Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 31

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरे की घणी राम राम.


ताऊ पहेली अंक 31 में मैं ताऊ रामपुरिया, सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं. नियमों के लिये आप यह पोस्ट पढ कर नियमों की विस्तृत जानकारी ले सकते हैं. क्ल्यु हमेशा की तरह रामप्यारी के ब्लाग से मिलेंगे. रामप्यारी के ब्लाग पर पहला क्ल्यु 11:30 बजे और दुसरा 2:30 बजे मिलेगा. रामप्यारी का जवाब अलग टिपणी में देवें. तो आईये अब आज की पहेली की तरफ़ चलते हैं.
Paheli-31-Main picture
बताईये यह कौन सी जगह है?


अब रामप्यारी का विशेष बोनस सवाल : - ३० अंक के लिये.

redfrock-rampyari1 हाय एवरी बडी..वैरी गुड मार्निंग फ़्रोम रामप्यारी.


आज का रामप्यारी का सवाल बिल्कुल सिंपल है. मुझे यह सवाल पूछने के लिये समीर अंकल ने बोला है. जवाब तो मुझे भी नही पता. इसका जवाब भी समीर अंकल ही बतायेंगे.

तो ध्यान से पढिये : -

लंकापति रावण के माताजी और पिताजी का नाम बताईये और कुबेर से रावण का क्या रिश्ता था?

विनम्र निवेदन : - कृपया मेरे सवाल का जवाब अलग टीपणी मे देवें. बडी मेहरवानी होगी. एक ही टिपणी मे दोनो जवाब मे से एक सही होने पर प्रकाशित नही की जा सकती और इससे आप कन्फ़्युजिया सकते हैं कि आपकी टिपणी रुकी हुई है. तो सही होगी?

बस होगया सवाल. है ना सीधा सा सवाल? अब कन्फ़्युजियाईयेगा नही और इस सीधे से सवाल के मिलेंगे पूरे तीस नम्बर. और कुछ कन्फ़्युजिया जायें तो रामप्यारी से पूछने मे मत शर्माना कि पहली फ़ेल रामप्यारी से क्या पूछेंगें? अब आप मेरे ब्लाग पर पहली हिंट की पोस्ट पढ सकते हैं 11:30 बजे और दुसरी 2:30 बजे

इस अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु,अल्पना वर्मा

नोट : यह पहेली प्रतियोगिता पुर्णत:मनोरंजन, शिक्षा और ज्ञानवर्धन के लिये है. इसमे किसी भी तरह के नगद या अन्य तरह के पुरुस्कार नही दिये जाते हैं. सिर्फ़ सोहाद्र और उत्साह वर्धन के लिये प्रमाणपत्र एवम उपाधियां दी जाती हैं.किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों और ताऊ साप्ताहिक पत्रिका के संपादक मंडल का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा.

मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग

114 comments:

  1. राम मंदिर अयोध्या..

    ReplyDelete
  2. ताऊ जी
    रावण के पिता का नाम Vishrava और माता का नाम केकसी था . और शायद कुबेर उनका सौतेला bhaii था....पक्क नहीं मालूम

    राम राम

    ReplyDelete
  3. पौराणिक लंका के महाराज रावण के पिता वृशावासु और माता निकाशा थी | और यक्षों के राजा रिश्ते में उनके भाई लगते थे , और नाम था कुबेर ................(अंदाज शहंशाह ) |

    ReplyDelete
  4. रावन के माता पिता:

    पिता: Vishrava.माता:Kaikesi

    सौतेला भाई: कुबेर

    ReplyDelete
  5. ओहो थोडा बड़ा कर के लगा देते तो बोर्ड ही पढ लेते ..

    अब तो केवल
    राम राम स्वीकारें :)

    ReplyDelete
  6. रावण के पिता का नाम विश्रवा और माता का नाम कैकेशी था रावण कुबेर का सौतेला भाई था रावण समीर जी से डरता था.रावण सामीर जी की कक्षा में पढता था.
    समीर जी टीचर की टेबल पे च्विंगम चिपकाते थे..नाम रावण का आता था .रावण को डांट पड़ती थी.रावण बहुत अच्छा लड़का था .

    ReplyDelete
  7. rampyari ravan ke mata Daitya princess KAIKESI .pita ka naam Brahmin sage known as Vishrava ,aur kuber ravan ka bhai tha.

