Powered by Blogger.

बैट बाल मैच फ़िक्स तेल बाजार में उपलब्ध

पिछले ही दिनों बाबाश्री ताऊ महाराज साहब ने अपनी अपार कृपा दिखाते हुये भावी पीढी के मार्गदर्शन और कल्याण हेतु अनेको कोर्स ताऊ कालेज में इंट्रोड्यूस किये. इन कोर्सेस की सीटे 24 घंटे में ही फ़ुल हो गयी और अनेकों लोगों को पछताना पडा.

जिन लोगों को एडमिशन नही मिल पाया उन लोगों के कल्याण और भलाई के लिये  बाबाश्री ताऊ महाराज साहब ने ताऊ औषधालय के अंतर्गत अति परम कल्याण कारक तेलों का निर्माण करवाया है. इन तेलों के फ़ार्मुले अचूक और अति गोपनीय हैं जिन्हें सिर्फ़ बाबाश्री ताऊ महाराज ही जानते हैं. इनकी निर्माण विधी अत्यंत दुष्कर और गोपनीय है. 

जिन्हें भी लाभ उठाना हो वो तुरंत आकर अपने उपयोग का तेल खरीद लेवे, इन तेलों का निर्माण एक विशेष नक्षत्र के मुहुर्त में ही संभव है अत: बहुत ही सीमित मात्रा में उपलब्ध है. पहले आयें पहले पायें के फ़ार्मुले से ये तेल बेचे जाते हैं.

बाबाश्री के कर कमलों से तेल खरीदते श्री सतीश सक्सेना


मैच फ़िक्स तेल:- इस तेल की नित्य मालिश करने से तीन सप्ताह में मैच फ़िक्स करने की अपार शक्ति प्राप्त होती है. बुद्धि अति निर्मल होकर एक अदृष्य शक्ति से साक्षात्कार होता है. वही शक्ति आपको बताती है कि कौन सा मैच फ़िक्स करना है? किस मैच में सफ़लता मिल सकती है? किस मैच को संतान सुख उत्तम रहेगा? किस मैच का भावी जीवन सुखपूर्ण रहेगा. शादी से पहले अपने ज्ञान चक्षु खोलने के लिये अवश्य वापरें.
मूल्य रू. 2240/- प्रति शीशी मात्र
चेतावनी :- सटोरिये भाई, इसे क्रिकेट मैच फ़िक्स करने वाला तेल ना समझें. 
*****

सर्वकष्ट-हर तेल:- यह अति गुणकारी और सभी कष्टों को दूर करने वाला तेल है. बहुत ही शुभ नक्षत्रों और योग में इसे निर्मित किया गया है. यदि आप पर कोई पुलिस वारंट निकला है? यदि आप मैच या कुछ और फ़िक्स करने में वांछित है? यदि आपने बैट या बाल का कोई खेल खेला हुआ है? किसी भी तरह की परेशानी हो, बस एक माह तक इस तेल का उपयोग करके देखें, आपके समस्त कष्ट दूर हो जायेंगे. बैट बाल करने से पहले ही इस्तेमाल करने  वाले, इस चमत्कारी तेल की बदौलत हमेशा सुरक्षित रहेंगे. कभी भी पकडे नही जायेंगे.
मूल्य रू. 2770/- प्रति शीशी मात्र  
                                   चेतावनी :- इस तेल का क्रिकेट के बैट बाल से कोई संबंध नही है.
                                                                            *****

घुटना तोड तेल:- यह अति चमत्कारी तेल है. इस तेल की मालिश से घुटनों की सभी खराबियां दूर होती हैं. बैट बाल से यदि घुटने जवाब दे गये हों तो यह तुरंत ठीक करता है. एक सप्ताह के उपयोग से ही आप वापस स्टेडियम में जाने के काबिल हो जाते हैं. तिहाड कालेज में खराब हुये घुटनों को तुरंत आराम मिलने की गारंटी दी जाती है. प्रयोग करके देखें.
मूल्य रू. 3140/- प्रति शीशी मात्र
                                                चेतावनी :- इसे कृपया क्रिकेट से जोडकर ना देखें.
                                                                               *****

