Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 117

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनिवार सबेरे की घणी राम राम.

ताऊ पहेली के अंक 117 में आपका हार्दिक स्वागत है. नीचे दिखाये गये चित्र को ध्यान से देखिये और बताईये कि यह कौन सी जगह का चित्र हैं? हमेशा की तरह पहेली के जवाब की पोस्ट मंगलवार सुबह 4:44 AM पर प्रकाशित की जायेगी.



ताऊ पहेली का प्रकाशन हर शनिवार 8:00 AM पर किया जायेगा. ताऊ पहेली के जवाब देने का समय कल रविवार सुबह 8:00 AM तक या अधिकतम कमेंट सुविधा बंद करने तक है.

जरुरी सूचना:-
टिप्पणी मॉडरेशन लागू है. समय सीमा से पूर्व ग़लत या सही दोनों ही तरह के जवाब प्रकाशित किए जा सकते हैं. जरूरी नही कि प्रकाशित किये गये जवाब गलत ही हैं. और रोचकता बनाये रखने के लिये गलत जवाब भी रोके जा सकते हैं. अत: अपना जवाब सोच समझकर देवें.

नोट : किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा.




मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग
ताऊजी डाट काम
रामप्यारे ट्वीट्स

39 comments:

  1. शिकारपुर वाले चौधरी साहब के घर के सामने की सड़क के पार चौकीदार की कुटिया।

    अब चौधरी साहब को ढूंढना आपका काम है। हमने अपना जवाब दे दिया। लॉक किया जाए।

    राम राम

    ReplyDelete
  2. ऐसा तो जबलपुर कटनी रोड पर एक मोड़ है, उसका ही चित्र लाग रिया है ताऊ...

    ReplyDelete
  3. कोई ऐतिहासिक जगह हो तो बताये..ये तो कहीं भी सड़क के किनारे की तस्वीर हो सकती है.

    ReplyDelete
  4. शिकारपुर वाले चौधरी साहब के घर के सामने की सड़क के पार चौकीदार की कुटिया



    -ललित भाई को पहेली जीत जाने की हार्दिक बधाई, शुभकामनाएँ...वैसे भी वह काफी मात्रा में ज्ञानी है खासकर भांग की टुन्नी होली पर जब चढ़ती है ...तो सर चढ़कर बोलती है उनके...

    ReplyDelete
  5. बंटी चोर से पूछ के आना होगा आज तो

    ReplyDelete
  6. सरेंडर ललितजी के पक्ष में.

    ReplyDelete
  7. अरे ये तो बडा मुश्किल है ताऊ,

    या तो ओंकरेश्वर रोड पर रेल्वे की पुलिया के पहले या मांडव किले के नीचे भंगी दरवाज़े के सामने....

    ReplyDelete
  8. sir koi hint to do .

    mera pahla jawab hai .. ujaain me kaalbhairav ka mandir

    ReplyDelete
  9. ताऊ, ये पक्का मांडव के भंगी दरवाज़े के सामने की जगह है. मध्य प्रदेश....

    ReplyDelete
  10. नेहरु टनल, श्री नगर, जम्मू-काश्मीर

    प्रणाम

    ReplyDelete
  11. ऐसी जगहे ताऊ ढूंढ कर लाते कहाँ से हो?ढ़ूँढने वाला गायब हो जाये मगर जगह ना मिले।
    शायद दिल्ली के पुराने किले के बाहर का दृश्य है।

    ReplyDelete
  12. अछा ब्लॉग है हवे अ गुड डे
    विसीट मायी ब्लॉग
    Music Bol
    Lyrics Mantra

    ReplyDelete
  13. यह वोही सडक हे ना ताऊ, जहां ताऊ राम प्यारे पर बेठ कर सुबह सवेरे सेर करने जाता हे, ओर जंगल पानी की निपटा आते हे दोनो
    ललित भाई को पहेली जीत जाने की हार्दिक बधाई,

    ReplyDelete
  14. ब्लागवानी के दफ्तर को जाने का रास्ता।

    ReplyDelete
  15. ....वानी है। आगे का शब्द जोड़ लो न ताऊ! कितना हैरान करोगे ..!

