ताऊ पहेली - 46 : विजेता शुभम आर्य

प्रिय भाईयो और बहणों, भतीजों और भतीजियों आप सबको घणी रामराम !


आज गुरुनानक देव जी प्रकाशोत्सव है. आप सबको हार्दिक बधाईया और शुभकामनाएं. गुरु नानकदेव जी ने ज्ञान का दीप प्रज्ज्वलित कर समाज में व्याप्त अंधकार और सामाजिक कुरीतियों को दूर करने का प्रयास किया। जन मानस में उन्होंने सद्भाव का माहौल पैदा किया। आईये आज हम भी उनके बताये मार्ग पर चलने की कसम खायें. इतने छोटे से ब्लाग जगत का माहोल भी अगर हम सुंदर और शांत नही रख सकते तो आज हमको सबसे ज्यादा जरुरत है गुरु नानक देव जी के आदर्शों और शिक्षा पर चलने की जिससे सदभाव का वातावरण बने और नया सृजन हो.


आईये अब ताऊ पहेली 46 के परिणाम देखते हैं. कल की ताऊ पहेली का सही उत्तर है वैलंकान्नी चर्च, चेन्नई [Vailankanni (Velankanni) church,chennai. Location: Nagapattinam, near Chennai (Tamil Nadu)]




इसके बारे में थोडी पर महत्वपुर्ण जानकारी दे रही हैं सु.अल्पना वर्मा

तमिलनाडु के नागापट्टिनम क्षेत्र में भव्य तीर्थस्थल वैलंकानी गिरिजाघर स्थित है। भक्तजनों का मानना है कि मदर मेरी की प्रतिमा यहाँ जागृत की गई है। चर्च की पवित्र वेदी पर देवी मेरी की आराधना की जाती है।

मान्यता है कि देवी मेरी एक चरवाहे के सामने प्रकट हुईं। चरवाहे ने देवी मेरी के दिए आदेश को पूरा किया। सोलहवीं सदी में देवी मेरी एक विकलांग लड़के के सामने प्रकट हुईं। माँ के आशीर्वाद से विकलांग लड़का ठीक हो गया था। इन घटनाओं के बाद गिरिजाघर की स्थापना की गई।

[यही कहानी..clue-3 के चित्र मे है.]

गिरिजाघर के पास एक संग्रहालय है जहाँ पर देवी मेरी को अर्पित की गई भेंटें रखी गई हैं। आवर लेडी ऑफ हेल्थ देवी मेरी का जन्म 28 अगस्त से लेकर 10 सितम्बर तक मनाया जाता है।

आवर लेडी ऑफ हेल्थ देवी मेरी का जन्म 28 अगस्त से लेकर 10 सितम्बर तक मनाया जाता है।
समारोह के दौरान होली मास की प्रार्थना आयोजित की जाती है जो कि 6 भाषाओं में बोली जाती है और दिन में 14 बार दोहराई जाती है।

कहा जाता है कि जब श्रद्धालुओं की मुराद पूरी हो जाती है, तब देवी मेरी को भेंट चढ़ाते हैं। गिरिजाघर के पास एक संग्रहालय है जहाँ पर देवी मेरी को अर्पित की गई भेंटें रखी गई हैं।
नजदीकी एयरपोर्ट है चेन्नई।रेलः- नजदीकी रेलवे स्टेशन है त्रिची, चेन्नई एवं तंजावुर।सड़क मार्ग : नागापट्टिनम से बस सेवाएँ उपलब्ध हैं।

(साभार : हिंदी वेब दुनिया डाट काम)

आईये अब आज के विजेताओं से आपको मिलवाते हैं.

"आज के विजेता गण"

 

 

Bloggerप्रथम विजेता  शुभम आर्य बधाई अंक १०१



द्वितीय विजेता मिश्रा पंकज बधाई
अंक १००



तृतीय विजेता वरुण जयसवाल बधाई अंक ९९

 

आईये अब हमारे आज के अन्य सम्माननिय  विजेताओं से आपको मिलवाते हैं.

बधाई सभी विजेताओं को

 

Blogger

 Blogger 

 प्रकाश गोविन्द अंक ९८


 

Blogger seema gupta  अंक ९७

 दिनेशराय द्विवेदी अंक ९६

रंजन अंक ९५

 

 
  mahashakti अंक ९४

 

Blogger संजय बेंगाणी अंक ९३

 

 अन्तर सोहिल  अंक ९२


मीत
अंक ९१
  पं.डी.के.शर्मा"वत्स" अंक ९०

HEY PRABHU YEH TERA PATH
  अंक ८९
 

 अभिषेक ओझा अंक ८८


Udan Tashtari
  अंक ८७
  संजय तिवारी ’संजू’ अंक ८६

काजल कुमार Kajal Kumar अंक ८५
 

Globe Treader™ अंक ८४


Murari Pareek
  अंक ८३

 

इसके अलावा निम्न महानुभावों ने भी इस पहेली अंक मे शामिल होकर हमारा उत्साह बढाया. जिसके लिये हम उनके हृदय से आभारी हैं.

