Powered by Blogger.

ताऊ शनीचरी पहेली राऊंड 2 अंक 9

प्रिय बहणों और भाईयों, भतिजो और भतीजियों सबको शनीवार सबेरै की घणी राम राम.

 

 

ताऊ शनीचरी पहेली के दुसरे राऊंड के अंक नौ   में मैं  ताऊ रामपुरिया,  सह आयोजक सु. अल्पना वर्मा के साथ आपका हार्दिक स्वागत करता हूं.

 

 

आपके सुझावों का हमे सदैव ही इंतजार रहता है. आपकी राय हमारे लिये महत्व पुर्ण है. कृपया अपनी राय अवश्य देते रहिये.  अब दूसरे राऊंड की समाप्ति मे सिर्फ़ एक अंक और बचा है.  उसके बाद  इस पहेली के स्वरुप मे आपकी तरफ़ से कुछ सुझाव हों तो अवश्य बतायें.  आपकी बात जानकर हमें हार्दिक प्रशन्नता होगी.

 

 

इस पहेली के भी नियम पुर्ववत ही हैं. क्ल्यु आपको रामप्यारी के ब्लाग से मिलेगा. जो आप यहां चटका लगा कर भी जा सकते हैं. या साईड बार की उसकी फ़ोटो पर चटका लगा कर भी जा सकते हैं. उसके ब्लाग पर साईड बार मे आप क्ल्यु की फ़ोटो पर चटका लगा कर वापस यहां आ सकते हैं.

 

 

यहां साईड बार के सूचना पटल पर भी नजर डाल कर देखते रहियेगा.

 

 

जैसा की आप जानते हैं कि दिलचस्प टिपणी खोज कर विदुषक के तीन खिताब हमारे नये सदस्य हीरामन देते हैं. अत: टिपणि को भी आप मनोरंजक शब्दों से लिखें

 

 

कृपया मुख्य पहेली और रामप्यारी का जवाब अलग अलग टिपणी मे देवें. क्योंकि इससे जवाब बनाने मे आसानी रहती है. और नम्बर देने मे भी गलती की संभावना नही रहती.

 

 

आईये अब आपको आज की पहेली की तरफ़ ले चलते हैं.

 

 

 

for paheli9-1 (1)                                                           यह कौन सी जगह है?

 

 


अब रामप्यारी का विशेष बोनस सवाल : - ३० अंक के लिये

 

 

 

rampyari-new-dress copy 

हाय आंटीज, अंकल्स एंड दीदी लोग..वैरी सवीट एंड समाईली गुड मोर्निंग फ़्रोम मिस रामप्यारी…

वो पिछले हफ़्ते क्या हुआ ना…आप लोगों ने मुझे सात चिरंजिवियों के नाम तो बता दिये. पर वो है ना..वो है ना..प्रकाश गोविंद अंकल….उन्होने ना…मुझे टीचर से बिना फ़ालतू मे डांट पिटवा दी…वो तो मैं कूद कर आलमारी पर चढ कर बैठ गई वर्ना तो वो टीचर मुझे इनिशियल एडवांटेज भी दे ही देती..


हुआ यों कि टीचर ने आते ही पूछा – रामप्यारी खडी हो जाओ…तो मुझे काहे का डर?  मैं तो खडी हो गई. अब टीचर ने पूछा  : सप्त चिरंजिवियों के नाम बताऒ.

अब हुआ ये कि प्रकाश गोविंद अंकल ने सप्तचिरंजिवियों के अलावा सप्त ऋषि और सप्त प्रजापतियों के नाम भी बताये थे . अब आपको तो मालुंम है कि रामप्यारी तो रट्टे मारकर याद करती है, अक्ल लगाने का तो कोई काम नही,  सो मैं भी उसी जवाब को पक्का घोट कर गई थी. सो मैने बोलना शुरु किया. : टीचर जी…मैं सब याद करके आई हूं.  अभी बताती हुं सब कुछ.

टीचर बोली :  बताओ.

मैं बोली -   टीचर जी पक्का जवाब याद करके आई हूं…. और र्मैने बोलना श्रु किया….

