Powered by Blogger.

ताऊ पहेली - 30

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरे की घणी राम राम.

ताऊ पहेली अंक 30 में मैं ताऊ रामपुरिया, सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं. यहां बार बार नियमों का उल्लेख ना करते हुये हम अब सीधे पहेली की तरफ़ चलते हैं. जो प्रतिभागी नये हैं वे यह पोस्ट पढ कर नियमों की विस्तृत जानकारी ले सकते हैं. क्ल्यु हमेशा की तरह रामप्यारी के ब्लाग से मिलेंगे. रामप्यारी के ब्लाग पर पहला क्ल्यु 11:30 बजे और दुसरा 2:30 बजे मिलेगा. रामप्यारी का जवाब अलग टिपणी में देवें. तो आईये अब आज की पहेली की तरफ़ चलते हैं.
अब रामप्यारी का विशेष बोनस सवाल : - ३० अंक के लिये



हाय आंटीज, अंकल्स एंड दीदी लोग.. वैरी सवीट एंड समाईली गुड मोर्निंग फ़्रोम मिस रामप्यारी…

मुझे कल समीर अंकल ने फ़ोन करके कहा कि रामप्यारी तू अब जल्दी से कनाडा चली आ यहां स्कूलों मे तुझ जैसी ब्रिलियंट मैथ्स टिचर्स की बहुत जरुरत है. और यहां तुझसे ईंटर्व्यु मे यह सवाल पूछा जा सकता है सो तू इसको हल करके लाना. अब मुझे तो कुछ पल्ले ही नही पड रहा है. जरा आप ही मदद कर दिजिये.

लिजिये सवाल ध्यान से सुनिये:

समीर अंकल ने कहा - रामप्यारी आज तू दो ब्लाग पर टिपणी करके आ. और उनको बोल कि वो सब लोग भी आगे जाकर दो दो ब्लाग पर टिपणी करें.

तो रामप्यारी अब तू ये बता कि इस तरह जब तीसवां चक्र पूरा हो चुकेगा तो कुल कितनी टिपणी हो चुकी होगी? लो बताओ अब मुझे तो कुछ समझ ही नही आरहा है. सब उपर से ही निकला जारहा है.


विनम्र निवेदन : - कृपया मेरे सवाल का जवाब अलग टीपणी मे देवें. बडी मेहरवानी होगी. एक ही टिपणी मे दोनो जवाब मे से एक सही होने पर प्रकाशित नही की जा सकती और इससे आप कन्फ़्युजिया सकते हैं कि आपकी टिपणी रुकी हुई है. तो सही होगी?

बस होगया सवाल. है ना सीधा सा सवाल? अब कन्फ़्युजियाईयेगा नही और इस सीधे से सवाल के मिलेंगे पूरे तीस नम्बर. और कुछ कन्फ़्युजिया जायें तो रामप्यारी से पूछने मे मत शर्माना कि पहली फ़ेल रामप्यारी से क्या पूछेंगें? अब आप मेरे ब्लाग पर पहली हिंट की पोस्ट पढ सकते हैं 11:30 बजे और दुसरी 2:30 बजे



इस अंक के आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु,अल्पना वर्मा

नोट : यह पहेली प्रतियोगिता पुर्णत:मनोरंजन, शिक्षा और ज्ञानवर्धन के लिये है. इसमे किसी भी तरह के नगद या अन्य तरह के पुरुस्कार नही दिये जाते हैं. सिर्फ़ सोहाद्र और उत्साह वर्धन के लिये प्रमाणपत्र एवम उपाधियां दी जाती हैं.किसी भी तरह की विवादास्पद परिस्थितियों मे आयोजकों और ताऊ साप्ताहिक पत्रिका के संपादक मंडल का फ़ैसला ही अंतिम फ़ैसला होगा.




मग्गाबाबा का चिठ्ठाश्रम
मिस.रामप्यारी का ब्लाग

110 comments:

  1. ताऊ

    घणा मार्डन हो गया है रे!!

    ये तो स्टेपल्स सेन्टर है जहाँ माईकल जैक्सन की याद में नाच गाना हुआ था, उसी का स्पीकर लगाअ है. पश्चिम बाजू.. आज तो सब घूम जायेंगे.