सु. M A Sharma "सेहर",   श्री अविनाश वाचस्पति,  श्री सुशील छोंक्कर,  सु. प्रेमलता पांडे,  डा. जीतेंद्र बगरिया,  सु. हरकीरत हकीर,  डा. रुपचंद्र शाश्त्री,  श्री रतन सिंह शेखावत,  श्री दिगंबर नासवा, श्री पी.एन. सुब्रमनियन,  श्री अनिल शर्मा,  श्री योगिंद्र मौदगिल,  सु. बबली और चच्चा टिप्पू सिंह. 

बहुत बहुत आभार आप सभी का.



रामप्यारी के सवाल के विजेताओं से यहा मिलिये.

"रामप्यारी के ३० नंबर के सवाल का जवाब"


हाय…गुड मोर्निंग एवरी बडी…आई एम राम..की प्यारी… रामप्यारी.
हां तो अब जिन्होने सही जवाब दिये उन सबको दिये गये हैं ३० नम्बर…अगर भूल चूक हो तो खबर कर दिजियेगा..सही कर दिये जायेंगे.

हां तो मेरे सवाल का जवाब तो मालूम पड ही गया होगा कि यह विवाद धनुष को लेकर भगवान राम और भगवान परशुराम के बीच हुआ था और दोनो ही विष्णु के अवतार र्हे.

पिछले दिनों डायरी मे रिमार्क लगाये जाने की वजह से होमवर्क पर ध्यान दिया गया है और क्लास का रिजल्ट संतोष जनक आया है. जिन्होने भी जवाब देने मे लापरवाही दिखाई है उनकी डायरी मे रिमार्क लगाये जाते हैं.

तो आज सबसे पहले सही जवाब दिया शुभम आर्य भैया ने, फ़िर वरुण कुमार जयसवाल अंकल, अपने वकील साहब अंकल ..अरे वही वही कोटा वाले दिनेश्राय द्विवेदी अंकल...एक ही तो वकील साहब हैं यहा, फ़िर भी पहचानते नही हैं क्या? हां तो सबके सही जवाब यानि पूरे नम्बर.

फ़िर आये स्मार्ट इंडियन अंकल, प्रकाश गोविंद अंकल, महाशक्ति अंकल, फ़िर वो संजय बेंगाणी अंकल, जीतेंद्र अंकल, अंतर सोहिल अंकल, मीत अंकल, और सैय्यद अंकल ने भी बिल्कुल सही सही जवाब दिये.

इसके बाद आये अभिषेक ओझा अंकल, वंदना आंटी, नीरज जाट्जी अंकल, मुरारी पारिक अंकल, उडनतश्तरी अंकल..अरे वही समीर अंकल जिनको अजय झा अंकल एलियन कह कर बुलाते हैं. इन सबके भी बिल्कुल सही जवाब आये.

फ़िर आये संजय तिवारी "संजू" अंकल, गोलोब ट्रेडर्स अंकल और हमेशा की तरह अपने दिलिप कवठेकर अंकल.

आप सबके खाते में तीस तीस नम्बर मैने जमा करवा दिये हैं.

अब रामप्यारी की तरफ़ से रामराम…अगले शनीवार फ़िर से यही मिलेंगें. वैसे आजकल शाम ६ बजे मैं ताऊजी डाट काम पर रोज ही मिल जाती हूं. ..और हां आपका आज से शुरु होने वाला सप्ताह शुभ हो.



हीरू और पीरू यानि हीरामन और पीटर की मनोरंजक टिपणियां यहां पढिये.

"आपकी सेवा में हीरू और पीरु"

अरे हीरू भिया...ई देखो कवि महाराज कईं के रिया हे? म्हारे नी समझाये हो..जाणै कुण सी भाषा बोली रिया हे?
तम देखो...

अरे पीरू भिया ई तो ताऊ आली हरयाणवी बोलि रिया हे...लो सुणो ---


योगेन्द्र मौदगिल said...

नम्बर ३

खूंटे की बात सुण....

एक कतई ताजा पैदा होये छोरे नै दाई तै पूच्छया अक् यू चारों तरफ अंधेरा क्यूं हो रह्या सै...?

दाई बोल्ली लाइट जा री सै.....

छोरे नै मात्थे पै हाथ मारया अर बोल्या
'ऒह माई गाड ईबकै फेर इंडिया म्हं पैदा होग्या.........

October 31, 2009 7:45 PM


और ई देखो..मीत अंकल कईं केवे हे?



मीत said...

