Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 89

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरे की घणी राम राम.
ताऊ पहेली अंक 89 में मैं ताऊ रामपुरिया, सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं. जैसा कि आप जानते ही हैं कि अब से रामप्यारी का हिंट सिर्फ़ एक बार ही दिया जाता है. यानि सुबह 10:00 बजे ही रामप्यारी के ब्लाग पर मिलता है.

विनम्र विवेदन

कृपया पहेली मे पूछे गये चित्र के स्थान का सही सही नाम बतायें कि चित्र मे दिखाई गई जगह का नाम क्या है? कई प्रतिभागी सिर्फ़ उस राज्य का या शहर का नाम ही लिख कर छोड देते हैं. जो कि अबसे अधूरा जवाब माना जायेगा.

हिंट के चित्र मे उस राज्य या शहर की तरफ़ इशारा भर होता है कि उस राज्य या शहर मे यह स्थान हो सकता है. अब नीचे के चित्र को देखकर बताईये कि यह कौन सी जगह है? और किस शहर या राज्य में है?


ताऊ पहेली का प्रकाशन हर शनिवार सुबह आठ बजे होगा. ताऊ पहेली के जवाब देने का समय कल रविवार दोपहर १२:०० बजे तक है. इसके बाद आने वाले सही जवाबों को अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगे.

अब रामप्यारी का बोनस सवाल 20 नंबर का. यानि जो भी प्रतिभागी रामप्यारी के सवाल का सही जवाब देगा उसे 20 नंबर अलग से दिये जायेंगे. तो आईये अब आपको रामप्यारी के पास लिये चलते हैं.


"रामप्यारी का बोनस सवाल 20 नंबर के लिये"



हाय...आंटीज एंड अंकल्स...दीदीज एंड भैया लोग...गुडमार्निंग..मी राम की प्यारी रामप्यारी.....अब आपसे पूरे 20 नंबर का सवाल पूछ रही हूं. सवाल सीधा साधा है. बस मुख्य पहेली से अलग एक टिप्पणी करके जवाब देना है. और 20 नंबर आपके खाते में जमा हो जायेंगे. है ना बढिया काम...तो अब नीचे का चित्र देखिये और बताईये कि नीचे के चित्र मे कौन हैं?




इस सवाल का जवाब अलग टिप्पणी मे ही देना है. अब अभी के लिये नमस्ते. मेरे ब्लाग पर अब से दो घंटे बाद यानि 10 बजे आज की मुख्य पहेली के हिंट के साथ आपसे फ़िर मुलाकात होगी तब तक के लिये नमस्ते.

अब आप रामप्यारी के ब्लाग पर हिंट की पोस्ट सुबह दस बजे ही पढ सकते हैं! दूसरा हिंट नही दिया जायेगा.
जरुरी सूचना:-

टिप्पणी मॉडरेशन लागू है इसलिए समय सीमा से पूर्व केवल अधूरे और ग़लत जवाब ही प्रकाशित किए जाएँगे.
सही जवाबों को पहेली की रोचकता बनाए रखने हेतु समय सीमा से पूर्व अक्सर प्रकाशित नहीं किया जाता . अत: आपका जवाब आपको तुरंत यहां नही दिखे तो कृपया परेशान ना हों.

इस अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु. अल्पना वर्मा

नोट : यह पहेली प्रतियोगिता पुर्णत:मनोरंजन, शिक्षा और ज्ञानवर्धन के लिये है. इसमे किसी भी तरह के नगद या अन्य तरह के पुरुस्कार नही दिये जाते हैं. सिर्फ़ सोहाद्र और उत्साह वर्धन के लिये प्रमाणपत्र एवम उपाधियां दी जाती हैं. किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा. एवम इस पहेली प्रतियोगिता में आयोजकों के अलावा कोई भी भाग ले सकता है.


मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग
ताऊजी डाट काम

59 comments:

  1. हुआ लग रहा है
    पर मालूम नहीं है।

    ReplyDelete
  2. कौए के शावक लग रहे हैं
    पर काले हैं न

    ReplyDelete
  3. यह पहेली बहुत खतरनाक है। इस तरह की सैंकड़ों इमारतें हो सकती हैं।

    ReplyDelete
  4. अरे ताउजी यहा तो मेरा ससुराल भी है !

