रामप्यारी की क्लास मे

मिस रामप्यारी की क्लास..

जैसे ही रामप्यारी मैडम क्लास मे दाखिल होती है..सब बच्चे उसको गुड मार्निंग मैम..गुड मार्निंग मैम कह कर खडे हो जाते हैं.

मिस. रामप्यारी के होनहार छात्र आदि को उसके ब्लाग का एक वर्ष पुर्ण होने की हार्दिक बधाई...तालियां...

रामप्यारी : सिट डाऊन...सिट डाऊन प्लिज..
रामप्यारी : ओह यह क्लास मे नई बच्ची कौन है? वैरी स्वीट बेबी..क्या नाम है तुम्हारा?
जी मैंम ..मेरा नाम है नैना छोक्कंर...
रामप्यारी : वैरी गुड..सिट डाऊन नाऊ..

हां तो पिछले बार का होम वर्क करके ले आये बच्चों?
सब चिल्लाते हैं..यस मैम..यस मैम..
रामप्यारी : हा तो आदि तुम बताओ..क्या जवाब है उस सवाल का?
आदि : मैंम..मैम..मैं तो वो सवाल ही भूल गया तो जवाब कहां से याद आयेगा?
रामप्यारी : सवाल था " अकबर ने बीरबल को चांटा मारा तो बीरबल ने क्या किया? अगर जवाब नही दिया.... देन आई विल पनिश यू....इज दैट क्लियर..
आदि : ओह नो मैम...याद आगया ..याद आगया...प्लिज डोंट पनिश मी...वो ना मैम..बीरबल को अपने पास खडे आदमी को चांटा मार देना चाहिये.
रामप्यारी : वैरी गुड..वैरी गुड.. नाऊ...लविजा..व्हाट डू यू से...क्या जवाब है?
लविजा : वो मैंम ,,मैं ना ऊंट पर बैठ गई थी...तो पापा ने जवाब बताया था वो भूल गई..
रामप्यारी : नो ...यू मस्ट आंशर द क्वेशचन....
लविजा : अरे हां याद आगया मैम...पापा ने बताया था ...बीरबल साहब को चाहिये कि वो बादशाह सलामत को माफ़ कर दें.
रामप्यारी : ओह चलो ठीक है...ठीक है....आज तुमको सौ मे से साढे दौ सौ नम्बर दिये इस सवाल के.
आदि और लविजा एक साथ - थैंक्यु मैम.

रामप्यारी : अरे चंगू...आज ये मंगू नही आया?
चंगू : मैम ..मैम...वो मंगू और मैं दोनो घर से एक साथ स्कूल के लिये चले थे. हम दो कदम चलते थे तो चार कदम पीछे घर की तरफ़ खिसक जाते थे.
रामप्यारी : हाऊ इट कैन हैप्पन?
चंगू : विद्यामाता की कसम मैम...इस तरह हम वापस घर पहुंच गये..वहां मंगू तो स्कूल बैग रख कर खेलने भग गया और मुझे मेरे पिताजी ने पकड कर पूछा...कि क्या बात है? जब मैने बताया कि हम स्कूल की तरफ़ दो कदम चलते थे तो चार कदम घर की तरफ़ वापस आ लेते थे. इसलिये हम स्कूल की बजाये घर आ पहुंचे. तब पापा ने मुझे कान के नीचे दो इनिशियल एडवांटेज दे दिये.

रामप्यारी : फ़िर तुम स्कूल कैसे पहुंचे?
चंगू : मैम वो क्या है ना? मेरे पापा ने मुझे पकड कर मेरा मूंह घर की तरफ़ कर दिया और पीठ स्कूल की तरफ़..और बोले अब जा..तो मैं बस जैसे ही मैं दो कदम घर की तरफ़ बढाता कि चार कदम स्कूल की तरफ़ बढ जाते. और मैं फ़टाफ़ट सीधा स्कूल में आगया.

इतनी देर मे मंगू भी क्लास मे पहुंच जाता है...मे आई कमिन..मैम?
रामप्यारी : यस यस..कमिन..व्हाट्स योर नेम?
मंगू : जी मैम..मंगू..माई नेम इज मंगू..
रामप्यारी : और तुम्हारे पिताजी का नाम?
मंगू : राक्षस....
आश्चर्य से रामप्यारी ने पूछा - कौन कहता है?
मंगू : मेरी मम्मी...
रामप्यारी : ओके..तुम्हारे पिताजी क्या करते हैं?
मंगू : जी वो मेरी मम्मी को मारते हैं.
रामप्यारी : ओह नो..इट्स वैरी बैड..वैरी बैड..आज मैं तुम्हारे घर चलूंगी..और तुम्हारे पापा को समझाऊंगी
मंगू : नही.. नही..मैम..वो बहुत खराब हैं..आपको भी मारेंगे..
रामप्यारी : नो माई..चाईल्ड...ऐसा नही होगा..रामप्यारी ताऊ का लठ्ठ साथ लेके जायेगी और फ़िर भी बात नही बनी तो महिला मोर्चा लेके जायेगी. नाऊ राईट डाऊन योर होम वर्क...टू... टू द पावर थर्टी ..साल्व करके लायेंगे अगली बार सब. ओके...और पिरीयड खत्म होने की घंटी बज गई.