रामप्यारी एक तो लिख ले परशुराम ही हैं, क्योंकि वो ही मेरे जैसे सवभाव के थे... यानी की तुनक मिजाज अब दूसरा कौन है ये भी में ही बताऊँ क्या... लगता है की तू आजकल स्कूल नहीं जाती...
मीत

October 31, 2009 11:45 AM


अरे पीरु भिया आज तो छुट्टी को दन हे...चलो...सनीमा देखने चलते हैं...

चल भिया जी....


अच्छा अब नमस्ते.सभी प्रतिभागियों को इस प्रतियोगिता मे हमारा उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक धन्यवाद. ताऊ पहेली – 46 का आयोजन एवम संचालन ताऊ रामपुरिया और सुश्री अल्पना वर्मा ने किया. अगली पहेली मे अगले शनिवार सुबह आठ बजे आपसे फ़िर मिलेंगे तब तक के लिये नमस्कार.

Comments

  1. श्री गुरुनानक देव जी प्रकाशोत्सव की बहुत बहुत बधाईयाँ.
    पहेली ४६ के सभी विजेताओं को जीत की बधाई और सभी प्रतिभागिओं को अगले अंक के लिए शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  2. विजेता लोगों को बधाई तो ठीक, पर आज...पत्रिका का माल कहां गया..यूं लग रहा कि मंहगाई के चलते 56 पन्ने की पत्रिका 6 में निपट गई ...

    ReplyDelete
  3. शुभम आर्य को बधाई ..
    वैलंकान्नी चर्च, चेन्नई के विवरण का आभार ..
    गुरु प्रकाश पर्व दी लख बधाईँ .!!

    ReplyDelete
  4. शुभम आर्या जी एवं अन्य सभी विजेताओं को बधाई..


    सभी को गुरुनानक देव जी के जन्म दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ.

    आज संजय बैंगाणी जी पहेली और रामप्यारी के सवाल- दोनों में विजेता लिस्ट में दिखे. सहसा विश्वास ही न हुआ. आँख खुशी के मारे छलछला आई. मुझे पूरा विश्वास था कि ’कोशिश करने वालों की हार नहीं होत”, इस पंक्ति को एक दिने मेरा यह भाई चरितार्थ करके दिखायेगा. छाती गर्व से चौड़ी हो गई. विशेष बधाई संजय भाई को.

    ReplyDelete
  5. अल्पना जी द्वारा प्रद्द्त विवरण सहेजने लायक होते हैं. उनको साधुवाद और उनका हार्दिक अभिनन्दन.

    ReplyDelete
  6. सभी विजेताओं को
    श्री गुरू नानकदेव जी की 540वीं जयन्ती की और
    कार्तिक पूर्णिमा (गंगा-स्नान) पर्व की बधाई!

    ReplyDelete
  7. सभी विजेताओं को बधाई!

    ReplyDelete
  8. सभी विजेताओं को जीत की बधाई ओर प्रतिभागियों को श्री गुरूनानक देव जी के प्रकाशोत्सव की बहुत बहुत बधाईयाँ!!!!!

    ReplyDelete
  9. सभी विजेतओ को बधाई, ओर गुरु पुरव की हार्दिक बधाईया और शुभकामनाएं.

    ReplyDelete
  10. शुभम आर्य सहित सभी पहेली विजेताओ को हार्दिक बधाई |
    सभी को गुरुनानक देव जी के जन्म दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  11. सभी विजेताओं को जीत की बधाई ओर प्रतिभागियों को श्री गुरूनानक देव जी के प्रकाशोत्सव की बहुत बहुत बधाईयाँ!!!

    ReplyDelete
  12. शुभम आर्या जी एवं अन्य सभी विजेताओं को बधाई

    regards

    ReplyDelete
  13. सभी वेजेताओं व प्रतिभागियों को बहुत बधाई.....!!!

    रामप्यारी ने तो क्लास से बाहर कर देना है अब मुझे ..एक तो बहुत बंक हो जाता है...फिर उत्तर भी गलत ..:(
    अब थोडा पढाई की ओर भी ध्यान दूंगी ह्म्म्म्म्म..:))))

    ताऊ जी
    राम राम

    ReplyDelete
  14. अल्पना जी को भी बहुत धन्यवाद सुन्दर ,ज्ञानवर्धक जानकारी देने के लिए !!

    ReplyDelete
  15. विजेताओं को खूब बधाई
    मीत

    ReplyDelete
  16. ओ ताऊ तेरी ऐसी की तैसी....... तूने गधा सम्मलेन की कहानी पूरी करे बिना फिर पहेली बुझाना शुरू कर दी? सुधर जा ताऊ कहे दे रिया हूं

    ReplyDelete
  17. shubham जी .. pankaj जी .. और varun जी को badhaai और बाकी सब की भी badhaai .......... raam raam .......

    ReplyDelete
  18. सभी विजेताओं को बधाई !!

    ReplyDelete

Post a Comment