Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 100 (Ram Raja Temple, Oracha) विजेता - सुश्री सीमा गुप्ता

प्रिय भाईयो और बहणों, भतीजों और भतीजियों आप सबको ताऊ की घणी रामराम ! ताऊ पहेली २०/१२/२००८ को शुरू की गई थी जो आज आप लोगों द्वारा की गई होसला अफ़्जाई के फ़लस्वरूप निरंतर १०० अंक का सिलसिला पूरा कर चुकी है. यह मौका गर्व और खुशी दोनों का है. कई साथी अभी तक निरंतर साथ बने हुये हैं और उनमें से कुछ आजकल सक्रिय नही हैं. उन सभी साथियों के अविस्मरणीय योगदान ने ताऊ पहेली को इस मुकाम तक पहुंचाया है. इस मौके पर थोडा पीछे लौट कर देखता हूं तो बात कल की सी ही लगती है.

ताऊ पहेली २०/१२/२००८ को शुरू की गई थी और मैं इस पहेली की असली सुत्रधार सुश्री अल्पना वर्मा का जिक्र सबसे पहले करते हुये उन्हें धन्यवाद देना चाहुंगा. ताऊ पहेली को इस हद तक निर्विवाद रूप से सफ़ल बनाने का सारा श्रेय उनकी मेहनत, विषय के प्रति उनकी गहरी समझ और लक्ष्य के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को जाता है. किसी भी व्यक्ति को इस स्तर का व्यक्तित्व अगर किसी भी काम में मिल जाये तो उस काम की सफ़लता निसंदेह है.

ताऊ पहेली से अल्पना जी का नाता शुरू दिन से है. शुरू के ११ अंक तक वो प्रतिभागी के बतौर इस प्रतियोगिता में भाग लेती रही. जैसा कि सभी जानते हैं पहेली बूझना उनका शौक है लेकिन ताऊ पहेली के विषय के बारे में उनके द्वारा जो कीमती टिप्पणीयां दी गई उनको देखते हुये मैने उनसे इस पहेली में विषय के प्रति जानकारी देने के लिये जुडने का आग्रह किया. वो चाहती तो विषय की जानकारी देते हुये भी पहेली में भाग ले सकती थी लेकिन वो इस शर्त पर ही ताऊ पहेली में सह आयोजक बनने को तैयार हुई कि वो प्रतिभागिता से अलग रहेंगी. मैं इस बात के लिये उनका आभारी हुं कि उन्होने अपने शौक को दरकिनार करते हुये ताऊ पहेली के संचालन में संपुर्ण जिम्मेदारियों का निर्वहन सफ़लता पूर्वक किया.

सबसे पहली ताऊ पहेली जो २०/१२/२००८ को पूछी गई थी उस पहेली को जीतने का श्रेय श्री अनुराग शर्मा जी (स्मार्ट इंडियन) को प्राप्त हुआ. इसके अलावा उन्होनें पहेली अंक १२, ४५ और ७८ यानि कुल चार पहेली जीतने का गौरव हासिल किया, आपके सहयोग और प्रथम ताऊ पहेली विजेता बनने पर आपका हार्दिक अभिनंदन!

इसके बाद ताऊ पहेली २ से श्री शुभम आर्य ने जीत का सिलसिला शुरू किया, आप ताऊ पहेली २, ५, १०, ११, ३६, ४०, ४१, ४२, ४४, ४६ और ४७ जीतने में कामयाब रहे और ताऊ पहेली के इतिहास में हेट्रिक (पहेली ४०, ४१ और ४२ जीतकर) बनाने वाले दूसरे प्रतिभागी बने. कुल ११ पहेलियां आपने जीती, बहुत बधाई , आभार और शुभकामनाएं.

श्री विवेक सिंह ने ताऊ पहेली ३ जीत कर इस पहेली में सफ़लता हासिल की और हमारा मान बढाया, बहुत बधाई , आभार और शुभकामनाएं.

