Powered by Blogger.

"नाच मेरी बुलबुल" की पहली सेमी फ़ाईनलिस्ट सुश्री रूपा बाई


दोस्तो, ताऊ टीवी के होली कार्यक्रम "नाच मेरी बुलबुल" प्रतियोगिता मे अब प्राथमिक दौर के कुछ ही प्रतियोगियों का परफ़ार्मेंस बाकी बचा है. प्रतियोगियों को विश्वास दिलाया जाता है कि सभी को मौका दिया जायेगा, कृपया थोडा धैर्य रखें....आपकी रचनाएं हमारे पास सुरक्षित हैं....

अभी तक जो प्रतियोगी भाग ले चुके हैं उनमें से आपके वोटॊं के आधार पर रिजल्ट का काम शुरू हो चुका है...आपके वोटॊं की गिनती के आधार पर हमारी पहली सेमी फ़ाईनलिस्ट चुनी गई हैं....सुश्री रूपा बाई....हार्दिक बधाईयां....बधाईयां ही बधाईयां..


पिछले राऊंड में सुश्री रूपा बाई ने "कलेजा फ़ोड-कमर तोड"  नृत्य प्रस्तुत किया था.  आपके वोटों की वजह से वो  सेमीफ़ाईनल में अपनी जगह बना पाई....आज ये सबसे पहले अपना गीत सुनायेंगी उसके बाद आज अपनी फ़ाईनल   डांस  प्रस्तुति देंगी.


आईये सुश्री रूपा बाई.............आकर अपना सेमीफ़ाईनल मुकाबले के लिये परफ़ार्मेंस दिजिये.......



नाच मेरी बुलबुल की पहली सेमीफ़ाईनलिस्ट सुश्री रूपा बाई


ताऊ टीवी के प्यारे दर्शकों मैं आपका आदाब बजा लाती हूं....आपकी बहुत शुक्र गुजार हूं कि आपने मुझे अधिक से अधिक वोट देकर नाच मेरी बुलबुल के  सेमीफ़ाईनल में पहुंचाया. आपसे मैं अपील करना चाहुंगी की मेरा आज का प्रदर्शन देखकर मुझे अधिक से अधिक वोट करें और फ़ाईनल जीतने का मौका दें

पहले मैं अपनी रचना आपके सम्मुख प्रस्तुत करती हूं.....उसके बाद मेरा प्रसिद्ध "मटका फ़ोड -कमर मत तोड"  डांस पेश करूंगी... पेशे नजर है आज का होली गीत.....आपके  ज्यादा से ज्यादा वोट चाहुंगी....


लेके हाथों में गुलाल,
ताऊ ने पकड़ी टेढ़ी चाल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

पीकर लोटा भरके भंग,
मचाता होली का हुड़दंग,
नाचता घुमा-घुमाकर अंग,
पहन कर दामन-चोली लाल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

ताई ने देखा जब ये रंग,
रह गयी बेचारी वो दंग,
बँधी क्यों मैं बन्दर के संग,
मचाता है ये बहुत धमाल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

पकड़कर लाई ताई कान,
हुआ तब ताऊ भी हलकान,
मिला दी मिट्टी में सब शान,
किया ताऊ का भंग धमाल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

किया कमरे में अब तो बन्द,
कहा अब ले मस्ती-आनन्द,
अकेले मचा यहीं पर द्वन्द,
उधेड़ी बेलन लेकर खाल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

ताई की ज्यों-ज्यों पड़ती मार,
मचाये ताऊ हा-हाकार,
माफ करदो सजनी इस बार,
मचाऊँगा अब नहीं बबाल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

तभी हो गयी सुहानी भोर,
निहारा हमने चारों ओर,
स्वप्न ने दिया हमें झकझोर,
नहीं था कुछ भी तो विकराल।
ताऊ का क्या कहना।
गोरियों बच के रहना।।

इसी के साथ आपको होली की शुभकामनाएं देता हुआ विदा चाहुंगा.....

                                                                ♥ डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ♥


ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....


साथियों...अब देखिये सुश्री रूपा कुमारी का फ़ाईनल परफ़ार्मेंस....जिसमे वो दिखा रही हैं..अपना प्रसिद्ध "मटका फ़ोड -कमर मत तोड".....  डांस.... दिल खोल कर वोट किजियेगा...आईये ....सुश्री रूपा बाई.....

सेमीफ़ाईनल में "मटका फ़ोड -कमर मत तोड" डांस प्रस्तुत करते हुये सुश्री रूपा बाई

ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....

ये था नाच मेरी बुलबुल प्रतियोगिता का पहला सेमी फ़ाईनल.....कुछ प्राथमिक दौर के प्रतिभागी अभी भी  बाकी बचे हुये  हैं....और जल्दी ही आपको  बतायेंगे...बाकी के तीन सेमी-फ़ाईनलिस्ट कौन हैं? इंतजार करते रहिये.....


25 comments:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज रविवार के चर्चा मंच-1193 पर भी होगी!
    सूचनार्थ...सादर!

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज रविवार के चर्चा मंच-1193 पर भी है!
    सूचनार्थ...सादर!

    ReplyDelete
  3. वाह ! सेमी फ़ाईनल में पहुँचने पर "सुश्री रूपा बाई" को बधाइयाँ !!

    ReplyDelete
  4. बुरा ना मानो होली है !

    ReplyDelete
  5. स्वप्न जज्जी आपको झकझोरते रहें !
    रूपा जी को बहुत बधाई !

    ReplyDelete
  6. आभार ताऊ आपका!
    होली की अग्रिमं बधाई स्वीकार करें!

    ReplyDelete


  7. मटका फोड़ -- चाला पाड़ !
    होली की शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  8. रचना सुन्दर है ... सेमीफ़ाईनलिस्ट को बहुत बहुत बधाई !

    ReplyDelete
  9. :-))बहुत-बहुत बधाई हो!
    मगर आप सपने में भी मार ही खाते रहते हैं क्या... :) :P
    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  10. बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति होली के आगमन पर,आभार.

    ReplyDelete
  11. ताऊ का क्या कहना।
    गोरियों बच के रहना।।

    ताऊ , संसद ने आंटी छेड-छाड़ बिल पास कर दिया है ध्यान रखना :)

    ReplyDelete
  12. होली के असवर पर बुलबुल को नचाने की बहुत बढ़िया प्रतियोगिता का कार्यक्रम ....
    सेमीफ़ाईनलिस्ट रूपा बाई को बहुत बधाई..

    ReplyDelete
  13. सेमी फ़ाईनल में पहुँचने के लिए "सुश्री रूपा बाई" को ढेर सारी रंग भरी बधाइयाँ !! जय हो...

    ReplyDelete
  14. रूपा कुमारी जी को पहली जीत पर बहुत-बहुत बधाई.

    ReplyDelete
  15. kya baat hai tayu ki
    rupabai ko badhai
    holi ab hai aai
    nahi karo ab huddang
    dalo bas ab sukha rang
    pranaaaam

    ReplyDelete
  16. बँधी क्यों मैं बन्दर के संग,
    मचाता है ये बहुत धमाल।

    हा-हा-हा

    ReplyDelete
  17. बधाई पहला सेमी-फाइनलिस्ट तो आ गया ...

    ReplyDelete
  18. आज शास्त्री जी का नंबर लग गया ...बहुत खूब


    होली की शुभकामनाएँ ......राम राम

    ReplyDelete