 

टीचर जी …मिल गए...मिल गए...मिल गए
सप्त चिरंजीवियों के नाम मिल गए !
रामप्यारी लक्ष्मण का नाम तुम हटा दो !  इस बार पक्का !
सप्त चिरंजीवी हैं :- विभीषण,  कृपाचार्य  परशुराम  हनुमान,  वेद व्यास,  बलि,  अश्वत्थामा
और टीचर जी आठवें नंबर पर मार्कंडेय का नाम होना चाहिए.

 

और टीचर जी अगली बार फिर कोई इसी तरह का लफड़ा  मत पूछ लेना , इसलिए सप्त ऋषि
और सप्त प्रजापति के नाम भी आज ही सुन ले. सप्त ऋषि :-

1. देव ऋषि,  2. ब्रह्म ऋषि,  3. महर्षि,  4. परम ऋषि,  5. राज ऋषि,  6. कंद ऋषि,  7. रुथ ऋषि

अब टीचर बीच मे ही चिल्लाई :  रामप्यारी ये क्या बक बक कर रही हो तुम?  भांग पी कर आई हो क्या?

 

मैने कहा – टीचर्जी,    भांग की आधी गोली का नशा तो रामप्यारी को बिना पिये ही रहता है.  इसीलिये तो इतनी बकबक करती हूं.  टीचर अब सात प्रजापतियों के नाम भी सुन ही  लो, वर्ना  बाद मे मैं भूल जाऊंगी.

 

ये सप्त प्रजापति हैं :-
1. महर्षि भ्रगु,  2. महर्षि अंगीरा,  3. महर्षि मिरिच,  4. महर्षि पुलह,  5. महर्षि अत्री,  6. महर्षि पुलस्य
7. महर्षि केतु


अब तो टीचर जोर से डंडा उठाकर मेरी तरफ़ दौडी और बोली : जबान चलाती है?  जो सवाल पूछा गया उतने का ही जवाब देना चाहिये.

मैने कहा : ऎडवांस मे रखलो टीचर…फ़िर कभी तो फूछोगी ही.

अब तो टीचर बस गुस्से मे पागल हो गई और डंडा फ़ेंक मारा मेरी तरफ़.  मैं तो चढ गई आलमारी पर.

टीचर बोली – ठीक है तू इतनी ही होंशियार और अक्लमंद है तो इंद्र की सभा की सात सर्वश्रेष्ठ अप्सराओं के नाम बता.

मैने कहा – टीचर जितने भी सात होते हैं वो तो मैने बता दिये.

टीचर बोली – सोमवार को याद करके आना वर्ना तेरी पिटाई पक्की.

तो मैने घर आकर इस सवाल का जवाब ढूंढ कर रट्टे मार कर याद कर लिया.  अब यहां भी वही गडबड हो गई कि एक नाम ज्यादा याद कर लिया. अब आप तो मुझे यह बता दिजिये कि इनमे से कौन सा नाम हटा दूं?   यानि जो आठवां नाम गलत है उसे हटाना है.



सवाल इस प्रकार है :-
इन्द्र की इन्द्रसभा मे सात सर्वश्रेष्ठ अप्सराओं की गिनती मे निम्न अप्सराएं आती हैं.  इनमे से सात नाम सही हैं और एक गलत है. कौन सा नाम गलत है? बताईये.

१. मेनका
२. रम्भा
३. उर्वशी
४. स्वर्णलता
५. तिलोतमा
६. सुकेशी
७ धृताची
८ मंजुघोषा

अब मैं आपको दस बजे मेरे ब्लाग पर क्ल्यु के साथ मिलूंगी..आज मेरी छुट्टी है तो मैं जरा आराम
से सोकर ऊठूंगी दस बजे तक. अच्छा अब रामप्यारी की तरफ़ से रामराम


 

 

इस अंक के  आयोजक हैं ताऊ रामपुरिया और सु,अल्पना वर्मा

90 comments:

  1. kanyakumari, ye moorti vivekananda rock memorial ke bagal me lagi hai, shayad tamil kavi tiruvalluar ki hai

