ताऊ ने चाँद पर कालोनी काटी : बुकिंग शुरू

ताऊ को जब से यमराज जी ने चाँद वरदान में दिया तब से सभी ब्लागर्स की अनंत शुभकामनाएं और बधाईयाँ आई है ! सभी खुश हैं ! आईये उस पोस्ट पर किसने क्या कहा ? संक्षिप्त में देखते हैं ! भाई कुश ने चिंता दिखाई की चाँद पर अब भाटिया जी के ठेले का क्या होगा ? डॉ .अनुराग जी की जिज्ञासा है की  वहाँ पर प्लाट कब काटे जायेंगे ? PALLAVI TRIVEDI जी को चाँद पर घुमने की सहूलियत मिलने से खुशी थी !

 

आ.GYAN DUTT PANDEY जी यमराज के हाईटेक ना होने से ताऊ की जान बचने से खुश थे ! दिनेशराय द्विवेदी DINESHRAI DWIVED जी को चम्पाकली के ना लौटने का दुःख था की अब उनको चम्पाकली का दूध कैसे मिलेगा   ? मान.लावण्यम्` ~ अन्तर्मन् जी को ब्लागर्स के लिए मांगे गए वरदान और चांद पर कब्जे की खशी थी  ! गौतम राजरिशी जी को चांद पर चम्पाकली का तबेला देखने की इच्छा थी ! अशोक पाण्डेय जी और RATAN SINGH SHEKHAWAT जी  शेखावत ताऊ के बचने की खुशी में प्रशन्न थे !

 

अल्पना वर्माजी को अब भी भरोसा  नही की चाँद को ताऊ पूरा का पूरा डकार गया ! वो लिखती हैं चाँद ताऊ का है -Breaking news hai. ! अल्पना जी यकीन करिए यह ब्रेकिंग न्यूज नही है बल्कि हकीकत है !

 

लवली कुमारी / LOVELY KUMAR जी को चम्पाकली के बिछुड़ जाने का मलाल था ! रंजना [रंजू भाटिया]  जी को वरदान और चाँद पर कब्जे की  खुशी थी ! PN SUBRAMANIAN जी को पुरे प्रकरण में ही आनंद आया ! PT. D.K.SHARMA "VATSA" जी को ताऊ के ख़िलाफ़ देवताओं की  साजिश की ख़बर लग चुकी थी वो उसका ईलाज करने की तैयारी कर रहे थे ! ABHISHEK जी को ताऊ के शेयर ब्रोकर होने की खुशी थी !

 

 POEMSNPUJA  को वरदान की खुशी और चाँद पर कब्जे की इतनी खुशी थी की  खुशी का पारावार नही था ! जैसे बच्चे ने चाँद को मुठ्ठी में बंद कर लिया हो ! देखिये उन्ही के शब्दों में - ये आपने बहुत अच्छा किया ताऊ जो चाँद मांग लिया, अब मैं लिखूंगी और कोई मुझे चाँद को नीला पीला करने को कहेगा तो बोल दूंगी मेरे ताऊ का चाँद है, मेरा जैसा मन रंगुंगी...कोई आपका थोड़े है, सो ठंढ रखो. 

 

 कुछ दिन पहले पूजा जी को कोई चाँद को काला पीला ना करने की सीख  दे गया था ! अब करलो जिसको जो  करना हो ! अब पूरा चाँद ही उनके ताऊ का है तो जाहिर है उनका ही  है !  अब कोई झंझट ही नही बचा  ! 

ताऊ ब्लागरो  के लिए चाँद तो क्या सूरज को भी हथिया लेगा ! खबरदार सीख देने वालो ! अब सूरज से दुश्मनी मत निकालना !   विष्णु बैरागी  जी चंद्र यात्रा और यमराज संवाद सुनकर बिल्कुल फ्रेश हो गए  थे !

 

SEEMA GUPTA जी को डर था की कही ताऊ ने, नटवर लाल ने जैसे ताजमहल  बेच खाया था उस तरह का कोई कारनामा नही कर दिया हो पर वरदान की बात पढ़ कर तसल्ली हो गई ! और चांद पर जाने की सुविधा मिल जाने से बड़ी खुश थी !