और इसके बाद ताऊ पहेली ४ से उडनतश्तरी नाम की आंधी ने जीत का सिलसिला शुरू किया. ताऊ पहेली ४, १४, २१, २२, २३, ५७, ६०, ६६, ६८, ८१, ८४, ९१, ९३, ९५ और ९८ सहित कुल १५ पहेलियां उन्होने जीती. इसमे पहेली २१. २२ और २३ जीतकर ताऊ पहेली में सर्वप्रथम हेट्रिक बनाई. आप कुछ समय ताऊ साप्ताहिक पत्रिका में वरिष्ठ संपादक के बतौर जुड गये, उस दौरान आपने प्रतिभागी के तौर पर हिस्सा नही लिया. यह आंधी कल जबलपुर पहुंच चुकी है, हार्दिक स्वागत सम्मान, बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

इसके उपरांत पहेली ६ से सुश्री सीमा गुप्ता ने जीत का सिलसिला शुरू किया. आपने ताऊ पहेली ६, १३, १७, ३७, ४३, ५५, ७१, ८८ और १०० वीं पहेली जीतने का गौरव हासिल किया. कुल ९ पहेलीयां आपने जीती. बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

ताऊ पहेली ७ से श्री प्रकाश गोविंद ने जीत का सिलसिला शुरू किया तो वो सबसे ज्यादा पहेलियां जीतने वाले शख्स बन गये. उन्होने ताऊ पहेली ७, २४, २५, ३३, ५३, ५८, ५९, ६१, ६३, ६७, ६९, ७२, ७३, ७६, ७९, ८०, ८२, ८५, ८७, ९०, ९६, ९७ और ९९ यानि कुल २३ पहेलियां जीतकर इस आयोजन का मान बढाया. बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री रंजन ने ताऊ पहेली ८, २७ और ४९ जीतते हुये कुल ३ पहेलियां जीतने में सफ़लता पाई, बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री काजलकुमार ने ताऊ पहेली ९ और ५२ जीतकर २ पहेलियां जीतने मे सफ़लता पाई, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

इसके बाद श्री रतनसिंह शेखावत ने ताऊ पहेली १५, ८३ और ८६ जीती एवम कुल ३ ताऊ पहेलियां जीतने में कामयाब रहे, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

इसी जीत के सिलसिले को आगे बढाया सुश्री पारूल ने. उन्होने ताऊ पहेली १६, १८ और ३९ जीतकर कुल ३ पहेलियां जीती, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

सुश्री पूजा उपाध्याय ने ताऊ पहेली १९ जीतने का श्रेय प्राप्त किया, बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री नितिन व्यास ने ताऊ पहेली २० जीतने मे कामयाबी हासिल की, बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री योगेश समदर्शी ने ताऊ पहेली २६ जीतकर विजेताओं के क्रम को आगे बढाया, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

और इसके बाद आये श्री दिनेशराय द्विवेदी, जिन्होनें ताऊ पहेली २८, ५१ और ६४ जीतकर कुल ३ पहेलियां जीती, बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री रविकांत पांडे ने पहेली २९ और ३२ जीतकर कुल २ पहेलियां जीती, बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

इसी क्रम में श्री मुरारी पारीक ने ताऊ पहेली ३०, ५४ और ५६ जीतकर कुल ३ पहेलियां जीतने मे सफ़लता प्राप्त की, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

इसके बाद श्री अनिल पूसदकर ने पहेली ३० जीतकर सफ़लता के क्रम में अपना नाम जुडवाया, बहुत बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री प्रवीण जाखड ने पहेली ३४ जीतकर इस क्रम में सफ़लता प्राप्त कर विजयी लिस्ट में अपना नाम लिखाया, बहुत बधाई,आभार और शुभकामनाएं.

श्री सुशील कुमार छौंक्कर ने ताऊ पहेली ३५ जीतने मे कामयाबी पाई, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

सुश्री प्रेमलता पांडे ने ताऊ पहेली ३८ जीतकर विजेताओं में अपना नाम लिखाया, हार्दिक आभार बधाई और शुभकामनाएं.