    ReplyDelete
  2. kanyakumari, vivekananda rock memorial ke bagal me lagi hai ye moorti. shayad tamil kavi tiruvalluar ki hai

    ReplyDelete
  3. रामप्यारी इनमे से तो स्वर्णलता को हटा दो। ये ठीक ना हो तो इंद्रजी से ही पूछ लो।

    ReplyDelete
  4. aur is raampyaari ki bacchi ki to saat mahadveepon se mangaye gaye ek ek latth se pitai karungi...
    jab dekho ulte seedhe kaam karti rahti hai, kya jaroorat tha teacher ko gyaan dene chali gayi. arey ham log tumhari jaan bacha dete hain to sar par chadh gayi hai. soch rahi hoon is baar tujhe pitai khane hi doon...kuch din chup chap rahogi to teacher bhi sawal nahin poochegi. khud ko chain ki neend soti hai das baje tak aur hamari neend subah subah kharab kar deti hai.

    ReplyDelete
  5. मेरी समझ से ये सात नाम सही होने चाहियें-
    मेनका
    रम्भा
    उर्वशी
    स्वर्णलता
    सुकेशी
    धृताची
    मंजुघोषा
    ताऊ सोच-समझकर ईनाम देना। पहेली के चक्कर में खुद मैं भी उलझ गया हूँ।
    घणी राम-राम।

    ReplyDelete
  6. यह जगह स्मारक है, पहली बार देखी है और हमारी पृथ्वी नीले गृह पर ही है।

    ReplyDelete
  7. स्थान - कन्याकुमारी
    यह प्रसिद्ध तमिल कवी और विचारक संत तिरुवल्लुवर की १३३ फुट ऊंची मूर्ती है. तिरुवल्लुवर के ग्रन्थ तिरुक्कुरल की शिक्षाओं को आज भी तमिल समाज में बहुत मान्यता मिली हुई है.

    ReplyDelete
  8. रामप्यारी,
    यह कैसा प्रश्न है? ताई ने सुन लिया तो लट्ठ लेकर ताऊ से पूछेंगी की "यह स्वर्णलता कौन है?"
    चलो तुम्हारे सवाल के जवाब में हम यह कवित्त सुनाते हैं - सातों नाम इसमें हैं - जो चाहे चुन लो:
    घृताची मेनका रम्‍भा उर्वशी च तिलोत्तमा ।
    सुकेशी मञ्‍जुघोषाद्या: कथ्‍यन्‍तेऽप्‍सरसो बुधै: ।।

    ReplyDelete
  9. देखा देखा सा तो लग रहा है !

    ReplyDelete
  10. ये तो किसी बाबाजी की मुर्ती लग रही है. देखी तो नही है कहीं. तलाश करके बताते हैं.

    ReplyDelete
  11. ताऊजी और अल्पना जी को प्रणाम, यह कन्याकुमारी स्थित थिरुवल्लुवर की प्रतिमा लग रही है। जानकर अचंभा हुआ कि 133 फीट ऊंची है और दुनिया की 50 सबसे ऊंची प्रतिमाओं में शुमार है।

    ReplyDelete
  12. रामप्यारी माताजॊ को प्रणाम. माताजी आप ये क्या सवाल पूछ रही हो? अब हमसे इतने सीधे सादे सवाल भी मत पूछा करो. इतने सीधे सवालों का क्या जवाब दें?

    कोई टेढा सवाल पूछो जिससे जवाब देने मे मजा भी आये? जैसे यह पूछ सकती हो की दो और दो कितने होते हैं?

    ReplyDelete
  13. Thiruvalluvar Statue

    Recently sculptured, huge landmark statue of famous Tamil saint and poet Thiruvalluvar located at the Southern most tip of India.

    Date created - 2000

    Sculptor - Dr. V. Sthapati

    Material - Granite

    Size - Statue 29 m and pedestal 11.5 m. Total 40.5 metres

    Location - Kanyakumari, India.

    Regards

    ReplyDelete
  14. रविंद्र नाथ टैगोर स्टेच्यु?

