ताऊ पहेली - 63





होली पर्व पर आपको हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं! होली के इस पावन और सोहाद्र वर्धक पर्व पर रामप्यारी मैम ने होली के रंग अपने स्टुडेंट्स के साथ खेले. सभी स्टूडेंट्स ने बहुत उत्साहपूर्वक इस रंगों के पर्व मे भाग लिया. नाटी समीर बाबा ने बाल्टी मे रंग भरकर और राज बाबा ने थाली मे गुलाल लेकर सभी को रंगों से नहला दिया. इस अवसर के दो दुर्लभ चित्र देखिये.


रामप्यारी मैम ब्लागर्स स्ट्रीट मे होली खेलते हुये!


उपरोक्त चित्र में रामप्यारी मैम ब्लागर्स स्ट्रीट में अपने प्यारे स्टुडेंट्स नाटी समीर बाबा, आदि,, अक्षयांशी, बालक मकरंद , लविजा, नैना छौक्कंर, जादू, चंगू-मंगू, राज बाबा एवम अन्य सम्मानित ब्लागर्स के साथ होली खेलते हुये!

आईये अब आज की पहेली की तरफ़ चलते हैं.

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरे की घणी राम राम.

ताऊ पहेली अंक 63 में मैं ताऊ रामपुरिया, सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं. जैसा कि आप जानते ही हैं कि अब से रामप्यारी का हिंट सिर्फ़ एक बार ही दिया जाता है. यानि सुबह 10:00 बजे ही रामप्यारी के ब्लाग पर मिलता है.

विनम्र विवेदन

कृपया पहेली मे पूछे गये चित्र के स्थान का सही सही नाम बतायें कि चित्र मे दिखाई गई जगह का नाम क्या है? कई प्रतिभागी सिर्फ़ उस राज्य का या शहर का नाम ही लिख कर छोड देते हैं. जो कि अबसे अधूरा जवाब माना जायेगा. आपसे निवेदन है कि स्पष्ट जवाब देवें कि यह कौन सा मंदिर है? और किस राज्य या जिले या शहर या गाँव में है?

हिंट के चित्र मे उस राज्य या शहर की तरफ़ इशारा भर होता है कि उस राज्य या शहर मे यह स्थान हो सकता है. अब नीचे के चित्र को देखकर ब्ताईये कि यह कौन सा मंदिर है? और किस राज्य या जिले या शहर या गाँव में है?

यह कौन सा मंदिर है? और किस राज्य या जिले या शहर या गाँव में है?

ताऊ पहेली का प्रकाशन हर शनिवार सुबह आठ बजे होगा. ताऊ पहेली के जवाब देने का समय कल रविवार दोपहर १२:०० बजे तक है. इसके बाद आने वाले सही जवाबों को अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगे

अब आप रामप्यारी के ब्लाग पर हिंट की पोस्ट सुबह दस बजे ही पढ सकते हैं! दूसरा हिंट नही दिया जायेगा.
जरुरी सूचना:-

टिप्पणी मॉडरेशन लागू है इसलिए समय सीमा से पूर्व केवल अधूरे और ग़लत जवाब ही प्रकाशित किए जाएँगे.
सही जवाबों को पहेली की रोचकता बनाए रखने हेतु समय सीमा से पूर्व अक्सर प्रकाशित नहीं किया जाता . अत: आपका जवाब आपको तुरंत यहां नही दिखे तो कृपया परेशान ना हों.

इस अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु,अल्पना वर्मा


नोट : यह पहेली प्रतियोगिता पुर्णत:मनोरंजन, शिक्षा और ज्ञानवर्धन के लिये है. इसमे किसी भी तरह के नगद या अन्य तरह के पुरुस्कार नही दिये जाते हैं. सिर्फ़ सोहाद्र और उत्साह वर्धन के लिये प्रमाणपत्र एवम उपाधियां दी जाती हैं. किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा. एवम इस पहेली प्रतियोगिता में आयोजकों के अलावा कोई भी भाग ले सकता है.

मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग

नोट : – ताऊजी डाट काम पर हर सुबह 8:00 बजे और शाम 6:00 बजे नई पहेली प्रकाशित होती हैं. यहा से जाये।

Comments

  1. वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग
    देवघर
    झारखंड

    ReplyDelete
  2. जय हो बाबा बैजनाथ की


    बैजनाथ धाम, जसिडीह

    ReplyDelete
  3. आज संजय बैंगाणी जाने कब आवेंगे, इन्तजार है हमें तो उनका और रामप्यारी जी का.

    ReplyDelete
  4. झारखण्ड राज्य के देवघर का यह बैद्यनाथ मंदिर है।

    होली की शुभकामनाएं।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com

    ReplyDelete
  5. नाटी समीर बाबा की जय...देखकर मकरंद को साथ दिल प्रसन्न हो गया. बालक होली पर ट्यूशन नहीं गया कम से कम!!

    ReplyDelete
  6. बैद्यनाथ धाम jharkhand

    ReplyDelete
  7. यह मंदिर बाबा बैद्यनाथ का है जो देवघर झारखंड मे स्थित हैं यहां मै सुल्तान गंज से गंगा जल लेकर पैदल 110 किलों मीटर की यात्रा ढाई दिन मे पुरी कर चुका हुँ। सावन मे पद यात्रा शरु होती है जो पुरे दो माह याने भादो तक चलती है।
    अब मुझे हिट की जरुरत नही है
    फ़ायनल जवाब है।
    राम-राम

    ReplyDelete
  8. चित्रों की रंगकारी काफी चमत्कारी है.

    ReplyDelete
  9. Taauji Ramram,
    Aapko aur taaiji ko Holi ki hardik shubhkaamnae!!

    ReplyDelete
  10. ताऊ ये तो बाबा धाम है मतलब वैद्यनाथ धाम अब तो शायद ये झारखंड में पडता होगा पहले हमारे बिहार में ही था , सुलतानगंज से दस बार जल लेकर बाबा के मंदिर की यात्रा की है । वैसे इसका असली नाम रावणेश्वर धाम है । कहते हैं कि इसमें वही शिवलिंग स्थापित था जो रावण लंका ले जाने लगा था अभी इतना ही

    ReplyDelete
  11. रामप्यारी मैम बहुत क्यूट लग रही है।

    ReplyDelete
  12. अभी तो समझ में नहीं आया ,फिर कोशिश करेंगे .

    ReplyDelete
  13. ताऊ जी, सर्वप्रथम आपको और सभी मित्रों को
    होली की शुभ कामनाये ! आपने मुझे बड़ा वाला प्रमाण पत्र न देने की तो कसम खा रखी है फिर भी बताये देता हूँ दिल्ली का छतरपुर मंदिर है !

    ReplyDelete
  14. आप और आपके परिवार को होली की शुभकामनाएँ...nice

    ReplyDelete
  15. !! रंग बिरंगी होली की रंगारंग शुभकामनाएँ !!

    ReplyDelete
  16. सभी अंकलों और आंटियों को होली बधाई और शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  17. हा..हा..हा....वाह मुझे रामप्यारी मैम की क्लास में एडमिशन मिल गया...अब तो ट्युशन से भी छुट्टी मिली. अब तो यहीं पहेलियां खेलते हुये पढाई पूरी कर लूंगा....मम्मी की रोज रोज की खिट खिट से भी छुटकारा हुआ.:)

    ReplyDelete
  18. यह अन्न्पुर्णा मंदिर लगता है मुझे तो. बाकी हिंट आने के बाद.

    ReplyDelete
  19. वाह जी, रामप्यारी की तो बल्ले बल्ले..होली से पहले ही होली. और मंदिर का नाम पीछे लगे बोर्ड पर पढ़ा ही नहीं जा रहा (खूब कोशिश कर ली)

    ReplyDelete
  20. @काजल अंकल ..कल शुक्रवार को हमारे स्कूल में होली खेली है न हमने! ...होली के दिन तो स्कूल बंद रहते हैं न !
    अब इत्ती छोटी सी बात आप को बतानी पड़ती है!
    आप भी मेरे स्कूलमें admission ले लो अब jaldi se!