    ReplyDelete
  2. दिल्ली का अक्षर धाम मंदिर तो नहीं

    ReplyDelete
  3. स्वर्ण मंदिर है फिर से जबाब ...यह मूर्खाधिराज के खिताब के लिए दिया जा रहा है...बस, वही बचा रह गया है.

    ReplyDelete
  4. दक्षिण की तरफ सर करके सो जाता हूँ, शायद सपने मॆं दिख जाये//

    ReplyDelete
  5. अगर मैंने रामप्यारी का सवाल समझा है, तो टिप्पणी १४ होनी चाहिए.

    ReplyDelete
  6. रामप्यारी

    सबको परेशान कर रही है तो यह तो कह दे कि जो जितेगा उसे समीर अंकल से टॉफी दिलवाऊँगी..वरना कौन इतनी मेहनत करेगा?

    ReplyDelete
  7. ताऊ ऐसे भवन तो जोधपुर के मंडोर गार्डन में भी बने है |

    ReplyDelete
  8. ताऊ !
    20 साल पहले खजुराहो देखा था।
    मुझे तो यह खजुराहो ही लग रहा है।

    ReplyDelete
  9. रामप्यारी के सवाल का सीधा सा जवाब है-
    30 चक्र 60 टिप्पणी।

    ReplyDelete
  10. रामप्यारी का जवाब तो कल रामप्यारी की क्लास मे नोटिस बोर्ड पर ही लिखा था. दो की घात तीस.:)

    साईंटिफ़िक केलकुलेटर से एक सैकिंड मे निकल आयेगा.:)

    ReplyDelete
  11. 2147483646 अब बता इसे पढ़ेगी कैसे?

    ReplyDelete
  12. ओन्करवाट का मन्दिर

    ReplyDelete
  13. सुनो रामप्यारी, समीर अंकल के प्रशन के जवाब में न पडना. बडे तीसमारखां इस प्रशन के जवाब की गणना करने में घंटो लगा देते हैं.

    दर असल यह प्रश्न एक और रूप में सबसे पहले उस आदमी ने पूछा था जिसने शतरंज का अविष्कार किया था. जब राजा ने पूछा कि उसे क्या पुरस्कार चाहिये तो वह बोला कि पहले खाने पर एक गेहूँ, दूसरे पर दो, और इस तरह चौसठ खाने भर दिये जायें.

    राजा ने पूछा कि क्यों मजाक कर रहे हो, यह तो मुट्ठी भर गेहूँ हुआ. लेकिन वह अडा रहा तो मंत्री ने गणना की. पता लगा कि 64 खानों लायक गेहूँ तो सारी दुनियां में नहीं है.

    इस प्रश्न में 64 बार नहीं लेकिन तीस बार पिछली संख्या गुणित हुई है, अत: उत्तर खरबों में होगा. मेरे पास् कम से कम आज सुबह इसकी गणना के लिये समय नहीं है

    हां एक आसान तरीका है, दो से चालू करके उसे 30 बार 2 से केलकुलेटर पर गुणा कर लेना. यदि केलकुलेटर की सामर्थ के बाहर की संख्या हो तो मुझे दोष मत देना, बल्कि दोष समीर अंकल का होगा.

    सस्नेह -- शास्त्री अंकल

    ReplyDelete
  14. pakka to nahi keh sakte,magar lag konark mandir jaisa hi hai.

    ReplyDelete
  15. ताऊ आज तो टिप्पणी के पास ही बैठेंगे ज़रा सा हिले की टिप्पणियों का स्टॉक जाम !! हा हा हा

    ReplyDelete
  16. देखो ताउजी इब ज्यादा दिमाग पे जोर मत दिलाओ इतना ही तो दिमाग है |इब एक काम करिए सोमनाथ मंदिर गुजरात !! पर नकी कर लेते हैं, आपस की बात है !!

    ReplyDelete
  17. रामप्यारी तुमने तो कल ही उत्तर बता दिया था :
    टू... टू द पावर थर्टी

    इसलिए सही answer होगा -
    1073741824
    एक अरब सात करोड़ सैंतीस लाख इकतालीस हजार आठ सौ चौबीस टिप्पणी

    ReplyDelete
  18. राम प्यारी, इतनी टिप्पणी करने जित्ते चिट्ठे हैं क्या? :)

    ReplyDelete
  19. सरस्वती मंदिर...
    मीत

    ReplyDelete
  20. 2,14,74,83,646

    ले रख.. क्या करेगी इतनी टिप्पणियों का.. हिन्दी के पुरे इतिहास में इतनी नहीं होगी.. बाप से इतना भयंकर काम.. और तुमने समीर अंकल को ही काम में लगा रखा है..