    ReplyDelete
  15. रामप्यारी का जवाब सुकेशी?

    ReplyDelete
  16. रम्भा है रामप्यारी.

    ReplyDelete
  17. Kanyakumari
    Back to Classic RunAt the southern most land tip of India, where the Arabian Sea, the Indian Ocean and the Bay of Bengal meet, lies Kanniyakumari, an important pilgrim centre. Kanniyakumari is famous for its spectacular sunrises and sunsets, especially on full moon days. The beach itself is a beautiful site with multi-cloured sand. There is a lighthouse from where one can get a panoramic view. The Government museum offers a good collection of sculptural art crafts of Tamil Nadu.

    Kanniyakumari was once referred to as the Alexandria of the east. It has been a great centre for the arts, culture, civilization, and pilgrimage for years. It was also a famous centre for commerce and trade.

    Tiruvalluvar Statue
    In 2000, the government of Tamil Nadu installed a large stone statue of the Tamil saint Tiruvalluvar on a rock. The Statue, which was sculpted by a team headed by Mr. Ganapathi Sthapathi, is 133 ft (41 m) high signifying the 133 chapters of Thirukural.

    ReplyDelete
  18. सूचना : एक प्रतिभागी का जवाब इमेल से आया है जो कि सही है. वो अभी प्रवास पर हैं और ब्लाग पर कमेंट नही हो पा रहा है. उनके दोनो जवाब सही हैं. उनका वरियता क्रंमाक इसी कमेंट के हिसाब से रहेगा.

    ReplyDelete
  19. क्या यह भारतीय शिल्प है? नहीं पता कहाँ का है...

    रामप्यारी को भी निराश ही कर रहा हूँ, अप्सराओं से पाला नहीं पड़ा. दो तीन के ही नाम पता है :(

    ReplyDelete
  20. रामप्यारी, गलत नाम स्वर्णलता है.. बाकी सात नाम टीचरजी को बता देना..

    अगर वो फिर भी नहीं माने तो 'अमरकोश' से लिया गया यह उद्धरण उन्हें सुना देना..

    घृताची मेनका रम्‍भा उर्वशी च तिलोत्तमा ।
    सुकेशी मञ्‍जुघोषाद्या: कथ्‍यन्‍तेऽप्‍सरसो बुधै: ।।

    यहां स्पष्ट रूप से इंद्र की सभा की सात अप्सराओं के नाम लिए गए हैं..

    ReplyDelete
  21. रामप्यारी रानी तुम्हारा जवाब स्वर्णलता है.
    और सारी बात छोडो आज तुम इस गोल्डन ड्रेस में किसी अप्सरा से कम थोडी लग रही हो.....बहुत प्यारी लग रही हो.....हाँ."

    bye han

    ReplyDelete
  22. Thiruvalluvar statue at Kanyakumari !!

    ReplyDelete
  23. rampyari ye swarnlata apsara shayad inralok ki nahi hai.baki to ram hi rakhe,kahe ulajh jati ho teacher se,exam mein marks kum milenge,phir kahogi hum logo ne copy motes se tumhari maddat nahi ki:):),magar rampyari sharat karti hi achhi lagti hai:)

    ReplyDelete
  24. एक प्रतिभागी का जवाब इमेल से आया है जो कि सही है. वो अभी प्रवास पर हैं और ब्लाग पर कमेंट नही हो पा रहा है. उनके दोनो जवाब सही ....

    समीर जी एक ई-मेल इधर भी भेज देते .....!!

    ReplyDelete
  25. ताऊ जी सुना हैनमज़ा जीतने से ज्यादा हारने मे आता है,इसलिये हारते चला जा रहा हूं।

    ReplyDelete
  26. मुझे दोनों के जवाब नही आते :-(

    ReplyDelete
  27. शनिचरी पहेली का हमारे द्वारा पहली बार सही जवाब यह है:
    कन्याकुमारी में संत कवी तिरुवल्लुवर की विशालकाय प्रतिमा है.
    इनकी जग प्रसिद्द रचना है "थिरुकुरल"

    ReplyDelete
  28. उत्तर :

    देश की ये कैसी दुश्वारी है
    श्री नगर हैं पर कन्याकुमारी है !!

