Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 100

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरे की घणी राम राम.
ताऊ पहेली के इस शतकीय अंक में मैं ताऊ रामपुरिया, सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं.

आप सभी के सहयोग और प्यार की वजह से यह आयोजन बिना किसी रूकावट के निरंतर यहां तक पहुंचा है जिसके लिये हम आप सभी के आभारी हैं. उम्मीद करते हैं कि भविष्य में भी आपका सहयोग और प्यार निरंतर मिलता रहेगा.

जैसा कि आप जानते हैं कि ताऊ पहेली के प्रथम अंक से ही हम प्रतिभागियों को अंक देते आये हैं. और अगले सप्ताह में हम ताऊ पहेली के पूरे सौ अंकों की मेरिट लिस्ट घोषित कर देंगे.

आज के शतकीय अंक के बाद ताऊ पहेली के स्वरूप में आपकी इच्छानुसार कुछ परिवर्तन किये जायेंगे जिसकी सूचना आपको अगले पहेली अंक के साथ ही दे दी जायेगी.

तो आईये अब ताऊ पहेली के सौवें अंक की और

हमेशा की तरह आज की पहेली का हिंट भी आपको रामप्यारी के ब्लाग पर सुबह 10:00 बजे ही मिलेगा.और इस पहेली के जवाब की पोस्ट मंगलवार सुबह 4 :44 AM पर प्रकाशित की जायेगी.

विनम्र विवेदन

तो अब पहेली मे पूछे गये चित्र के स्थान का सही सही नाम बतायें यानि चित्र मे दिखाई गई जगह का नाम क्या है? कृपया पूरा जवाब देवें.


नीचे के चित्र को देखकर बताईये कि यह कौन सी जगह है? और किस शहर या राज्य में है?




ताऊ पहेली के जवाब देने का समय कल रविवार दोपहर १२:०० बजे तक है. इसके बाद कमेंट सुविधा बंद कर दी जायेगी. अगर कमेंट सुविधा किसी कारण वश जारी भी रही तो आने वाले सही जवाबों को अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगे.

अब रामप्यारी का बोनस सवाल 20 नंबर का. यानि जो भी प्रतिभागी रामप्यारी के सवाल का सही जवाब देगा उसे 20 नंबर अलग से दिये जायेंगे. तो आईये अब आपको रामप्यारी के पास लिये चलते हैं.


"रामप्यारी का बोनस सवाल 20 नंबर के लिये"



हाय...आंटीज एंड अंकल्स...दीदीज एंड भैया लोग...गुडमार्निंग..मी राम की प्यारी रामप्यारी.....अब आपसे पूरे 20 नंबर का सवाल पूछ रही हूं. सवाल सीधा साधा है. बस मुख्य पहेली से अलग एक टिप्पणी करके जवाब देना है. और 20 नंबर आपके खाते में जमा हो जायेंगे. है ना बढिया काम...तो अब नीचे का चित्र देखिये और बताईये की यह किस पौधे का चित्र है?



इस सवाल का जवाब अलग टिप्पणी मे ही देना है. अब अभी के लिये नमस्ते. मेरे ब्लाग पर अब से दो घंटे बाद यानि 10 बजे आज की मुख्य पहेली के हिंट के साथ आपसे फ़िर मुलाकात होगी तब तक के लिये नमस्ते.

रामप्यारी के ब्लाग पर हिंट की पोस्ट सुबह दस बजे ही पढ सकते हैं! दूसरा हिंट नही दिया जायेगा.
जरुरी सूचना:-

टिप्पणी मॉडरेशन लागू है इसलिए समय सीमा से पूर्व केवल अधूरे और ग़लत जवाब ही प्रकाशित किए जाएँगे.
सही जवाबों को पहेली की रोचकता बनाए रखने हेतु समय सीमा से पूर्व अक्सर प्रकाशित नहीं किया जाता . अत: आपका जवाब आपको तुरंत यहां नही दिखे तो कृपया परेशान ना हों.