    ReplyDelete
  8. प्यारे ताऊ रावण बंधू तो हमारे ब्राह्मण बंधू ही थे ! उनकी माताजी से काफ़ी अच्छी जान पहचान थी हम उसे प्यार से ताईजी ताईजी पुकारा करते थे, नाम में ज़रा गड़बड़ है ! उनका नाम राशन कार्ड में एक बार देखा था उसमे जो नाम था कैकशी देवी (रावण की माँ )|
    और रावण बंधू के पिताश्री विश्वश्रवा काफी बीजी व्यक्ति थे | इसलिए उनसे ज्यादा मुलाक़ात नहीं होती थी और कुबेर बंधू तो रावण के सौतेले भाई थे जिनकी माता का नाम था वरवर्णिनी | अब ज़रा वो मकान की तरफ घूम के आता हूँ जो आपने दिखाया है |

    ReplyDelete
  9. रावण ऋषि विश्रवा और कैकसी का पुत्र था, कुबेर उसका सौतेला भाई और ऋषि विश्रवा का पुत्र था.

    ReplyDelete
  10. अभी तक तो समझ में नहीं आ रहा है ताऊ जी ,जरा और स्पष्ट संकेत दें.

    ReplyDelete
  11. राम प्यारी तेरे सवाल का जबाब विकि बहन यूँ दे रही है..

    "Ravana was born to his father Brahmin sage known as Vishrava and his wife, the daitya princess Kaikesi. He was born in the Devagana gotra, as his grandfather, sage Pulastya, was the one of the six human sons of Brahma. Kaikesi's father, Sumali (or Sumalaya), king of the Daityas, wished her to marry the most powerful being in the mortal world, so as to produce an exceptional heir. He rejected the kings of the world, as they were less powerful than him. Kaikesi searched among the sages, and finally chose Vishrava, the father of Kubera. Ravana was thus partly Daitya and partly Brahmin."

    जरा जल्दी में हूँ.. वक्त मिला तो हिन्दी कर दुगां..

    ReplyDelete
  12. Ravana was born to parents by name Visrawasa and Kaikasi. Kubera (the God of wealth) was his cousin.

    BYE RAMPYARI

    ReplyDelete
  13. rampyari hint lekar aajao na jldi se...............

    bye

    ReplyDelete
  14. तस्वीर वाला जवाब अभी ढूंढ़ कर आते हैं...

    रावण के पिता- विश्वा
    रावण की माता- केकशी
    कुबेर और रावण आपस में सौतेले भाई थे।
    कुबेर की माता अयार्णा थीं....

    ReplyDelete
  15. रामप्यारी... हेल्प ..... हेल्प...... हेल्प.......

    ReplyDelete
  16. अर ताऊ इतणा तो कदै भाड़े का घर भी ढूंढना न पड्या !

    ReplyDelete
  17. एक बार रावण से कक्षा में टीचर ने पूछा था
    कि अपने पिताजी का नाम बतलाओ तो
    उसने बतलाया था पिताजी
    और माताजी का पूछने पर
    बतलाया था माताजी
    और कुबेर के बारे में पूछने पर
    कहा था रिश्‍तेदार
    अब भी रह गया कोई तार
    सारे बंध खुल गए
    जवाब सारे मिल गए
    सारे सही हो गए
    जब रावण ने बतलाए थे
    तो सही ही बतलाए होंगे।
    मेरे नंबर पूरे पक्‍का
    मत देना इसमें
    किसी और को हिस्‍सा।

    ReplyDelete
  18. ताऊजी घणी खम्मा

    ताऊ मन्नै तो यो रेलवे का माल गोदाम दिखै सै
    कुण से रेलवे स्टेशन पै है यो ज्ञानदत्त पाण्डे जी बता देंगें

    प्रणाम स्वीकार करें

    ReplyDelete
  19. प्यारी प्यारी रामप्यारी

    रावण के पापा विश्रवस और मम्मी कैकेसी थी।
    ॠषि पुलस्त्य रावण के दादाजी और राक्षस सुमाली नानाजी थे।

    ReplyDelete
  20. रामप्यारी
    कुबेर और रावण दोनों सौतेले भाई थे।
    कुबेर की मम्मी का नाम वरवर्णिनी था।

