Powered by Blogger.

ताऊ पहेली -३८ की विजेता सुश्री प्रेमलता पांडे

प्रिय भाईयो और बहणों, भतीजों और भतीजियों आप सबको घणी रामराम !

कल की ताऊ पहेली - ३८ का सही उत्तर है शेखचिल्ली का मकबरा थानेसर (कुरुक्षेत्र) हरियाणा. जिसके बारे मे कल ताऊ साप्ताहिक पत्रिका में विस्तार से बता रही हैं सुश्री अल्पना वर्मा. .

अब बात करते हैं ताऊ पहेली - ३८ के परिणामों की.

 

 

सुश्री प्रेमलता पांडे

 

प्रथम विजेता हार्दिक बधाई

अंक १०१

द्वितिय विजेता  श्री विवेक रस्तोगी अंक १००

तृतिय विजेता श्री संजय बेंगाणी अंक ९९


आईये अब क्रमश: आज के अन्य माननिय विजेताओं से आपको मिलवाते हैं.

 

 

 



छपते छपते :
श्री अविनाश वाचस्पति जी का भी सही जवाब आया है. आपको दिये जाते हैं पूरे ४९ नम्बर. बधाई.

इसके अलावा निम्न महानुभावों ने भी इस पहेली अंक मे शामिल होकर हमारा उत्साह बढाया. जिसके लिये हम उनके हृदय से आभारी हैं.

श्री पंकज मिश्रा, सुश्री निर्मला कपिला, सुश्री पूजा उपाध्याय, श्री अनिल पूसदकर, श्री दीपक तिवारी "साहब",
श्री सोनू, श्री लालों के लाल इंदौरीलाल, श्री मकरंद, श्री नीरज जाटजी, श्री दिगम्बर नासवा, श्री राज भाटिया, श्री कुश, सुश्री शेफ़ाली पांडे, श्री नरेश सिंह राठौड और श्री स्मार्ट ईंडियन

आपका सबका तहेदिल से शुक्रिया.


हाय…गुड मोर्निंग एवरी बडी…आई एम राम..की प्यारी… रामप्यारी.

हां तो आज के सवाल का पूरा उत्तर तो किसी ने नही दिया. दूसरे पार्ट का सही उत्तर नही मिला. हालांकि विभिन्न दृष्टिकोण सभी ने रखे. तो आज जिन्होने भी इस में भाग लिया उन सभी को मिलते हैं पूरे तीस तीस नम्बर. और अब मैं आपको सरल और शुद्ध हिंदी में सही उत्तर बता देती हूं.

जहां से पश्चिम और पूर्व का विभाजन होता है अर्थात जिसके एक और एक तिथि पीछे होती है और दूसरी और एक तिथि आगे,यह कहलाती है तिथि रेखा.

यह किरीबाती द्विप (लक्षद्वीप समूह, पश्चिमी मध्य प्रशांत महासागर)से होकर गुजरती है. आप अधिक जानकारी लेना चाहें तो विकिपिडिया के इस http://en.wikipedia.org/wiki/Kiribati लिंक पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं..


सबसे पहले आये दिनेशराय जी द्विवेदी अंकल, फ़िर वो अपने रेडियो वाले मुरारी पारीक अंकल, फ़िर आई सीमा आंटी, और फ़िर संजय बेंगाणी अंकल आये . इसके बाद प. डी.के.शर्मा वत्स अंकल, फ़िर आई अर्चना तिवारी आंटी, दर्पण शाह "दर्शन" अंकल और फ़िर संजय तिवारी "संजू" अंकल.
आप सभी का हार्दिक धन्यवाद और बधाई.

अब रामप्यारी की तरफ़ से रामराम…अगले शनीवार फ़िर से यही मिलेंगें. वैसे आजकल शाम ६ बजे मैं ताऊजी डाट काम पर रोज ही मिल जाती हूं. ..और हां आपका कल से शुरु होने वाला सप्ताह शुभ हो.
अच्छा अब नमस्ते. कल सोमवार को ताऊ साप्ताहिक पत्रिका मे आपसे पुन: भेंट होगी.
सभी प्रतिभागियों को इस प्रतियोगिता मे हमारा उत्साह वर्धन करने के लिये हार्दिक धन्यवाद.
ताऊ पहेली – ३८ का आयोजन एवम संचालन ताऊ रामपुरिया और सुश्री अल्पना वर्मा ने किया.