नोट :
जिन पालकों को अपने बच्चों का एडमिशन रामप्यारी की क्लास मे करवाना हो वो बच्चों का फ़ोटो बायोडाटा सहित भेजे. सीट खाली रहने तक ही एडमिशन दिया जायेगा.



ताऊ पहेली - ३० का प्रकाशन कल शनिवार सुबह आठ बजे होगा.

मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग

Comments

  1. vah.. Naina bitiya bhi aa gayi race me.. :)
    badhiya hai..

    ReplyDelete
  2. बहुत ही शानदार क्लास.. रामप्यारी मज़ा आ गया..

    ReplyDelete
  3. मान गये ताऊ आपके दिमाग को!
    झूठी-मूठी क्लास लगा कर अन्त में
    सभी पुरुषों को बढ़िया सीख दे गये।

    ReplyDelete
  4. मान गये ताऊ आपके दिमाग को!
    झूठी-मूठी क्लास लगा कर अन्त में
    सभी पुरुषों को बढ़िया सीख दे गये।

    ReplyDelete
  5. ताऊ क्या क्लास लगा दी आपने.. आदि तो बहुत होशियार हो रहा है.. कभी बॉड़ी दिखाता है, कभी डांस करता है.. और न मानो उसकी बात तो आऊट कर देता है.. समझ नहीं आ रहा चक्कर क्या है... आज पता चला बबुआ रामप्यारी कि क्लास से सीख कर आता है..:)

    अच्छा लगा..

    ReplyDelete
  6. ताऊ या तो बतला दे अक

    स्‍कूल सरकारी है या

    असरकारी (प्राइवेट पब्लिक)


    कितनी सीटें खाली हैं

    कितनी गरीबों के लिए आरक्षित

    भूमि कहां से हड़पी है

    स्‍कूल के लिए।


    फीस कितनी रखी है

    बच्‍चों के मां बाप के लिए

    पगार कितनी देते हो

    बच्‍चों की टीचर को।


    टैक्‍स काटते हो

    या बचाते हो सरकार से

    पढ़ाते हो खुद भी

    या प्रिंसीपल या मैनेजर या

    खजांची की पोस्‍ट पर कब्‍जा

    कर राख्‍या सै।


    अक अपनी मूर्ति कब लगवा रहे हो

    अस्‍कूल के मैदान में।

    ReplyDelete
  7. महिला मोर्चा लेके जायेगी. अरी राम प्यारी तेरा दिमाग खराब हो गया है? खुद का बिल्ला तो मिला नही दुसरो के बसे बसाये घर बरबाद करेगी...? यह नये नये फ़ेशन कर के? बच्चो को सीधी तरह बिगाड वरना हेरी कई दिनो से शिकार पर नही गया, देख ले हेरी से मुकाबला करेगी ?
    बच्चे यह सब मोर्चे वालिया खतरनाक होती है इन के चक्कर मै मत पडना, वरना ना घ्रर की रहेगी ना घाट की,ओर घर की बात घर के बडो के संग बे कर निपटा यह शिक्षा दे बच्चो को..
    चल दो बच्चो को मुफ़्त मै दखिला दे दे, ओर इतना पढा कि तेरे ताऊ का नाम खुब रोशन करे

    ReplyDelete
  8. अब तो मैं भी सोचता हूँ एडमिशन ले लूं. उम्र की कोई लिमिट है क्या?

    ReplyDelete
  9. bahut hi pyaari class hai ....maza aa gaya dekhar our padhakar ............sundar

    ReplyDelete
  10. बहुत बढ़िया क्लास है यह तो :)

    ReplyDelete
  11. रामप्यारी मैम को प्रणाम. हमको भी भर्ती करो जी.

    ReplyDelete
  12. रामप्यारी मैम को प्रणाम. हमको भी भर्ती करो जी.

    ReplyDelete
  13. ताऊ खेल खेल मे बढिया सीख दे दी रामप्यारी ने. बहुत रोचक और मनोरंजक और शिक्षादायक पोस्ट कहुंगा.

