असली ताऊ कौन ?


आज साल २००८ का अंतिम दिन है ! आज मुझे हिंदी के सार्वजनिक ब्लागिन्ग में कुल ७ माह और ९ दिन हुये हैं ! इस बीच  आज की पोस्ट सहित कुल १४४ पोस्ट इस ब्लाग पर मेरे द्वारा लिखी गई ! और ५६ पोस्ट मग्गा बाबा पर ! इस तरह कुल दो सौ पोस्ट इस अवधि में लिखी गई ! और दिसम्बर ०८ मे पूरी ३१ पोस्ट लिखी गई ! यानि प्रति दिन एक ! 

 

.......तालियां............

 




अगर ये सब कुछ खराब बात हुई है तो इस खराबी का पुर्ण रुपेण मैं जिम्मेदार हूं ! और अगर आपको ये एक संतोषजनक बात लगती है तो इसके लिये मैं दो महानुभावों को इसका श्रेय देना चाहूंगा !

 

...........तालियां..............

 

मेरे पहले ब्लाग गुरु श्री समीर लाल जी ! जिन्होने मुझे ब्लागिंग का असली गुरु मंत्र दिया ! मैं तहे दिल से उनका शुक्र गुजार हूं !

 

..............तालियां.................

 

दुसरे मेरे ब्लाग गुरु हैं आदर्णिय डा. अमर कुमार जी ! अब आप कहेंगे कि ये क्या गडबड झाला है ? जी नही ये गडबड झाला नही है बल्कि आज की ये दो सौवीं पोस्ट का श्रेय उनको ही जाता है ! आज की पोस्ट मैं उनको समर्पित करता हूं ! उन्होने मुझे शुरु मे ही कहा था कि जो तुम्हारे जचें वो लिखो पर नियमित लिखना फ़िर तुम्हारा हाथ कोई नही पकड सकेगा ! गुरुदेव आज तो आशिर्वाद बनता है बच्चे पर !

 

..............तालियां....................

 

अब एक तीसरे सज्जन भी हैं जिनको भडास के कर्ता धर्ता श्री यशवंत सिंह के नाम से सभी जानते हैं ! जिन्होने मुझे फ़ोन करके सबसे पहले प्रोत्साहित किया था कि बस यही हरयाणवी  फ़्लेवर बरकरार रखना ! आज इसी की जरुरत है !

 

..............एक बार फ़िर से तालियां ...................

 

-------------------------------------------------------------------------------------------------

 

                                       ( कार्टून चिट्ठाजगत के सौजन्य से )


ये  वाला कार्टून चिट्ठाजगत सेवादल द्वारा छापा गया ! जिस पर मेरा ध्यान किसी ने दो दिन पहले ही दिलाया और मुझसे आज ही पूछा गया कि ताऊ आप कौन हो ?

 

मेरी इच्छा तो हुई कि उसको कहूं - बावली बूच जब तू मुझसे बात कर रहा है फ़ोन पर तो ये मैं ही हूंगा ना या मेरे भूत से बात कर रहा है ? पर मै चुप रहा !

 

फ़िर बाद में मैने पूछा कि आप क्या समझते हो ? ताऊ कौन है ? तो उसने नीचे के आप्शन्स मे दिये गये नाम लिये कि आप ये होगे या फ़िर वो होगे !  और इसी वजह से हम वो नाम आपको आप्शन्स मे दे रहे हैं !

 

ताऊ की इस सज्जनता पर एक बार फ़िर से .......तालियां...........जोर से ..........!

 

-------------------------------------------------------------------------------------------------

 

उपरोक्त कार्टून मे विवेक सिंह जी संभावना जता रहे हैं , कि समीर जी ताऊ हो सकते हैं !  अब लाख टके का सवाल है कि ताऊ कौन है ? ये तो मुझे भी नही मालूम ! इसका जवाब तो मेरे पास भी नही है ! क्योंकि ताऊ अब एक पहेली बन चुका है ! और यकीन मानिये  कुछ गडबड जरुर है !