श्री दिलीप कवठेकर पहेली ४८ जीतने में कामयाब रहे, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री विवेक रस्तोगी ने ताऊ गोल्डन पहेली यानि ५० वीं पहेली जीतकर विजेता लिस्ट में अपना नाम दर्ज कराया. हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री ललित शर्मा ताऊ पहेली ६२ जीतने में सफ़ल रहे, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

सुश्री रेखा प्रहलाद ने ताऊ पहेली ६५ और ७५ जीतकर कुल २ पहेलियां जीती, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री पी.एन. सुब्रमनियन ने ताऊ पहेली ७० जीतकर ताऊ पहेली की विजेता लिस्ट को सुशोभित किया, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

सुश्री अल्पना ने ताऊ पहेली ७४ जीतकर विजेता लिस्ट को गौरवान्वित किया, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

श्री भारतीय नागरिक ने ताऊ पहेली ७७ जीतकर विजेता लिस्ट को आगे बढाया, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

इस क्रम में हे प्रभु ये तेरा पथ के श्री महावीर सेमलानी ने ताऊ पहेली ८९ जीतकर ताऊ पहेली विजेता बने, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

और ताऊ पहेली ९२ जीतकर सुश्री M. A. Sharma "सेहर" ने विजेता लिस्ट का गौरव बढाया, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

और इस क्रम में श्री Sabir 'h' Khan ने पहेली ९४ जीतकर विजेता लिस्ट को मान दिया, हार्दिक बधाई, आभार और शुभकामनाएं.

तो ये थी कुल १०० अंक की ताऊ पहेली के कुल ३० प्रथम विजेताओं की लिस्ट और ताऊ पहेली के १०० अंको में कुल ३५७ प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया. हम जल्द ही आपको ताऊ पहेली के १०० अंको की मेरिट लिस्ट बतायेंगे, जिसको जानना शायद और भी दिलचस्प रहेगा. तो आप इंतजार किजिये हम जल्द ही आपको अन्य जानकारियां भी देंगे.

आईये अब चलते हैं ताऊ पहेली के शतकीय यानि 100 वीं पहेली के जवाब की तरफ़. कल की ताऊ पहेली का सही उत्तर है राम राजा टेंपल, ओरछा (म.प्र.)

और इसके बारे मे हमेशा की तरह संक्षिप्त सी जानकारी दे रही हैं सु. अल्पना वर्मा.

आप सभी को मेरा नमस्कार,

पहेली में पूछे गये स्थान के विषय में संक्षिप्त और सारगर्भित जानकारी देने का यह एक लघु प्रयास है.

आशा है, आप को यह प्रयास पसन्द आ रहा होगा,अपने सुझाव और राय से हमें अवगत अवश्य कराएँ.


झांसी से कोई १९ किलोमीटर दूर ,उत्तरी मध्य प्रदेश में बेतवा नदी के किनार बसी रामराजा नगरी ओरछा अपने मंदिरों और महलों के लिए बहुत प्रसिद्ध है.इसे वीरों और कलाकारों की जन्मस्थली भी कहा जाता है.

यहाँ के पर्यटन स्थल हैं-: दरबारी नर्तकी राव प्रवीण का महल, सुन्दर महल, ऐतिहासिक फूल बाग, कवीन्द्र केशव भवन, हाथी दरवाजा, रामबाग, चतुर्भुज मंदिर, गगनचुम्बी स्तम्भ ‘सावन भादों’, कंचनघाट स्थित महर्षि तुंग की तपोभूमि तुंगारेन तथा बेतवा तट पर बनी ओरछा नरेशों की विशाल समाधियां जो भव्य मंदिरों के समान लगती हैं,राम राजा मंदिर,राजमहल ,शीश महल ,जहाँगीर महल आदि.

राजा राम मंदिर
-----------------


राजा हरदौल की पवित्र नगरी बुंदेलखंड के इसी ओरछा में बसते हैं राजा राम.

भगवान राम को राजा मानने की इस मान्यता के पीछे बहुत सी कहानियां हैं ,एक कहानी के अनुसार संवत् 1600 में बुंदेला महाराजा मधुकर शाह की महारानी गणेश और राम की प्रतिमा अयोध्या से ओरछा लाई थीं .चतुर्भुज मंदिर बनने से पहले इसे कुछ समय के लिए महल में स्थापित किया गया लेकिन मंदिर बनने के बाद कोई भी मूर्ति को उसके स्थान से हिला नहीं पाया. इसे ईश्वर का चमत्कार मानते हुए महल को ही मंदिर का रूप दे दिया गया और इसका नाम रखा गया राम राजा मंदिर. यहाँ राजा राम की मूर्ति का चेहरा मंदिर की ओर न होकर महल की ओर है.