    इब जल्दी तै ताऊ की पहेली का हिंट दे दे

    ReplyDelete
  21. ताऊ जी, पहली बार आधा घंटे पहले आया आपके ब्लॉग पर...फोटो समझ नहीं आयी...फिर पन्द्रेह मिनट के बात आया...फोटो समझ में नहीं आयी...अभी दस मिनट पहले आया...फोटो समझ में नहीं आयी...अभी फिर आया हूँ...फोटो फिर भी समझ में नहीं आ रही है...इस से मैंने ये निष्कर्ष निकला की जिस बात को समझ में नहीं आना होता वो कभी भी समझ में नहीं आती है...इस से एक और बात समझ में आयी की ये दोहा "करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान...." गलत है...जड़मति जड़मति ही रहता है वो सुजान हो ही नहीं सकता...और जड़मति का रस्सी के आने जाने से सिल पर निशान पढने से कोई सम्बन्ध नहीं है...

    नीरज

    ReplyDelete
  22. ताऊ !
    ये तो गांधी जी का साबरमती आंश्रम जैसा लग रहा है।
    अगला कमेंट क्ल्यू आने के बाद करूँगा।

    ReplyDelete
  23. सुन रामप्यारी!
    हमें रावण से क्या लेना-देना है।
    हम तो जय श्री राम जी की बोलते हैं।

    ReplyDelete
  24. इस बार समय पर आ गया. मगर क्या करें , क्लु की ज़रूरत तो है.

    ReplyDelete
  25. रावण के पिता विशर्वा, माता कैकशी. कुबेर भाई था जी.

    ReplyDelete
  26. रामप्यारी रावण की माता का नाम था--कैकसी जो कि राक्षसराज सुमाली की पुत्री थी और इनके पिता विश्रवा नाम के एक श्रृषि थे।
    कुबेर इनकी सौतेली माता इल्लविला के पुत्र थे यानि की रावण के सौतेले भाई थे।
    ठीक है! कोई गलती सलती हो तो बता दिए......

    ReplyDelete
  27. लो भई रामप्यारी, तुम्हारे सवाल के जवाब:-
    पिता-विश्वश्रवा
    मां -कैकसी
    कुबेर सौतेती मां वरवर्णिनी का पु़त्र.
    एक बात और, जवाब गलत निकले तो wikipedia वालों के नंबर काट लेना, आज तुम्हारे पर्चे की मैंने वहीं से नकल मारी है.

    ReplyDelete
  28. रावन के माता पिता का नाम...
    विसर्वासा और कैकसी था...
    और कुबेर रावन का भाई था....
    समझी रामप्यारी....
    मीत

    ReplyDelete
  29. मैं तो पहली बार आया. ऐसे में पहेली का जवाब दे पाना संभव नहीं है. जब नीरज भइया इतनी बार आने के बाद भी नहीं बता पाए तो हम कौन से खेत के बैंगन हैं?

    रामप्यारी बहुत सुन्दर दिख रही है. साज-वाज बहुत बढ़िया है.

    ReplyDelete
  30. ताऊ इस बार तो मैं जीत ही गया।ये मां दंतेश्वरी का मंदिर है।दंतेवअड़ा छत्तीसगढ मे।बहुत ही जागृत मंदिर है और इसमे प्रवेश के बाद धोती य बिना सिला हुआ वस्त्र पहन कर ही दर्शन करने मिलत है।जै दंतेश्वरी मैया।ड़

    ReplyDelete
  31. ये रेल्वे स्टेशन का माल गोदाम है.

    ReplyDelete
  32. रामप्यारी का जवाब किसको पूछे? रावण जी तो कहीं मिल नही रहे।

    ReplyDelete
  33. रावण जी पुलस्त्य रिशी का पोता था पर पिताजी का नाम नही मालूम. उसकी पत्नी का नाम मंदोदरी था. रामप्यारी इसके जितने नम्बर हों उतने दे देना.

    ReplyDelete
  34. यह कोई डाक बंगला है.

    ReplyDelete
  35. रामप्यारी का जबाब है सुमाली और मंदोदरी.

    ReplyDelete
  36. कोई लोक अप रूम दिखाई देरहा है?

    ReplyDelete
  37. रामप्यारी तेरी हिंट से भी मामला सुलझ नही रहा? कुछ और हिंट चाहिये.