 

ZAKIR ALI 'RAJNEESH' साहब ताऊ को पटा कर रखने की जोगाड़ में थे ! जाकिर साहब, ताऊ को  ज़रा खांटी चिलम कानपुरिया चाहिए पटने के लिए, वैसे लखनवी तम्बाकू भी चलेगी ! :)  CMPERSHAD भी आश्चर्यचकित थे ! यमराज के चक्कर में आने से जीवन सफ़र भी बहुत खुश !

 

 मोहन वशिष्‍ठ जी ने बड़ी काम की बात कही पर भाई आप थोडा लेट हो गए ! आप  अगर ये हमेशा तीन वरदान मांगने की सलाह पहले दे देते तो हम सब ब्लागरिए हमेशा के लिए सुखी हो जाते ! अबकी बार चंगुल में चढ़ने दो यमराज को ! बस यही वरदान मान्गुगा !

 

अभिषेक ओझा जी तो प्रशन्नता वश ताऊ के शिष्य भी बनने को राजी और कोचिंग भी लेने को तैयार ! धन्यवाद भाई ओझा साहब ! आप भी बैंकर हैं ! अत: आप तो ट्रेंड ही हैं !  हम जल्दी ही चाँद पर एक अन्तर ब्रहमान्डिय  मेनेजमेंट ट्रेनिंग कोर्स शुरू करने वाले हैं ! आप अमेरिकन असाईन्मैन्ट पूरा करके वहाँ का काम संभालिये ! अभी वहाँ पर चम्पाकली अकेली है ! सब रिक्रुट्मैन्ट आपको ही देखना है !

 

कविता वाचक्नवी जी तो बहुत ही खुश हैं ! उन्ही के शब्दों में - ईब आपणै वरदाण म्हारी खात्तिर भी माँग्या ही होगा कि चंगू-मंगू तै .... बचै रह्वैं, सो म्हणै भी थैन्क्यू क्हैण का मौका देणा बणै आपका!
थारे धोरे टोकरा-भर थैन्क्यू देणा बणता है जी म्हारा। स्वीकारो।

बहुत शुक्रिया कविता जी ! योगेन्द्र मौदगिल  जी ने तो यमराज की ऎसी तैसी करके चार बार ताऊ की जय बोल दी !

 
 मेरे प्यारे ब्लागियों
म्हारे होते होये ताऊ की कोए पूंझड़ बी नी पाड़ सकता
यमराज की के बिसात सै
प्रेम से बोलो
ताऊ जिंदाबाद

नीरज गोस्वामी  जी कहते हैं :- 

मोदगिल भाई के साथ मैं भी ताऊ की जय बोल रहा हूँ लेकिन मुहं नीचा कर के...क्या पता कब ताऊ की भैंस चाँद पे पोठा (गोबर) गिरा दे जो सीधा मुहं पे आ गिरे...रे ताऊ अब तो चाँद को ताकने काबिल भी न रहे रे...

नीरज जी आप नाहक चिंता कर रहे हैं ! चम्पाकली निहायत ही जहीन और खानदानी और विद्वान् भैंस है ! उसका ताल्लुक राजा भोज के दरबार से है ! जिनको पता नही हो उनकी जानकारी के लिए बता देते हैं की ये भैंस ताऊ को राजा भोज ने दी थी ! श्री योगीन्द्र मोदगिल अच्छी तरह परिचित हैं इससे ! और ये काव्य की भी बड़ी गहरी पकड़ रखती है ! आप आराम से चाँद को ताकिये ! 

 

राज भाटिय़ा  जी भी बड़े खुश हैं ताऊ की जान बचने से ! भाटिया जी आपको कहीं जाने की जरुरत नही है ! आपका ठेला वहीं रखिये ! मार्स पर यमराज का झौठा और चम्पाकली कब्जे की जुगत भिडा रहे हैं!

 

अनुपम अग्रवाल जी को ताऊ के लौटने की खुशी है पर उनको ये डर भी सता रहा है की अगर ताऊ चाँद पर शिफ्ट हो गए तो यहाँ ब्लागारियों को बिगाड़ने का काम कौन करेगा ? अनुपम जी आप चिंता मत करिए ! हम वहाँ का काम शुरू करने के लिए यहाँ का काम अधूरा नही छोडेंगे !