    ReplyDelete
  21. माता वैष्‍णोंदेवी मंदिर जम्‍मू
    अब मैं तो चला होली की
    रंगकामनाएं देने और संग
    संग ठन ठन संगठन बनाने।

    ReplyDelete
  22. ओह रामप्यारी... मैं तो भूल ही गया था...तो ये थोड़ा गुलाल मेरी तरफ़ से भी -:)

    ReplyDelete
  23. !! रंग बिरंगी होली की रंगारंग शुभकामनाएँ !!

    ReplyDelete
  24. देवघर [jharkhand]का ये शिव मंदिर १२ ज्योतिर्लिंगों में से एक है!

    ReplyDelete
  25. बुरा मान लो होली है...मान लो ना...प्लीज़...
    ये मुझे मक्लोयड गंज धर्मशाला का मंदिर लग रहा है...मुझे ऐसा लग रहा है...क्यूँ की मैंने भांग खा रक्खी है...अब होली पे अगर भांग खाना जुर्म है तो मी लार्ड ये जुर्म मैंने किया है...आपकी श्रधा है जो बिगड़ना है सो बिगाड़ लो मेरा...

    नीरज

    ReplyDelete
  26. वैद्यनाथ मन्दिर, देवघर, झारखण्ड!

    ReplyDelete
  27. अहा ! हिंट देख कर पता चला कि ये झारखंड के मुख्यमंत्री का मंदिर है..

    ReplyDelete
  28. बाबा बैजनाथ धाम ,झारखण्ड ,धन्यवाद .

    ReplyDelete
  29. ye Baba baidyanath mandir hai.. jharkhand rajya ke Devghar shahar se..

    ReplyDelete
  30. पावन पर्व होली पर सभी को बहुत बहुत शुभकामनायें ।

    ReplyDelete
  31. The AMARKANTAK Temple Situated in a Pilgrim Town in Anuppur District of Madhya Pradesh,
    regards

    ReplyDelete
  32. आप और आपके परिवार और रामप्यारी को होली की शुभकामनाएँ...
    regards

    ReplyDelete
  33. bhagavaan shiv aur lankapati raawan se sambandhit koi mandir hai....
    place:- deoghar,jharkhand

    ReplyDelete
  34. Please..
    sawaal ka poora jawab dijeeye!nahin to rampyari confuse ho jayegi!:(

    Mandir ka naam aur jis sthan par hai us ka naam bhi to batayen!
    bye bye

    ReplyDelete
  35. माफी चाहता हूँ, ऑफिस का काम कुछ खत्म कर आब आ पाया. समीरलालजी तो प्रथम विद्यार्थी देख रहे है.

    ReplyDelete
  36. यह झारखंड राज्य के संथाल प्रगणा के देवघर शहर में स्थित शिव मन्दीर है. लंका ले जाते समय रावण के कंधों से यहीं पर शेव गीरे थे. यह 12 में से 9वाँ ज्योतिर्लिंग है.

    ReplyDelete
  37. आप और आपके परिवार को होली की शुभकामनाएँ...

    ReplyDelete
  38. देवगढ मन्दिर - झारखंड

    ReplyDelete
  39. देवघर मन्दिर जो झारखंड राज्य मे है

    ReplyDelete
  40. Sabhee mitron ko holi kee bahut shubhkamnayen !

    Raampyaree mam....looking lovely ji :))mast holi kheli hmmm!

    mandir main bhee saabhee holi khel rah4n hain....brij kee holi hai kyaa ??