    ReplyDelete
  29. रामप्यारी के सवाल का जवाब है - स्वर्णलता

    ReplyDelete
  30. तिरुवेल्लुवर की मूर्ति है कन्याकुमारी, तमिलनाडु मे
    यहां अरब सागर, हिन्द महासागर और बंगाल की खाडी तीनों मिल जाते हैं

    ReplyDelete
  31. ताऊ जी राम राम आज पहली बार आपकी पहेली में हिस्सा लेने जा रहा हूँ..
    यह मूर्ति तिरुवल्लुवर संत की है... और यह शायद कन्या कुमारी में है...
    जहाँ तक अप्सराओं का सवाल है उनसे जरा कम ही पला पढ़ा है लगता है की स्वर्णलता गलत है... पर अभी sure नहीं हूँ
    मीत

    ReplyDelete
  32. आज तो मैं बड़ी जल्दी आ गया था इस पहेली को बूझने।पिछले दो-एक बार से मिस करता आ रहा हूँ....मगर नतीजा तो वही टांय-टांय फिस्स है
    कोई ज्वाब तो आता नहीं

    हाँ ये सप्त ऋषि और सत्प्चिरंजीवी वाली जानकारी के लिये शुक्रिया

    अप्सरा वाले जवाब में मेरे ख्याल से तिलोतमा गलत जवाब है।

    ReplyDelete
  33. ताऊ मानने तो लगे की यू स्वर्णलता ही घुस के इन अप्सराओं के साथ बैठ गई है.. यही है जो की अप्सरा नहीं है...
    मीत

    ReplyDelete
  34. रामप्यारी

    तम्हरा उत्तर ४. स्वर्णलता

    ReplyDelete
  35. ताऊ महाराज्! यो शायद "कबीरदास" जी का बुत्त है जो कि कन्याकुमारी में थिरूवैलूवर(Thiruvalluvar)नामक जगह पर स्थित है.

    ReplyDelete
  36. ताऊ एक गलती हो गई......नाम कबीर दास जी की जगह Thiruvalluvar पढा जाए.जो कि एक तमिल कवि थे.

    ReplyDelete
  37. लगता है कि अबकी बार पहला सही जवाब सुब्रमणियम जी का ही होगा, आखिर पहेली का सवाल इन्ही के एरिया से संबंधित है.

    ReplyDelete
  38. अरे ये तो कन्याकुमारी स्थित महान तमिल संत और तिरुकुरल के रचयिता तिरुवल्लुवर की प्रतिमा है... १३३ फीट ऊँची इस प्रतिमा का निर्माण कार्य २००० में पूरा हुआ. समुद्री टापू पर बनी हुई यह प्रतिमा विवेकानंद स्मारक वाले टापू के बगल में है. पिछली बार की तरह इस बार भी उत्तर मुझे पता था, देर से आया इसके लिए कम अंक नहीं मिलने चाहिए :-)

    ReplyDelete
  39. तुने वसीयत मे जो दिए,
    कुछ रुसवा लम्हे,....सीमा गुप्ता की कविता की ये पंक्तियाँ मन भाई...
    और तिलोत्तमा अप्सरा नही है ...यही जवाब है ...साथ ही स्टेचू का जवाब नही पता,

    ReplyDelete
  40. अरे रामप्यारी के सवाल का जवाब तो मैं भूल ही गया था. ऐसे ही पौराणिक सवाल पोछा कर रामप्यारी :-) चोकलेट मेरी तरफ से !

    घृताची मेनका रम्‍भा उर्वशी च तिलोत्तमा ।
    सुकेशी मञ्‍जुघोषाद्या: कथ्‍यन्‍तेऽप्‍सरसो बुधै: ।।

    तो उत्तर हुआ स्वर्णलता !

    ReplyDelete
  41. ये तो कुछ समझ मे नही आया कि क्या है? कहीं बाहर विदेश से तो नही ऊठा लाये ताऊ कुछ?