 

कई लोग आपको कहते मिल जायेंगे कि हम ताऊ को जानते हैं ! पर वो नही जानते ! उनकी बात तथाकथित ताऊ बने व्यक्ति से मोबाईल पर हो रही है और मोबाईल तो कही का कहीं  बज जाता है ! ISI  का मोबाईल पाकिस्तान मे प्रणव मुकर्जी के नाम से बज सकता है  तो  ताऊ तो फ़िर ताऊ ही है ! वो अपना मोबाईल कही भी बजवा ले !  

 क्या कोई ऐसा व्यक्ति है जो यह दावा करे कि वो ताऊ से रुबरु मिला है ? शायद नही ! क्योंकि ताऊ अगर हो तो मिले ना ! 

----------------------------------------------------------------------------------------------------

 

मुझे निम्न लोगों पर शक है जो ताऊ हो सकते हैं ! आप भी आपका जवाब दिजिये और इस पहेली को सुलझाईये ! मैं तो समझता हू कि जिसके नाम पर भी ज्यादा वोट आये उसे ही ताऊ मान लिया जाये ! तो अपना वोट कृपया जरुर दिजियेगा !

 

1. समीरलाल  ताऊ हैं ?  २. डा. अमर कुमार  ताऊ है ?

 

३. अनूप शुक्ल "फ़ुरसतिया" ताऊ हैं ?

 

४.  शिव कुमार मिश्रा ताऊ हैं ?  ५.  विवेक सिंह  ताऊ है ?

 

६. अरविंद मिश्रा ताऊ है ? ७.  राज भाटिया ताऊ है ?

 

८.  ताऊ नामक कोई स्वतन्त्र व्यक्ति है ? 

 

९.  या  आपको लगता है अन्य कोई ताऊ है ?

 

 

इन आप्शन्स मे से आप कोई भी जवाब दे सकते हैं ! चाहें तो सैकिण्ड चवाइस भी लिख सकते हैं ! थर्ड ..फ़ोर्थ भी !

 

आप चकराइयेगा नही ! उपरोक्त सब के सब  बराबरी के दावेदार हैं ! और ये सब सक्षम हैं रुप और नाम बदल कर मौज लेने के लिये ! और ये शायद सन २००८ की सबसे सनसनी खेज पहेली है जिसका आप को आज तक मालूम ही नही था कि ताऊ वाकई है भी या नही !

 

ऐसा तो नही है कि आप ही लोगो मे से कोई छदम नामधारी इतने दिनो से आपकी मौज ले रहा था ? ये ताऊ नाम का आदमी ब्लागिंग मे नया होता तो इतनी आसानी से इतनी जल्दी यहां तक नही पहुंचता ! ये जरुर कोई पुराना मंजा हुआ ब्लागर है जो आपकी मौज ले रहा है !

 

और सुना है कि मौज लेने मे फ़ुरसतिया जी बडे मंजे हुये हैं ! वैसे मैने उपर जो वोटिंग के लिये नाम दिये हैं ये मुझे तो सारे के सारे सक्षम दिख रहे हैं ! आपका क्या खयाल है ? ये जो भी ताऊ है उसकी तरफ़ से नया साल मुबारक हो !

 

पहेली के नतीजे अति शीघ्र  घोषित किये जायेंगे !   

नये साल की रामराम ! कार्टून मे ताऊ बडा मस्त बनाया है ! धन्यवाद कार्टून चिट्ठाजगत का !



Comments

  1. ताऊ नामक कोई स्वतन्त्र व्यक्ति है ?
    of course --

    कोई शक्क !!:)

    शुभकामना है २००९ के
    आगामी नव -वर्ष की !
    ताऊ जी "रामपुरिया जी को " और मग्गा बाबा को भी -
    अब ये जो पात्र मय ताई जी तथा आपके सारे शिव जी के गणोँ और पशुओँ सहित बना है हम तो उसी को जानते हैँ -
    अब "लेज़्जीज़ फेयर"
    का जिम्मा भी आपको ही देते हैँ
    राम राम !
    सादर,
    स स्नेह,
    - लावण्या

    ReplyDelete
  2. ताऊ राम राम ,
    मुझे तो लगता है आप एक स्वतंत्र व्यक्ति हो क्यों की आप का अपना व्यक्तित्व और तरीका है |
    जो सबका अलग ही होता है|
    खैर आप जो भी हो आपको नया साल मुबारक हो !

