Powered by Blogger.

दो और दो पांच में अंजू (अनु) चौधरी

रामप्यारी ने आजकल ताऊ टीवी का काम संभालना शुरू कर दिया है. उसी की पहल पर ब्लाग सेलेब्रीटीज से "दो और दो पांच" खेलने का यह प्रोग्राम शुरू किया गया है. दो और दो पांच में, ब्लॉग सेलिब्रिटीज से निवेदन है कि वे सवाल के जवाब कुछ चटपटे रखें ताकि ब्लोगर साथियों का मनोरंजन भी हो , इस प्रोग्राम का मकसद सिर्फ़ हंसना हंसाना सीखना है. प्रतिभागियों द्वारा दिये गये जवाबों का गंभीर या वास्तविक अर्थ निकालने की कोशिश न करे और हलके फुल्के मजाक का आनंद लें ! यानि सिर्फ़ और सिर्फ़ मनोरंजन......... 

ब्लाग सेलेब्रीटीज को रूबरू पकडना बहुत ही मुश्किल होता है, नेट पर तो जब चाहे तब पकड लिजीये.....पर रामप्यारी भी कोई कम नही है.

रामप्यारी अब तक 2 + 2 = 5 का खेल चुकी है सतीश सक्सेना , हरकीरत ’हीर’ , काजल कुमार , संगीता स्वरूप(गीत) , अरविंद मिश्र , वंदना गुप्ता , खुशदीप सहगल , सुमन , डा. दराल ,प्रवीण पाण्डेय, वाणी शर्मा, विजय सप्पाति , रमाकांत सिंहडा.शौर्य मलिक के साथ. ....... रामप्यारी को आज सुबह सुबह ही मिल गई अंजू (अनु) चौधरी.. जिन्हें वो ले आयी सीधे ताऊ टीवी के स्टूडियो में और शुरू हो गया दो और दो पांच का खेल...अब बिना ब्रेक देखिये अटपटे सवालों के चटपटे जवाब... सीधे...ताऊ, रामप्यारी और रामप्यारे की अंजू (अनु) चौधरी से दो और दो पांच.....


ताऊ और रामप्यारी के साथ "दो और दो पांच" खेलते  अंजू (अनु) चौधरी 
                                                             (कैमरामैन - रामप्यारे)


सवाल ताऊ के जवाब अंजू (अनु) चौधरी के यानि 2 +2 = 5

ताऊ : सबसे ज्यादा दुखी कौन है?
जवाब : और कौन ...मैं ही.

ताऊ: आप आखिरी बार कब रोई थी?
जवाब :अभी अभी

ताऊ : कल रात आपने कौन सी सब्जी खायी थी?
जवाब : मुर्गा

ताऊ : आपकी किस आदत से आपके पति ज्यादा परेशान है?
जवाब : रात को कम्पूटर पर बैठने से

ताऊ. : कौन सा ट्रेफ़िक रुल आप सबसे ज्यादा तोडती हैं?
जवाब : रेड लाइट तोडना

ताऊ. : अगले जन्म मे आप क्या बनना चाहेंगी?
जवाब : यही ...नारी है महान

ताऊ : एक चुटकला सुनाइये.
जवाब : चुटकला क्या, आपकी ही एक सच्ची घटना  सुना देती हूं.:)
ताऊ और ताई रात को सो रहे थे.  
आधी रात के करीब  अचानक ताऊ जोर जोर से चीखने लगा, ताऊ की चीख  सुनकर ताई की आंख खुल गई। ताई ने लठ्ठ हाथ में उठाते हुये  पूछा - क्या बात है ? चीख क्यों रहे हो? 
ताऊ बोला - कुछ नहीं, मेरी कमीज पलंग से नीचे गिर गई थी. 
ताई लठ्ठ फ़टकारते हुये बोली  - तो इतनी जोर से चीखने की क्या जरूरत थी? नींद खराब करके रख दी? 
ताऊ बोला - अरे बावलीबूच,  उस कमीज के अन्दर मैं भी तो था.
ताऊ : सवा छ: और पोने दस कितने होते हैं?
जवाब : सोचना पड़ेगा ...वैसे १६