इस अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु. अल्पना वर्मा

नोट : यह पहेली प्रतियोगिता पुर्णत:मनोरंजन, शिक्षा और ज्ञानवर्धन के लिये है. इसमे किसी भी तरह के नगद या अन्य तरह के पुरुस्कार नही दिये जाते हैं. सिर्फ़ सोहाद्र और उत्साह वर्धन के लिये प्रमाणपत्र एवम उपाधियां दी जाती हैं. किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा. एवम इस पहेली प्रतियोगिता में आयोजकों के अलावा कोई भी भाग ले सकता है.


मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग
ताऊजी डाट काम

77 comments:

  1. ताऊ जी सबसे पहले तो बधाई स्वीकार किजिये आज ताऊ पहली अपना शतक जमा रही है..............
    अल्पना जी आपको भी बहोत-बहोत बधाई
    राम्प्यारी को भी बधाई

    ReplyDelete
  2. भाई ताऊ आज तो पता ही नहीं लग रहा की ये है क्या .... मंदिर है या गुरुद्वारा है या की जेल है

    ReplyDelete
  3. hint ka intajar karana padega bhai...............

    ReplyDelete
  4. Ram Raja Temple, Orcha lag rha hai
    regards

    ReplyDelete
  5. prakash govind ji ne to lagta hai jawab de bhi dia hoga... kiotne sahi jawab aa gaye taau ji.... hum to phisaddi hi reh gaye...ab to raampyaari ka hi aasra hai....

    ReplyDelete
  6. Dedicated to Lord Ram, Ram Raja temple is the nucleus of all activities in Orchha. The legend behind this magnificent shrine is very fascinating. It says that the idol was temporarily installed in the palace premises and later on it was found that the deity resisted moving. So a makeshift temple was built around it and is known as Ram Raja temple.

    This holy shrine is considered to be unique for the reason that, here lord Ram is worshiped as Raja and the temple premises were formerly a palace. With the marble tiled courtyard, and the impressive architecture, the temple looks amazingly beautiful.
    regards

    ReplyDelete
  7. rampyari rani mehandi hai mehandi to rang laayegi....

    ReplyDelete
  8. बाह ताऊ जी!
    आज तो बहुत मेहनत करा दी आपने!
    दो घंटे तक गूगल में मगजपच्ची की,
    तब कहीं जाकर यह सुन्दर स्थान कोज पाया हूँ!
    --
    यह तो राम राजा मन्दिर ओरछा है!
    इसकी वेब साइट है-
    http://www.indiamike.com/photopost/showphoto.php/photo/1062

    ReplyDelete
  9. राम राजा मन्दिर ओरछा, मध्यप्रदेश!
    Orcha (also known/spelt as Urchha) is a very small Indian Town located in India's Madyha Pradesh State which is packed with lots of really interesting places to visit - and also benefits from having the beautiful River Betwa running through it. Rather than temples as found in Khajuraho the town and surrounding area has a beautiful fort-palace, bridges, cenotaphs and buildings for sightseeing - plus it does have one or two temples as well... Please visit our Orcha tour topic for information about getting there, accommodation and so on, plus lots of photos from around the various sites.

    ReplyDelete
  10. ताऊ रामप्यारी जय राम जी की। शतक जमाने के लिये बधाई अब चलती हूँ सब्जी जल रही है गैस पर।

    ReplyDelete
  11. इस शतकीय पहेली की चर्चा
    आज के चर्चा मंच पर भी है!
    http://charchamanch.blogspot.com/2010/11/337.html

    ReplyDelete
  12. कनक महल, अयोध्या, उत्तर प्रदेश

    ReplyDelete
  13. ताऊ ई के पूछ लिया तने, बच्चा तो फेल हो गया.

    ReplyDelete
  14. रानी महल, ओरछा, मध्य प्रदेश जहाँ राम लल्ल्ला का निवास है.

    ReplyDelete
  15. Ram Raja Temple, Orcha,madhya pradesh India.

    ReplyDelete
  16. ताऊ जी बहुत बहुत बधाई आप को, और अल्पना जी को,और उन सभी दोस्तो को जो इस आयोजन का हिस्सा है, आज इस परिवार के लिये बहुत ही खुशी का दिन है......