    ReplyDelete
  21. रामप्यारी का जवाब है...
    १०७३७४१८२४ कमेन्ट
    मीत

    ReplyDelete
  22. ये तो पचपन खम्बा लाल दिवार सिरीयल का सीन है

    ReplyDelete
  23. ये तो पचपन खम्बा लाल दिवार सिरीयल का सीन है

    ReplyDelete
  24. रमप्यारी का जवाब १२०

    ReplyDelete
  25. ये दिलवाडा जैन मंदिर हैं या फ़िर पालीताना का जैन मंदिर

    ReplyDelete
  26. अरै ताऊ....जब तनै कुछ मालूम ही कोणी...तो तू म्हारो भेजो क्यूँ खावै सै....कि खुद को ज्ञान बढान की खातिर तू पहेली को सहरो लेवै सै....या कि म्हारी परीक्षा....!!....जा कह दियो...मनै कोणी मालूम.....!!

    ReplyDelete
  27. रामप्यारी का जवाब जरा हिसाब लगाकर देता हूं अभी थोडी देर में.

    ReplyDelete
  28. ये कोई मंदिर लग रहा है.

    ReplyDelete
  29. रामप्यारी २*२*३०=१२०

    ReplyDelete
  30. ताऊ ये तो गिन लिये मैने २४ खंबे हैं और ये इमारत भी किसी ताऊ की बनवाई हुई ही है.

    ReplyDelete
  31. जगदीश मंदिर उदयपुर...
    ताऊ आपने जो फोटो लगे है उसमें कुछ साफ़ नहीं दीखता...
    इसलिए ढूँढने में परेशानी हो रही है...
    अब जो मिलता जुलता लगता है वही जवाब दे दे रहा हूँ...
    मीत

    ReplyDelete
  32. रामप्यारी तेरे हाथ जोडूं..इतने बडे बडे परमाणू फ़ार्मुले वाले सवाल मत पूछा कर..वर्ना किसी दिन मेरा दिमाग फ़ेल हो जायेगा. करोड तक की गिनती कर चुका अब और मेरे को नही आती..जरा भाटिया अंकल से पूछ ले..या समीर अंकल से ही पूछ लेना..हमारा दिमाग क्यों खर्च करवाती है?

    ReplyDelete
  33. यह जैसलमेर का jain temple है...
    सबसे
    ज्यादा यही मिलता-जुलता लग रहा है...
    मीत

    ReplyDelete
  34. खजुराहो भी लिख लो....
    एक वही बचा है....
    लेकिन में सही जवाब अभी भी खोज रहा हूँ ....
    ठीक है ताऊ...
    मीत

    ReplyDelete
  35. दिलवाडा के मंदिर, माऊंट आबु..

    ReplyDelete
  36. जरुरी सूचना : हिंट की 11:30 बजे की पोस्ट रामप्यारी के ब्लाग पर प्रकाशित हो चुकी है.

    -आयोजक गण

    ReplyDelete
  37. रामप्यारी के सवाल का सीधा सा जवाब है-
    30 चक्र 60 टिप्पणी।

    ReplyDelete
  38. सोमनाथ मन्दिर,गुजरात........

    ReplyDelete
  39. यह गुजरात का sun temple है...
    मीत

    ReplyDelete
  40. अब लगता है सोमनाथ का मंदिर है..

    ReplyDelete
  41. आप सब को सुबह की नमस्ते,
    रामप्यारी ने अपनी पोस्ट प्रकाशित कर दी है,
    -एक अनुरोध है की मुख्य पहेली के अपने जवाब में एक से जयादा शहरों या राज्यों के नाम न लिखें ,उनमें से अगर एक सही है और बाकि गलत --तो बड़ी विकट स्थिति हो जायेगी.
    रामप्यारी के हिंट से पहेली आसान हो ही गयी होगी..
    धन्यवाद.