    ReplyDelete
  42. रामप्यारी का जवाब मंजूघोषा है.

    ReplyDelete
  43. यह है नेहरु स्मारक

    ReplyDelete
  44. फ़िर आते हैं पता करके.:)

    ReplyDelete
  45. फ़िर आते हैं पता करके.:)

    ReplyDelete
  46. यह तो कोई रीषि मुनी की मूर्ती दिख रही है. कौन है? मुश्किल है

    ReplyDelete
  47. रामप्यारी का जवाब स्वर्णलता
    सुकेशी इन दोनो मे से ही कोई होगा.

    ReplyDelete
  48. राम प्यारी तू ये ठीक न कर रही मेरे साथ !
    मैंने बोला था कि फिर से कोई लफड़ा लेके न
    आ जाना ! लेकिन तू बाज न आने वाली !

    अब बता कि मैं क्या करूँ ?

    धार्मिक चीजों को देखते ही मुझे हाई ब्लड प्रेशर और लो ब्लड प्रेशर दोनों हो जाता है !
    चक्कर आने शुरू हो जाते हैं ! धार्मिक किताबों को पढ़ते ही टाइफाइड हो जाता है !
    पिछली बार तो तुक्का लग गया था !
    अब क्या करूँ ?

    ये कौन सी लिस्ट है !
    इनमें से तो एक नाम ही सुना हुआ सा है ..........
    लेकिन वो तो अपने चुनाव क्षेत्र में हैं !

    तेरी लिस्ट सही करने के लिए कौन सी
    किताब पढूं ?
    मेरे पास तो हनुमान चालीसा भी नहीं है !

    ReplyDelete
  49. ताऊ राम राम अल्‍पना वर्मा जी का जवाब या सीमा गुप्‍ता जी का जवाब मेरे में कापी कर देना बाकी सब ठीक हे सात नाम के बारे में वशिष्‍ठ जी से पता करके बताता हूं

    ReplyDelete
  50. ye to sant tiruviram he.. kanya kumari me..

    ReplyDelete
  51. ये तो कन्याकुमारी में थिरुवलुर जी की भारत की ओर देखती हुई प्रतिमा है।

    ReplyDelete
  52. रामप्यारी वैसे तो इन्द्र की सभा में 26 अप्सराएं है, लेकिन जब तुमने मुख्य सात् अप्सराओं के बारे में ही सवाल पूछा है तो हमारा जवाब ये है कि "स्वर्णलता" का नाम निकाल देना चाहिए.....मेनका,घृ्ताची,उर्वशी,त्तिलोतमा,रम्भा,सुकेशी का तो पक्का पता है....सिर्फ मंजूघोषा और स्वर्णलता इन दोनों में से एक के बारे में थोडी कन्फयूसन हो रही है. खैर स्वर्णलता लाक कर दिया जाए.

    और हां ताऊ, सप्त प्रजापतियों में अन्तिम नाम महर्षि केतु नहीं बल्कि "महर्षी क्रतु" है.....ठीक कर लीजिए.

    ReplyDelete
  53. स्वर्णलता का नाम हटा दीजिये, बाकी सात ठीक लग रहे हैं।

    ReplyDelete
  54. मैंने अपने आस-पास के कई विद्वानों
    (विश्वविद्यालय के छात्रों) से संपर्क किया तो
    पता चला कि तेरी पूरी लिस्ट ही गड़बड़ है !

    सात सर्वश्रेष्ठ अप्सराओं के नाम इस प्रकार होंगे :
    १ - बिपाशा बसु
    २ - करीना कपूर
    ३ - कैटरीना कैफ
    ४ - राखी सावंत
    ५ - दीपिका पादुकोणे
    ६ - प्रीती जिंटा
    ७ - मल्लिका शेरावत

    ReplyDelete
  55. ताऊ रामराम,
    जवाब बताऊँ? लग तो मुझे रहा है क... कन...कन्या....कन्याकु...कन्याकुमारी में विवेकानंद रोक.
    बाकी तेरी मर्जी.