संपादक मंडल :-

मुख्य संपादक : ताऊ रामपुरिया
वरिष्ठ संपादक : समीर लाल "समीर"
विशेष संपादक : अल्पना वर्मा
संपादक (तकनीकी) : आशीष खण्डेलवाल
संपादक (प्रबंधन) : Seema Gupta
संस्कृति संपादक : विनीता यशश्वी
सहायक संपादक : मिस. रामप्यारी, बीनू फ़िरंगी एवम हीरामन
स्तंभकार : प्रेमलता एम. सेमलानी ( नारीलोक)

31 comments:

  1. प्रेमलता जी को बधाई....


    संजय बैंगाणी जी प्रथम तीन में...घोर आश्चर्यमय बधाई के हकदार!! :)

    ReplyDelete
  2. ताऊ सुश्री प्रेमलता जी को हार्दिक बधाई :)

    ReplyDelete
  3. पहेली बूझें ना बूझें ...बधाई तो दे ही सकते हैं प्रेमलताजी और सभी विजेताओं को बधाई ...!!

    ReplyDelete
  4. premlata ji aur baki sabhi vijetaon ko ghani badhai

    ReplyDelete
  5. सभी विजेताओं को बहुत बहुत बधाई....ताऊ जब से ये नौकरी शुरू हुई है...मत्लब ड्युटी पर जाना...तब से आपका एक होनहार कैंडीडेट ..छूट जाता है....मैं ताऊ और कौन....काश कि ये पहेली संडे को पूछी जाती...खैर...सबको बधाई...मंडे मैगज़ीन का इंतज़ार रहेगा....

    ReplyDelete
  6. "ताऊ पहेली -३८ की विजेता सुश्री प्रेमलता पांडे" एवं स्वयं के साथ अन्य सभी विजेताओं को बधाई।

    ReplyDelete
  7. पहले भाग का उत्तर तो हम सर पटक पटक कर जान दे देते तब भी गलत होता। दूसरे सवाल का जवाब तो सही था पर अब रामप्यारी भी शिक्षक दिवस के जोश में है कि पूरा उत्तर नहीं दिया। पर ये अच्छा किया कि सब को बोनस में बराबर नंबर दे दिया।

    ReplyDelete
  8. प्रेमलताजी को बधाई। किरबाती द्वीप के बारे में पहली बार यह पता चला।

    ReplyDelete
  9. -हरियाणा से पूछी गयी थी यह पहेली ..और तस्वीर भी नेट से ही थी..सोचा था इस बार सब देखते ही पहचान लेंगे ...आखिर दिल्ली और हरियाणा ,पंजाब वाले तो एक दम पहचान ही लेंगे..मगर..ऐसा हुआ नहीं!
    -प्रेमलता जी ,विवेक रस्तोगी और संजय बैंगाणी जी और सभी विजेताओं को बहुत बहुत बधाईयाँ.
    -प्रेमलता जी के साक्षात्कार का इंतज़ार रहेगा.
    -सभी प्रतिभागियों का भी बहुत बहुत आभार.
    -पहेली ३८ के साथ ही हम अब तक २३ राज्यों की और ३ संघीये राज्यों की सैर आप को करा चुके हैं.
    -अगली पहेली ३९ में भी एक नए राज्य की ही सैर करायेंगे.
    आभार.

    ReplyDelete
  10. सुश्री प्रेमलता जी सहित सभी विजेता/अविजेताओं को बहुत बहुत बधाई!!!

    ReplyDelete
  11. @Raampyari tum to bahut intelligent ho gayi ho!kya baat hai!
    shukriya is jaankari ke liye..

    ReplyDelete
  12. सबको मिला शुक्रिया
    और
    छपते छपते हमें
    बधाई
    क्‍या खूब रही भाई।

    सुश्री प्रेमलता पांडे जी,
    प्रिय विवेक और संजय जी,
    सब नीचे से उपर की ओर
    बढ़ते जा रहे हैं
    हमें तो खूब भा रहे हैं


    हमारा क्‍या है
    जो कभी तनिक उपर
    तो फिर नीचे
    फिर उपर
    अब फिर नीचे
    शेयर बाजार की तरियो
    गोता लगा रहे हैं।

    वैसे भी हम तो
    भागने के लिए
    भाग लेते हैं
    इस बहाने जाग लेते हैं।

    ReplyDelete
  13. हार्दिक धन्यवाद सभी को।

    ReplyDelete
  14. सभी विजेताओं और प्रतिभागियों को बधाई!

