ताऊ पहेली - 85 (जगन्नाथ मंदिर, पुरी, उडीसा) विजेता : श्री प्रकाश गोविंद

प्रिय भाईयो और बहणों, भतीजों और भतीजियों आप सबको घणी रामराम ! हम आपकी सेवा में हाजिर हैं ताऊ पहेली 85 का जवाब लेकर. कल की ताऊ पहेली का सही उत्तर है Jagannath Temple Puri [Orissa]

और इसके बारे मे संक्षिप्त सी जानकारी दे रही हैं सु. अल्पना वर्मा.

आप सभी को मेरा नमस्कार,

पहेली में पूछे गये स्थान के विषय में संक्षिप्त और सारगर्भित जानकारी देने का यह एक लघु प्रयास है.

आशा है, आप को यह प्रयास पसन्द आ रहा होगा,अपने सुझाव और राय से हमें अवगत अवश्य कराएँ.


उड़ीसा राज्य के पुरी शहर में भगवान श्री कृष्ण को समर्पित मंदिर है.इसे हिदुओं के चारों धाम में से एक माना जाता है.

विश्व प्रसिद्ध इस मंदिर का वार्षिक रथ यात्रा उत्सव मध्य काल से अब तक बेहद उल्लास और उत्साह से मनाया जाता है.भगवान जगन्नाथ ,उनके भाई बलभद्र और बहिन सुभद्रा के तीन अलग अलग सजे हुए भव्य रथ यात्रा में निकलते हैं.

Rath yatra


इस मंदिर का निर्माण कलिंग राजा अनंतवर्मन चोडगंग देव ने कराया था और बाद में सन् 1174 ई. में ओडिआ शासक अनंग भीम देव ने इस का जीर्णोद्धार करवाया.

Jagannath Temple Puri


३७,००० मीटर ² में फैले इस मंदिर स्थापत्यकला उड़िया शैली की है.मुख्य मंदिर वक्ररेखीय आकार का है, जिसके शिखर पर अष्टधातु से निर्मित विष्णु का श्री चक्र मंडित है, इसे नीलचक्र भी कहते हैं. मंदिर का मुख्य ढांचा पाषाण चबूतरे पर बना है. इसके भीतर आंतरिक गर्भगृह में भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा की मूर्तियां स्थापित हैं.

jagannath temple dieties


यहाँ की रसोई में भगवान को चढाने वाले महाप्रसाद को तैयार करने के लिए ५०० रसोईए तथा उनके ३०० सहयोगी काम करते हैं,इसे भारत की सब से बड़ी रसोई बताया जाता है.

इस मंदिर में पर्यटकों और गैर-हिन्दू लोगों का प्रवेश वर्जित है.

इस मंदिर में विस्तृत दैनिक पूजा-अर्चनाएं ,सामाजिक एवं धार्मिक आयोजनों वर्ष पर्यन्त होते रहते हैं किन्तु रथ यात्रा का विशेष महत्व है., जो आषाढ शुक्ल पक्ष की द्वितीया को आयोजित होती है जिस में तीनों मूर्तियों को अति भव्य और विशाल रथों में सज़ा कर यात्रा पर निकालते हैं .

अधिक जानकारी के लिए अधिकारिक साईट पर जाएँ-
http://www.jagannathtemplepuri.com/

एक बात और कहना चाहूंगी कि पुरी का समुद्र तट बहुत ही सुंदर है. यहां से उगते और डूबते सुर्य को देखना एक अलौकिक आनंद देता है. यह बीच बहुत ही सुरक्षित है. यहां बीच पर ही आपको सर्व सुविधायुक्त होटल्स और रिसार्ट्स ठहरने के लिये मिल जायेंगे जिनके अपने निजी बीच हैं.

Puri Sea Beach


अगली बार जब भी आप पुरी दर्शन के लिये जायें तब यहां सी बीच (Sea beach) घूमना अवश्य याद रखियेगा.



आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" की नमस्ते!

प्यारे बहनों और भाईयो, मैं आचार्य हीरामन “अंकशाश्त्री” ताऊ पहेली के रिजल्ट के साथ आपकी सेवा मे हाजिर हूं. उत्तर जिस क्रम मे मुझे प्राप्त हुये हैं उसी क्रम मे मैं आपको जवाब दे रहा हूं. एवम तदनुसार ही नम्बर दिये गये हैं.