    ReplyDelete
  56. ताऊ हम तो इस दरिया किनारे कभी नहीं गए अतः हमें नहीं पता ये कोनसी जगह है !

    ReplyDelete
  57. Vivekananda temple and Thiruvalluvar statue - Kanyakumari, India

    ReplyDelete
  58. विवेकानंद स्मारक, कन्या कुमारी...

    ReplyDelete
  59. Rampyari answer:

    घृताची मेनका रम्‍भा उर्वशी च तिलोत्तमा ।
    सुकेशी मञ्‍जुघोषाद्या: कथ्‍यन्‍तेऽप्‍सरसो बुधै: ।।

    (so the answer is swarnlata)

    ReplyDelete
  60. tau ka answer:
    http://en.wikipedia.org/wiki/Kanyakumari_(town)

    rampyari ji ka answer pehle hi de chuka hoon....

    rampyari ji ke hint ka answer:

    मुझको भी तरकीब सिखा कोई यार blogger।अक्सर देखे हैं तेरे post पे comment हजारों.जब कोई post reject हुआ या old हुआ . छोड़ के उसको नया कुछ लिखने लगते हो ,तेरे इन posts में लेकिन एक भी comment अलाचोना सा कोई,देख नहीं सकता है.मैंने तो एक बार लिखा था एक ही post .उसकी सारी छिछालेदार,सारी आलोचनाएं . साफ़ नज़र आती है मेरे यार blogger,मुझको भी तरकीब सिखा मेरे यार blogger.

    ReplyDelete
  61. हा..हा..हा.. मुझे दोनों का ही उत्तर नहीं आता. चलो पीछा छूटा.

    ReplyDelete
  62. कन्याकुमारी, विवेकानंद मेमोरियल

    ReplyDelete
  63. गर्मी के माए दम निकल रहा है, ताऊ तुम तो ए सी मे बैठ कर मजे से पहेली पूछ रहे हो यहाँ यह मूर्ति को ढूढ्ते ढूढ्ते पसीना आ गया ........राम राम मेरी शेखावाटी

    ReplyDelete
  64. रामप्‍यारी की पहेली का जवाब स्‍वर्णलता होना चाहिए।
    ताउ की पहेली के जवाब के लिए अभी तीर तुक्‍कों के जुगाड़ में जुट जाते हैं :)

    ReplyDelete
  65. ये प्रतिमा तिरुवल्लुवर जी की है....
    तामिलनाडु में है.

    ReplyDelete
  66. दक्षिण भारत के प्रसिद्ध संत कवि तिरुवल्लुवर जी की प्रतिमा है
    तमिलनाडु में है

    ReplyDelete
  67. This is the statue of Thiruvalluvar in Kanyakumari.
    The Thiruvalluvar Statue is a 133 feet (40.5 m) tall stone sculpture of the Tamil poet and saint Tiruvalluvar, author of the Thirukkural. It was completed in 2000 and is located atop a small island near the town of Kanyakumari, where two seas and an ocean meet; the Bay of Bengal, the Arabian Sea, and the Indian Ocean . The idea of the Statue was conceived and achieved by Dr. Kalaingar M. Karunanidhi, Chief Minister of Tamilnadu.

    The statue has a height of 95 feet (29 m) and stands upon a 38 foot (11.5 m) pedestal that represents the 38 chapters of "virtue" in the Thirukkural. The statue standing on the pedestal represents "wealth" and "pleasure", signifying that wealth and love be earned and enjoyed on the foundation of solid virtue.

    The combined height of the statue and pedestal is 133 feet (40.5 m), denoting the 133 chapters in the Thirukkural. It has a total weight of 7000 tons.

    The statue, with its slight bend around the waist is reminiscent of a dancing pose of the ancient Indian deities like Nataraja.