 

अनूप शुक्ल  जी क्या शान जमाई ताऊ की। वाह। ताऊ हो तो ऐसा चाहे एक ही हो।

शुक्ल जी भी बड़े प्रशन्नचित  है ! NITISH RAJ जी को फिक्र है की ताई ने आपको पीटा क्यों नही ? लो बोलो - ताऊ अच्छा करे या बुरा ! ताऊ नही मन्दिर का घंटा होगया जो आप सुबह शाम ताई से बजवाते रहो ! JAYAKA  जी बड़ी प्रशन्न हैं ताऊ के लौटने से ! अब हंसाने का सुखा नही पडेगा ! MUSAFIR JAT जी ने कहा की नरक का राज ही मांग लेते जिससे स्वर्ग के बजाये हम हमेशा नरक मांगते और हमेशा के लिये मौज हो जाती ! भई चिंता मत करो ! ताऊ जहां भी रहेगा , अपने लिये नर्क का निर्माण स्वयम कर लेगा !

 

MAKRAND और दीपक "तिवारी साहब"  जी भी प्लाट काटने जैसी बात करते हैं !

फ़न्डेबाज   और DR. NAZAR MAHMOOD साहब  बधाई देते हैं !

 

 PREETI BARTHWAL  भी खुश होकर  कहती हैं कि ताऊ की अक्ल के आगे यमराज क्या चीज है !


*************************

कुल मिलाकर सारे ब्लागर्स इतने खुश थे की जैसे चाँद उनको ही मिल गया हो ! सही है जब ताऊ ही आपका है तो चाँद तो आपका है ही ! चाँद पर एक ताऊ शाला का निर्माण करवा दिया गया है ! इसमे ७ स्टार से भी बेहतरीन ठहरने की व्यवस्था है ! वहाँ आप ब्लागर्स का खाने पीने का इंतजाम भाटिया जी के ७ स्टार ठेले से होगा ! ये सब सुविधाए आपके लिए बिल्कुल मुफ्त हैं ! ताऊ के खेमे वालो के अतिथि भी फ्री में इन सुविधाओं का लाभ ले सकेंगे ! बाकी लोगो को नोमिनल चार्जेस देने पड़ेंगे ! ट्रांसपोर्टेशन के लिए समीर जी से आप लोग सीधे बात कर ले !  

*************************


आईये अब हम इस विषय में कुछ जरुरी घोषणाए कर देते हैं ! चाँद पर हमने बहुत तेजी से एक कालोनी का काम शुरू कर दिया है ! चम्पाकली द्वारा वहाँ पर  एक मीठे पानी की झील खोज ली गई है उसी झील के पास यह कालोनी बसाई जा रही है  ! यह सर्वसुविधायुक्त कालोनी होगी  !    इसके निर्माण के पैमाने इन्टर्गेलिक्टिक होंगे ! इतनी उन्नत प्रोद्योगिकी इस्तेमाल की जारही है की आप आश्चर्यचकित हो जायेंगे ! आपकी कल्पना से बाहर होगा इसका निर्माण !

 

जितने भी ब्लॉगर भाई और बहने हैं उन सबको ताऊ की तरफ़ से एक एक प्लाट, जिसकी साईज एक लाख स्कवेयर फीट है, वह रजिस्ट्री सहित फ्री दिए जायेंगे ! यानी आपको कोई पैसा नही देना पडेगा ! और एक बात जो ब्लॉगर ताऊ के खेमे के हैं उनको एक एक प्लाट इसी साईज का और फ्री ! अब खेमा ताऊ को भी नही मालुम ! आप इसे शास्त्री जी से प्रमाणित करवा ले  और   अपना खेमाकरण करवा ले ! आपसे निवेदन है की अपने अपने  प्लाट वगैरह के कागज़ आप शास्त्री जी से यथासम्भव शीघ्रता से प्राप्त कर ले ! आपको इसके अलावा प्लाट चाहिए तो उसकी आप बुकिंग  करवाले !

 

इस कालोनी की विशेषता है की इस में पेंटिंग के लिए १० स्कवेयर मील का एरिया छोडा गया है जहाँ आप अपनी मन मर्जी से पेंटिंग कर सकते हैं ! अर्थात चाँद को आप अपनी मनमर्जी के रंग से पेंट  कर सकते हैं ! इस जोन में चाँद आपको मना नही करेगा ! 