ताऊ : सास से आखिरी बार डांट कब खायी थी?
जवाब : उनके स्वर्ग सिधारने से पहले

ताऊ : कौन से कलर के सैंडल फ़ोकट मे भी नही पहनना चाहेंगी?
जवाब : अरे इस में क्या है ..जो मिल जाए

ताऊ : लिपस्टिक का कौन सा कलर आपको आकर्षित करता है?
जवाब : कोई भी नहीं

ताऊ : खुद आप की एक खराब आदत कौन सी है?
जवाब : इंसटेंट दोस्ती करना ...मेरी मैगी जैसा

ताऊ : अपने मुंह मियामिठ्ठू बनिये
जवाब : वो क्या होता है

ताऊ : .ऐसा ब्लागर जिससे आपको जलन होती हो और क्यों?
जवाब : कोई ऐसा है क्या जिस से जलन हो .....लगता तो नहीं

ताऊ : ऐसा कोई गीत, जिसकी हीरोईन आप अपने आपको समझने लगती हों?
जवाब : टुनटुन का कोई भी गाना ..मेरे पे फिट बैठता है:)

ताऊ : ऐसा एक शब्द जिससे आपको चिढ आ जाती हो ?
जवाब : अभी तक ऐसा कुछ सोचा ही नहीं

ताऊ : पसंदीदा फ़िल्म अभिनेता और अभिनेत्री?
जवाब : फिल्म ..फुकरे ..और अभिनेता आफ-कोर्स रणबीर कपूर

ताऊ : पसंदीदा ब्लागर?
जवाब : आप

ताऊ : फ़ेवरिट गायक
जवाब ..कभी सोचा नहीं

ताऊ: पसंदीदा लेखक
जवाब : मैं खुद:)

ताऊ : ब्लागर ताऊ की इमेज आपके दिमाग में क्या है?
जवाब : कमाल-धमाल ...जिसके बिना ब्लॉग पढ़ना अधूरा है.

ताऊ : तो धन्यवाद अंजू जी ..अब फ़टाफ़ट राऊंड के लिये तैयार हो जाईये. रामप्यारी तैयार है अपने सवाल दागने के लिये..... ठीक है?
अंजू (अनु) चौधरी - मैं तैयार हूं ताऊ.


अब रामप्यारी का फ़टाफ़ट राऊंड शुरु होता है. 


रामप्यारी : हां तो अंजू आंटी...आप तैयार हैं फ़टाफ़ट खेलने के लिये?
अंजू (अनु) चौधरी - बिल्कुल रामप्यारी...चल शुरू हो जा...

रामप्यारी :  बताईये कि आपको क्या पसंद है? – क्लीन शेव्ड या मूंछ वाला?
जवाब : शेव्ड

रामप्यारी - हिल स्टेशन या समुद्र तट?
जवाब :समुन्द्र तट

रामप्यारी - ट्रेन का सफ़र, बस का सफ़र या हवाईजहाज का?
जवाब : ट्रेन का

रामप्यारी - पुस्तक पढना या फ़िल्म देखना?
जवाब : दोनों

रामप्यारी - सलमान खान या आमिर खान?
जवाब : दोनों

रामप्यारी - कैटरीना कैफ़ या करीना कपूर?
जवाब : दोनो .....एक का नाम लेके किसी को नज़रंदाज़ नहीं करना ना:)

रामप्यारी - कारों में हैचबैक या सेडोन?
जवाब : BMW

रामप्यारी - साडी या जीन्स?
जवाब : जींस

रामप्यारी - मिरिंडा, पेप्सी या रूहफ़्जा?
जवाब : नारियल पानी

रामप्यारी - गांव या शहर?
जवाब : दोनों ही नहीं ......बस मेरा ही क़स्बा...पसंद है मुझे