    ReplyDelete
  5. राम प्यारी एक तो कबूतर जी काग यानी कौआ लग रहा है

    ReplyDelete
  6. गुफा उफा लग रही है. पर ठीक ठीक दिख नहीं रहा, थोड़ा क्लियर फोटो लगाइए. ब्रॉड व्यू वाला कैमरा नहीं ले गए थे क्या? :)

    ReplyDelete
  7. मास्टर जी
    पहला तो भीम बैठका सै
    दुसरा तोता मैना का जोड़ा है।
    तोता प्रेमाग्नि में जल के काला हो गया है जी।
    पहले हरा-भरा था
    राम राम

    ReplyDelete
  8. Itne mushkil sawaal poochne chahiye koi ..hum naadaan bachchon se...:))

    Taauji , Abhishek ji kee baat par gaur kiya jay..plzzz..:)

    Baby crow lag rahen hain.aatii hun fir se .

    ReplyDelete
  9. ताउ की पहेली का जवाब कठिन लग रहा है। इसलिए सिर्फ राम-राम।


    रामप्‍यारी शायद कौओं को पकड़ कर लायी है। पता नहीं ट्रे में रखकर क्‍या करनेवाली है.. हो सकता है खुद खाए... या शायद दूसरों को खिलाए :)

    ReplyDelete
  10. आज की पहेली एयरटेल है। मतलब हवा की पूँछ जो किसी के पकड़ में न आए।

    ReplyDelete
  11. आह ! अब हिंट की पोस्ट देख कर पता चला कि ये तो करूणानिधि की जन्मस्थलि है जिसकी सुरक्षा अब पुरातत्वविभाग को करनी पड़ रही है.

    (देख लेना एक दिन ऐसा ज़रूर आएगा जब ये थिरू राजनीति से रिटायर हो ही जाएंगे तब तक सभी प्रिंस चार्ल्सों को इंतज़ार करना ही होगा)

    ReplyDelete
  12. महाबलीपुरम रुक टेम्पल , तमिलनाडु !

    दूसरा कवे के बच्चे !

    ReplyDelete
  13. शायद राककट जैन मंदिर तामिलनाडू

    ReplyDelete
  14. अब तो तय है, हम तो रामप्यारी को जबाब देते रहे इत्ती देर..हम्म!!



    राककट जैन मंदिर तामिलनाडू

    ReplyDelete
  15. कबूतर है रामप्यारी

    ReplyDelete
  16. कबूतर तो संजय बैंगाणी भी पहचान लेंगे. :)

    ReplyDelete
  17. थोंदुर जैन गुफ़ा मन्दिर,थोंदुर, तमिलनाडू।

    ReplyDelete
  18. तमिलनाडु में जिला मुख्यालय पुडुकोट्टई से 15 किलोमीटर दूर एक प्राचीन जैन स्थल है जहाँ चट्टानों से काट कर निर्मित की गई गुफाएँ हैं और अजंता की परंपरा के चित्रांकन हैं।

    ReplyDelete
  19. ताऊ जी इस जगह का नाम लिखना तो भूल गया यह स्थान सित्तान्नवासल कहा जाता है।

    ReplyDelete
  20. रामप्यारी!
    अपन को तो ये श्राद्ध का भात खाते कौवे दिख रहे हैं।

    ReplyDelete
  21. CHITHANAVASAL OR SITTANNAVASAL
    चित्तानवसल जैन गुफ़ा मंदिर,तमिलनाडू

    ReplyDelete
  22. Sittannavasal Monuments
    'Sittannavasal' जैन गुफ़ा मंदिर जिसे"THE PILLARED VERANDA" कहा जाता है जो तमिलनाडू राज्य में है।
    THE PILLARED VERANDA
    Visitors enter the cave temple through a pillared veranda. This is the latter addition by the Maharaja of Pudukkottai at the instance of Tottenham, the British administrator, in the 20th century. The pillars were brought from the ruins of the Kudumiyamalai temple and the roof-slabs from the quarry of adjoining place called Panangudi. The moulded plinth here is original Pandya. It may be surmised that the mukhamandapam built by the Pandya king must have collapsed. Some point out the debris lying about to prove this.
    This veranda is bereft of any detail, except for a famous inscription. This 17-line Tamil inscription on the surface of the rock on the southern flank of this pillared veranda is of great importance giving us some clue to the dating the cave temple. It says that a Jaina acharya named Ilan-Gautaman, also called 'the acharya from Madurai', repaired or renovated and embellished the ardhamandapam and added a mukha-mandapam in front of the cave temple, which is called in the inscription 'Arivar-koil' ('temple of the Arhat') in Annalvayil village during the reign of the Pandya King Srimaran-srivallabhan (815-862 AD), also called Avanipasekhara.