दूसरा एक जोन १०० स्कवेयर मील का  कवियो और शायरों के लिए है ! इस जोन में नदी , पहाड़ , झरने , बगीचे और पशु पक्षी यानि पूरा प्राकृतिक वातावरण है ! इस जोन में घुसते ही कविताए अपने आप फूट पड़ेगी !  


और भी बहुत से फायदे हैं ! मसलन इस  कालोनी में ज्यादातर पृथ्वी ग्रह के वासियों को जगह दी गई है अन्यथा सभी अन्य ग्रह वासियों  की भी कालोनिया काटी जा रही हैं ! एक कालोनी एलियंस  के लिए भी काटी जा रही है अगर आपको उसमे चाहिए तो हम आपको उसमे भी प्लाट दे सकते हैं ! ज़रा जल्दी करे ! 

 

और एक जरुरी सूचना :- चाँद पर जाने और आने  के लिए आप समीर जी से बात करले ! पृथ्वी से चाँद तक उनकी सर्व सुविधायुक्त Intergalactic Udantashtari Service उपलब्ध है ! एक मात्र यही उड़नतश्तरी सर्विस है जिसमे मुफ्त भारतीय खाने का शानदार प्रबंध है !  और वो आजकल सुना है भारत में ही आए हुए हैं इसी  की बुकिंग को लेकर ! सो आप अपना आने जाने का ईयरली पास बनवा ले ! काफी फायदे में रहेंगे !

 

 

इब खूंटे पै पढो :-

 

योगीन्द्र मोदगिल साहब  - मेरे परदादा गुजरे तब आठ मकान, ४ बैल, १० झौठी और ५० किले जमीन छोड़ कर गए थे !

 

राज भाटिया साहब - अरे ये तो कुछ भी नही ! मेरे परदादा गए तब ४ मकान, २५ दूकान,  ८ फेक्ट्री और ७० किलो सोना छोड़ कर गए थे !

 

ताऊ - अरे भाई पूछो ही मत ! ये तो कुछ भी नही था ! न्यू समझ ल्यो की मेरे परदादा तो सारी की सारी दुनिया ही छोड़ कर गए थे !

 

 

  

Comments

  1. आपकी चाँद कालोनी के लिए चंद नाम:
    धरती के उस पार
    मेरा गाँव मेरी भैंस
    चाँद-झील दर्शन (मून लेक व्यू)
    चाँद को रंग डालूँगा
    एलियन नगर
    चम्पाकली - कहाँ चली?

    शेष फ़िर...

    ReplyDelete
  2. ताऊ कालोनी की सड़कों के साइड में चेतावनी बोर्ड पर अपने लट्ठ की फोटो के साथ चेतावनी जरुर लिख देना कि किसी तरह का क्षेत्रवाद,सम्प्रदायवाद ,आतंकवाद फैलाने वालों का इलाज ये ताऊ का लट्ठ अपने हिसाब से करेगा | ताकि ये बिमारिया कम से कम चाँद पर ना पहुचे |

    ReplyDelete
  3. ताऊ, ये बढ़िया किया-एकदम रिमॉडल करके लाये हैं उडन तश्तरी. जल्दी लोग बुक कराना शुरु करें. बाद में ब्लैक में सीट बेचेंगे. स्टैडिंग सवारी भी चलते चलते लाद लेंगे.

    जल्दी बुक करो-बुकिंग चालू है. ताऊ लैण्ड पर जाने के लिए.

    ReplyDelete
  4. अरे ताऊ अब तो तुम विज्ञान कथाकारों को भी बेरोजगार करने पर तुल गए हो -चांदपर प्लाटिंग का धंधा भी शुरू कर दिया -काश यह भी तेरा धंधा मंदा हो जाता तो हम विज्ञान कथाकार भूंखों मरने से बच जाते !
    और ये तुने कब यमराज से मिलमिला कर चाँद को हथिया लिया >

    ReplyDelete
  5. ताऊ! प्लाट की तलाश में हम भी थे, मकान बनवाने के लिए। फोकट में मिल गया। सोचा वहीँ चल के बाकी की जिन्दगी का मजा लेंगे। तुरंत जबलपुर संपर्क साधा। चांद तक जाने के खर्चे के लिए पूछा तो होश उड़नतश्तरी हो गए।