रामप्यारी - लैंड लाईन या मोबाईल
जवाब : मोबाईल ...क्यों कि इस में सभी दोस्त कैद हैं.:)

रामप्यारी - स्प्लिट एसी या विंडो एसी
जवाब : पता नहीं

रामप्यारी - लेप टोप या डेस्कटोप
जवाब : लेपटोप

रामप्यारी – ब्लेक एंड व्हाईट फ़ोटो या कलर फ़ोटो
जवाब : दोनों ...जिस में सुंदरता सामने से दिखे.:)

रामप्यारी - ज्वाईंट फ़मिली या न्युक्लियर फ़ेमेली?
जवाब : ज्वाइंट

रामप्यारी - कांच की चूडियां या मेटल की?
जवाब : हीरे की

रामप्यारी - शिफ़ोन की साडी या काटन की?
जवाब : कोई भी नहीं

रामप्यारी - चश्मा या कांटेक्ट लैंस?
जवाब : चश्मा

रामप्यारी - नौकरी या हाऊस वाईफ़?
जवाब : हाउस वाइफ

रामप्यारी - प्यार शादी के पहले या बाद?
जवाब : कभी सोचा नहीं

रामप्यारी - ताऊ की बकबक या रामप्यारी की चकचक?
जवाब : दोनों

रामप्यारी : धन्यवाद अंजू आंटी....अब मैं आपको हां या ना राऊंड के लिये रामप्यारे के पास लिये चलती हूं...
अंजू (अनु) चौधरी - ठीक है रामप्यारी चल.

हां या ना राऊंड विद रामप्यारे


रामप्यारे : नमस्कार अंजू जी...कैसी हैं आप?
अंजू (अनु) चौधरी - रामराम रामप्यारे...मैं अच्छी हूं...

रामप्यारे : अंजू जी, आप ये रामराम कब से करने लग गयी? ये  तो ताऊ  का कलामे तकिया है?
अंजू (अनु) चौधरी - रामप्यारे...पहले तो अपनी व्याकरण सुधार...ये कलामे तकिया नही इसे तकिया कलाम कहते हैं...और मेरे सारे फ़ेसबुक वाले दोस्त जानते हैं कि मैं भी नमस्कार की बजाये रामराम ही कहती हूं.

रामप्यारे : ओह सारी अंजू जी...वैसे कलाम का तकिया हो या तकिये का कलाम हो...क्या फ़र्क पडता है? अब सवाल जवाब शुरू करें?
अंजू (अनु) चौधरी - जरूर रामप्यारे...शुरु करो.

सवाल - सपने में कोई हीरो दिखा?
जवाब -भगवान दादा...  मेरे टाइप के है ना इसलिए.

सवाल - कभी भूत से सामना हुआ?
जवाब - मैं खुद ही बहुत बड़ा भूत हूँ ...लोग मेरे से डरते हैं

सवाल - प्यार से पति को क्या कह कर बुलाती है ?
जवाब -राज़ को राज़ ही रहने दो

सवाल - पति से सबसे अधिक झगडा कब हुआ?
जवाब - जब हम दोनों ने एक साथ गालियाँ निकाली ...करीब 3 साल पहले :)

सवाल - शीशे के सामने अपने से क्या सवाल करती हैं?
जवाब -...यार मैं मोटी क्यों हूँ :)

सवाल - राह चलते कभी किसी शोहदे ने बदतमीजी की?
जवाब - किसी में हिम्मत ही नहीं .......तरस गई मैं तो :)

सवाल - सपने में कभी भगवान दिखे?
जवाब -हाँ दिखे ना ......वो भी यमराज ......बेचारे वो भी डर गए मुझे देखते ही:)

सवाल - क्या किसी शोप ओपेरा (टीवी सीरियलों) की नियमित दर्शक हैं?
जवाब -ना ना ना ना ........ओनली रियल्टी शो ...वो भी किसी तमाशे से कम है क्या?