    ReplyDelete
  17. hint dekhte hi andaja laga liya
    kanak mehel hai
    jo ayodhya me hai...
    up

    ReplyDelete
  18. rampyari ka jawaab nahi..
    mast hai hinka dene ke tarika

    ReplyDelete
  19. आप सभी लोग भारत प्रश्न मंच पर भी आमंत्रित हैं- http://sarovar.tk/

    ReplyDelete
  20. ये तेनाली राम का महल है।

    ReplyDelete
  21. राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  22. रामप्यारी के सवाल का जवाब - मेंहदी क पेड़

    ReplyDelete
  23. शतक पूरा होने पर बधाई। उत्तर का कोई अंदाज़ा नहीं है। मैने तो हाथ खड़े कर लिये हैं।

    ReplyDelete
  24. यह राम राजा मंदिर ही है. ओरछा, मध्य प्रदेश.

    ReplyDelete
  25. रामप्यारी नें तो आज मेहन्दी का झाड/पेड की तस्वीर लगा रखी है....

    ReplyDelete
  26. Ram Raja Temple
    Orchha
    Madhya Pradesh



    Ram Raja Temple :

    Of the many interesting temples in Orchha, the Ram Raja Temple is an important tourist attraction.

    There is a fascinating tale behind the history of the Ram Raja Temple. This temple was at one point of time, a palace of the then ruler Madhukar Shah. Legend says that once Lord Rama appeared in his dreams due to which Madhukar Shah brought the idol of Lord Rama into the palace before installing it inside the temple. But for some reason the idol could not be moved from its original place in the palace. The ruler then remembered the bit of his dream where it was said that the idol would stay at the place it would be kept initially. It was then that the king turned the palace into a temple.

    ReplyDelete
  27. आज की पहेली के प्रश्न नं. 1 का सही जबाब है।

    राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  28. @ताऊ जी
    अब तो सारा उत्साह ही ख़त्म हो गया !
    सामान्य ज्ञान रखने वाले तो कब का जवाब देकर जा चुके होंगे !
    मैं तो गूगल से नक़ल मारकर ही जवाब दे रहा हूँ !

    पहेलियों के आयोजन का शतक पूरा होने पर
    आपको और अल्पना जी को बहुत-बहुत बधाई !

    ReplyDelete
  29. बहुत मुश्किल सवाल पूछा है आपने...अपनी समझ के बाहर है...इसलिए...हम तो जाते अपने गाँव अपनी राम राम राम...

    नीरज

    ReplyDelete
  30. रामप्यारी का जवाब :

    मेहंदी का पौधा है
    Henna tree

    ReplyDelete
  31. १०० वी पहेली अंक के लिए सबसे पहले बधाई स्वीकार करें ...आपकी यह श्रंखला निरंतर जारी रहे की शुभकामना के साथ . आभार

    ReplyDelete
  32. पहेलियों का शतक पूरा करने के लिए
    बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  33. आज तो रामप्यारी का हिंट भी मदद नहीं कर पाया जी
    हार्दिक शुभकामनायें, सैंकडें की


    प्रणाम

    ReplyDelete
  34. कोन्या बेरा लाग्या या कुण सी जगा सै
    सांझ नै दुबारा कोशिश करुंगा
    आज काम बहोत सै

    राम-राम

    ReplyDelete
  35. 21 नवम्बर को रोहतक में आपके दर्शनों की अभिलाषा है जी

    प्रणाम स्वीकार करें

    ReplyDelete
  36. सबसे पहले तो शतक की हार्दिक बधाई।
    अब ये बताओ ये क्या है ? कैसे कैसे प्रश्न होते है यहाँ तो दिमाग का दही हो जाता है। कभी तो आसान पुछा करो।

    ReplyDelete
  37. शतक की बहुत-बहुत बधाई।
    ....मुझे तो यह रावण का किला लगता है...जाहिर है लंका में होगा।

    ReplyDelete
  38. राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  39. ताऊ पहेली - 100 का एकदम सही जवाब

    आज की पहेली का सही जवाब है -

    राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  40. राम राजा मंदिर,
    ओरछा,
    मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  41. Ram Raja Temple Madhya Pradesh state, India

    ReplyDelete
  42. हेल्लो रामप्यारी जी,
    जहाँ तक लग रहा है यह सभी महिलाओं के प्रिय श्रींगार मेहंदी का पौधा है ....