    ReplyDelete
  6. बढ़िया प्रस्तुति के लिये बधाई ताऊश्री
    ईबकै खूंटा कमाल का गाड्या
    मेरा बी जी कर पड्या

    ReplyDelete
  7. ताऊजी, राम राम !
    हमारा प्लोट बुक रखियेगा -
    कलर सिल्वर एन्ड लाइट पिन्क रँगेँगेँ :)
    बाकी, नासा से बात हो गई है..
    अगर उडन तश्तरी मेँ भीड हो तो ,
    यहाँ से भी डायरेक्ट फ्लाइट मिलेगी.
    बढिया लिख्या आपने ..
    - लावण्या

    ReplyDelete
  8. रै ताऊ घणा खुस ना होवे , खामखा ख्याली पुलाव बांध रियो सै ? आक्के देख चांद पै तू , बडा आया यमराज तै चांद लेणे वाला. अरे हमणै तो साल्लो पहल्लै ई इंदर देवता णै ठोक पीट कै रजिस्ट्री करवा ली थी इब व्हा म्हारा कब्जा सै , आई मत जाईओ कदै बुढापे मे हमने कक्ष्ट ठाकै तणै पीटनो पडै

    ReplyDelete
  9. बस ताऊ जी के गुन गायेंगे...
    चाँद से होगा इश्क हमारा,
    तारों से दिल बहलाएँगे ,
    चांदनी के पंख लगा
    नभ की सैर कर आयेंगे ,
    बादलों की महफिल मे
    अपने शेर सुनायेंगे .....
    चंद्रलोक अब आपना हुआ..
    बस ताऊ जी के गुन गायेंगे...

    ( चंद्रलोक हम सबके नाम हुआ तो आज खुशी का ठिकाना नही , कुछ पंक्तियाँ ताऊ जी को समर्पित इस अनोखे कारनामे के लिए)
    Regards

    ReplyDelete
  10. ताऊ, जुक्कर म्हारी धरती पै परदूसन ढेर घणा होरा, बस इतनी खैर रखिये अक चाँद पै ना होजा. कदै तेरी वा भैंस गोब्बर कर कर कै इस निर्मल चाँद नै बी होर सुथरा कर दे.

    ReplyDelete
  11. ताऊ, जुक्कर म्हारी धरती पै परदूसन ढेर घणा होरा, बस इतनी खैर रखिये अक चाँद पै ना होजा. कदै तेरी वा भैंस गोब्बर कर कर कै इस निर्मल चाँद नै बी होर सुथरा कर दे.

    ReplyDelete
  12. चाँद पे एक छोटी जगह मिल जाए तो हम अपना प्रॉपर्टी डीलर का ऑफीस खोल ले.. बढ़िया कमाई होगी

    ReplyDelete
  13. ताऊ जी जय राम जी की!आप की कल्पना की उड़ान तो गजब की है!
    एक कुश और एक आप --अगर मिल गए तो ब्लॉग जगत में तूफ़ान नहीं क्रांति आ जायेगी.:D
    वैसे मैं इतनी जल्दी किसी ki बात नहीं मानती लेकिन अब सभी ब्लॉगर साथी कह रहे हैं तो मान लेती हूँ.ki chaand aap ko mil gaya!
    मगर मुझे वहां कोई प्लाट नहीं चाहिये-मेरे हिस्से वाला फ्री प्लाट चंपा कली को देदेना उस ने मीठे पानी की झील जो dhundhi है. -उस को ईनाम है.
    हाँ कालोनी बन जायेगी तो visit करने आऊंगी.yahan dharati se blogging jyada safe hai[:D].
    -उड़न तश्तरी पर हर ब्लॉगर की एक सीट हमेशा सुरक्षित है.सुना है ,उड़नतश्तरी रावण के विमान से भी advance हैं.[रावण का विमान तो यात्रिओं के हिसाब से आकर लेता था.]यह अपनी तश्तरी के डुप्लीकेट बना leti है.
    [--हा हा हा]
    [खूँटी में ताऊ की हाजिरजवाबी के हम कायल हो गए!]

    ReplyDelete
  14. मुझे अपने खेमे मे मानना,मुझे दो प्लाट चाहिये।

    ReplyDelete
  15. ताऊ आप कितने अच्छे हो. हमारा कितना ख्याल रखते हो, चाँद को पेंट करने की जगह भी दे दी है और कवियों और शायरों के लिए भी स्पेशल जगह. सुबह सुबह ये कमाल की पोस्ट पढ़ कर हम तो खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं...लगता है आज का दिन बहुत अच्छा जायेगा. ताऊ की जय हो!