    ReplyDelete
  38. भेडाघात जबलपुर....
    मीत

    ReplyDelete
  39. ताऊ अब ये तो हमको बिल्कुल भी देखा हुआ नही है. माल गोदाम है या पुलिस थाने का सीखंचा रूम.

    ReplyDelete
  40. देख रामप्यारी आजकल तू बिल्कुल गलत सवाल पूछने लग गई है। अब राम जी के माता पिता का नाम पूछा होता तो बता देते। अब रावण दादा तो हारे हुये थे तो उनके बाप दादाओं को यशोगान लिखने की जरुरत इतिहास कारों को उचित नही जान पडी। अब मैं कहां से पता करुं? हां अगर रावण भाई साहब जीत गये होते तो ब्च्चे बच्चे की जुबान पर उनका और उनके खानदान का नाम होता।

    ReplyDelete
  41. और रामप्यारी तेरे ब्लाग का क्ल्यु समझ नही आया. ये झरना वही है ना जिसमे तू तेरी स्कूल के बच्चों को कूदवा २ कर स्विमिंग सिखाती है?

    ReplyDelete
  42. दन्तेश्वरी मन्दिर, छतीसगढ

    ReplyDelete
  43. अब की बार पहेली का प्रथम विजेता तो जरूर अनिल पुसादकर जी होंगे......आखिर ये तो उनके अपने राज्य में स्थित है। आज के बाद शायद उनका ताऊ पहेली न जीत पाने का मलाल भी खत्म हो जाएगा:)

    ReplyDelete
  44. सुबह की नमस्ते.....

    आज की पहेली के क्लू रामप्यारी ने दे ही दिए हैं...
    मैं भी कुछ हिंट दे देती हूँ--
    १-क्लू में दिखाए गए एक जल प्रपात की तस्वीर बहु चर्चित ब्लॉगर के ब्लॉग के हेडर में भी लगी है.यह जल प्रपात भारत में प्रसिद्द है.
    २-इस राज्य से बहुत से ब्लॉगर हिंदी ब्लॉग जगत में हैं.उम्मीद है की इस बार बहुत से जवाब सही हो सकते हैं???
    ३-अगला क्लू दो पहर ढाई बजे ही आएगा..

    शुभकामनायें...और आभार :)

    ReplyDelete
  45. जय माँ दन्तेश्वरी देवी!!!

    ReplyDelete
  46. कंस का वो कारागार
    जहां कृष्‍ण भगवान का जन्‍म हुआ
    अब इसे रिलीज करके
    भगवान से पंगा न ले लेना ताऊ।

    ReplyDelete
  47. रावण कैकसी एवम विश्वश्रवा का पुत्र था।



    विश्वश्रवा की वरवर्णिनी और कैकसी नामक दो पत्नियां थी। वरवर्णिनी के कुबेर को जन्म देने पर सौतिया डाह वश कैकसी ने कुबेला में गर्भ धारण किया। यानी कुबेर उसका सोतेला भाई था

    ReplyDelete
  48. रावण कैकसी एवम विश्वश्रवा का पुत्र था।



    विश्वश्रवा की वरवर्णिनी और कैकसी नामक दो पत्नियां थी। वरवर्णिनी के कुबेर को जन्म देने पर सौतिया डाह वश कैकसी ने कुबेला में गर्भ धारण किया। यानी कुबेर उसका सोतेला भाई था

    ReplyDelete
  49. rampayri ke blog pr jo hint hai vo to ye khta hai...

    http://www.indiadailyphoto.com/wp-content/uploads/2008/10/chitrakot-waterfalls.jpg

    Largest waterfalls in India: Chitrakot
    The Niagara Falls have competition. In the form of Chitrakot, India's largest waterfalls. About 38 km to the west of Jagdalpur, this Chitrakot Waterfallspectacular fall is formed when the river Indravati abruptly collapses into a 100 feet deep cavern. The mouth of the fall, when in full profusion, is over 1,000 feet wide. Chitrakot is a horseshoe shaped waterfall, best seen during and after the monsoon, between July and October. Chitrakot is a horse-shoe shaped waterfall, best seen during and after the monsoon, between July and October.
    regards

    ReplyDelete
  50. ये कहाँ-कहाँ से ले आते हो ये तस्वीरं ताऊ..