सवाल - कोई ऐसी घटना जिसका आपको आज भी दर्द हो?
जवाब - दर्द तो मिलते रहते हैं ...उसके बारे में क्या सोचना और क्या कहना

सवाल - घर में सुरक्षा के लिये बेलन को उपयोगी मानती हैं?
जवाब - कभी बेलन का उपयोग किया नहीं .........पर अब सोचती हूँ एक बार प्रयोग कर के देख ही लूँ.

सवाल - साक्षात भगवान आकर आपसे कोई एक वरदान मांगने को पूछें तो क्या मांगेगी?
जवाब - हे भगवान ! इस बारे में तो पहले कभी सोचा ही नहीं ..उफ़ कैसी बुद्धू हूँ मैं भी? अब तुमने याद दिलाया है तो याद करके रखूंगी.

सवाल - सबसे ज्यादा खुशी कब मिलती है?
जवाब - फेस बुक पर जब दोस्तों से गप्पे मारती हूँ तब ...(क्यों कि ...वहाँ झूठ बोलने का मौका मिल जाता है )

तो दोस्तों यह थी ताऊ,  रामप्यारी और रामप्यारे  के साथ  अंजू (अनु ) चौधरी  की दो और दो पांच.... अगली बार  हम किसी और ब्लाग सेलेब्रीटी के साथ खेलेंगे दो और दो पांच....तब तक मस्त रहिये. 

58 comments:

  1. रामप्यारे का इन्टरव्य़ू कब आयेगा ताऊ. यह तो शानदार है ही.

    ReplyDelete
  2. ताऊ और ताई रात को सो रहे थे.
    आधी रात के करीब अचानक ताऊ जोर जोर से चीखने लगा, ताऊ की चीख सुनकर ताई की आंख खुल गई। ताई ने लठ्ठ हाथ में उठाते हुये पूछा - क्या बात है ? चीख क्यों रहे हो?
    ताऊ बोला - कुछ नहीं, मेरी कमीज पलंग से नीचे गिर गई थी.
    ताई लठ्ठ फ़टकारते हुये बोली - तो इतनी जोर से चीखने की क्या जरूरत थी? नींद खराब करके रख दी?
    ताऊ बोला - अरे बावलीबूच, उस कमीज के अन्दर मैं भी तो था.
    ha-ha-ha-ha-ha-ha-ha-ha-ha-ha.....

    ताऊ: पसंदीदा लेखक
    जवाब : मैं खुद:)
    And thats really a good answer Anu Ji.

    ReplyDelete
  3. वाह, मन की कहती यह श्रंखला।

    ReplyDelete
  4. यार मैं मोटी क्यों हूँ :)

    यह जरूर अनु के दुश्मनों ने कहाँ होगा ?? इतनी प्यारी सी लड़की, मोटी हो ही नहीं सकती !
    :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. रामप्यारी : बताईये कि आपको क्या पसंद है? – क्लीन शेव्ड या मूंछ वाला?
      जवाब : शेव्ड

      हीर जी और सुमन जी के बाद अंजू बहना का जवाब भी शेव्ड...

      सतीश भाई जी, देख लीजिए मेज़ोरिटी कहां है...

      जय हिंद...

      Delete
    2. मतलब मूंछ वाले बे मूंछ हो जाएँ ??
      :)

      Delete
    3. ये तो आप ही समझें.:)

      रामराम.

      Delete
    4. और हम मूंछ वाले कहाँ जाए :(:(:(

      Delete
    5. नाई की दुकान में.:)

      रामराम.

      Delete
  5. गालियाँ कौन सी थी , फेहरिस्त मिलेगी ?
    रियलिटी शो कैसे बर्दाश्त करती है आप !!

    वैसे अच्छा रहा साक्षात्कार !

