Powered by Blogger.

वाह वाह ताऊ क्या लात है? में श्री दिगंबर नासवा


होली के रंग में रंगे हुये रामप्यारे और मिस रामप्यारी दोनों ने आज इतनी भांग डकार ली कि दोनों बेसुध पडे हुये हैं.  "चैन से होली मनाना है तो ताऊ की  भंग पी जाईये" कार्यक्रम वाला मैं   रमलू सियार ताऊ टीवी के कार्यक्रम वाह वाह ताऊ क्या लात है? में आपका स्वागत करता हूं.

मित्रों, अभी तक ताऊ टीवी की सभी सनसनी खेज खबरे और चमकाने धमकाने के काम करने वाला मैं रमलू सियार हूं. मुझे मनोरंजक कार्यक्रम पेश करने का ज्यादा अनुभव नही है अत: किसी भी गडबडी के लिये आपसे पहले ही क्षमा याचना कर लेता हूं.

वैसे कुछ ज्यादा गडबड नही करूंगा...बस कुछ फ़ोटो इधर उधर लग जायें तो ध्यान मत दिजियेगा...राज की बात यह है कि मैने भी थोडी सी भांग चढा रखी है.....

आपका समय खराब नही करते हुये अब सीधे चलते हैं "वाह वाह ताऊ क्या लात है?" कार्यक्रम में.....



 आज के कार्यक्रम की शुरूआत कर रहे हैं मशहूर ब्लागर और हास्य कवि श्री दिगंबर नासवा ....आईये दिगंबर साहब ...और माईक थामकर....सर्व प्रथम  जिसका जो भी सूजाना हो वह  सुजा कर  कार्यक्रम का जय श्री गोबर गणेश करिये.......




"वाह वाह ताऊ क्या लात है?" में कवि श्री दिगंबर नासवा

ब्लागर साथियों,  "ताऊ टीवी फ़ोडके चैनल" के "वाह वाह ताऊ क्या लात है? कार्यक्रम में आते ही मुझे भंग पिला दी गई है,  परंपरा के नाम पर..... मुझे मालूम होता तो मैं आने के पहले एंटी भंग डोज लेके आता...खैर   होली के विभिन्न रंग लिये  रचना पेश कर रहा हूं....दाद दिजियेगा...... सुनिये...

तो कविता से पहले पेश हैं तीन लाइनें ...

पिछवाड़ा है सूजा सूजा चिंता की तो बात है
बुरा न मानो भईया ये तो होली की सौगात है
ताई भी गुर्राती है अब वाह ताऊ क्या लात है

तो इब पेश है कविता या यूं कहो हमारी दास्तां ... की आपकी भौजाई के ताई
बनने से पहले क्या क्या गुल खिले थे ...

अब तो जो भी कहता हूं सारी बातें है मान रही
होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही

तेरा भाई तो गुंडों को
होली के दिन लाया था
पर मेरे यारों ने मिल कर
उनका बैंड बजाया था

रंग लगाया था उस दिन चाहे आफत में जान रही
होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही

डर न जाऊं इसी लिए मैं
भांग चढा के आया था
सबको कीचड़ पर तेरे
गालों पे रंग लगाया था

गुस्से में था ताऊ पर ताई बन के दरबान रही
होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही

ताऊ घर पे आया ओ’
मेरे अब्बू से बात करी
सब ने मिल के थप्पड़ मुक्के
लातों की बरसात करी

तुझको पाना है बस तब से तू मेरा ईमान रही
होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही

ओर अब तो वो बिल्लो दो दो बच्चों की माँ है ... वैसे ही पटाखा है ...
जैसे ताऊ के ज़माने में थी ...

भंग के सरूर में  होली की शुभकामनायें ... सभी को ...

दिगंबर

ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....

इसके पहले आपने सुश्री सतीशा देवी का "दो चोटी तोड डांस" देखा था. कौन होगी "नाच मेरी बुलबुल" प्रतियोगिता की विजेता? यह भविष्य का सवाल है. ज्यों ज्यों प्रतियोगिता आगे बढती जायेगी, सभी की धडकने भी बढती जायेगीं.

और दर्शकों अब दिल थाम के बैठिये...कहीं आपका दिल टपक ना जाये....अब प्रतियोगिता की प्रबल दावेदार...ब्लागिस्तान की मशहूर बुलबुलों की बुलबुल.....चमेलियों की चमेली.... सुश्री दिगंबरा देवी...जो आपके सामने पेश करने जा रही हैं... चमेली बाग में अपना प्रसिद्ध  चमेली  नृत्य..... 