    ReplyDelete
  3. अरे मुझे पक्का यकीन है कि ताऊ तो........... ताई का घर वाला ही होगा, भाई ताऊ आप हे कोन मै इस झगडे मै नही पडना चहाता, लेकिन एक ताऊ नही हो सकता , ओर वो जो आप की फ़ोटु की जगह लगा है,अरे मस्त हूं भाई ताऊ, लेकिन ताऊ नाम का प्राणी स्वतन्त्र केसे हो सकता है??? अजी एक शादी शुदा कब से अपने आप को आजाद समझने लगा.
    राम राम जी की
    नव वर्ष की आप और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं!!!

    ReplyDelete
  4. बहुत दिनों से ताऊ के ब्लाग की ताक झाँख कर रहा हूँ।उस अनुभव के आधार पर एकमेवद्वितीयोनास्ति की तर्ज पर यह कहनें का मन करता है कि ताऊ ताऊ है और सर्वतंत्र स्वतंत्र हैं।निकटतम सम्भावित व्यक्त्तित्व यदि कोई हो सकता है तो वह डा० अमरकुमार जी ही हो सकते हैं? ताऊ को इंग्रेजी वाला हैप्पी न्यु इयर।

    ReplyDelete
  5. मुझे तो लगता है की चिट्ठा-चर्चा की तरह यह चारों ही मिलकर ताऊगिरी करते हैं.

    ReplyDelete
  6. रतन सिंह शेखावत और ज्ञानदत्त पाण्डेय जी का ऑप्शन न देकर पहेली को नीरस कर दिया ताऊ . उनका ऑप्शन भी होता तो मज़ा आता .
    कहीं आप सब भेद खोलने के मूड में तो नहीं . फिल्म का सस्पेंस मर जाएगा ताऊ ऐसा अभी मत करना :)

    ReplyDelete
  7. वैसे ताऊ तो हरियाणा के चप्पे चप्पे पर हैं . हमारे अलावा जो भी ताऊ हैं सबको विद फैमिली हैप्पी न्यू इयर !

    ReplyDelete
  8. २००वीं चिट्ठी पुरी रने की बधाई। आप २लाखवीं चिट्ठी पूरी करें।

    ReplyDelete
  9. यह है साल के अंत में ताऊ का पञ्च ! एक हिंट तो मैं दे ही दूँ की मैं ताऊ नहीं हूँ -शेष बचों में से कोई हो सकता है .और सच बताऊँ जब ये ताऊ नामके फेनामेनन का सूत्रपात हुआ था तभी मुझे आभास हो गयाथा कि यह जरूर कोई डाल/ब्लागजगत का छूटा बन्दर है जो फिर डाल पकड़ने की बेसब्र और बेसिरपैर की कोशिश कर रहा है -लेकिन ये तो पूरा वनमानुष निकला और अब फिर हुलिया बदल कर ओरांगूतान हो गया है -यह छलिया है ,धोखेबाज है पर है प्यारा सा ,अब इसके बगैर ब्लागजगत के कारोबार नही चल सकते .इसने अब सब पर सवारी कस कर बेबस करना शुरू कर दिया है -आप बच सको तो बचो !
    बहरहाल ताऊ तुम जो कुछ भी हो नए वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  10. मुझे तो विवेक सिंह की बात ही सच लग रही है कि ताऊ समीर लाल ही हैं..मगर फिर उड़न तश्तरी कौन है??


    नये साल की ढ़ेरों शुभकामनाऐं ताऊ/// याने खुद ही खुद को शुभकामनाऐं दे रहा हूँ. :)


    खुद आज अपने घर में, खुद को तलाशता हूँ,
    कुछ इस तरह से बीते, लम्हें तराशता हूँ..

    ReplyDelete
  11. ताऊ , ताऊ तो ताऊ है अब कोण है इससे क्या फर्क पड़ता है हम तो बस ताऊ तुम्हारा लिखा पढ़कर मौज ले रहें है ! वैसे इस पहेली में आपने जो आप्शन दिए है वे सारे लोग भी ब्लॉगजगत में किसी ताऊ से कम नही लगते ! ये सभी लोग हिंदी ब्लॉग रूपी परिवार के वरिष्ठ है और ताऊ भी परिवार में वरिष्ठ ही तो होता है पुरे परिवार का सम्मानित और आदर्श !