    ReplyDelete
    Replies
    1. वाणी जी ..अब टीवी में कुछ तो देखना है ना ......जो सबको हो पसंद वही हम देखेंगे

      Delete
  6. मनोरंजन से लबालब..

    ReplyDelete
  7. अनु जी को शुभकामनायें-
    बढ़िया परिचर्चा-

    ReplyDelete
  8. सवाल - कभी भूत से सामना हुआ?
    जवाब - मैं खुद ही बहुत बड़ा भूत हूँ ...लोग मेरे से डरते हैं

    अंजू बहना, जवाब में जेंडर मिस्टेक है...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. कोई बात नहीं जी ......खुद से ही भूतनी लिख देते हैं ...क्या फर्क पड़ता है ...राम राम

      Delete
    2. हा हा हा....खुशदीप जी यह जेंडर मिस्टेक नही है, बोल चाल की भाषा का फ़्लो है जिसे ऐसे ही रहने दिया है जान बूझकर.

      रामराम.

      Delete
  9. सवाल - घर में सुरक्षा के लिये बेलन को उपयोगी मानती हैं?
    जवाब - कभी बेलन का उपयोग किया नहीं .........पर अब सोचती हूँ एक बार प्रयोग कर के देख ही लूँ.

    फिर अभी तक रोटी और पतिदेव की बोटी कैसे बनाती थीं...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. ओह यहाँ भी बेलन का जिक्र।

      Delete
    2. अरे ताऊ जी का सवाल-जबाब ...बेलन के बिना पूरा ही नहीं होता ...तो हम क्या करें

      Delete
  10. ताऊ : कल रात आपने कौन सी सब्जी खायी थी?
    जवाब : मुर्गा

    मुर्गे की 'सब्ज़ी'...अच्छा जोक है...

    वैसे मुर्गा था या मुर्गी, क्या बाज़ार से सोच कर ही मुर्गा लायीं थीं...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
    Replies
    1. खुशदीप भैया ...ये गलतियाँ तो ताऊ जी को पकड़नी और ठीक करनी थी ना

      और जोक ही तो मारने थे ना यहाँ ...वो मैंने मार दिए

      Delete
    2. खुशदीप जी, वैसे आप जानते हैं कि ताऊ टीवी किसी भी खबर को ज्यों की त्यों दिखाने के लिये मशहूर है, यहां भी एडिटिंग जानबूझकर नही की गई, आरिजिनल फ़्लेवर के वास्ते यों कि यों रखी गई है.

      और सच तो यही है कि वो मुर्गी नही बल्कि मुर्गा ही था क्योंकि उस दिन ताऊ टीम का डिनर वहीं हुआ था.:)

      रामराम.

      Delete
    3. ये नहीं बताया -- मुर्गा जिन्दा था या मुर्दा !

      Delete
    4. अरे अंजू बहना,

      ये ताऊ की माया अपरम्पार है...मुझे सीक्रेटली एडिटिंग का काम दे दिया...और देखो अब खुद कैसे साफ़-साफ़ नठ लिया...

      जय हि्द...

      Delete
    5. दराल साहब, मुर्गा आया तब तो जिंदा ही था.:)

      रामराम.

      Delete
    6. खुशदीप जी, आप अंदर की पोल खोल रहे हैं, यह अघोषित नियमों के खिलाफ़ है.:)

      रामराम.

      Delete
    7. खुशदीप भैया ...ये आप दोनों के बीच की बात है ...मुझे जो समझ आया...वो जबाब मैंने दे दिया :)

      Delete
  11. बहुत सुंदर जवाब दिए ,

    ReplyDelete
  12. भर पूर मनोरंजन... बढ़िया साक्षात्कार...

    ReplyDelete
  13. भरपूर मनोरंजन... बढ़िया साक्षात्कार..