सभी विजेताओं को हार्दिक शुभकामनाएं.


श्री प्रकाश गोविंद   अंक 101

seema-gupta-2

सुश्री सीमा गुप्ता अंक 100

ajju5

Dr.Ajmal Khan  अंक 99

darshan-baweja

श्री Darshan Lal Baweja  अंक 98

श्री विवेक रस्तोगी अंक 97

indu-arora

सुश्री  इंदू अरोडा अंक 96

श्री उडनतश्तरी अंक 95

lalit 50

श्री ललित शर्मा अंक 94

smartindian

श्री स्मार्ट इंडियन  अंक 93

ashish-mishra

श्री आशीष मिश्रा अंक 92

My Photo

श्री पी.एन.सुब्रमनियन अंक 91

श्री अभिषेक ओझा अंक  90

archana

सुश्री अर्चना अंक 89

श्री रंजन अंक 88

sugya

 श्री सुज्ञ अंक 87

श्री अंतरसोहिल अंक 86

प. श्री.  डी. के. शर्मा “वत्स” अंक 85

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक अंक 84

geete

श्री Anurag Geete अंक 83

डा. श्री महेश सिन्हा अंक 82

vandana-delhi

सुश्री वंदना अंक 81

सुश्री अंजना अंक 80

dwivediji

श्री दिनेशराय द्विवेदी अंक 79

anju

 सुश्री Anju अंक 78

सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई!


आईये अब रामप्यारी मैम की कक्षा में





हाय गुड मार्निंग एवरीबड्डी... मेरे सवाल का सही जवाब है : बोटानिकल गार्डन कोलकाता का विश्व प्रसिद्ध बरगद का पेड.




कोलकाता (हावडा) में हुगली नदी के पश्चिमी किनारे पर स्थित बोटानिकल गार्डन एशिया का सबसे बडा और दुनिया का दूसरे नंबर का गार्डन है जो तकरीबन 273 एकड के क्षेत्रफ़ल मे फ़ैला हुआ है. इस गार्डन की नींव 1787 में ईस्ट इंडिया कंपनी के कर्नल अलेक्जेंडर कीड (Col. Alexander Kyd) ने रखी थी. इस गार्डन मे करीबन 30,000 विभिन्न प्रजातियों के पेड पौधे हैं जिनमे की मेरे द्वारा पूछे गये सवाल वाला विश्व का सबसे बडा बरगद का पेड भी शामिल है.

यह बरगद (Banyan tree) 200 साल से ज्यादा पुराना है और इस की परिधि (circumference) तकरीबन 330 मीटर है. तो आप जब भी कोलकाता जायें तब बोटानिकल गार्डन में जरूर जायें और इस बरगद के पेड को जरूर देखें. जब तक आप कोलकाता जायें तब तक नीचे का विडियो देखकर आनंद प्राप्त करिये.



यद्यपि यह सवाल का हिस्सा नही था पर इस पेड की सही स्थिति सबसे पहले डा. रूपचंद्र जी शाश्त्री अंकल ने बतायी की ये बोटानिकल गार्डन में है और उसके बाद समीर अंकल ने बताया कि यह कहां स्थित है? निम्न सभी प्रतिभागियों को सवाल का सही जवाब देने के लिये 20 नंबर दिये हैं सभी कॊ बधाई.



श्री काजलकुमार,
श्री Darshan Lal Baweja
सुश्री इंदु अरोड़ा
श्री ललित शर्मा
श्री पी.एन.सुब्रमनियन
श्री स्मार्ट इंडियन
श्री विवेक रस्तोगी
डा.रुपचंद्रजी शाश्त्री "मयंक,
श्री उडनतश्तरी
श्री Anurag Geete
डा. महेश सिन्हा
सुश्री सीमा गुप्ता
श्री प्रकाश गोविंद
सुश्री Anju

अब अगले शनिवार को फ़िर यहीं मिलेंगे. तब तक जयराम जी की!

अब आईये आपको उन लोगों से मिलवाता हूं जिन्होने इस पहेली अंक मे भाग लेकर हमारा उत्साह वर्धन किया. आप सभी का बहुत बहुत आभार.

सुश्री बबली
श्री अविनाश वाचस्पति
श्री राज भाटिया
श्री ज़ाकिर अली ‘रजनीश’
श्री राम त्यागी

अब अगली पहेली का जवाब लेकर अगले सोमवार फ़िर आपकी सेवा मे हाजिर होऊंगा तब तक के लिये आचार्य हीरामन "अंकशाश्त्री" को इजाजत दिजिये. नमस्कार!