    कार्टून बड़ा मस्त बना है ! बनाने वाले का आभार !
    नववर्ष की शुभकामनाओ सहित !

    ReplyDelete
  12. @विवेक सिंह जी...
    "रतन सिंह शेखावत और ज्ञानदत्त पाण्डेय जी का ऑप्शन न देकर पहेली को नीरस कर दिया ताऊ . उनका ऑप्शन भी होता तो मज़ा आता .
    कहीं आप सब भेद खोलने के मूड में तो नहीं . फिल्म का सस्पेंस मर जाएगा ताऊ ऐसा अभी मत करना :)

    भाई तुरुप के इक्के खेल मे बचा कर रखने पडते हैं !अभी फ़िल्म शुरु ही हो रही है तो सस्पेन्स तो अब क्रियेट होगा ..खत्म अभी कहां ?

    और आ. ज्ञानदत्त जी और शेखावत जी के रोल अलग हैं इसमे ! अभी तो कुछ भी नही है ! आप देखते जाईये कि और कौन कौन आता/आती है इस फ़िल्म मे !

    और आपकी बातों से साफ़ इशारा मिल रहा है कि ताऊ आप भी हो सकते हो इसीलिये आप अभी भेद खोलने से मना कर रहे हैं और बात को घुमा रहे हैं !

    समीरलाल जी भी खुले आम स्वीकार कर चुके हैं कि वो ताऊ हैं ! अब देखिये कौन निकलता है ताऊ ? अभी तो बहुत लोग आने बाकी हैं !

    ReplyDelete
  13. तालिया ढेर सारी तालिया एक बार फिर से तालिया .............................
    ताऊ ताऊ है ताऊ वह है जो भैस पालता है ताऊ वह जिसका कुत्ता समझदार है ,ताऊ वह जो हर विषय पर चर्चा करता है ,ताऊ वह है जो चाँद को बेच सकता है ताऊ वह है जो वनमानुष की तरह दीखता है ....... अरे मैं अपने आप ही अपने बारे मे बताये जा रहा हूँ
    लगता है अब आप समझ ही गए होगे ताऊ मैं ही हूँ . अहम् ताउस्मी, तौओहम, तौओहम

    ReplyDelete
  14. जितने नाम बताए गए, उन में कोई ताऊ नहीं है।

    कोई स्वतंत्र व्यक्ति भी ताऊ नहीं है। अगर है तो ताई का क्या हुआ?

    ताऊ, बस ताऊ है। इंद्रजाल कॉमिक्स के वेताल/फैंटम की तरह, जो सब कहीं रहता है, और जो कभी नहीं मरता।

    ReplyDelete
  15. ब्लॉग जगत में इतने कम समय में शिखर तक पहुँचने वाला सिर्फ़ ताऊ ही है....तालियाँ.
    यह एक अल्ट्रा स्पेशल कैरेक्टर है.
    ओरानेता को नव वर्ष मंगलमय हो.(सपरिवार)

    ReplyDelete
  16. तालियां............ ,तालियां............ ,तालियां............तालियां............ , ,तालियां.......तालियां............ ,..... ,तालियां............ तालियां............ ,तो बात ये की ताऊ कौन???????? हम्म अब कुछ इनाम विनाम की घोषणा होती तो हम जरुर बताते ताऊ कौन.....अब ऐसे तो हम नही बताते , वैसे ताऊ जी से पुछ कर बतातें हैं की ताऊ कौन...हा हा "

    regards

    ReplyDelete
  17. "नव वर्ष २००९ - आप सभी ब्लॉग परिवार और समस्त देश वासियों के परिवारजनों, मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शांति व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं "
    regards

    ReplyDelete
  18. ताऊ हमारा ताऊ है..
    हम ताल ठोके खड़े हैं मैदान में.. कोई है जो हमारी बात काटे?? :D

    ReplyDelete
  19. मस्त .. चलिए सबसे पहले आप जो भी हो आपको नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये ,,,,,,
    हमारे लिए तो आप जो भी हो ताऊ ही बने रहेंगे....... ताऊ ताऊ ही हो सकता है ..और कोई उसकी जगह नही ले सकता है......वैसे आपने जितनो का भी नाम लिया है ताऊ जैसा कोई भी हो सकता है....लकिन ताऊ तो सिर्फ़ एक है.....और ताऊ जैसा सिर्फ़ ताऊ हे हो सकता है.....
    वैसे भी जयादा माथापच्ची करने की जरुरत ना है......बस सीबीआई वालो को ये ख़बर पहुँचा दे ....ख़ुद पता चल जायेगा की ताऊ कौन है....?