    हम तो उलझ गये हैं एकदम से। जगह है तो कहीं दक्षिण का ही है।

    ReplyDelete
  51. रामप्यारी से पहले और हिंट दे दिए जाएँ---
    .
    -और अब तो १-२ नए जवाब भी स्ट्रोंग क्लू ही हैं!

    -मुख्य पहेली का चित्र एक मंदिर का चित्र है.

    -इस राज्य से हाल ही में कुछ दुखद समाचार भी सुनने को मिले थे.

    ReplyDelete
  52. कृपया नोट करें कि रामप्यारी के ब्लाग पर केवल हिंट हैं जो की पहेली मे पूछे गये स्थान के आसपास के हो सकते हैं. कृपया ध्यान से जवाब देवें.

    -आयोजक गण

    ReplyDelete
  53. अल्‍पना वर्मा जी का
    नंबर 3 का हिंट
    हिट के बिल्‍कुल
    नजदीक है।

    ReplyDelete
  54. http://tbn2.google.com/images?q=tbn:bMDKP0uT45QP-

    Danteshwari Temple at Jagdalpur

    regards

    ReplyDelete
  55. ताउ मुझे तो यह कोई दन्त चिकत्सालय जान पडता है।
    प्रिसिपल ताऊजी भाई शनिवार को बच्चो को सरल प्रशन पुछा करे रामप्यारी मैडम की तरह, ताकी जल्दी छुटी का आनन्द ले सके।

    ReplyDelete
  56. महर्षि विश्वेश्श्रवा तथा कैकसी मां-बाप तथा कुबेर सौतेला भाई. तस्वीर का पता नहीं

    ReplyDelete
  57. रामप्यारी आज तो तुमने कमाल कर दिया!
    आखिरी क्लू में तुमने सारा जवाब ही बता दिया...!!!!!!!!!
    लगता है बहुत सारी चॉकलेट मिल गयी हैं तुम्हें!
    कोई बात नहीं...
    शायद नयी ड्रेस की तारीफें बहुत मिल गयीं इस लिए भी बहुत खुश हो...अच्छा है..

    ReplyDelete
  58. रामप्यारी के प्रश्न का उत्तर है:

    रावण की माता: केकसी
    पिता: मुनि विश्रवा
    कुबेर और रावण दोनों भाई थे......

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    ReplyDelete
  59. भेजा फ्राई
    बल्कि
    हो गया
    भेजा ड्राई।

    ReplyDelete
  60. हनुमान जी
    संकटमोचन
    है
    चालीसा पढ़
    लिया पर
    जवाब नदारद।

    ReplyDelete
  61. ताऊ!
    पहला कमेट कैंसिल।
    दूसरा है-
    चित्रकूट के घाट पऱ,
    भई सन्तन की भीड़।
    तुलसीदास चन्दन घिसें,
    तिलक देत रधुवीर।।
    उत्तर है- चित्रकूट।।

    ReplyDelete
  62. ज़रा देखिये तो http://www.taauji.com आपके ब्लाग का पायरेटड संस्करण तो नहीं.

    ReplyDelete
  63. आज तो हद ही हो गयी....ताउजी क्या पहेली लाये हो, मान गए.....कुएं के पास आकर भी प्यासा प्यासा ही रह गया....राज्य का पता तो सुबह ही चल गया था.....परन्तु हम क्या ढूंढ रहे थे.....उस राज्य के पर्यटक स्थल, ऐतिहासिक स्थल, महत्त्वपूर्ण इमारतें, आश्रम, जेल इत्यादि-इत्यादि.....एक बार भी दिमाग में नहीं आया कि चलो मंदिर ही खोज लें......और आखिरकार पता चला कि जिसे हम नज़रंदाज़ कर रहे थे, वही सही जवाब की कड़ी थी....लुट गए......

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    ReplyDelete
  64. दंतेश्वरी देवी मंदिर बस्तर.

    ReplyDelete
  65. दंतेश्वरी देवी मंदिर, जगदलपुर, छत्तीसगढ़.

    ReplyDelete
  66. बाबा समीरानन्द आश्रम

    नियर चित्रकूट जल प्रपात-CG..

    ReplyDelete
  67. बाबा समीरानन्द जी की जय....वाकई बाबा आपका नेटवर्क वर्ल्डवाइड है आज पता चल गया, और कहाँ-कहाँ अपने आश्रम खोल रखे हैं आपने.....चंडीगढ़ में भी है क्या कोई ??

