Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 48 : विजेता श्री दिलीप कवठेकर

प्रिय भाईयो और बहणों, भतीजों और भतीजियों आप सबको घणी रामराम ! हम आपकी सेवा में हाजिर हैं ताऊ पहेली 48 का जवाब लेकर. कल की ताऊ पहेली का सही उत्तर है Christ church शिमला.


शिमला का एक विहंगम दृष्य




आईये अब आज के विजेताओं से आपको मिलवाते हैं.

"आज के विजेता गण"

 

 

My Photo
 दिलीप कवठेकर

प्रथम विजेता अंक १०१ बधाई

 My Photo
seema gupta

द्वितीय विजेता अंक १०० बधाई

My Photo
 प्रकाश गोविन्द

तृतीय विजेता अंक ९९ बधाई

 

आईये अब आज के हमारे अन्य सम्माननिय विजेताओं से आपको रुबरु करवाते हैं. सभी को बहुत बधाई!

 

 Blogger रविकांत पाण्डेय अंक ९८

 Blogger Nirmla Kapila अंक ९७

 Blogger नीरज गोस्वामी अंक ९६

 Blogger रंजन  अंक ९५

 Blogger काजल कुमार Kajal Kumar अंक९४



OpenID woyaadein अंक ९३

 Blogger अन्तर सोहिल  अंक ९२

 Blogger अविनाश वाचस्पति अंक ९१

 Blogger प्रेमलता पांडे अंक ९०

 Blogger मीत  अंक ८९

 Blogger सुशील कुमार छौक्कर अंक ८८

 Blogger jitendra अंक ८७

 Blogger पं.डी.के.शर्मा"वत्स" अंक ८६

 Blogger Murari Pareek अंक ८५

 Blogger अभिषेक ओझा अंक ८४

 Blogger Saba Akbar अंक ८३

 Blogger डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक अंक ८२

 Blogger Udan Tashtari अंक ८१

 Blogger संजय तिवारी ’संजू’ अंक ८०

 

 आप सभी को हार्दिक बधाई!

 

आभार.इसके अलावा अनिल पूसदकर जी, रतन सिंह शेखावत जी और महक जी ने भी हमारा उत्साह वर्धन किया आप सबका हार्दिक




रामप्यारी के सवाल के विजेताओं से यहा मिलिये.

"रामप्यारी के ३० नंबर के सवाल का जवाब"


हाय…गुड मोर्निंग एवरी बडी…आई एम राम..की प्यारी… रामप्यारी.
हां तो अब जिन्होने सही जवाब दिये उन सबको दिये गये हैं ३० नम्बर…अगर भूल चूक हो तो खबर कर दिजियेगा..सही कर दिये जायेंगे.

मेरे कल के सवाल का सही जवाब है जरासंध. जी हां कंस के ससुर का नाम जरासंध ही था.

अब सही जवाब देने वालों में सबसे पहले सीमा आंटी, आई. उसके बाद प्रकाश गोविंद अंकल, अंतर सोहिल अंकल, मीत अंकल, जितेंद्र अंकल, दिगम्बर नासवा अंकल, मुरारी पारीक अंकल, संजय बेंगाणी अंकल उडनतश्तरी अंकल, संजय तिवारी "संजू" अंकल, वोयादें भैया और सबसे आखिर मे आये दिलीप कवठेकर अंकल. आपसभी को बहुत बधाई.

आप सबके खाते में तीस तीस नम्बर मैने जमा करवा दिये हैं.

अब रामप्यारी की तरफ़ से रामराम…अगले शनीवार फ़िर से यही मिलेंगें. वैसे आजकल शाम ६ बजे मैं ताऊजी डाट काम पर रोज ही मिल जाती हूं. ..और हां आपका आज से शुरु होने वाला सप्ताह शुभ हो.



हीरू और पीरू यानि हीरामन और पीटर की मनोरंजक टिपणियां यहां पढिये.

"आपकी सेवा में हीरू और पीरु"

अरे हीरु भिया रामराम…रामराम हो पीरू भिया राम राम.

और हुनावो कंईं खबर?

अरे खबर तो इ हे कि बरसात घणी होणे लागरी हे…और खेती का लिये घणी ही बढिया हे…

और आज टिप्पणी मे कंईं हालचाल हे?  …लो तमी देखी लो…

Blogger काजल कुमार Kajal Kumar said...

रामप्यारी क्यों सुबह-सुबह मज़ाक करती है, लोग तो अपनी मामी के बाप का नाम नहीं जानते ....तुम तो इतनी पुरानी और दूर की कौड़ी की बात कर रही हो...

November 14, 2009 10:26 AM

Delete

 Blogger पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

रामप्यारी अपने कृ्ष्ण जी की 2 मामियाँ थी....एक का नाम था "प्राप्ति" ओर दूसरी "अस्ति"...ओर उनके पिता जी का नाम तो तुझे पता ही होगा ।

November 14, 2009 12:25 PM


  Blogger अविनाश वाचस्पति said...