    ReplyDelete
  20. ताऊ रामराम,
    नए साल की शुभकामनाएं.
    ये पूछ रहे हो कि ताऊ कौन है?
    लो हम बता देते हैं.
    ताऊ है ...."आप"

    ReplyDelete
  21. एक समय था कि मुझे हिन्द पाकेट बुक्स का रहस्य लेखक "कर्नल रंजीत" कौन है जानने की उत्सुकता रहती थी। आप आपने "ताउ" कौन है जानने की उत्सुकता पैदा कर दिया।

    अस्तु, सभी "ताउओं" को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  22. समीरलाल, डा. अमर कुमार, अनूप शुक्ल "फ़ुरसतिया", शिव कुमार मिश्रा, विवेक सिंह, अरविंद मिश्रा, राज भाटिया

    मुझे कोई बताएगा की ये लोग कौन है?

    ReplyDelete
  23. इस उपलब्धि पर बधाई !! ...नव वर्ष तुम्हारा स्वागत है. आप सभी को सपरिवार नव-वर्ष पर हार्दिक शुभकामनायें !!
    www.kkyadav.blogspot.com पर नव-वर्ष के स्वागत में कुछ भावाभिव्यक्तियाँ हैं, आप भी शरीक हों तो ख़ुशी होगी.

    ReplyDelete
  24. मन्ने तो लागे है, मैं ही ताऊ हूँ, बाकि ताऊ खूद आगे बायेगा, तब बेरा चलेगा(पता लगेगा).

    अभी तो बहुत दूर जाना है, फिर भी 200 कदमो पर बधाई स्वीकारो.

    ReplyDelete
  25. सबसे पहले तालियाँ। आवाज पहुँची? और रही ताऊ वाली बात तो ताऊ तो ताऊ हैं। और 2008 में लिखी गई पोस्टों के लिए बधाई। और नव वर्ष की ढेरों शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  26. ताऊ तो ताऊ है... अगर कोई और हुआ तो वो तो कोई और होगा न? वो ताऊ कैसे होगा.. वैसे हमारे लिये तो आप सभी ताऊ हो..

    नये साल की शुभकामनाऐं!!

    ReplyDelete
  27. taau ji jo bhi hain---har dil azeez hain--unke blog par har koi aata hai--aur sab par wah apni sneh varsha kartey hain--yah bahut badi baat hai----

    taau -taau hain-aur aaj to jo tasweer lagayee hain--wah bahut hi jabardast hai---bandar ji badey smart lag rahey hain--badey hi garv wale bhaav bhi nazar aa rahey hain!

    7 mahine mein itni popularity hasil karna --madari ka khel nahin hai-yah to tay hai---

    aaj ki post aur cartoon chitr behad rochak hai----:D
    taau ji ko aur unke parivaar mein sabhi ko ---
    नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाऐं----
    muskaratey raheeye!

    ReplyDelete
  28. महाराज्! थानै ऊपर जितने बी नाम गिण्याये, वे सारे के सारे ताऊ इ सैं.
    आपको एवं आपके समस्त मित्र/अमित्र इत्यादी सबको नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाऎं.
    ईश्वर से कामना करता हूं कि इस नूतन वर्ष में आप सबके जीवन में खुशियों का संचार हो ओर सब लोग एक सुदृड राष्ट्र एवं समाज के निर्माण मे अपनी महती भूमिका का भली भांती निर्वहण कर सकें.