    ReplyDelete
  41. baba baidyanath (Dham )temple jharkhand

    ReplyDelete
  42. हिंट के बाद दुबारा आना पड़ा मुझे।
    झारखंड राज्य मे स्तिथ देवघर मे क्षेत्र मे बाबा बैद्यनाथ का मंदिर है जिसे बाबा धाम भी कहा जाता है। यहां सावन मास मे सुल्तान गंज से कांवरिये गंगा जल लेकर देवघर तक 110 किंलो मीटर की पद यात्रा करते हैं। मै भी गया हुँ कई बार्। सुल्तान गंज से देवघर तक मे्रे पड़ाव सु्ल्तान गंज से कमराय 6किंमी, कमराय से मासुम गंज 2किमी, मासुम गंज से असर गंज 5 किमी, असरगंज से रणगांव 5 किमी, रणगांव से तारापुर 3किमी, तारापुर से माधोडीह 3किमी, माधोडिह से रामपुर 5 किमी, रामपुर से कुमरसार के बीच का रास्ता बहुत खराब है 8किमी,कुमरसार से विश्वकर्मा टोला4किमी, विश्वकर्मा टोला से महादेव नगर 3 किमी,महादेव नगर से चंदन नगर 3किमी, चंदन नगर से जिलेबिया 2किमी, जिलेबिया से टगेश्वरनाथ 5किमी,टगेश्वर नाथ से सुईया3किमी, सुईया मे सुनसान जंगल और पहाड़ है यहां अक्सर लूटपाट की संभावना बनी रहती है तथा रास्ते मे पुलिस का ईंतजाम भी रहता है रात को पहाड़ पार करने की मनाही है। सुईया से शिवलोक2किमी, शिवलोक से अबरखिया 6किमी, अबरखिया से कटोरिया 8किमी, कटोरिया से लक्षम्णझुला 8किमी, लक्षम्ण झुला से इनारावरण 2किमी, इनारावरण से भुलभुलैया 3कि्मी, भुलभु्लैया से गोरियारी 5किमी, गोरियारी से पटनिया3किमी, यहां तक का सफ़र बिहार राज्य मे हैं अब पटनिया से कलकलिया के बीच नदी पार करते ही झारखंड प्रारभ होता है3किमी, कलक्तिया से भुतबंग्ला 5 किमी, भुतबगला से दर्शनिया 1, और बाबा मंदिर 1किमी, ये यात्रा हो गयी बाबा धाम

    ReplyDelete
  43. Deoghar, in Jharkhand is the home to this famous temple. It is believed that Ravana, the demon king worshipped Lord Shiva at this place to get his blessings so that he could take the world under his control. Ravana sacrificed his ten heads to get the Lord’s blessings and succeeded in his effort. Lord Shiva was pleased and he cured all his injuries. Thus, here, Lord Shiva acted as a doctor or Vaidya and from this the place got its name.

    regards

    ReplyDelete
  44. आप और आपके परिवार को होली की शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  45. बहुत कमाल के दिख रहे हैं सब ... ताऊ ..
    आपको और आपके समस्त परिवार को होली की शुभ-कामनाएँ ...

    ReplyDelete
  46. ताऊजी, रामराम।
    दिखाया गया चित्र बैद्यनाथ धाम, देवघर(झारखंड) का है, इसे वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग और/या बाबा धाम के नाम से भी जाना जाता है।
    आप को व आपकी टीम के सभी साथियों और परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें।
    राम राम।

    ReplyDelete
  47. अरे ताऊ यह मंदिर तो बहुत प्रसिद्ध है जी, मै तो कभी गया नही लेकिन इस के बारे सुना बहुत है, यह मंदिर भारत के एक बहुत प्रसिद्ध स्थान पर बना है ओर यहां पैसे वालो को पीछे से जल्द ही दर्शन दे दिया जाता है मेरे जेसे लोगो की भीड तो देख ही रहे हो, वेसे बुजुर्गो ने कहा है जिस गांव जाना नही, उस के नाम से क्या वास्ता, तो भाई मैने इस मंदिर मै जाना नही तो इस का नाम क्यो बताऊ? ओर पहेली का मजा क्यो खराब करुं, चलो फ़िर भी नाम बता ही देता हुं इस मंदिर का...
    इस मंदिर का नाम है.......