    ReplyDelete

  14. रामप्यारे का इन दिनों
    बड़ा बुरा हाल है इसलिए
    उसका व्याकरण,भुगोल
    सब कुछ गडबडा गया है
    तभी ऐसी बहकी बहकी
    बाते कर रहा है
    कल अचानक बाजार में
    मुझे
    रामप्यारे मिल गया था
    मैंने पुछा … "कहो रामप्यारे
    क्या हाल है ?
    दांतों का दर्द अब कैसा है ?
    टीस अब भी है ?
    दवाई ली है या नहीं ?
    जैसे तैसे उसने कुछ
    शब्द बटोरकर कहा
    सुमन जी,
    आप दांतों के दर्द की
    पूछती हो ? कमाल है
    इन दिनों मेरे तो सारे
    दर्द दांत बन गए है
    गरीबी के दांत
    बेरोजगारी के दांत
    भुखमरी के दांत
    महंगाई के दांत
    सारे दर्द दांत बनकर
    पुरे जिस्म में एकसाथ
    गड गए है …. !


    ReplyDelete
    Replies
    1. आपने रामप्यारे (गरीब) के दर्द को बखूबी समझा है. आभार.

      रामराम.

      Delete
  15. बढ़िया जवाब दिए है अंजू जी ने,
    मजेदार लगे, खेल को ओरिजनल ही रहने
    दीजिये ताऊ जी तभी मजा आता है :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. कोशीश तो ऐसी ही रहती है.

      रामराम.

      Delete
  16. अंजू जी ने मजेदार जवाब दिए , चलिए अच्छा है महिलाओ ने भी हास्य में पकड़ बनाये रखी है :)
    @सवाल - प्यार से पति को क्या कह कर बुलाती है ?
    ज्यादा की कामना में अकसर जो है उससे भी हाथ धोना पड़ता है इसलिए पतियों को इस बात से ही संतोष करना चाहिए की पत्नी के पास अब भी प्यार बचा है , उनके लिए :)

    @सवाल - सबसे ज्यादा खुशी कब मिलती है?
    जवाब - फेस बुक पर जब दोस्तों से गप्पे मारती हूँ तब ...(क्यों कि ...वहाँ झूठ बोलने का मौका मिल जाता है )
    ये काम तो ब्लॉग पर भी हमेसा से होता रहा है , यहाँ पर भी लम्बी लम्बी गप्पे मारी जा सकती है :))

    ReplyDelete
    Replies
    1. anshumala ji@..सच है ...हास्य पर पकड़ बनानी बहुत ही मुश्किल है...फिर भी कोशिश की है :)

      Delete
    2. ब्लॉग या फेसबुक ....एक वक्त में एक पर ही गप्पे मारी जा सकती है ना ....वहाँ सब एक साथ मिल जाते हैं और ब्लॉग पर ब्लॉग ब्लॉग घूमना पड़ता है

      Delete
  17. @ताऊ : ब्लागर ताऊ की इमेज आपके दिमाग में क्या है?
    ताऊ अब और कितनी तारीफ लोगो से अपनी करवाओगे अपनी , लगता है अभी तक मेरे जैसा कोई नहीं मिला नहीं तो कुछ कहने के लिए तुम्हारी जेब ढीली करवा लेता :)))
    चेतावनी : बलागरो ताऊ की इतनी भी झूठी तारीफ न करे की वो उन्हें सच मान चने के झाड पर चढ़ जाये , ये कार्यक्रम ख़त्म होने के बाद ताऊ को चने की झाड से फिर उतरेगा कौन :)))

    ReplyDelete
    Replies

    1. @लगता है अभी तक मेरे जैसा कोई नहीं मिला नहीं तो कुछ कहने के लिए तुम्हारी जेब ढीली करवा लेता :)))

      ताऊ तो जेब ढीली करने को तैयार हैं आप मौका तो दिजीये.