आयोजकों की तरफ़ से सभी प्रतिभागियों का इस प्रतियोगिता मे उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक धन्यवाद. !

ताऊ पहेली के इस अंक का आयोजन एवम संचालन ताऊ रामपुरिया और सुश्री अल्पना वर्मा ने किया. अगली पहेली मे अगले शनिवार सुबह आठ बजे आपसे फ़िर मिलेंगे तब तक के लिये नमस्कार.

Comments

  1. प्रकाश जी इतने सारे पुरस्कार कहां रखते होंगे आप :-) आपको भी बधाई व सही अन्य विजेताओं को भी. अल्पना जी को ढेर सा धन्यवाद कि इतनी मेहनत से इतनी सुंदर जानकारी सजाई हम सभी पाठकों के लिए.

    ReplyDelete
  2. सभी विजेताओं को बधाई

    ReplyDelete
  3. सभी प्रतिभागियों और विजेताओं को
    बहुत-बहुत बधाई!

    ReplyDelete
  4. आदरणीय प्रकाश जी सहित सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई..

    regards

    ReplyDelete
  5. सभी विजेताओं को ढेर सारी शुभकामनाएँ साथ ही मित्रता दिवस की भी ढेरों बधाईयाँ.

    ReplyDelete
  6. पुरी रथ यात्रा और बरगद के पेड से परिचित हुए ...आभार ...!
    सभी प्रतियोगियों को बधाई ..!

    ReplyDelete
  7. सभी प्रतिभागी और विजेताओं को
    बहुत-बहुत बधाई |

    ReplyDelete
  8. समस्त विजेताओं और प्रतिभागियों को
    बहुत-बहुत बधाई
    -
    -
    अभी कुछ दिन पूर्व ही तो रथ-यात्रा टीवी पर देखी थी ! इस बार तेजी काम आई!
    -
    -
    रामप्यारी का सवाल औरों के मुकाबले मेरे लिए सिर-दर्द साबित हुआ! अधिकांश लोगों ने पहचान लिया और मैं जंगल-जंगल भटकता रहा! रामप्यारी को सवाल में 'जंगल' शब्द का उल्लेख नहीं करना चाहिए था ...अगर सीधे सवाल यह भी पूछती कि -"यह क्या है" तब भी ठीक था ...कम से कम कन्फुजियाते तो नहीं :)
    -
    -
    अल्पना जी आपने सुन्दर व ज्ञानवर्धक जानकारी दी! आपने बिलकुल सही कहा-"पुरी का समुद्र तट बहुत ही सुंदर है. यहां से उगते और डूबते सूर्य को देखना एक अलौकिक आनंद देता है"

    और हाँ ...'महाप्रसाद को तैयार करने के लिए 500 रसोईए तथा उनके 300 सहयोगी...'
    इससे मंदिर की सम्पन्नता और सम्रद्धता का पता चलता है

    ReplyDelete
  9. समस्त विजेताओं और प्रतिभागियों को
    बहुत-बहुत बधाई

    ReplyDelete

  10. प्रकाश जी, सीमा जी, अजमल जी, दर्शन जी सहित सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई।

    मुझे चेल्सी की शादी में गिरिजेश भाई के न पहुँच पाने का दु:ख है।

    ReplyDelete
  11. सभी विजेताओं को बधाई।

    राज भाटिया जी का नाम नहिं दिख रहा,शायद उन्होने उत्तर भेजा नहिं होगा।
    उनकी टिप्पणियों से तो साफ़ था उत्तर उन्हे पता है।

    ReplyDelete
  12. पहेली व्यसनी श्री प्रकाश गौविन्द जी सहित अन्य विजेताओं को भी बहुत सारी बधाई :)

    ReplyDelete
  13. सभी विजेताओं को बधाई!

    ReplyDelete
  14. श्री प्रकाश गोविन्द जी सहित अन्य विजेताओं को भी ढेर सारी बधाई.
    -सभी प्रतिभागियों का आभार.

    ReplyDelete
  15. सभी विजेताओं को हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  16. सभी विजेताओं को बधाई!

    ReplyDelete
  17. विजेता को बधाई ..... और सभी को भी ....

    ReplyDelete

Post a Comment