    Details of the Statue: -

    Cheif Scultptor : Thiru V.Ganapathi sthapathi
    Height of the statue - 95 feet
    Height of the pedestial - 38 feet
    Statue along with the pedestial - 133 feet
    Height of the face - 10 feet
    Height of the body part - 30 feet
    Height of the thigh part - 30 feet
    Height of the leg part - 20 feet
    Fore arm - 10 feet
    Length of the manuscript - 10 feet
    Width of the shoulder - 30 feet
    Length of the hairdo - 5 feet
    Peripheral wall including the statue & mandap - 60 * 50 feet
    10 Elephants, each as tall as 5' 6 inches
    Weight of the pedestial, statue and the wall - 7000 tones
    Sculptures and other worksmen - 500

    ReplyDelete
  68. ताऊ को म्हारी भी राम राम सैं, ताऊ यो तो कन्यकुमारी के पास एक पत्थरीला टापू है और यह मूर्ती है तमिल कवि और संत तिरिवैल्लूवर की.. जो विवेकानन्द नामक चट्टानी टापू के पास स्थित है..

    ReplyDelete
  69. रामप्यारी आपने जो जवाब दिया था ना वह तो एकदम सही था पर स्वर्णलता आपने गलत जोड दिया इसे छोड कर बाकी सब अपसराएं ही है...

    ReplyDelete
  70. sukeshi ko hata do raampyaari, maine jitna dhoondha mujhe bas yahi ek mili jo apsara to nahin hai par kaafi famous sherni hai.

    ReplyDelete
  71. confusion ho rakha hai, swarnlata ke bare me bhi kuch nahin mila...koi ladki hai punarjanm wali...isliye sara confusion hai, maine socha fir se janm liya hai apsara to hogi hi...par galat hai ye baat. maine abhi chitrgupt ko phone laga ke pata kiya hai, usne database me dekha, apsaron ki duty me swarnlata ka naam nahin hai. to main bhi swarnlata hi bol deti hoon. final jawab, mere number de dena raampyari, warna saat latth maine mangwa rakhe hain.

    ReplyDelete
  72. बोनस सवाल का जवाब :

    स्वर्णलता

    [अब टीपने का मौका मिला]

    ReplyDelete
  73. इस बार की पहेली में बहुत बड़ी साजिश की महक आ रही है !

    एक ही श्लोक इतने लोगों तक कैसे पहुँच गया ?

    रामप्यारी क्या तूने चाकलेट लेके पर्चा आउट कर दिया था ? ?

    ReplyDelete
  74. अरे आज सुबह ही आ जाता आपके ब्लॉग पर तो पहला स्थान पक्का था मेरा.....

    ये तो मैंने देखा हुआ है. ये कन्याकुमारी में एक छोटे से द्वीप पर स्थित महान तमिल कवि और संत तिरुवल्लुवर की प्रतिमा है.

    ReplyDelete
  75. अब रहा रामप्यारी के सवाल का जवाब...

    इनमे से मेनका, रम्भा और उर्वशी को तो मैं पर्सनली जानता हूँ. बाकियों का पता करके अभी बताता हूँ.

    ReplyDelete
  76. ताऊ जब इतने लोग कह रहे की ये प्रतिमा तिरुवल्लुवर जी की है....
    तामिलनाडु में तो वही होगी ...मैंने तो बहुत ढूँढा मिला नहीं ...रामप्यारी का जवाब भी स्वर्णलता लाक कर दें.....!!

    ReplyDelete
  77. आ ....हा ...ताऊ याद आया तिरुवल्लुवर कवि को तो मैंने भी पढा है.....कन्या कुमारी तो मै भी गयी हूँ पर इस प्रतिमा का तो याद नहीं की थी या नहीं.....!!

    ReplyDelete
  78. स्वर्णलता को हटा दो रामप्यारी ..... (वैसे ये लवी की मम्मी का सजेशन है. )

    ReplyDelete
  79. इन में से स्वर्णलता का नाम हटा देना चाहिये.

    ReplyDelete
  80. सूचना : - पहेली का जवाब देने की समय सीमा समाप्त हो चुकी है. आप सभी प्रतिभागियों का हमारे उत्साह वर्धन के लिये बहुत आभार.

    जैसे ही रिजल्ट तैयार होगा आज ही प्रकाशित कर दिया जायेगा.

    धन्यवाद.

    ReplyDelete