      @ ये कार्यक्रम ख़त्म होने के बाद ताऊ को चने की झाड से फिर उतरेगा कौन :)))
      हा हा हा....सही कहा आपने. चने के झाड पर चढ जाते तो अच्छा था पर अब क्या करें हमें तो धनिये (coriander) के झाड पर चढा दिया है.:)

      रामराम.

      Delete
    2. ताऊ में मेरे लिए तो सभी रस्ते आप ने ही बंद कर दिए है , यहाँ तो साक्षात्कार
      " ब्लाग सेलेब्रीटीज " का हो रहा है और हम ठहरे मैंगो पीपल -आम आदमी भला हमारे बारे में कौन जानना चाहेगा आम आदमी की सुनने में किसी की रूचि नहीं होती है । दूजे नियम के अनुसार किसी भी कार्यक्रम या प्रतियोगिता में उस से जुड़े लोग भाग नहीं ले सकते है और आप ने तो मुझे अपना वारिस घोषित कर दिया है तो भला मै यहाँ कैसे साक्षात्कार दे सकती हूँ , ये तो बिलकुल वैसे ही होगा जैसे सोनिया और कांग्रेसी राहुल का साक्षात्कार ले :)))

      Delete
  18. प्यार शादी के पहले या बाद?
    जवाब : कभी सोचा नहीं
    :-)

    ये कोई सोच कर देने का सवाल है अंजू :-)
    मज़ा आगया अंजू के मजेदार जवाब पढ़ कर....

    शुक्रिया ताऊ सा !!
    अनु

    ReplyDelete
    Replies
    1. अनु...दिमाग होगा तो सोचूंगी ना ....वैसे भी मोटे लोगों के पास दिमाग होता कहाँ है :)))

      Delete
  19. हर सवाल के जवाब मजेदार
    मजा आया पढ़कर
    आभार!

    ReplyDelete
  20. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा कल शुक्रवार (23-08-2013) को "ईश्वर तू ऐसा क्यों करता है" (शुक्रवारीय चर्चामंचःअंक-1346) पर भी होगी!
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  21. सुन्दर जबाब चुटकुला पसंद आया-?

    ReplyDelete
  22. शुक्रिया शुक्रिया शुक्रिया भेंट वार्ताएं शानदार चलें हैं।

    ReplyDelete
  23. वाह वाह वाह...
    आज तो और मजा आ गया मजेदार जवाब पढ़ कर...

    कभी भूत से सामना हुआ?
    मैं खुद ही बहुत बड़ा भूत हूँ ...लोग मेरे से डरते हैं...ये वाली जोक बढियां लगी,और मुर्गा की सब्जी भी :)
    टुनटुन के गाने भी...

    धन्यवाद ताऊ जी ....मन प्रफुलित हो जाता है यहाँ आकार...सच्ची मुझे भी जलन होने लगी है आपसे...आपको कितना लोग प्यार करते हैं.....

    ReplyDelete
    Replies
    1. Vasundhara.pandey Pandey.......सच कहा आपने ...जब तक ताऊ जी को नहीं जाना था तब तक नहीं पता था कुछ पर अब ब्लोगिंग करो और इनके ब्लॉग को ना पढ़ो तो कुछ अधूरा सा लगता है ......मैं इसे माइंड रिफ्रेशिंग ब्लॉग कहूँगी :)))

      Delete
  24. . बढ़िया साक्षात्कार..मजेदार जवाब

    ReplyDelete
  25. सुन्दर प्रस्तुति. कमाल

    ReplyDelete
  26. :)))... बढ़िया है जी ! मज़ा आ गया... :)

    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  27. :) face book par kya kya jhooth bolti ho, kya gappe haankti ho Anju jee :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. मुकेश जी ...वो यहाँ बताने की बात थोड़ी है

      Delete
  28. मज़ेदार रहा ये साक्षात्कार ....

    ReplyDelete
  29. बहुत अच्छा लगा अनु जी के साथ हुई बातचीत और सवाल जवाब पढ़कर .
    रोचक प्रस्तुति.

    ReplyDelete