    ReplyDelete
  15. सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई। कल सुबह जवाब देने गए तो दे नही पाए। नेट कहीं घूमने चला गया। फिर हम भी निकल और रात को आए। वैसे हमारे को पता .................... नही था।

    ReplyDelete
  16. उड़न तशतरी से आश्चर्यमय टिप्पणी पा कर धन्य हो गया. बहुत प्रसन्नता हो रही है. विश्वास तो मुझे भी ना हो रह्या है. मगर महाराज गधे भी कभी कभी भूल से घोड़ों से आगे निकल जाते है :)

    ReplyDelete
  17. विजेताआें को बधाई..मैं तो कल की पहेली देख ही नहीं पया क्योंकि मैं जहों था वहां इंटरनेट नहीं होता है :)

    ReplyDelete
  18. प्रेमलता जी ,विवेक रस्तोगी और संजय बैंगाणी जी और सभी विजेताओं को बहुत बहुत बधाईयाँ.

    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥

    ReplyDelete
  19. विजेताओं को बधाई !

    ReplyDelete
  20. सु.प्रेमलताजी को बधाई. एवम सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  21. सु.प्रेमलताजी को बधाई. एवम सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  22. वाकई सरलतम पर मुश्किल पहेली थी. सभी विजेताओं को बधाई. और आज तो रामप्यारी ने भी बहुत ज्ञान की बात बताई. हमको तो मालूम ही नही था कि दिन रात का कोई ऐसा भी फ़ण्डा है. रामप्यारी जी को नमस्ते.

    ReplyDelete
  23. Premlata ji ko badhai ...... aur sab ko bhi bahoot baoot badhaai...

    ReplyDelete
  24. विजेतो को बहुत बहुत बधाई हो... अरे मेणे तो राम प्यारी सब की दुलारी को पहले ही हिंट दे दिया था कि प्यारी यह रथ ही इस झगडे की जड है

    ReplyDelete
  25. विजेताओं को बधाई। रामप्यारी को राम राम। ताऊ को प्रणाम। संपादक मंडल को सलाम।

    ReplyDelete
  26. घणी बधाई . आप सभी विजेताओं को .

    ReplyDelete
  27. ताऊ जी,
    गोड़ लग रहे हैं आपको..
    आपका पहेली वाला मामला एकदम fantastik चल रहा है...बस हम पिछ्वा जाते हैं रोज औ इ जो आप पार्क, कबर, मकबरा, रोडवा देखा कर पूछते हैं न कि कौन जगह है तो हम तनी सा गडबडा जाते है काहे कि हम तो झुमरी तल्लइयो नहीं गयें हैं न तो का कहेंगे कि कहाँ को फोटू है....हमको घर से इजाजैत नहीं है इ सब जगह जाने का....मकबरा देखने जाने में सब लोग मना करते हैं न....कहते हैं कोनो जिन-पिशाच चढ़ जाएगा..
    बाकि अतना सारा विजेता देख के खुस हुए है हमहूँ तो सोचे कि बधयिवा दे दें...
    तो नंबर १ ----बधाई (सुश्री प्रेमलता पांडे )
    नम्बर २ ----बधाई (विवेक रस्तोगी)
    नम्बर ३---- बधाई (संजय बेगाणी)
    और सभी को क्रमवार बहुते ज्यास्ती बधाई ...दे रहे हैं...रखते जाइयेगा भाई...

    और सबसे बड़का बधाई दे रहे हैं दर्पण शाह जी को १० वाँ पायदान पर पांव धरे हैं भाई, काहे कि यही जगह ठीक भी लागता रउवा के ..१० नम्बरी जी...
    और एक ठो बात कह रहे हैं आप ही का ब्लॉग ऐसा है जहाँ गधा-घोड़ा सब इ रेस में हिस्सा ले सकता है बाकि और जगह गधा, गधा लोग का रेस में हिस्सा लेता है और घोड़ा, घोड़ा का रेस में......लेकिन चलिए इहाँ तो 'राम-राज' है न ..........दस हज़ार से ऊपर लोग तारीफ कर दिया है आपका.......हमहूँ सोचे कि लेटिया गए तो का हुआ कहिये देना चाहिए ....कि आपका पोस्ट हरदम धाकड़ रहता है.....
    एक बार फिन गोड़ लगते हैं....

    ReplyDelete
  28. taau mafi chahta hoon is bar ki paheli mein bhag na le saka kahin bahar gaya tha....
    vaise vijetaon ko dher saari badhai...
    meet

    ReplyDelete
  29. सभी विजेताओं को शुभकामनाएं व बधाई।

    ReplyDelete