फ़रारी काटू तेल:- सब तेलों का सरताज तेल...फ़रारी काटू तेल....बाबाश्री की नितांत गोपनीय विधियों के परिणाम स्वरूप इस अदभुत परम चमत्कारी तेल का निर्माण संभव हो पाया है.  आपको ब्लाग से फ़रारी काटनी हो, फ़ेसबुक से फ़रारी काटनी हो, तिहाड कालेज से फ़रारी काटनी हो, स्टेडियम से फ़रारी काटनी हो, बस एक बार यह तेल इस्तेमाल करके देखिये. इस तेल में बाबाश्री ने वो शक्ति और चमत्कार भर दिया है कि आप इसे प्रयोग करने के बाद ही महसूस कर पायेंगे. इस तेल के प्रयोग से आप बिना फ़रारी काटे भी फ़रार हो सकते हैं. आप पूछेंगे यह कैसे संभव हो सकता है? तो दोस्तों...इस तेल की मालिश करते ही आप अदृष्य हो जायेंगे. आप सब कुछ देख सकेंगे पर आपको कोई नही देख पायेगा. तो अब डरना किस बात का? बैट करिये, बाल करिये और मस्त बेफ़िक्र होकर माल कूटिये. 
मूल्य रू. 4450/- मात्र प्रति शीशी
                                   चेतावनी :-  क्रिकेट से संबंध रखने वालों को यह तेल नहीं बेचा जाता.
                                                                                   *****

नोट:-  पूरा कोर्स यानि चारों शीशी एक साथ खरीदने पर डाक खर्च नही वसूला जायेगा. शीघ्रता करें वर्ना यह मौका दुबारा नही मिलेगा. इसके बाद अगला लाट एक साल बाद ही बनेगा. 

46 comments:

  1. ताऊ, अफ़सोस की हमारे काम की एक भी शीशी नहीं है इसमें :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. ईश्वर करे इस तरह की शीशीयों की ख्वाहिश भी ना हो.

      रामराम.

      Delete
  2. हा॥हा॥हा॥ जवाब नहीं ताऊ आपका भी , क्रिकेट घोटाले से आपके दिमाग मे भी बिजनेस के नए नए कीड़े कुलबुलाने लगे ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. समय रहते फ़ायदा ले लिया जाय वही सफ़ल बिजनैस मैन होता है.:)

      रामराम.

      Delete
  3. लो ...
    फिक्सिंग भी अब तेल से होगी ??
    धन्य महाराज !
    और मुझे भरोसा है यह सारी शीशियाँ आज रात का बिक जायेंगी ! लोगों को खाना मिले न मिले , मदारियों पर बड़ा भरोसा है !
    है न ताऊ !

    ReplyDelete
  4. ताऊ जी कभी कभी हम जैसे असहाय गरीबों के उपयोग की चीजों का भी निर्माण करवाईयेगा

    ReplyDelete
  5. बहुत बढ़िया ताऊ, तुम भी तेल बेचने-फिक्सिंग धंधा शुरू कर दिया .बढ़िया

    ReplyDelete
    Replies
    1. क्या करें? धंधा तो करना ही पडता है फ़िर चाहे जिस चीज का हो क्या फ़र्क पडता है?:)

      रामराम.

      Delete

  6. ताऊ .पोलितिसियन के लिए कुछ ऐसा तेल बनाओ जिसे लगाकर वह चुप होजाए. बोले तो सच बोले और अपनी पोल खोले !

    ReplyDelete
    Replies
    1. हा हा हा...आप तो ताऊ का धंधा बंद करवा देंगे इस तरह तो?:)

      रामराम.

      Delete
  7. आपकी यह रचना कल बुधवार (29 -05-2013) को ब्लॉग प्रसारण के "विशेष रचना कोना" पर लिंक की गई है कृपया पधारें.

    ReplyDelete
  8. बहुत उपयोगी,,पर अफ़सोस हमारे किसी काम की नही,,,

    Recent post: ओ प्यारी लली,

    ReplyDelete
    Replies
    1. जरूरत पडनी भी नहीं चाहिये.