    ReplyDelete
  23. Sittannavasal B.C.Jain cave temple.
    regards

    ReplyDelete
  24. Rock-cut Jaina temple, Sittannavasal

    Sittannavasal is 16 km from Pudukkottai. Sittannavasal (‘sith-thana-na-vaa-sal’) is the best-known archeological site in Pudukkottai. It is famous for its cave paintings, which are second only in importance after Ajanta paintings in the art history of India. It is perhaps the only place where you can find inscriptions in Tamil from the 3rd century BC to the 13th century AD. Also there are megalithic monuments such as stone-circles, urn and cists burials spread I the plain around the hill. Sittannavasal is a corruption of sit-tan-na-va-yil, which means ‘the abode of great saints’.
    regards

    ReplyDelete
  25. ताऊ, आप्पन अब्बी ताक तामीलनाडू नेई गयेले है, पता नेई।

    ReplyDelete
  26. ताई का कोपभवन है , अक्सर ताऊ बिना लट्ठ बाहर बैठा मिलता है ...
    इनाम घर भिजवा देना आजकल बिजी चल रहा हूँ

    ReplyDelete
  27. यह भी कोइ पूछने की बात है ये तो ताऊ का घर है | रामप्यारी ये ताऊ और ताई के पिछले जनम का दृश्य है जिसमे ताऊ और ताई ने आपस में झगड़ा किया हुआ है इस लिए दोनों के मुह विपरीत दिशा में है |

    ReplyDelete
  28. Jain Temples/Pilgrimage Places
    Sittannavaasal, near Pudukkottai in Tamilnadu
    CHITHANAVASAL OR SITTANNAVASAL

    ReplyDelete
  29. अरे ताऊ जी यह तो रोहतक का पुराना बस अड्डा है जी, अब नया बन गया है इस लिये लोग इसे भुल गये है, आप का धन्यवाद फ़िर से याद दिलने के लिये

    ReplyDelete
  30. अरी राम प्यारी यह ट्रे मै जो है ना वो तेरा खाना है बडे वाला आज दोपहर को खाना, छोटे वाला रात को

    ReplyDelete
  31. रामप्यारी या तो ये ऊल्लू है या फिर उल्लू के पट्ठे.....

    ReplyDelete
  32. CHITHANAVASAL OR SITTANNAVASAL(the best-known archaeological site in Pudukkotta--TAMILNADU) - ROCKCUT JAIN CENTER...It is famous for its cave paintings

    ReplyDelete
  33. रामप्यारी ये तो जंगली कबूतर के बच्चे लग रहे हैं!

    ReplyDelete
  34. tau ji ko Ram Ram, the anser is-Sittannavasal(Chithannavasal Cave)
    Pudukottai district of Tamilnadu.
    thanks.

    ReplyDelete
  35. tau ji ko Ram Ram, the anser is-Sittannavasal(Chithannavasal Cave)
    Pudukottai district of Tamilnadu.
    thanks.

    ReplyDelete
  36. tau ji ko Ram Ram, the anser is-Sittannavasal(Chithannavasal Cave)
    Pudukottai district of Tamilnadu.
    thanks.

    ReplyDelete
  37. namste tau, SITTANNAVASAL,Pudukkottai , tamilnadu.

    ReplyDelete
  38. Sittannavasal(jain rock cut temple) Pudukkottai,tamilnadu.

    ReplyDelete
  39. rock cut jain temple .
    chittanavasal or sittanavasal jain temple in tamilnadu

    ReplyDelete
  40. कौए के बच्चे हैं

    ReplyDelete
  41. ऊपर वाले के सामने वाले बाग में कबूतर द्वय हैं। पर मुंह क्यों छिपा रहे हैं? तुम्हारे ड़र से तो नहीं ?

    ReplyDelete
  42. Sory Tauji ..again late ...

    Its ..CHITHANAVASAL OR SITTANNAVASAL
    in Tamilnadu.(also called Rock -cut temple)

    famous and oldest caves , and a Jain Temple .

    ReplyDelete
  43. मूर्ति तो पार्श्वनाथ की लग रही है.. मंदिर की खबर नहीं...

    ReplyDelete
  44. सूचना :-

    इस पहेली पर जवाब देने का समय समाप्त हो चुका है.

    अब जो भी सही जवाब आयेंगे उन्हें अधिकतम ५० अंक दिये जा सकेंगे एवम जवाबी पोस्ट मे उनका नाम शामिल किया जाना पक्का नही है.

    सभी प्रतिभागियों का उत्साह वर्धन के लिये हार्दिक आभार.

    -आयोजनकर्ता

    ReplyDelete