    ReplyDelete
  42. अभी लगता नहीं पक्का सोमनाथ का मंदिर है.. पर ये समीर भाई "दक्षिण की तरफ सर करके" क्यों सो रहे है?

    ReplyDelete
  43. मुझे पता चल गया ये तो एक प्राचीन और प्रसिद्द मंदिर है .क्यों सही बताया ना .

    ReplyDelete
  44. ताऊ मैं भारत भ्रमण कर के आती हूँ फिर बताउँगी कि कौन सी जगह है्राम राम्

    ReplyDelete
  45. ओह ये तो द्वारिका का फोटो लगता है...

    ReplyDelete
  46. re ramudi computer ki isi tisi hogi jod ghataaw kartaan kartaa 30 roud tak 1073741824 itani tippani ho jyawegi!!

    ReplyDelete
  47. अभी कुछ दिनों पहले ही होके आया हूँ... सोमनाथ मंदिर है.

    ReplyDelete
  48. बोनस जवाब: अगर हिन्दी ब्लॉगजगत में ~८००० ब्लॉग हैं तो टिप्पणियां इतनी हो जायेंगी कि गूगल के हिन्दी ब्लॉग सर्वर का बाजा बज चुकेगा। सारे ब्लॉगर टिप्पणी करने में व्यस्त होंगे और ये पहेली-फहेली ठप्प हो चुकी होगी। :)

    ReplyDelete
  49. रामप्यारी, तुम्हारे पहले क्लू से तो ये गुजरात का अक्षरधाम मंदिर होना चाहिये. अगर ये वही तो वहां की दो बातें याद आती हैं पहली तो ये, कि इस मंदिर की यात्रा के समय मैं अंदर जाने के बजाय बस की आखिरी सीट पर खूब जम कर सोया था. दूसरे, मंदिर के पुजारी जी BITS पिलानी के इंजीनियर निकले जिन्हें मेरे एक बैचमेट ने पहचाना जो ख़ुद भी वहीं के पढ़े हुए थे.

    अब मैं तुम्हारा सवाल पढ़ने जा रहा हूं, ज़रा देखूं तो आज तुमने सबको कहां उलझा रखा है. तो मिलता हूं ब्रेक के बाद.

    ReplyDelete
  50. रामप्यारी तो अपना अगला क्लू २:३० बजे ले कर आएँगी ,मैं हिंट दे दूँ...
    ध्यान से क्लू का चित्र देखीये...
    दूसरे चित्र से आप राज्य पहचान गए होंगे..पहेल क्लू में देखीएये-- समुन्दर में में वह व्यक्ति झुक कर क्या कर रहा है??क्या आप को वहां कुछ दिखाई दे रहा है??अनुमान लगाईये?और जवाब आप को मिल जायेगा...

    ReplyDelete
  51. रामप्यारी ,तुम्हारी नयी dresses तो बहुत अच्छी हैं..मेरी बिटिया को बहुत पसंद आई हैं..ज़रा मुझे भी बता देना की कहाँ से खरीदीं हैं??

    ReplyDelete
  52. ताऊ ना मै मने बेरा कै यू कोई मंदिर है, नाही मैने बेर के यू गुजरात मै है, ओर ना ही मैने बेरा कि... ओम सोम क मंदिर है, मै तो युही घुमता फ़िरता आ गया लेकिन इतना पता है कि यह कुछ ना कुछ तो है ही

    ReplyDelete
  53. ans 1073741824

    Rampyari rani pink dress mey cute lag rhi ho. Bye

    ReplyDelete
  54. रामप्यारी, टिप्पणियों की संख्या इस प्रकार बढ़ेगी-

    २,४,८,१६,३२.... इसे कहते हैं-geometric progression जहां हर संख्या अपने पिछ्ल संख्या की दुगूनी है। अतः common ratio हुआ २, प्रारंभिक संख्या है २ और यह ३० चक्र तक चला यानि n= 30, अब,

    sum of n terms in G.P.= a1(1-r^n)/1-r

    here, a1=2, r=2, n=30
    अतः, sum= 2(1-2^30)/1-2
    =1073741822
    नोट: रामप्यारी, तुम्हारी टिप्पणियों का चक्र तो सुरसा और हनुमान की याद दिला रहा है-
    जस-जस सुरसा बदन बढ़ावा
    तासु दून कपि रूप दिखावा

    ऐसे ही तुम्हारी टिप्पणियां दुगूनी हो रही हैं!!!