Ram Raja Temple Orcha


महाराजा के शासनकाल में चारों पहर की आरती में भगवान श्रीराम को 'गार्ड ऑफ ऑनर' दिया जाने लगा. देश और दुनिया में अकेले ही यह ऐसा मंदिर है जहाँ सरकार ने भी 'भगवान' को 'राजा' माना है.यहां मंदिर की सुरक्षा के लिए मध्य प्रदेश सरकार की ओर से जवान तैनात किए गए हैं जो कि रोजाना आरती के समय गार्ड ऑफ ऑनर देते हैं. राजा राम मंदिर के पुजारी पंडित अनिल तिवारी के अनुसार ओरछा में सिर्फ एक राजा है और वह 'राजा राम' है इसलिए ओरछा में किसी को सलामी और सम्मान नहीं दिया जाता है.

Ram Raja Temple, enterance Orcha


मंदिर के गलियारे में बने २ टॉवर भी लोगों के आकर्षण का केन्द्र हैं. कहा जाता है कि इनके नीचे बनी सुरंगों को शाही परिवार अपने आने-जाने के रास्ते के तौर पर इस्तेमाल करता था.

मंदिर के सामने सावन की तीज के दिन राम झूला का आयोजन होता है और भव्य मेला भी लगता है



आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" की नमस्ते!

प्यारे बहनों और भाईयो, मैं आचार्य हीरामन “अंकशाश्त्री” ताऊ पहेली - १०० के रिजल्ट के साथ आपकी सेवा मे हाजिर हूं. उत्तर जिस क्रम मे मुझे प्राप्त हुये हैं उसी क्रम मे मैं आपको जवाब दे रहा हूं. एवम तदनुसार ही नम्बर दिये गये हैं.


सभी विजेताओं को हार्दिक शुभकामनाएं.


ताऊ पहेली - 100 की प्रथम विजेता सुश्री सीमा गुप्ता

प्रथम विजेता सुश्री सीमा गुप्ता अंक 101


आईये अब ताऊ पहेली के अन्य सम्माननीय विजेताओं से मिलिये!


 

 

 

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक अंक 100

My Photo

 

 

 

 

 

श्री पी.एन.सुब्रमनियन अंक 99

 


ajju5Dr.Ajmal Khan अंक 98


ashish-mishra

 

 

 

श्री आशीष मिश्रा अंक 97

bantichor

 

 

श्री बंटी चोर अंक 96










श्री प्रकाश गोविंद अंक 95

ssb

 

श्री Surendra Singh Bhamboo अंक 94

 

gajendra singh

 

 

 

 

श्री गजेंद्र सिंह अंक  93

OSHO



श्री ओशो रजनीश अंक 92


vijay karn 










श्री विजय कर्ण अंक 90

 

श्री sabir*h*khan अंक sabir h khan89










प. डी.के. शर्मा "वत्स", अंक 88

pcg1


श्री पी.सी.गोदियाल, अंक 87


darshan_jpg

 

 

 

 

 

 

श्री Darshan Lal Baweja अंक 87

naresh=rathod

 

श्री नरेश सिंह राठोड अंक 86


sb






श्री संजय भास्कर अंक 85

upendra

 

 

 

 

 

 

 

 

श्री उपेन्द्र अंक 84











श्री अविनाश वाचस्पति
अंक 83

shekhar

 

 

 

 

 

 

 

 

श्री Shekhar Suman अंक 82


[ramtyagi3.jpg]






श्री राम त्यागी अंक 81


आईये अब रामप्यारी मैम की कक्षा में





हाय गुड मार्निंग एवरीबड्डी... मेरे सवाल का सही जवाब है : मेहंदी (हीना) का पौधा निम्न सभी प्रतिभागियों को सवाल का सही जवाब देने के लिये 20 नंबर दिये हैं सभी कॊ बधाई.





सुश्री सीमा गुप्ता
श्री आशीष मिश्रा
प. डी. के. शर्मा "वत्स"
श्री प्रकाश गोविंद
सुश्री रानीविशाल
श्री नरेश सिंह राठौड
श्री उपेंद्र

अब अगले शनिवार को ताऊ पहेली में फ़िर मिलेंगे. तब तक जयराम जी की!