    ReplyDelete
  14. ताऊ खेल खेल मे बढिया सीख दे दी रामप्यारी ने. बहुत रोचक और मनोरंजक और शिक्षादायक पोस्ट कहुंगा.

    ReplyDelete
  15. रामप्यारी को रामराम. बहुत लाजवाब पोस्ट आज तो. आपकी क्लास की फ़ीस क्या है? हम भी सोच रहे हैं, बच्चे को आपकी क्लास मे भर्ती करवा ही दें. शायद आदमी बन के आजाये.

    ReplyDelete
  16. लगता है शुक्रवार का दिन अब रामप्यारी और बच्चों के नाम होगया?:)

    बहुत शानदार प्रयास है ताऊजी.

    ReplyDelete
  17. लगता है शुक्रवार का दिन अब रामप्यारी और बच्चों के नाम होगया?:)

    बहुत शानदार प्रयास है ताऊजी.

    ReplyDelete
  18. रामप्यारी मैडम नमस्कार. हमको फ़ीस बताओ फ़िर हम भी भर्ती होजाये.

    ReplyDelete
  19. ताउ,
    रामप्यारी क्लास मे बच्चो की सख्याँ बढ गयी है, मुबारक हो

    ReplyDelete
  20. ताउ,
    रामप्यारी क्लास मे बच्चो की सख्याँ बढ गयी है, मुबारक हो

    ReplyDelete
  21. अरे माताजी रामप्यारी जी...अरे रे...मैडम रामप्यारी जी नमस्ते...अब आप महिला मोर्चा भी निक्लवाने का काम करेंगी?

    इस काम मे बहुत कमाई है. मैं कहूं वहां वहां मोर्चा निकलवा देना. तगडे पैसे मिलेंगे. आधे आधे बांट लेंगें.:)

    ReplyDelete
  22. अरे माताजी रामप्यारी जी...अरे रे...मैडम रामप्यारी जी नमस्ते...अब आप महिला मोर्चा भी निक्लवाने का काम करेंगी?

    इस काम मे बहुत कमाई है. मैं कहूं वहां वहां मोर्चा निकलवा देना. तगडे पैसे मिलेंगे. आधे आधे बांट लेंगें.:)

    ReplyDelete
  23. अरे माताजी रामप्यारी जी...अरे रे...मैडम रामप्यारी जी नमस्ते...अब आप महिला मोर्चा भी निक्लवाने का काम करेंगी?

    इस काम मे बहुत कमाई है. मैं कहूं वहां वहां मोर्चा निकलवा देना. तगडे पैसे मिलेंगे. आधे आधे बांट लेंगें.:)

    ReplyDelete
  24. वाह !!! क्या शानदार क्लास है रामप्यारी मौसी का.......

    घर की तरफ मुंह करके स्कूल जाने वाला आइडिया जबरदस्त है.....मजा आ गया...

    ReplyDelete
  25. ha ha ha ha ha ha raampyari ji, kaun si age tk ke bcche aap ki class mey admision le skte hain....."hm bhi agar bcche hote.......ha ha"

    bye

    ReplyDelete
  26. ये तो राम प्यारी बढ़िया सीख देने लग गई मगर इतना ट्फ प्रश्न गणित मे?

    बिटिया नैना को क्लास में देखकर अच्छा लगा.

    आदि और लवि की नई दोस्त!!

    ReplyDelete
  27. बहुत बढ़िया क्लास

    ReplyDelete
  28. इस स्‍कूल में मन्‍नै भी भर ल्‍यो जी।

    ReplyDelete
  29. ताऊ! मनै तो थारी या रोज रोज री प्रसिद्धि री बात सु डर सतावण लाग्यो है, ताऊ थने नै, थारा ब्लोग ने कुणरी नजर नही लग जावे ? तू तो अबे एक काम कर आशिष भाई ने बोल ने थारे गला मा ने थारे ब्लोग मे निम्बु मीर्ची लटका दे। नही तो भुत प्रेत थने जीवण नही देला।
    राम प्यारी थारी कक्षा तो मजेदार से।
    आभार/मगलभावनाओ के सहीत
    HEY PRABHU YAH TERAPANTH
    MUMBAI-TIGER
    हे प्रभू यह तेरापन्थ

    मुम्बई टाईगर

    ReplyDelete
  30. **रामप्यारी तुम्हारी क्लास सप्ताह में दो बार होनी चाहिये.इतनी अच्छी क्लास जो ले रही हो.
    ***नैना भी क्लास में आ गयी अच्छा हुआ.लविज़ा को नयी सहेली मिल गयी.
    अब क्लास में खूब बातें करना!