    ReplyDelete
  55. आज हम बहुत देर से पहुंचे. यह तो सोमनाथ का मंदिर है. ज्योतिर्लिंग जिसे १७ बार लूटा गया था. लेकिन यह निर्माण जो दिख रहा है आधुनिक है.

    ReplyDelete
  56. मेरे को तो यह बाबा समीरानन्द जी का मंदिर लगता है, जहां सब से ज्यादा जुते चोरी होते है

    ReplyDelete
  57. dearka nagri to nahi kaheen.......
    Lagta hai dwarka ka mandir hi hai...meraa jawaab bhi lock kar diya jaaye

    ReplyDelete
  58. सूर्य मंदिर -मोढेरा -गुजरात.

    ReplyDelete
  59. जूनागढ के वीरावल जगह में स्थित सोमनाथ का मंदिर.
    १२ ज्योतिर्लिंग में से एक ...

    ६ बार बनाया और तोडा गया...

    पहली बार चंद्र देवता नें,(स्वर्ण में)
    दूसरी बार रावण नें ,(चांदी में)
    तीसरी बार श्रीकृष्णजी नें (चंदन में)
    चौथी बार भीमसेन नेण,(पत्थर में)

    चालुक्य शैली में बनाये गये इस वर्तमान मंदिर को ऐसे बनाया गया है, कि बताया जाता है कि मंदिर और दक्षिण धृव के बीच में कोई भी ज़मीन नही है.
    (To Check)

    ReplyDelete
  60. शिव शिव शिव... भोल भंडारी क्षमा!

    आपके सोमनाथ के मंदिर को पहचानने में गलती हो गई।

    ReplyDelete
  61. ओह... !
    यह तो द्वारिका का मन्दिर है।

    ReplyDelete
  62. बाप रे बाओअ, ५८ टिप्पणियां और सिर्फ एक सही जबाब वो भी राज भाटिया जी का-बाबा समीरानन्द जी का आश्रम..भाटिया जी को बहुत बहुत बधाई.

    ReplyDelete
  63. आशा है आप को सही जवाब मिल ही गया होगा...मुख्य पहेली में तस्वीर शाम के वक़्त की है...राघवन जी की खिंची तस्वीर है.....उस के रंग को देख कर इसे सूर्य का मंदिर न समझें..
    रामप्यारी ने भी आखिरी क्लू में बहुत अच्छा हिंट दे ही दिया है.
    आभार.

    ReplyDelete
  64. रामप्यारी के आखिरी क्लू को न केवल देखिये बल्कि पढिये भी..:)

    ReplyDelete
  65. दोनों सवालों में फेल हूँ मैं।

    ReplyDelete
  66. ताऊ जी, मुझे तो ये गान्धीनगर गुजरात का अक्षरधाम स्वाहीनारायण मन्दिर लग रहा है.

    ReplyDelete
  67. समीरानंद आश्रम के महामहिम मैन पंडे महाराज समीर खुद राज जी को आशीर्वाद दे रहें है !! आपके वारे न्यारे हो गए राजी जी !!

    ReplyDelete
  68. सुन रामप्यारी तेरे सबाल का जबाब ...
    १६४०९८८८८७३७४५३०००९२७२६२८५६३४११२००३३२११३३ हुआ, अगर गलत हो तो बताना

    ReplyDelete
  69. गुजरात का अक्षरधाम लगता है रामप्यारी ...

    ReplyDelete
  70. Somnath Temple Gujarat
    City :- Patan
    State :- Gujarat
    Location :- West India

    Somnath is one of the 12 jyotirlingas of lord Shiva. In the Shiva Purana and Nandi Upapurana, Shiva said, `I am omnipresent but specially in 12 forms and places, the jyotirlingas`. Somnath is one of these 12 holy places. Today, Somnath offers a holy pilgrimage, a beach holiday and a number of places of historic, religious or scenic importance.
    It is believed that he had built this temple with gold. Later it was built by Ravana in silver, then Lord Krishna in wood and Bhima in stone. Legend has it that the Kalabhairava shivalinga at Prabhasa was worshipped by the moon and hence, the Lord is called as Somnatha. The Somnath temple also houses the remains of the ancient Sun temple.