अब आईये आपको उन लोगों से मिलवाता हूं जिन्होने इस पहेली अंक मे भाग लेकर हमारा उत्साह वर्धन किया. आप सभी का बहुत बहुत आभार.

सुश्री निर्मला कपिला
श्री संजय बेंगाणी
श्री रंजन
श्री ललित शर्मा
श्री Somesh Saxena
श्री नीरज गोस्वामी
श्री महेंद्र मिश्र
श्री अंतरसोहिल
सुश्री वंदना
श्री देवेंद्र पांडेय
सुश्री M.A.Sharma "सेहर"
सुश्री Saba Akbar
श्री विवेक रस्तोगी
श्री नीरज जाटजी
सुश्री Anju
सुश्री प्रेमलता पांडे
श्री रतनसिंह शेखावत

अब अगली पहेली का जवाब लेकर फ़िर आपकी सेवा मे हाजिर होऊंगा तब तक के लिये आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" को इजाजत दिजिये. नमस्कार!


आयोजकों की तरफ़ से सभी प्रतिभागियों का इस प्रतियोगिता मे उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक धन्यवाद. !

ताऊ पहेली के इस अंक का आयोजन एवम संचालन ताऊ रामपुरिया और सुश्री अल्पना वर्मा ने किया.

26 comments:

  1. ताऊ, सेंचुरी मारने की बधाई होवे! सीमा जी को भी दोहरी विजय की बधाई! अल्पना जी के सहयोग के लिये उनका भी आभार। आपकी पहेली ने हिन्दी ब्लॉग जगत में अनूठा कीर्तिमान स्थापित किया है।

    बुन्देलखंड के राजा राम मन्दिर की इस अनूठी जानकारी का धन्यवाद! भारत में कई अन्य राज्यों का शासन भी राजा राम के प्रतिनिधि के रूप में चलता रहा है। अगली पहेलियों में उन जगहों पर भी प्रकाश डाला जाये यह अपेक्षित है।

    ReplyDelete
  2. ताऊ पहेली के शतक का आंकड़ा छू लेने की बहुत बधाई...
    पर्यटन के लिहाज़ से ये पहेलियाँ बड़े काम की हैं ..
    सभी विजेताओं को बहुत -बहुत बधाई !

    ReplyDelete
  3. सभी विजेताओं को बधाई | पहेलियों का सतक पूरा करने पर बलोग के सभी पाठकों ,व आयोजको को बधाई |

    ReplyDelete
  4. विजेताओं को हार्दिक बधाई और आयोजकों का आभार

    ReplyDelete
  5. ..मभी विजेताओ को बधाई।
    ..राम मंदिर के विषय में रोचक जानकारी।

    ReplyDelete
  6. आदरणीय ताऊ जी, पहेलियों के सफल आयोजन और शतक की उपलब्धि पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाये. जब ये सफ़र शुरू हुआ था तो पता नहीं था इतना रोचक रहेगा और देश की अमूल्य धरोहर को इन पहेलियों के माध्यम से जानने का मौका मिलेगा.


    आदरणीय अल्पना जी ने पहेलियों में पूछे गये स्थान की जो विस्तार से जाकारी उपलब्ध कराई vo तारीफे काबिल hai.


    रामप्यारी ने भी कम कसरत नहीं करवाई हा हा हा हा हा हा vo भी बधाई की पात्र hai .


    अंत में सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई

    regards

    ReplyDelete
  7. सभी विजेताओं को ढेरों शुभकामनाएँ..........
    आदरणीय अल्पना जी का आभार

    ReplyDelete
  8. ताऊजी, ई ब्लाग जगत मां म्हारी तो बिल्कुलीज नई इन्ट्री है । तो हूँ जाणणो चाहूँ कि ई 85 अंक तक पाणे वाला सभिज विजेताओण नें कांई सई उत्तर दे रखियो है ? थांकि व्यस्तता के देखीने म्हारे लगे तो कोणि के ई सवाल को जवाब मने मिल पावेगो, फेर भी थांका वास्ते संभव हो तो म्हारी या जानकारी थे जरुर बढवाजो । आगे तो थांकि ई पहेली को शतकीय सफर पूरो होणे पे म्हारी भी बधाई तो स्वीकार करीज लीजो । और कांई केऊं. बस धन्यवाद....