    ReplyDelete
  29. घणा सवाल है! ताऊ न हुआ स्पार्टकस हो गया!! जब सैनिकों ने भीड से सवाल किया था कि तुम से स्पार्टकस कौन है तो सभी ने हाथ उठाकर कर कहा- मैं हूं स्पार्टकस॥ ताऊ के बारे में इतना तो पक्का है कि ......वो मैं नहीं हूं :)

    ReplyDelete
  30. ताऊ राम राम

    इब तो घणा टेढा सवाल पूछ्या है.
    रे ताऊ तने ऐ ना बेरा के हरियाणा वालों के धोरे मगज न होवे से, ..........................................बुरा मानने की बात नही है भाई, उनके पास तो दिल होवे से, और वो तो दिल से काम लेत्ते हैं, और दिल कहता है..... ताऊ जो भी है, ब्लॉग दुनिया का हीरा है

    तो ताऊ पहेली बुझेगी दुनिया, म्हारी तो
    आप को और आपके परिवार को नव वर्ष की बहुत बहुत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  31. ताऊ की इतनी सारी संभावनाएं देखकर मुझे चक्‍कर आ रहा है, जब यह मामला सुलट जाए तो मुझे जरूर सूचित करिएगा, आभारी होउंगा।

    ReplyDelete
  32. First of all Wish u Very Happy New Year...

    Tau to aap hi lagate ho hame....

    Regards..

    ReplyDelete
  33. अब आ भी जायें अवगुण्ठन से बाहर ताऊ जी! कौन हैं आप? कहीं मैं ही तो नहीं?

    ReplyDelete
  34. पहेलियां...पहेलियां...पहेलियां

    हम तो इंतजार कर लेते हैं जवाब का ,वैसे भी सुना ही होगा आपने कि फौजियों का दिमाग घुटने में होता है....तो पर्दे के उठने की प्रतिक्षा करता हूं और नये साल की आपको समस्त शुभकामनयें

    ReplyDelete
  35. ताऊ जी, मैं आई तो थी नव वर्‌ष की शुभकामनाएं देने पर यहाँ तो बडा गड़बड़ घोटाला चल रहा है...?
    यहाँ तो ताऊ ही नदारद हैं...? एक बार तो डर गई कि कहीं आप्‍शन में हमारा नाम तो नहीं...?
    क्‍या महिलायें ताऊ नहीं हो सकती...? खैर स्‍मार्ट इंडिया वाले अनुराग जी और धीरू सिंह जी की
    टिपप्‍णी पढ़ बडी़ हंसी छूटी । यूँ तो अपने जमाने में हमने भी काफी जासूसी उपन्‍यास पढे़ थे कैप्‍टन
    हमीद जब नथूनो में स्‍प्रिंग डालकर अपना हुलिया बदल जासूसी करने जाते तो हमारा भी ताऊ जी, मैं आई तो थी नव वर्‌ष की शुभकामनाएं देने पर यहाँ तो बडा गड़बड़ घोटाला चल रहा है...?
    यहाँ तो ताऊ ही नदारद हैं...? एक बार तो डर गई कि कहीं आप्‍शन में हमारा नाम तो नहीं...?
    क्‍या महिलायें ताऊ नहीं हो सकती...? खैर स्‍मार्ट इंडिया वाले अनुराग जी और धीरू सिंह जी की
    टिपप्‍णी पढ़ बडी़ हंसी छूटी । यूँ तो अपने जमाने में हमने भी काफी जासूसी उपन्‍यास पढे़ थे कैप्‍टन

    बडा मन करता कि हम भी जासूसी करें आज मौका हाथ लगा है...! हम भी पता लगाकर
    ही रहेगें कि आखिर ये ताऊ रामपुरी हैं कौन...? अब तक हमने कुछ जाँच पडताल की है आप भी देखें-
    १) ताऊ जी हरियाणा के रहने वाले हैं।
    २)उनके घर के नजदीक एक पान की दुकान है जिसपर लिखा है-''कृपया यहाँ ज्ञान न बाँटें,यहाँ सभी ज्ञानी हैं।
    ३)इनके पास डाक टिकटों का संग्रह है।
    ४) जिस घर में हरियाणवी लोक संगीत बजता हो वही घर इनका है।
    ५)एक शख्‍स जो शुरुआती दौर में इन्‍हें फोन कर इनको प्रोत्‍साहित करते रहे हैं उनका नाम है जसवंत सिंह।
    ६) ताऊ हमेशा मूछों वाले होते हैं इसलिए शक की ऊँगली अरविंद मिश्रा जी पर ज्‍यादा है।
    तालियां............
    Avdhiya ji hamne kam kafi aasan kr diya hai ab con. Ranjit se kahen Tau ko khoj nikalen.