सुश्री दिगंबरा देवी "नाच मेरी बुलबुल" प्रतियोगिता में चमेली डांस करते हुये



ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....ब्रेक....ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक...ब्रेक....

मित्रों, अभी तक आप  ब्लागिस्तान की मशहूर नृत्यांनाओं.....मटका तोड  डांसर सुश्री अजया देवीबेलन तोड डांसर सुश्री रूपा देवीचिमटा तोड डांसर सुश्री दिगंबरा देवीदिल तोडू लठ्ठ डांस की मल्लिका सुश्री काजल देवी और चोटी तोड डांसर  सुश्री सतीशा देवी के जलवे देख चुके हैं......... 

कौन होगी अगली नृत्यांगना? आप  कहीं भी जाये...पर दोस्तों हमारे कार्यक्रम के अगले भाग में....देखना ना भूलियेगा.......हमारी अगली प्रतियोगी .... ताजातरीन....गुलों की महफ़िलों की बुलबुल.... "..........डांस"""""   की मल्लिका .....................???????

36 comments:



  1. बच के रहना रे भैया-

    रानी बन कर कर रही, ताई कब से मौज |
    रखती है मुर्गा बना, तले कलेजा रोज |
    तले कलेजा रोज , खरी खोटी पकडाती |
    सोलह से तैयार, स्वयं डोली सजवाती |
    धिक् धिक् यह सरकार, आज की नई कहानी |
    अब आया कानून, बात यह बड़ी पुरानी |
    राम राम-
    सादर

    ReplyDelete
  2. अच्छी रही आज की प्रस्तुति भी ...वाह ताऊ जी क्या लात है .....यह तो ठीक है ..हम तो यह भी कहेंगे वाह ताऊ जी क्या कमर है ..नायिका की ...राम राम जी ....!!!

    ReplyDelete
  3. रमलू ने तो अपना गोबर अच्छे से किया पर उसकी रमलूली भी साथ होती तो रस दूना हो जाता :)

    ReplyDelete
  4. होली की दुबैया सौगात
    वाह वाह ताऊ क्या लात !

    ReplyDelete
  5. आज की ब्लॉग बुलेटिन ताकि आपको याद रहे - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  6. दिगंबर भाई भी ताऊ के चक्कर में ...??

    ReplyDelete
  7. सुन्दर प्रस्तुति!
    --
    मौसम होलीमय हुआ, ताऊ जी के साथ।
    अच्छे-अच्छों को यहाँ, ताऊ मारे लात।।
    --
    आपकी पोस्ट का लिंक आज के चर्चा मंच पर भी है!
    सादर सूचनार्थ!
    http://charchamanch.blogspot.in/2013/03/1187.html

    ReplyDelete
  8. @सतीश जी
    जब ताऊ का सुदर्शन चक्र घूमता है तो हर लोई लपेटे में आ जाता है ... हमारी क्या बिसात ...

    ReplyDelete
  9. बढ़िया प्रस्तुती मजेदार ...पता नहीं अब आगे की कड़ियों में किस किस को नचायेंगे ताऊ ?

    होली की इस रंगारंग महफ़िल में
    मन की मलिनता पिघल जाए
    ताकि जीवन भी हम सबका
    नृत्य,संगीत भरा उत्सव हो जाए !

    ReplyDelete
  10. क्या खूब जमा... होली का रंग...होली के पहले ही... :-)
    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  11. इब आया मजा चमेली जान के डांस में....दिगंबरा देवी छा गई....:)

    ReplyDelete
  12. ताऊ घर पे आया ओ’ मेरे अब्बू से बात करी
    सब ने मिल के थप्पड़ मुक्के लातों की बरसात करी
    तुझको पाना है बस तब से तू मेरा ईमान रही
    होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही


    ताऊ के खेल होते हमेशा अजब
    होली मनाने का ये ढंग है गजब

    ReplyDelete
  13. ताऊ घर पे आया ओ’ मेरे अब्बू से बात करी
    सब ने मिल के थप्पड़ मुक्के लातों की बरसात करी
    तुझको पाना है बस तब से तू मेरा ईमान रही
    होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही


    ताऊ के खेल होते हमेशा अजब
    होली मनाने का ये ढंग है गजब

    ReplyDelete
  14. ताऊ घर पे आया ओ’ मेरे अब्बू से बात करी
    सब ने मिल के थप्पड़ मुक्के लातों की बरसात करी
    तुझको पाना है बस तब से तू मेरा ईमान रही
    होली के दिन काहे बिल्लो तू हमसे अंजान रही