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    ReplyDelete
  68. ताऊ जी
    हिंट पर फाल्स देखकर तो ये कुर्ग (कर्णाटक ) में लग रहे हैं..
    फिर यर ओमकारेश्वर मंदिर है( मादिकेरी )
    तुक्का.... कभी कभी एक्साम में भी करती थी ऐसा ..:)))

    ReplyDelete
  69. हमेशा की तरह लेटू। और जवाब भी नही मालूम।

    ReplyDelete
  70. दंतेश्वरी मंदिर, जगदलपुर

    ताऊ आज बहुत देर से आया मैं आपकी पहेली पर नहीं तो बहुत पहले ही बता दिया होता।

    ReplyDelete
  71. रावण के पिता का नाम ऋषि विश्रवा, मां का नाम कैकसी था।
    कुबेर रावण का सौतेला भाई था।

    ReplyDelete
  72. चित्रकुट का का झरना तो तय है..

    ReplyDelete
  73. अंतिम क्लू--
    १-इस राज्य से पहली बार पहेली पूछी गयी है.
    २-यह देवी सती के ५१ शक्तिपीठों में से एक है.
    ३-यह राज्य नए बने राज्यों में से एक है.

    शुभ रात्रि.

    ReplyDelete
  74. युरेका.....

    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...
    मिल गया...


    ये है दांतेश्वरी मंदिर..
    ताऊ डिटेल यहां है
    http://travel.sulekha.com/india/chattisgarh/dantewada/photos/danteshwari-temple-history.jpg

    थोड़ी जानकारी ये है..
    Danteshwari Temple is a 600-year-old heritage pilgrim center built by Chalukya kings in the 14th century. The temple is located at Dantewada, about 80 km from Jagdalpur, near the Gole Bazaar and Bastar Palace, in Bastar District, Chhattisgarh. Two rivers, Shankini and Dhankini, meet here. Danteshwari got its name from the belief that a tooth of Devi Sati fell here.
    The temple, with its unique idol made of black stone, is rich in architectural and sculptural wealth. It has four parts - Garbh Griha, Maha Mandap, Mukhya Mandap and Sabha Mandap - with a Garud Pillar at the entrance. The temple is decorated and lit up magnificently during the Dussehra festival. Hindu and tribal pilgrims flock to Danteshwari during this time.

    ReplyDelete
  75. मुझे तो ये जगह कोई जेल लग रही है.. औऱ रामप्यारी का जवाब है रावण के पिता का नाम फादर ऑफ रावण माता का नाम मदर ऑफ रावण औऱ दोनों का संयुक्त नाम पेरेंट्स ऑफ रावण

    ReplyDelete
  76. अटकलों की मान गये - रेलवे का मालगोदाम और साबरमती आश्रम!
    बापू सिर पीट लेंगे!

    ReplyDelete
  77. ताऊ ये पक्के से कोई उल्टी सीधीजगह लग रही अहि मेरे को तो.

    ReplyDelete
  78. रामप्यारी का जवाब है सुमाली और मंदोदरी

    ReplyDelete
  79. ताऊ जबान फ़िसल गई मंदोदरी तो रावण दादा की लुगाई का नाम था. उनके मम्मी और पापा का नाम बेरा कोनी.

    ReplyDelete
  80. अब सब चित्रकुट बताण लाग रे तो म्हारा भी नाम लिख लो इनके साथ.

    ReplyDelete
  81. कुबेर तो रावण का भाई था पर मा बापू का नाम बेरा कोनी.

    ReplyDelete
  82. यह तो कोई ट्रेजरी दिखती है. साफ़ बेरा कोनी चलदा. रात को टीप कर जवाब देंगे.

    ReplyDelete
  83. यह तो कोई ट्रेजरी दिखती है. साफ़ बेरा कोनी चलदा. रात को टीप कर जवाब देंगे.

    ReplyDelete
  84. रामप्यारी रावण के बापू का नाम तो विशेश्रवा था पर मां का नाम बेरा कोनी. आधे नम्बर दे दियो.