    तालियां............ तालियां............

    ReplyDelete
  36. समीरलाल, डा. अमर कुमार, अनूप शुक्ल "फ़ुरसतिया", शिव कुमार मिश्रा, विवेक सिंह, अरविंद मिश्रा, राज भाटिया ये सब ताऊ के आदमी हैं। ताऊ इनमें से हरेक के रूप में सामने आता रहता है। घणा घुटा आदमी है!

    ReplyDelete
  37. नए साल की शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
  38. आज बस आपको नव-वर्ष की ढेर सारी शुभ कामनायें ही देने आयें है...जीवन में आपके खुशियां ही खुशियां हो...

    ReplyDelete
  39. नया साल आए बन के उजाला
    खुल जाए आपकी किस्मत का ताला|
    चाँद तारे भी आप पर ही रौशनी डाले
    हमेशा आप पे रहे मेहरबान उपरवाला ||

    नूतन वर्ष मंगलमय हो |

    ReplyDelete
  40. ताऊ राम राम ,
    हे प्रभु यह तेरापथ के परिवार कि ओर से नये वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये।

    कल जहॉ थे वहॉ से कुछ आगे बढे,
    अतीत को ही नही भविष्य को भी पढे,
    गढा हैहमारे धर्म गुरुओ ने सुनहरा इतिहास ,
    आओ हम उससे आगे का इतिहास गढे
    2.........

    पुरब मे हर रोज नया ,
    सूरज अब हमे उगाना है।
    अघिकारो से कर्तव्यो को,
    ऊचॉ हमे उठाना है।
    ज्ञान ज्योति से अन्तर्मन,
    के तम का अब अवसान करना है।
    छोडो सहारो पर जीना,
    जिये विचारो पर अपने।
    सही दिशा मे शक्ती नियोजिन,
    करे फले सारे सपने।
    स्वय बनाये राह,
    स्वय ही चरणो को गतिमान करे।


    BLOG NAME:=:
    HEY PRABHU YEH TERA PATH
    URL ADRESS:=:
    http://ombhiksu-ctup.blogspot.com/

    BLOG NAME:=:
    MY BLOGS
    URL ADRESS:=: http://ctup.blog.co.in

    Thursday, 01 January, 2009

    ReplyDelete

  41. बना लिया बतंगड़... हो लिये खुश ?
    इब ताऊ को ताऊ ही रहने दे, ओ ताऊ !
    ताऊ को भला ताऊ ही तो कहा जायेगा, न ?
    तो, ताऊ ही कहलाता रह...
    क्यों इत्ते जनों को छेड़ता है ?
    ताऊ एक किंवद्न्ती ही बना रहे, वही ठीक..
    बस इस चक्कर में घोस्टबस्टर ना बन जईयो !



    वैसे मैं एक दो दिनों में ताऊ की कलकता वाली फोटो जारी करने वाला हूँ...
    बस जरा टैम तो मिलने दे !

    ReplyDelete
  42. ताऊ का पता १२ मुल्को की पुलिस लगा रही है.....पता चले तो बताना...! ईनाम है...!

    ReplyDelete
  43. नववर्ष की हार्दिक ढेरो शुभकामना

    ReplyDelete
  44. आपको और आपके सहपरिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये!!!
    न्य साल आप सभी के जीवन में खूब खुशी,सुख,समृधि और उलास लेकर आए!
    और साथ ही पुरे विश्व में सुख,शान्ति ,अमन चैन लेकर आए.
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  45. ताऊ जी /आज सुबह श्री सुब्रमन्यम जी से चर्चा हुई उन्होंने बताया कि ताऊजी शिवपुरी में ही हैं /चार दिन पहले में इन्दोर से शिवपुरी आया हूँ यदि आपका पता होता (माने शिवपुरी का एड्रेस मालूम होता) तो आपके दर्शनों का लाभ प्राप्त कर लेता /साहित्यकारों के चरण स्पर्श करलेना ही मेरा धर्म है / तीन चार दिन यहाँ रहकर गुना जाऊंगा /नये साल की आपको ढेर दरी बधाईयाँ