    ReplyDelete
  16. मै सोच ही रहा था ताऊ की अब तक प्लाट बुकिंग शुरू क्यों नही हुई...खैर हमारा एक प्लाट भी लिख ले आप ........अडवांस में २० भैंस छोड़ जा रहा हूँ

    ReplyDelete
  17. मजा तो तब है, जब ताऊ प्‍लाट देने के साथ उसे दिखाने का कोई जुगाड करवा दे।

    ReplyDelete
  18. ताऊ और सब तो ठीक है, लेकिन हम हल कहां चलाएंगे..लगता है चांद पर आपने खेती किसानी की कोई स्‍कीम ही नहीं रखी है :) अब ये न कहना कि तुम्‍हारे लिए धरती छोड़ कर जा रहे हैं..धरती छोड़ें आपके दुश्‍मन :) वैसे एक समस्‍या और है, पता नहीं समीर जी अपनी उड़नतश्‍तरी में हमें अपने साथ हल कुदाल ले जाने देंगे या नहीं :)

    ReplyDelete
  19. ताऊ जी एक प्लाट मेरा भी बुक करें ..गार्डनिंग एरिया भी चाहिए ...तितली शीतली उड़ती दिखे तो और भी अच्छा ..घास और बीज भेज देते हैं आपको कुछ अडवांस में ..कोई फोटो हो उस जगह की तो दिखाए :)

    ReplyDelete
  20. ताऊ आपने तो कमाल कर दिया चम्पाकली द्वारा खोजे गये मीठे पानी की झील के किनारे कालोनी का प्रबंध भी इतनी जल्दी कर दिये!ताऊ आपके चांद पर जाने का सुनहरा मौका भला कौन चुकेगा,हमारी भी बुकिंग करा ही दीजिये बदले में माराडोना के साथ ही साथ अर्जेन्टीना का सारा फ़ुट्बाल मैदान ले लिजीए--ये बात बहुत धीरे से कह रहे है,नही तो यहां किसी को पता चल गया तो फ़ौरन ही इस देश से निकलने का आदेश मिल जायेगा पर अब कोई चिंता नही चांद पर जो जाना है!

    ReplyDelete
  21. घणा अण्टशण्टात्मक लिखा ताऊजी! बोले तो बहुत क्रियेटिव!
    खूब जियो! चांद पर भी रहो तो यहां पोस्टें ठेलते रहो! :)

    ReplyDelete
  22. रै ताऊ, न्यू करिए मनै तो एक दकाण आला प्लाट दे दिये. मै ते ओठै अपणा ज्योतीश का द्फतर खोल्यून्गा. पोथि-पतरा बांच्या करुंगा.अर चाँद लवै के सारे लोक (सर्वग लोक,देवलोक, नरकलोक,यमलोक,ईन्द्रलोक,फलाणालोक,ढिमकाणालोक आदि-आदि)मै पूरी एडवर्टाईस्मैट कर दयूगा.हरेक लोक के मेन गेट पै बैनर टंगवा दयूंगा के श्री ज्योतिशाचार्य पंड़ित डी.के.शर्मा "भूलोक आले"थारे लोक मै पधारे है.विदेश यात्रा, सौतण तै छुटकारा, प्रेम विवाह, टोना-टोट्का, बिमारी, कर्जा जैसी हरेक समस्या का 100% शर्तिया समाधान गारंटी सहित .
    फीस श्रद्धानुसार (मेरी श्रद्धा अनुसार)
    ताऊ जे किते तणै कोई कमीसन चहीये हो तो पहल्या हि बता दिये, तेरा हिस्सा भि रक्ख ल्यून्गा.

    ReplyDelete
  23. Tauji apka pura blog to ek din mai padhna mushkil hai isliye use fursat se padhungi par filhaal aap ek plot mere liye bhi book karwa hi dijiye. zyzda requirment nahi hai. thori zameen ho jisme hara bhara kuch ho jaye aur pareende urte rahe.....

