब सुनते ही ताऊ अपनी क्लोनिंग प्रयोगशाला में सिर पर सींग और पीछे पूंछ वाली नई प्रजाति तैयार करने में लग गया है...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. आजकल तो एक तीसरी प्रजाति भी होती है. :)

      Delete
    2. होती है या होता है...

      जय हिंद...

      Delete
  9. जय हो, सबकी मन का उजियारा बाहर सरक रहा है।

    ReplyDelete
  10. ताऊ : पैदा होते समय रोना आपको सच मे याद है या सुनी सुनाई बात कह रही हैं?
    जवाब : मुझे तो पिछला जन्म भी याद है..कहो तो तुम्हारे पिछले जन्म की पोल भी खोल दूं ताऊ?
    सवाल - पति से सबसे अधिक झगडा कब हुआ )
    जवाब - झगडा करेगा तो निकाल के घर से बाहर नहीं फ़ेंक दूँग़ी...

    हा-हा-हा…. सटीक !

    ReplyDelete
  11. लगता है राम प्यारी सब कुछ खरी खरी उगलवा रही है ...

    ReplyDelete
  12. बहुत ही मनोरंजनपूर्ण वार्ता....
    आनंद आया .... दो और दो पांच... प्रश्न राउंड ...

    ReplyDelete
  13. बहुत बढ़िया..मजेदार..

    ReplyDelete
  14. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन 'बंगाल के निर्माता' - सुरेन्द्रनाथ बनर्जी - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  15. अबके तो खूब रही..... बढ़िया रहा वंदनाजी के रोचक जवाबों को जानना

    ReplyDelete
  16. वाह! मज़ा आ गया...बहुत बढ़िया साक्षात्कार....

    ReplyDelete
  17. वाह! मज़ा आ गया...बहुत बढ़िया साक्षात्कार....

    ReplyDelete
  18. @ आप चाहें तो मुझे रामप्यारे के बजाय प्यारे के नाम से भी पुकार सकती हैं....

    यह रामप्यारे भी बड़ा चालू निकला, आगे से इसे महिलाओं के इंटरव्यू में न भेजा करो ताऊ ..
    कहीं तेरे नाम पर पुलिस रिपोर्ट न हो जाए !

    ReplyDelete
  19. रोमांटिक हो चला है ताऊ ये हुश्न चीज़ ही ऐसी है।

    ReplyDelete
  20. वाह.....हमारी झाँसी की रानी के लिए standing ovation!!!

    :-)

    सादर
    अनु

    ReplyDelete
  21. बढ़िया रहा वंदना जी का इंटरव्यू.

    ReplyDelete

  22. वंदनाजी सुपर हिट !
    मात दे दी ताऊ और रामप्यारे को भी !

    ReplyDelete
  23. ताऊ और वन्दना जी को बधाई हो...
    बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा आज बुधवार (07-08-2013) के रीयल्टी शो पाक का, आतंकी भी फेल :चर्चा मंच 1330 में मयंक का कोना पर भी है!
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  24. waah bahut bahdiya swaal jwaab ..vandana great :)

    ReplyDelete
  25. :)))).... बहुत मज़ा आया पढ़कर...
    क्या सवाल थे! और क्या ही जवाब थे! सवालों से भी बढ़कर!:P

    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  26. ताऊ के सवालों के ज़बरदस्त जवाब .... वंदना जी , आपके जवाब सुन रामप्यारे चकरा ही गया होगा । बहुत बढ़िया ... हास्य से भरपूर साक्षात्कार

    ReplyDelete
  27. वाह! बहुत ही बढ़िया... वाह!

    ReplyDelete
  28. लाजबाब मजेदार वन्दना जी का इंटरव्यू ,,,

    RECENT POST : तस्वीर नही बदली

    ReplyDelete
  29. मन गढ़ंत लगता है। वंदना जी का कमेंट तो आया ही नहीं!

    ReplyDelete
    Replies
    1. devendra pandey ji accident hua va hai ribs me teen fracture hain .........uske baad accute infection ho gaya stomach me jiske karan 2 din admit rahna pada .........tabiyat bahut kharab hai bed rest par hun pichhle 15 din se aur aage bhi kitna samay lagega nahi pata.......filhal is vakt thodi der ko baithi hun jaroori mail dekhne to ye bhi dekha aur aapka comment to jawab dena jaroori samjha ......ye sare jawab mere hi hain

      Delete
  30. वाह आज तक का सबसे बेहतरीन इंटरव्यू. वंदना मैम सलाम आपको! :)

    ReplyDelete
  31. यहाँ सवाल जबाब का दौर चलता है रे .....अपना क्या होगा

    राम राम

    ReplyDelete
  32. swaal to umda hain hi .......par jwaab behad rochak lage .

    ReplyDelete