    ReplyDelete
  46. वाह।... मजा आ गया।... तालियों की गुंज मेरे कानों तक पहुंच रही है ताऊजी।... और हां।.... मेरी तरफ से नूतन वर्ष की ढेरों शुभकामनाएं....सिर्फ आपको नहीं; आपके परिवार को भी।

    ReplyDelete
  47. जितने भी हरियाणा के हैं सारे ताऊ सैं
    कोई शक

    ReplyDelete
  48. अब सही जवाब तो हिटलर ही दे सकता है, कोई और जाने या ना जाने हिटलर को तो मालूम ही होगा ही, आखिर वो ही तो एक भाग्यवान है जिसे ताऊ के कमल चरणों से आशीर्वाद मिला था!

    ताऊ, ताई और समस्त परिवार को राम राम और नव वर्ष की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  49. ताऊ की तस्‍वीर देखकर भी सब ना जाने क्‍यों कन्‍फ्यूज हैं:)

    ReplyDelete
  50. अरे ताऊ **रामपुरिया*** है भाईयो

    ReplyDelete
  51. थक्ति कपूल बलमा बोले-
    ताऊ नहीं वो आऊ हैं,

    नट्खट छोटे बच्चे बोले-
    ताऊ नहीं वो बाऊ (भूत) हैं.

    जलने वाले जलकर बोले-
    ताऊ बड़े उबाऊ हैं

    माथा पच्ची छोड़ मैं बोलूं
    ताऊ सबके भाऊ (भाई) हैं

    ReplyDelete
  52. अरे राजजी रामपुरिया तो चाकू होवे है ?

    ReplyDelete
  53. how can you write a so cool blog,i am watting your new post in the future!

    ReplyDelete
  54. TAU KAUN?
    बंदर के वास्ते से कलंदर बना कोई,
    कतरो को जम'अ करके समन्दर बना कोई,
    मिल_ता _उ से जो खौज में निकला ए दोस्तों,
    जू_ता _उ तार फ़ेंका, सिकन्दर बना कोई।

    अब तो नकाब उतार फ़ेंकिये ताऊजी, रामपूरी दिखाना पड़ेगा क्या?
    ''भाई'' लोगों को ज़्यादा परेशान मत करो।

    -चौथा बन्दर[http://www.aatm-manthan.blogspot.com]

    ReplyDelete
  55. Although there are differences in content, but I still want you to establish Links, I do not
    fashion jewelry

    ReplyDelete
  56. नमस्कार,
    मैं और मेरी टीम गुम होते जा रहे उपन्यास साहित्य के संरक्षण हेतु प्रयासरत है।
    जासूसी और सामाजिक उपन्यास जिसमें
    - केशव पंडित, वेदप्रकाश शर्मा, सुरेन्द्र मोहन पाठक, दिनेश ठाकुर, रीमा भारती, राजहंस, गुलशन नंदा, रानू, कुशवाहा कांत, ओमप्रकाश शर्मा, परशुराम शर्मा, विक्की आनंद, शैलेन्द्र तिवारी जैसे असंख्य लेखक उस दौर में हुए थे।
    वर्तमान इलैक्ट्रॉनिक युग में वह उपन्यास का समय गुम होता जा रहा है। इसलिए कुछ उपन्यास (Novel) के दीवानों ने उस साहित्य को संरक्षण हेतु एक प्रयास आरम्भ किया है।
    अगर आप के पास उस दौर के उपन्यास उपलब्ध हैं तो हमसे सम्पर्क करें। ताकि उस उपन्यासों को सुरक्षित किया जा सके।
    - उपन्यास का चित्र।
    -उपन्यासों की लिस्ट
    - लेखकों के नाम
    - या उपन्यास संबंधित अन्य कोई जानकारी
    - आपके उपन्यास आपको पुन: वापस लौटा दिये जायेंगे या उपन्यास का मूल्य दे दिया जायेगा।
    - आपसे सहयोग की आशा रखते हैं।
    - गुरप्रीत सिंह
    -9509583944,
    श्री गंगानगर, राजस्थान
    हमारी Site
    www.sahityadesh.blogspot.in
    Email- sahityadesh@gmail.com

    ReplyDelete

Post a Comment