    ReplyDelete
  31. **रामप्यारी तुम्हारी क्लास सप्ताह में दो बार होनी चाहिये.इतनी अच्छी क्लास जो ले रही हो.
    ***नैना भी क्लास में आ गयी अच्छा हुआ.लविज़ा को नयी सहेली मिल गयी.
    अब क्लास में खूब बातें करना!

    ReplyDelete
  32. जिस स्कूल में रामप्यारी जैसी टीचर हो तो वहाँ का कोई भी बच्चा फेल हो ही नहीं सकता....सब के सब बिना पढे पास:)

    ReplyDelete
  33. क्या बात है... राम प्यारी का स्कूल तो बढ़िया चल रहा है...
    रामप्यारी
    कभी-कभी हमें भी टूशन दे दिया करो...
    मीत

    ReplyDelete
  34. मेरा अच्छा बच्छा है मेरा ताऊ,

    कहना माना हे प्रभु का

    लगा दिया निम्बु-मिर्च ताऊ डॉट पर

    अब बुरी नजर वाला

    तेरा मुह काला।

    स्वामी समिरानन्दजी ने फुका मन्त्र,

    लगा दिया ताऊने तन्त्र

    आभार/मगलभावनाओ के सहीत
    HEY PRABHU YAH TERAPANTH
    MUMBAI-TIGER

    ReplyDelete
  35. वाह जी वाह आज तो नैना का भी दाखिला हो गया, रामप्यारी की क्लास में। बस फीस थोडी कम लेना जी। बहुत खुश है नैना। आज तो नैना अपनी पसंद का बैग भी ले आई है। शुक्रिया।

    ReplyDelete
  36. Taau.. 10 mahine ke bachche ka bhi admission chal raha hai kya?? batayiye to main apne bete(bhaiya ka beta) ka Biodata bhejta hun.. :)

    ReplyDelete
  37. रामप्यारी के स्कूल में कोई और पोस्ट है क्या ?

    ReplyDelete
  38. ओए राम प्यारी तेरी महिला मोर्चा वाली गई क्या ? तो सुन अब सारे बच्चो को पास कर दे १००% ना० दे कर ओर पलटू को तो ३००% ही दे दे, वर्ना अब हम भी मर्द मोर्चा ले कर आये गे ओर हमारा लिडर होगा ताऊ, ओर अगर यह ताउ लिडर नही बना तो ताई को महिला मोर्चा की लिडर बन देगे.
    ओर सुन राम प्यारी तु यह बात इस ताऊ को मत बताईयो, तुझे दो मोटे मोटे चुहे ईनाम मै मिलेगे.

    ReplyDelete
  39. TAAUJI KAL KI PAHELI KA INTEJAAR HAI, PAR KYAA KARUN MERA SHOW SUBAH 10 SE EK BAJE TAK RAHTAA HAI ISLIYE DER HO JAATI HAI , DERI KE LIYE KHSHMAA !!

    ReplyDelete
  40. प्यारी ने सब बच्चों को पता किया तो उनके माँ बाप का क्या होगा............. बच के रहना भाई...

    ReplyDelete
  41. हमें भी इस क्लास में भर्ती होना है......

    ReplyDelete
  42. अरे ताऊ,
    तमाम हिन्दुस्तान के स्कूलों में आजकल आपकी रामप्यारी ही तो पढ़ा रही है भाई, अलग से एड्मीशन की क्या ज़रूरत है ? वैसे तो कान के नीचे दो इनीशियल एड्वाण्टेज यदि हिन्द की व्यवस्था पर दे दिए जाएँ तो शायद आपकी रामप्यारी को बच्चों को पढ़ाने की ज़रूरत ही ना पड़े। हा हा ! एम आय रोन्ग ?

    ReplyDelete
  43. ताऊ जी ऐसी क्लास रोज नहीं तो कम से कम हफ्ते में एक बार तो लगनी ही चाहिए .

    ReplyDelete
  44. ताऊ जी माफ़ी चाहूँगा पिछली टिप्पणी गलती से यहाँ पोस्ट हो गई है कृपया हटा दें .

    ReplyDelete
  45. rampyari bahut hi achhi class rahi aaj ki,koi seat khali ho hume bhi admission chahiye.

    ReplyDelete
  46. बाप रे बाप
    रामप्यारी इत्ती सारी एपलीकेशन [टिप्पणियाँ]
    वोभी पिताओं / माताओं / बहनों के आवेदन
    इब क्या होगा रामप्यारी जी
    इब्ब तो तैं नोटिस लगा दे कै ब्लॉगर आवेदन नै करें

    ReplyDelete
  47. लगता है ताऊ मेरा स्कूल बंद करके ही रहोगे ......

    ReplyDelete

Post a Comment