    ReplyDelete
  48. rampyari to bahut hi pyari lag rahi hai holi ke rango mein.

    baki paheli ka to kuch pata nhi bas lagta hai shayad mathura ka mandir hai baki pakka kuch nhi pata.

    holi ki hardik badhayi.

    ReplyDelete
  49. Mahakal & Shiv Temple, Deoghar, Jharkhand

    Deoghar situated in the Santhal Parganas of Jharkhand, is a very important piligram Centre. It`s famous for the Hindus for the temple of Shiva-Baidyanath

    देखा तो कभी नहीं बस गूगल बाबा ने बताया है |

    ReplyDelete
  50. Baba Dham, Baidyanath Dham or the Vaidyanath Jyotirlinga is one of the most sacred temples of Lord Shiva. Deoghar, in Jharkhand is the home to this famous temple. It is believed that Ravana, the demon king worshipped Lord Shiva at this place to get his blessings so that he could take the world under his control. Ravana sacrificed his ten heads to get the Lord’s blessings and succeeded in his effort. Lord Shiva was pleased and he cured all his injuries. Thus, here, Lord Shiva acted as a doctor or Vaidya and from this the place got its name.

    ReplyDelete
  51. होली मुबारक ! और ये तो देवघर स्थित शिव मंदिर है !

    ReplyDelete
  52. बहुत कमाल के दिख रहे हैं सब ... ताऊ ..
    आपको और आपके समस्त परिवार को होली की शुभ-कामनाएँ ...

    ReplyDelete
  53. चैन्नई में पहेली देखी थी खोपड़ी खुजाई पर सूझ नहीं रहा था क्योंकि खोपड़ी पर बाल ही नहीं थे, :)

    मुंबई भी पहुंच गये पर पहेली का हल नहीं मिला, प्लेन से बाहर झांककर भी देखा कि कहीं ये जगह दिख जाये पर नहीं दिखी...

    सोच सोच कर गंजे हो गये पर जबाब नहीं मिला :(

    ReplyDelete
  54. holi ki bahut bahut shubkamnayen :))))))))

    ReplyDelete
  55. वैद्यनाथधाम शिव मंदिर, देवघर, झारखण्ड

    ReplyDelete
  56. हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  57. भाई कितनी बार बताऊँ ये बाबा बैद्यनाथ मंदिर है.. देवघर शहर में झारखण्ड में.. कल भी बताया था आपकी समझ में ही नहीं आता .. हैं??
    holi ki badhaai..

    ReplyDelete
  58. ताऊ, ताई को चरण स्पर्श और सारे भतीजे, भतीजियों को होली की हार्दिक शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  59. होली की घणी राम राम और दिल से शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  60. नाटी समीर बाबा और राज़ बाबा .....आहा ....कितने क्यूट लग रहे हैं .....होली मुबारक आपको .....!!

    ReplyDelete
  61. Tavaneshwar Baba Baidyanath Mandir,Deoghar, Jharkhand.

    App sabko Holi ki shubh kamanaye.

    ReplyDelete
  62. सूचना -:
    इस पहेली में जवाब देने की समय सीमा समाप्त हो चुकी है.अब जो भी सही जवाब आयेंगे उन्हें अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगे.
    उत्साह वर्धन के लिये सभी प्रतिभागियों का आभार!

    ReplyDelete
  63. आपको और आपके परिवार को होली पर्व की हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  64. होली मुबारक, जवाब तो इतने लोगों ने बता दिया कि अब बताने को कुछ रहा नहीं

    ReplyDelete
  65. होली की बहुत-बहुत शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  66. आपको भी होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  67. हमें तो खबर भी नहीं और नैना बेटी यहाँ होली भी खेलने आ गई। सच होली त्योहार ही होता ऐसा है, कि जितनी होली खेलो उतना कम।

    ReplyDelete

Post a Comment