    ReplyDelete
  16. इधर से ऑल्टो कार का आधा बोनट नजर आ रहा है ताऊ, और उधर से एक ईंट की दीवार उसके पीछे छोटा पहाडी जंगल ! एक बोर्ड भी बाहर लगा था मगर ताऊ ने सफाई से बोर्ड साफ़ कर दिया लगता है ! आज कहीं बंटी चोर भी नजर नहीं आया ! और क्या बताऊ ?

    ReplyDelete
  17. यह मांडवगढ फ़ोर्ट के लिये चढते समय आलमगीर दरवाजे के पहले पडने वाला भंगी दरवाजा है. सौ टका भंगी दरवाजा, मांडव गढ फ़ोर्ट, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  18. ...ताउजी,जगह तो जानी पहचानी है..लेकिन...चलिए बहुत सुंदर द्रश्य है!

    ReplyDelete
  19. ताऊ श्री कहाँ मंदिरों को छोड़ जंगलों की खाक छानन लगन रहियो.या तो जंगल में सड़क किनारेवाली थारी आरामगाह ही तो है.भूल गयो के ? थाने वा पे एक लेम्प पोस्ट भी लगवा दियो था .शहर में आके सभी की बुद्धि भरमान लगत है.
    जब याद आ जावेगो तो रो रो के गावोगे
    "अ मेरे प्यारे वतन ,अ मेरे बिछुडे वतन ,तुझ पे दिल कुर्बान "

    ReplyDelete
  20. Tau ... aaj kal kahaankahaan jaa rahe ho ghoomne ... nai nai jagah ke bare mein pooch rahe ho ...
    bahut mushkil hai bhai aaj ki paheli ...

    ReplyDelete
  21. ये तो वही जगह है जहां के जंगलों मे पहले शेर पाये जाते थे पर आजकल वहां आपकी प्रजाति के लंगूर पाये जाते हैं.:)

    ReplyDelete
  22. ये मैहर शारदा पीठ को जाने वाला रास्ता है....

    ReplyDelete
  23. पर ठहरो ताऊ वहां सिगनल कहां से आगया?

    ReplyDelete
  24. ये रणथंभौर अभयारण्य के अंदर का दृष्य लगता है.

    ReplyDelete
  25. अगर ये सब भी नही है तो ये पक्का आलमगीर दरवाजा मांडव है.

    ReplyDelete
  26. ठहरो ताऊ, तुमने एक साईन बोर्ड को छुपा रखा है जिसकी टांगे नीचे दिखाई दे रही हैं.

    ReplyDelete
  27. और इस बोर्ड पर लिखा है "भंगी दरवाजा"

    ReplyDelete
  28. और ये भंगी दरवाजा मांडव जाते समय शुरूआत में ही पडता है

    ReplyDelete
  29. पक्का जवाब भंगी दरवाजा मांडव फ़ोर्ट, जिला धार, म.प्र.

    ReplyDelete
  30. जगह तो जानी पहचानी लग रही है है..
    --
    सोचकर बताएँगे!

    ReplyDelete
  31. ताऊ , इस पहेली के चैम्पियन से मिलना में बड़ा मज़ा आएगा ।

    ReplyDelete
  32. आदरणीय ताऊ जी राम राम
    केवल राम की तरफ से
    हम तो उत्साह बढ़ाएंगे आप सबका ...शुक्रिया आपका दिमागी कसरत करवाने के लिए

    ReplyDelete
  33. आज का दिन ही खराब है ,सुबह अपना परचा सही नहीं हुआ ,घर आ कर यह तस्वीर देख कर और दिमाग चकरा गया ..क्या हुआ ताऊ ,और कोई जगह न मिली पूछने को जो यो जंगल जैसी तस्वीर लगा दी.सड़क की अच्छी हालत देख कर लगता है गुजरात की कोई जगह होगी ..न भी हो तो क्या ...आज तो येही पता है हम मैच हार गए :( :(
    :(

    ReplyDelete