    The majestic temple of Somnath is a testimony of the firmness through the changing course of time. Waves of turbulent Arabian Sea lashes the temple situated near Veraval of coastal district of Junagadh. Looted and destroyed by host of foreign invaders it has been re-established time and again as an edifice of the inner strength of the country's cultural fabric.

    ReplyDelete
  71. रामप्यारी जी पता नहीं ये सही है या गलत लेकिन तमाम जोड-गुणा के बाद उत्तर तो इतना ही आ रहा है आपकी पहेली का-4469030912

    ReplyDelete
  72. आपको तो पता ही होगा मुझे जगह का पता नही होगा। वैसे इस ब्लोग और रामप्यारी के ब्लोग का एक पाठक बढ गया है। जब भी उसे याद आता है कहती है पापा जरा रामप्यारी दिखाना।

    ReplyDelete
  73. ताऊ जबाब तो ढुढे नहीं मिल रहा.. समीर भाई ने क्या आश्रम खोल लिया.. बताया नहीं? जय हो..

    राम राम

    ReplyDelete
  74. रामप्यारी सुबह जल्दबाजी में तेरे सवाल का जवाब देना याद ही नहीं रहा.अब ध्यान आया तो सोचा चलो जवाब दे ही देते हैं. तो नोट कर ले, तेरे सवाल का जवाब है---बेरा कोनी.

    ReplyDelete
  75. अजी यह तो स्वर्ण मंदिर है, जो गुजरातियो ने अपने डांडिया खेलने के लिये श्री सोमनाथ जी से पेसे लेकर बनबाया था, लेकिन गजनी गुंडे ने हंगामा मचाया था, ओर फ़िर समुंदर से एक बहुत बडा शिव लिंग निकला था ओर फ़िर ताऊ ने उस पर एक पहेली बनाई थी ओर फ़िर उस पर राम प्यारी अग्रेजो के जमाने का टोप पहन कर हिंट देने आइ थी, रास्ते मै उस के पीछे कुत्ते पड गये थे, तो पलटू ने बचाया था. लाजिवा भी अपनी साईकल पर आइ थी...बाकी कहानी ताऊ की जबानी

    ReplyDelete
  76. रामप्यारी के प्रश्न का उत्तर है:

    १,०७३,७४१,८२४ टिप्पणियाँ

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    ReplyDelete
  77. सूचना-रात दस के बाद आये मुख्य पहेली के सभी सही जवाब सिर्फ ५० अंक के भागीदार होंगे.
    अनुरोध है,अगर आप ने अपना जवाब दर्ज न कराया हो..क्रम अनुसार अंक पाने के लिए दस बजे से पहले जमा करादें.
    आभार,शुभ रात्रि.

    ReplyDelete
  78. सूचना : पहेली का जवाब देने की समय सीमा समाप्त हो चुकी है. अब आये सही जवाबों को अधिकतम ५० अंक ही दिये जा सकेंगे. धन्यवाद

    -आयोजक गण

    ReplyDelete
  79. रामप्यारी के सवाल का जवाब

    1073741822 बार कमेंट किया जायेगा

    ReplyDelete
  80. पिछला जवाब रद्द किया जाए......रामप्यारी के प्रश्न का सही उत्तर तर्क सहित इस प्रकार है:
    ३०वें चक्र के अंत तक कुल टिप्पणियाँ = २,१४७,४८३,६४६

    यहाँ पर ध्यान देने वाली बात यह है कि प्रश्न में ३०वें चक्र के अंत तक कुल कितनी टिप्पणियाँ हो चुकी होंगी ऐसा पूछा गया था जबकि अधिकाँश लोगों ने यह समझकर उत्तर दिया है कि ३०वें चक्र में कितनी टिप्पणियाँ हो चुकी होंगी.........इस लिहाज से सभी १,०७३,७४१,८२४ को सही जवाब मान रहे होंगे, जो कि बिलकुल गलत जवाब है...हमें ३०वें चक्र की टिप्पणियों की संख्या नहीं बतानी थी बल्कि पहले से लेकर ३०वें चक्र तक की सभी टिप्पणियों का योग (जोड़) करना था......इस हिसाब से गणना करने पर उत्तर २,१४७,४८३,६४६ आता है जो कि सही जवाब है......इस मामले में रविकांत पाण्डेय जी का सूत्र बहुत उपयोगी रहा मगर गणना करने में वे भी चूक गए.....देखें कैसे:

    उनकी गणना:
    sum= 2(1-2^30)/1-2
    = 2-2^30/1-2
    = -(2^30-2)/-1
    = 2^30-2 (अंश एवं हर में से ऋण चिह्न काटने पर)
    = 1073741822

    सही जवाब:
    sum= 2(1-2^30)/1-2
    = 2-2^31/1-2 (वे यहाँ पर 2 को 2^30 से गुणा करने पर 2^31 करना भूल गए जिससे उत्तर में गड़बड़ी हुई)
    = -(2^31-2)/-1
    = 2^31-2 (अंश एवं हर में से ऋण चिह्न काटने पर)
    = 2,147,483,646

    साभार
    प्रशान्त कुमार (काव्यांश)
    हमसफ़र यादों का.......

    ReplyDelete
  81. भई मान गए अपनी रामप्यारी को तो......इस बार तो ऐसा सवाल पूछा कि अच्छे-अच्छे धोखा खा गए......रामप्यारी के एक कुल ने सभी को व्याकुल कर छोड़ा.....मगर एक गलती तो रामप्यारी ने भी कर दी....पूछिए क्या ?? ये सवाल हमसे पूछकर अपनी नाक कटा दी.....चलिए हम तो ठहरे निपट बुद्धू, किसी को क्या फर्क पड़ता है, मगर रामप्यारी जो अब मैडम बन गयी है और उसकी क्लास भी अच्छी-खासी चल रही है तो ऐसे में उसके लिए ये सवाल तो बांयें हाथ का खेल होना चाहिए था....इसलिए हम तो रामप्यारी के स्कूल में बच्चों को दाखिला दिलाने से पहले सौ बार सोचेंगे....

    अरे रे....रामप्यारी.... तू तो नाराज़ ही हो गयी.....चल मान लिया हर किसी को हर चीज़ आये, ज़रूरी तो नहीं......इसलिए तेरी कोई नाक-वाक नहीं कटी, चल अब खुश हो जा.....लेकिन अबकी बार अगर अंकल कहा तो देख लेना फिर.....हा हा हा

    साभार
    प्रशान्त कुमार (काव्यांश)
    हमसफ़र यादों का.......

    ReplyDelete
  82. अरे भई इसमें कोण सी पहेली है.. यह पहेली ही गलत है.. दरअसल यह कोई जगह है ही नहीं यह तो एक पुरानी इमारत है (हा हा ) ...रही बात रामप्यारी की तो मैथ में सिर्फ 33 ही नंबर थे.. सिर्फ पास मार्क ...

    ReplyDelete
  83. ओह! वो यादें जी शुक्रिया! हां गणना में त्रुटि हो गई है, सही संख्या २,१४७,४८३,६४६ ही होगी।

    ReplyDelete
  84. रामप्यारी जी देवी जी मोहतरमा का बहुत अदब के साथ सही जबाब है:

    2147483646

    ReplyDelete
  85. आंध्रप्रदेश का तिरुपति मंदिर लग रहा है ये तो.बचपन से माँ ने कितना कहा, बेटा मंदिर हो आ, लेकिन मैं कभी न माना. अब गलत जवाब हुआ तो इसमें सिर्फ और सिर्फ मेरी ही गलती है.

    ReplyDelete
  86. रामप्यारी के सवाल का जवाब: हर चक्र पर टिप्पणियों की संख्या दोगुनी हो रही है. पहले चक्र के बाद २ टिप्पणियाँ, दूसरे के बाद ४, तीसरे के बाद ८ इत्यादि. एसे करते-करते तीसवें चक्र के बाद दो की घात ३० तक टिप्पणियाँ हो जायेंगी. यहाँ तक तो सभी ने ठीक बताया था, लेकिन इन सब चक्रों को जोडना भूल गये. इन सब तीस चक्रों को जमा किया जाये तो जवाब 2,14,74,83,646 आयेगा, यही रामप्यारी के सवाल का उत्तर है. गिनती के लिये गूगल बाबा की मदद ले सकते हैं, कृपया यहाँ चटकायें.

    ReplyDelete