भगवान कृष्‍ण के मामाश्री कंस के ससुरश्री का नाम जानने के लिए रामप्‍यारी को संपर्क करना होगा
1. कंस की पत्‍नी से।
2. कंस के बच्‍चों से।
3. खुद कंस से।
4. भगवान कृष्‍ण से।
5. कंस की सासश्रीमती से।
और तब के जनसंपर्क विभाग से। जन्‍म मरण पंजीकरण विभाग से। विवाह अवसर पर प्रकाशित उनके विवाह कार्ड से। राशनकार्ड पर दर्ज प्रविष्टि से। वोटरकार्ड से।
हम तो न तीन में हैं
और सूची अगर तेरह तक जाए
तो न तेरह में हैं
हैं हम भी गिनती में
परन्‍तु नौ दो ग्‍यारह में।

November 14, 2009 8:12 AM

 Blogger राज भाटिय़ा said...

अरी राम दुलारी... अरे अरे प्यारी केसी केसी बाते करती है री तु सुबह सुबह किस मुये का नाम पढबा दिया, चल अब मेरा जबाब लेने से पहले मेरे सवाल का जबाब दे दे तो तेरे को तेरे सवाल का जबाब मिल जाये गा, कंस मुये के ससुर का नाम वो ही था जो कंस की बीबी के बाप का नाम था, अब बता कंस की बीबी के बाप का क्या नाम था....

वेसे लगता है तो आज कल मग्गा बाबा के आसरम मै जाने लग गई है जो कभी गीता तो कभी रामायण से सवाल पुछती है,

November 14, 2009 2:07 PM

अरे ये तो तेज बरसात होने लग गयी..चल जल्दी चल…

हां चल भई…जल्दी निकल ले.




अच्छा अब नमस्ते.सभी प्रतिभागियों को इस प्रतियोगिता मे हमारा उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक धन्यवाद. ताऊ पहेली – 48 का आयोजन एवम संचालन ताऊ रामपुरिया और सुश्री अल्पना वर्मा ने किया. अगली पहेली मे अगले शनिवार सुबह आठ बजे आपसे फ़िर मिलेंगे तब तक के लिये नमस्कार.

19 comments:

  1. ताऊ तुमने पहेली का समय ऐसा कर रखा है की मैं प्रथम नहीं आ पाता....
    खैर सभी विजेताओं को ढेर सी बधाई...
    मीत

    ReplyDelete
  2. सभी विजेताओं को घणी बधाई!
    राम-राम!

    ReplyDelete
  3. सभी विजेताओं को बधाई....बेहतरीन रही पहेली!!

    ReplyDelete
  4. बधाई!

    बहुत खोजने के बाद भी उत्तर नही मिला था यहां तक की similar image मे भी खोज के देख लिया था पर फिर भी नही मिला।

    ReplyDelete
  5. सभी विजेताओं को ढेर सी बधाई...
    AUR HAMAARI RAAM RAAM .......

    ReplyDelete
  6. सभी विजेताओं,प्रतिभागियों तथा पत्रिका संपादक मंडल को बधाई....

    ReplyDelete
  7. Dilip ji ko pahli baar pratham vijeta baNne par badhaayee.
    -sabhi vijetaon ko bhi bahut bahut badhaayee.

    @Kunnu ji,Is baar sari tasveeren Personal Album se di gayee thin isliye aap ko internet par search karne par nahin milin.

    :)
    ..Abhaar.

    ReplyDelete
  8. देखा समय की मार से दुरंधर जमीन सूंघ गए...आप समय सीमा हटाईये और सही जवाब देने वालों के नामों की लिस्ट में से विजेता का नाम लाटरी से निकालें...या आप दिन के तीन बजे तक (दूसरे हिंट के बाद तक ) का समय तय करें और उसके बाद आने वाले सही उत्तर के विजेताओं के नाम गिनती में ना लें...इस से समय सीमा का प्रतिबन्ध हट जायेगा और हम जैसे लेट लतीफ भी कभी विजेता घोषित हो सकेंगे...आलसियों की सुनो वो तुम्हारी सुनेगा...
    नीरज

    ReplyDelete
  9. वैसे हमने भी शायद शिमला ही कहा था। सभी विजेताओं को बधाई के साथ अपने को भी बधाई:)

    ReplyDelete
  10. पिछले दो मौकों पर चूक गया था, आज सर्वप्रथम आ ही गया संयोग से.

    अबकी शनिवार को साईट जाना केंसल!!!

    ReplyDelete
  11. सभी विजेताओं को बधाई.

    ReplyDelete
  12. सभी विजेताओं को घणी घणी बधाई

    ReplyDelete
  13. दिलीपजी समेत सभी विजेताओं को बधाई ...!!

    ReplyDelete
  14. सभी विजेताओं को बधाई.

    regards

    ReplyDelete
  15. सभी विजेताओं को बहुत बधाइयां...एक शनिवार मैं भी 8 बजे पहेली देख ही लूंगा..

    ReplyDelete