    ReplyDelete
  9. सीमा जी व अन्य विजेअताओं को बहुत बहुत बधाई.
    ताऊ जी एवम अल्पना जी को भी शतक पूरा करने की बधाई.
    इस बार के हिंट से भी पहेली बूझना आसान नहीं था .आने वाली पहलियों के शतक के लिए आयोजकों को हार्दिक शुभकामनायें .

    ReplyDelete
  10. सीमा जी व अन्य विजेअताओं को बहुत बहुत बधाई.
    ताऊ जी एवम अल्पना जी को भी शतक पूरा करने की बधाई.
    इस बार के हिंट से भी पहेली बूझना आसान नहीं था .आने वाली पहलियों के शतक के लिए आयोजकों को हार्दिक शुभकामनायें .

    ReplyDelete
  11. शतक की बधाई एकबार फिर से स्वीकार करें
    विजेताओं का लेखा-जोखा और यह ब्यौरा बहुत बढिया है जी
    सुश्री अल्पना जी का भी हार्दिक धन्यवाद
    नीरज जाटजी ने भी काबिले तारिफ पोस्ट लगाई थी, ताऊ पहेलियों के शतक पर

    प्रणाम स्वीकार करें

    ReplyDelete
  12. ताउजी!...यह ब्लोग पढ कर ही पता चल जाता है कि आप ने यहां कितनी मेहनत की हुई है!....और यह सब करने के लिए अपना कितना कीमती समय खर्च किया है!...मै तहे दिल से आप का धन्यवाद करती हं!...सभी विजेताओं को बधाई और शुभ-कामनाएं!

    ReplyDelete
  13. कमाल की बात है हमने एक बार भी ये पहेली ना जीती जबकि जीत का रंगीन सर्टिफिकेट अपने ब्लॉग पर बड़ी शान से लगा रखा है...इस का मतबल ये ना है के हम को कुछ आता जाता ना है...हम भाई थोड़े आलसी हैं और ये खेल है ठीक टैम पे जवाब देने का यहीं हम मार खा जाते हैं वर्ना भाई जी हमारा नाम भी ऊपर वाली लिस्ट में ऊपर ही नज़र आता...इब के हो सके है...आप अपने नियम बदलो तो ही हम जीत सकें हैं
    आप और आपकी टीम को पहली सेंचुरी पे बधाई...सेंचुरी पे सेंचुरी सचिन की तरह दे दनादन मारते रहो ये ही कामना करते हैं.

    नीरज

    ReplyDelete
  14. विजेताओं को हार्दिक बधाई ।

    ReplyDelete
  15. ताऊ सैचुरी की घणी जोरदार बधाई.....

    ReplyDelete
  16. सभी विजेताओं को बधाई | पहेलियों का शतक पूरा करने पर बलोग के सभी पाठकों ,व आयोजको को बधाई |

    ReplyDelete
  17. सभी विजेताओं को बधाई |

    ReplyDelete
  18. विजेअताओं को
    बहुत बहुत
    बहुत बहुत
    बहुत बहुत
    बहुत बहुत
    .................बधाई.

    ReplyDelete
  19. मंदिर तो अपनी जगह अलबत्ता पहेली के सौ अंक सफलतापूर्वक संपन्न होने पर पीछे मुड़कर देखना बहुत अच्छा लगा. मेरी हार्दिक कामना है कि यह पहेली ब्लाग की दुनिया में सचिन तेंडुलकर बन कर रहे.

    ReplyDelete
  20. १०० पहेली पूरी होने.... बधाई .....और अब तक के सभी विजेताओं को भी हार्दिक बधाई

    ReplyDelete
  21. सीमा जी को शतकीय पहेली विजेता बनने पर विशेष बधाई.
    अन्य सभी प्रतिभागियों विजेता /अविजताओं को भी बधाई.
    आभार

    ReplyDelete
  22. tau ji ko satak saflta purvak pura karne par hardik badhaiyaan..

    aur sabhi vijetaaon ko badhai .. seema ji party honi chahiye... Taslim Chitr paheli ke satak kee main bhi vijeta hun.. to seema ji sabhi ko mil kar treat dete hai..

    kal yah post charcha manch par hogi..

    ReplyDelete