    ताऊ के खेल होते हमेशा अजब
    होली मनाने का ये ढंग है गजब

    ReplyDelete
  15. इब आया मजा चमेली जान के डांस में....दिगंबरा देवी छा गई....:)

    ReplyDelete
  16. धीरे धीरे ताऊ की सारी टीम वापसी कर रही है, रामप्यारे और मिस. रामप्यारी भी लौट आये और आज तो रमलू सियार भी लौट आया. लगता है ताऊ टीवी फ़ोडके चैनल के दिन बदलने वाले हैं.:)

    ReplyDelete
  17. धीरे धीरे ताऊ की सारी टीम वापसी कर रही है, रामप्यारे और मिस. रामप्यारी भी लौट आये और आज तो रमलू सियार भी लौट आया. लगता है ताऊ टीवी फ़ोडके चैनल के दिन बदलने वाले हैं.:)

    ReplyDelete
  18. धीरे धीरे ताऊ की सारी टीम वापसी कर रही है, रामप्यारे और मिस. रामप्यारी भी लौट आये और आज तो रमलू सियार भी लौट आया. लगता है ताऊ टीवी फ़ोडके चैनल के दिन बदलने वाले हैं.:)

    ReplyDelete
  19. दिगंबर नासवा साहब की कविता ने रंग जमा दिया और ताऊ की शान में 420 चांद लगा दिये.:)

    ReplyDelete
  20. दिगंबरा देवी का नृत्य तो सुपर हिट रहा...कमर कुछ ज्यादा ही बल खा गई है.:)

    ReplyDelete
  21. दिगंबरा देवी का नृत्य तो सुपर हिट रहा...कमर कुछ ज्यादा ही बल खा गई है.:)

    ReplyDelete
  22. कौन होगी अगली नृत्यांगना? आप कहीं भी जाये...पर दोस्तों हमारे कार्यक्रम के अगले भाग में....देखना ना भूलियेगा.......हमारी अगली प्रतियोगी .... ताजातरीन....गुलों की महफ़िलों की बुलबुल.... "..........डांस""""" की मल्लिका .....................???????

    पर अगली डांसर कौन है? ये सस्पेंस क्यों रखा? लगता है ताऊ टीवी पक्का प्रोफ़ेशनल हो चला है?

    ReplyDelete
  23. कौन होगी अगली नृत्यांगना? आप कहीं भी जाये...पर दोस्तों हमारे कार्यक्रम के अगले भाग में....देखना ना भूलियेगा.......हमारी अगली प्रतियोगी .... ताजातरीन....गुलों की महफ़िलों की बुलबुल.... "..........डांस""""" की मल्लिका .....................???????

    पर अगली डांसर कौन है? ये सस्पेंस क्यों रखा? लगता है ताऊ टीवी पक्का प्रोफ़ेशनल हो चला है?

    ReplyDelete
  24. कौन होगी अगली नृत्यांगना? आप कहीं भी जाये...पर दोस्तों हमारे कार्यक्रम के अगले भाग में....देखना ना भूलियेगा.......हमारी अगली प्रतियोगी .... ताजातरीन....गुलों की महफ़िलों की बुलबुल.... "..........डांस""""" की मल्लिका .....................???????

    पर अगली डांसर कौन है? ये सस्पेंस क्यों रखा? लगता है ताऊ टीवी पक्का प्रोफ़ेशनल हो चला है?

    ReplyDelete
  25. सुन्दर मनोरंजक प्रस्तुति !!
    आभार !!

    ReplyDelete
  26. पिछवाड़ा है सूजा-सूजा चिंता की तो बात है
    बुरा न मानो भईया ये ताई की लात है :)

    वाह क्या बात है ताऊ,क्या बात है !

    ReplyDelete
  27. दिगंबर जी हास्य रस में भी लिखते हैं!होली के बहाने उनका यह राज़ भी खुल गया.रोचक!

    ReplyDelete
  28. @मकरंद जी ...
    अभी तक दर्द हो रिया है कमर में ... ताऊ ने ऐसो नाच नचायो ....

    ReplyDelete
  29. @दीपक जी ...
    ये तो ताऊ का कमाल है ... आगे आगे देखिये कौन कौन आता है ...

    ReplyDelete
  30. @गौदियाल साहब
    इब उठा भी भी नहीं जा रहा .. क्या करें ...

    ReplyDelete
  31. @अल्पना जी ...
    कभी कभी हाथ अजमा लेता हीं ...

    ReplyDelete
  32. अब तो हर बार आकर देखना होगा..

    ReplyDelete
  33. हा हा! गरही गहरा गई इस पेचकश से/....

    ReplyDelete