    ReplyDelete
  43. शतकीय अंक पर आर्दिक बधाइयाँ स्वीकारें

    ReplyDelete
  44. Ram Raja Temple Madhya Pradesh state, India

    ReplyDelete
  45. ओरछा पैलस, राममन्दिर....मध्यप्रदेश

    ReplyDelete
  46. Tauji

    Sarvpratham to bahut badhaii......shatakiy paheli ke liyeb !!

    ye gurudwara /mandir hai ...:)

    ReplyDelete
  47. ताऊ शतक की वधाई ! राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश :) राम प्यारी- काजु का पेड

    ReplyDelete
  48. राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश
    ताऊ जी बहुत बहुत बधाई आप को, और अल्पना जी को,और उन सभी दोस्तो को जो इस आयोजन का हिस्सा है, आज इस परिवार के लिये बहुत ही खुशी का दिन है......

    ReplyDelete
  49. ये बिल्डिंग ओरछा (म्.प्र.)का राजा राम मंदिर है | राम प्यारी ये पौधा मेहंदी का है जिसका की अब काटने का समय है |

    ReplyDelete
  50. राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  51. राम राजा मंदिर, ओरछा, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  52. कनक भवन, अयोध्या

    ReplyDelete
  53. रामप्यारी का जवाब - गूलर

    ReplyDelete
  54. शतकीय पहेली की बहुत बधाई,

    यह तो उत्तर प्रदेश में कहीं का लग रहा है।

    ReplyDelete
  55. राजाराम मंदिर ओरछा, टीकमगढ़

    ReplyDelete
  56. रामप्यारी का जबाब--- मेहंदी का पेड़

    ReplyDelete
  57. ना,
    पल्ले ही नहीं पडा।

    ReplyDelete
  58. रामराजा मंदिर
    मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  59. फतेहपुर सीकरी .

    ReplyDelete
  60. din mein computer aisa kharaab hua ki uttar jaante huye bhi tippani nahi kar paya....
    राम राजा मंदिर, मध्य प्रदेश

    ReplyDelete
  61. बहुत बहुत बधाई स्वीकार करें !

    समझ में नहीं आ रहा जगह का नाम , कल फिर हाजिर होंगे उत्तर की आश में :)

    ReplyDelete
  62. अभी कहीं पर उत्तर देखा कि ये ओरछा का राम मंदिर है - यहाँ तो एक बार में जा भी चूका हूँ - हमारे राज्य मध्य्प्रदेश में ही है ये - पर मुझे जगह ध्यान नहीं आ रही -

    ReplyDelete
  63. अब बंटी चोर ने उतर सार्वजानिक कर दिया है तो उतर देने का क्या फायदा :(

    ReplyDelete
  64. "ताऊ पहेली - 100" मेहनत और दृढ़संकल्प का उत्कृष्ट उदाहरण।
    सौंवीं पहेली पूछने की बधाई। आपकी प्रशंसा करना तो छोटे मुंह बड़ी बात होगी...शुभकामनाएं प्रेषित करती हूँ। पूरी टीम को पुनः बधाई!

    देर से आने के लिए क्षमा।


    पहेली का उत्तर- अयोध्या

    रामप्यारी के प्रश्न का उत्तर- आंवला।

    ReplyDelete
  65. सूचना :-

    इस पहेली पर जवाब देने का समय समाप्त हो चुका है.

    अब जो भी सही जवाब आयेंगे उन्हें अधिकतम ५० अंक दिये जा सकेंगे एवम जवाबी पोस्ट मे उनका नाम शामिल किया जाना पक्का नही है.

    सभी प्रतिभागियों का उत्साह वर्धन के लिये हार्दिक आभार.

    -आयोजनकर्ता

    ReplyDelete