      रामराम

      Delete
  9. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा आज बुधवार (29-05-2013) बुधवारीय चर्चा ---- 1259 सभी की अपने अपने रंग रूमानियत के संग .....! में "मयंक का कोना" पर भी है!
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
    Replies
    1. आभार शाश्त्री जी.

      रामराम.

      Delete
  10. अब तो तेल का स्टॉक भी खत्म हो गया होगा ... :):) बढ़िया व्यंग्य

    ReplyDelete
    Replies
    1. सही समझा आपने, ताऊ प्रोडक्ट्स बनने के साथ ही हाथों हाथ बिक जाते हैं.:)

      रामराम.

      Delete
  11. झन्नाट सन्नाटा, सन्नाट भन्नाटा।

    ReplyDelete
    Replies
    1. ये तो ताऊ सीक्रेट कोड है, आपको यह कोड किसने दिया?:)

      रामराम.

      Delete
  12. आनन्द आ रहा है. चेतावनी-कृपया इसे ऊपर वाले ब्लाग पोस्ट से जोड़कर न देखें. :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. हा हा हा..बिल्कुल सही चेतावनी दी आपने.:)

      रामराम.

      Delete
  13. मेरे ख्याल से तो आपका यह प्रोडक्ट हाथो हाथ बिक जायेगा,फायदेमंद व्यवसाय.

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुभकामनाओं के आभार.:)

      रामराम.

      Delete
  14. लगता है ताऊ कोई भी मुनाफाखोरी का धंधा नहीं छोडेगा!!! सटीक व्यंग्य, जहाँ लाभ है वहाँ लोभ है. 'जब तब लोभी होंगे धूर्त कभी भूखे नहीं मरेंगे' उक्ति को उजागर करता व्यंग्य!!

    ReplyDelete
    Replies
    1. ताऊ लोग आजकल के जमाने में इसी सिद्धांत की वजह से तो राज कर रहे हैं.

      रामराम.

      Delete
  15. लगता है ताऊ को भी क्रिकेट फिक्सिंग की हवा लग गयी है ! वैसे ताऊ अब तक तो काफी माल कमा चुके होंगे !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. भाई स्विस वालों ने भी और डिपाजिट लेने से मना कर दिया है.:)

      रामराम.

      Delete
  16. ओह ... अभी तो शोर्ट कोर्स निकाला था ... अब ये तेल भी निकल दिया ...
    मैच फिक्सिंग तेल की एजंसी मेरी ...

    ReplyDelete
    Replies
    1. ताऊ फ़क्ट्री में मास प्रोडक्शन होता है.:)

      सारा स्टाक बिक चुका है अब एजेंसी काहे की?

      वैसे सुपर स्टाकिस्ट सतीश सक्सेना जी हैं उनसे सब डीलरशिप की बात कर लिजिये, ज्यादातर स्टाक उन्होंने ही खरीदा है.:)

      रामराम.

      Delete
  17. इतने महंगे तेल !
    लूट मच रखी है ताऊ। :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. डाक्टर साहब, आजकल महंगा ही सबसे पहले बिकता है.:)

      रामराम.

      Delete
  18. मालिश करने की विधि भी बता देते तो --- शायद फायदे की उम्मीद रहती।

    ReplyDelete
    Replies
    1. शर्तिया फ़ायदा होगा चाहे जहां इच्छा हों वहां करवाने की छूट है.:)

      रामराम.

      Delete
  19. :) वाह... मजा आ गया.......

    ReplyDelete
  20. तैल से फिक्सिंग? तैल तो कभी फिक्‍स नही होने देता।

    ReplyDelete
    Replies
    1. ताऊ सारे काम उल्टे उल्टे ही करवाता है, यही तो मर्म है इस पोस्ट का.

      लोग बाग बंदी-सुधा तेल बेचते हैं, जब उस तेल से घुटने ठीक हो सकते हैं तो ताऊ के तेल से भी फ़िक्सिंग की गारंटी है.:)

      रामराम.

      Delete
  21. वाह आपने तो ढेरों को तेल कर दि‍या :-)

    ReplyDelete
  22. Bahut badhiya tau.....
    Sachmuch maza aa gaya.....

    ReplyDelete
  23. chalo achchhi Ad mil gai . ye tel sab ka tel nikalkar hi rahega tauji

    ReplyDelete