    ReplyDelete
  85. ओह! इतना सीधा-सीधा हिंट! क्या करूं अभी फ़्री हुआ हूं वरना पहले ही उत्तर दे देता। ये दंतेश्वरी मंदिर है, दांतेवाड़ा छ्त्तीसगढ़ में जहां सती का दांत गिरा था।

    ReplyDelete
  86. रामप्यारी, आज इतना आसान सवाल क्यों पूछ रही हो? रावण की माता कैकसी तथा पिता विश्रवा ऋषि थे। कुबेर भी विश्रवा के पुत्र थे अतः रावण के भाई(actually half brother)हुए रिश्ते में।

    ReplyDelete
  87. रावण के माता का नाम था कैकसी, और पिता थे विश्रवा मुनी.

    मरीचि ऋषि के भाई पुलस्य थे. उनके पुत्र थे विश्रवा,जिनका विवाह भरद्वाज ऋषि की कन्या देववर्णिनी से हुआ , और उन्हे एक पुत्र हुआ जिसका नाम था वैश्रवण, जो बाद में कुबेर नाम से प्रसिद्ध हुआ.उसने विष्वक्रमा से एक विमान बनवाया था , जिसका नाम था पुष्पक विमान.दैत्यों का लंका पर कब्ज़ा था, और जब वे सभी सुतल और पाताल चले गये तो कुबेर नें लंका पर अधिपत्य कर लिया.

    राक्षसराज सुमाली पाताल से जब फ़िर भारतवर्ष आया, उसको कुबेर का लंका पर अधिपत्य सहन नही हुआ. इसीलिये उसने एक चाल रच कर अपनी कन्या कैकसी को कुबेर के पिता विश्रवा मुनी को आकर्षित करने के लिये प्रेरित किया .अतः कैकसी नें ही विश्रवा मुनी से स्वयं विवाह करने की इच्छा प्रकट की. उनका विवाह शाम को किसी क्रूर घडी में होने के कारण पुत्रों का क्रूर होना बताया गया. मगर दैत्य कुल में होने के बावजूद कैकसी सुस्वभावी थी, अतः उसने अपने पुत्रों को धार्मिक होने का वर मांगा.

    अंतराल में उन्हे तीन पुत्र हुए और एक पुत्री (शूर्पणखा).रावण इसीलिये आर्य संस्कृति और दैत्य संस्कृति का संकर पुत्र था.

    अतः कुबेर रावण का सौतेला भाई था जिससे बाद में अपने मातामह के कहने पर रावण नें लंका का राज और पुष्पक विमान छीन लिया.

    रावण का संदर्भ सत्य युग में भी आता है और त्रेता युग में भी, इसिलिये कुछ विद्वान मानते हैं कि रावण भी दो थे.

    ReplyDelete
  88. ये जरूर
    श्रीलंका का
    रावणमंदिर है
    तभी तो लोहे से बना
    इतना मजबूत सै

    ReplyDelete
  89. छत्तीसगढ में डोंगरगांव ,जगदल्पुर के पास मां बमलेश्वरी देवी का मंदिर.

    ReplyDelete
  90. दंतेश्वरी देवी का मंदिर

    ReplyDelete
  91. सूचना : पहेली का जवाब देने की समय सीमा समाप्त हो चुकी है. अब जो भी जवाब आयेंगे उन्हें अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगें. आपके सहयोग और उत्साह वर्धन के लिये आपके आभारी हैं.

    -आयोजक गण

    ReplyDelete
  92. रामप्यारी रावण के बापू का नाम तो विशेश्रवा था पर मां का नाम बेरा कोनी. आधे नम्बर दे दियो.

    ReplyDelete
  93. ताऊ ये दिलीप जी का टीप कर.....दंतेश्वरी देवी का मंदिर छत्तीसगढ़ ....!!

    ReplyDelete
  94. दंतेश्वरी देवी मंदिर, जगदलपुर, छत्तीसगढ़.
    लो जी नकल टीप ली
    चोरी के पचास ही सही
    क्‍या बुरे हैं।

    ReplyDelete
  95. नकल नंबर 2
    रावण की माता कैकसी तथा पिता विश्रवा ऋषि थे। कुबेर भी विश्रवा के पुत्र थे अतः रावण के भाई (मुन्‍नाभाई वाले मुंबई भाई नहीं) हुए रिश्ते में

    ReplyDelete
  96. डियर ताऊ ,रावण के पिता का नाम विश्रवा और माता का नाम कैकेशी था और रावण कुबेर का सौतेला भाई था । और यह जगह मुझे तो कोई मन्दिर लग रहा है । किस जगह पर है यह पता नही है।

    ReplyDelete