    ReplyDelete
  24. ताऊ! चम्पाकली को छॊड कहीं छिपकली के पीछे न पड जाना। वर्ना चाँद में सितारे दिखाई देंगे और सिर के चाँद पर गोमडे, सो अलग...

    ReplyDelete
  25. भैय्या ठहरो, थक गये दौड़ते दौड़ते, हमारा भी नाम लिख लो.

    ReplyDelete
  26. भैय्या ठहरो, थक गये दौड़ते दौड़ते, हमारा भी नाम लिख लो.

    ReplyDelete
  27. हम ज्यादा नहीं, बस १० प्लॉट बुक करवाना चाहतें है।.... क्यों कि हमारे पास भैसों की संख्या भी १० है, तो ताउजी के १० नंबरी बैंक से लोन भी मिल ही जाएगा...चलिए। हम तैयार है चांद पर धावा बोलने के लिए।

    ReplyDelete
  28. ताऊ जी, ये तो आपने बताया ही नहीं कि आपके पड़ोस वाले पेड़ की भूतनी भी चाँद पर जा रही है या नहीं! क्या वो वहां भी बैले सिखायेगी? scientiston को प्लोटिंग से दूर ही रखियेगा. बड़ी उबड़-खाबड़ इमेज बना रखी है चाँद की.

    ReplyDelete
  29. बहुत बढिया ताऊ ! हमारा भी जोगाड़ लगवा देना ! और कोई अच्छा सा प्लाट देदेना ! वहीं पर अपनी खम्बे की दूकान लगा लेंगे ! :) वाह क्या मजा आयेगा ? कालोनी का नाम क्या रक्खा है ?

    ReplyDelete
  30. शानदार। मजेदार। जानदार!

    ReplyDelete
  31. ताऊ मैं भी तुम्हारे करे ग्रुप का मेंबर हूँ , सो मेन रोड का एक प्लाट मेरे लिये भी ...

    ReplyDelete
  32. ताऊ की जय हो ! सब कुछ ब्लागरो को ही दे दोगे या कुछ हम जैसो के भी पल्ले पडेगा ? हमको तो एक आई टी पार्क खुलवा देना ! :) वाह ताऊ मजा आगया !

    ReplyDelete
  33. अब ये मीठे पानी की झील चम्पाकली ने खोजी है तो इस कालोनी का नामकरण भी चम्पाकली के नम पर होना चाहिए ! चम्पा एन्क्लेव ....चम्पानगर...चम्पा कालोनी या फ़िर ताऊ का चम्पापुर ..:)

    वैसे स्मार्ट इंडियन साहब का आईडिया भी जोरदार है ! उनमे से सेलेक्ट कर लीजिये ! :)

    ReplyDelete
  34. ताऊ दो प्लाट तो आपके खेमे में होने की वजह से हमारे हैं ही ! हमें दो और चाहिए ! कितनी टिपणी के बदले मिलेंगे ?

    ReplyDelete
  35. ताऊ खुटे पे तो खुश कर दिया, चलो थोडी देर के लिये ही अमीर कर दिया, चांद पै मुझे तो कोई प्लाट नही चाहिये, अब सारी उम्र भाग दोड भी नही करनी, बस मेरा ठेला लगा रहै काफ़ी है,
    ताऊ एक बात बताना कही हमारे मनमोहन की कुर्सी की तरफ़ तो नजर नही है तुम्हारी जो यह फ़्रि मे प्लाट बांटने लगे हो, :)
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  36. क्या कहूँ ताऊ...थैक्यूं?

    तो जाने का मौका कब दिलवा रहे हो तबेले में?

    ReplyDelete

  37. ताऊ यार, मेरी जान तो बड़ी साँसत में पड़गी दिक्खे..इब मेरी चँदा, मेरे को अपने दिल की कैद से आज़ाद करे, तो दूसरे चाँद पे बसने की सोचूँ ...

    फिर भी, चकोर बैंक का एक कोरा चेक भेज रिया हूँ, मेरी तरफ़ से एक वहाँ सार्वज़निक ई-शौचालय बनवा देना ।
    लोगबाग अपनी हाज़त हल्की करेंगे, और अपने ताऊ के इस छौने को दुआयें देवेंगे .. टिंग..ढिट्रिंग !

    ReplyDelete
  38. चलो भाई हमारी तो नौकरी पक्की हो गई :-) इस मस्त कालोनी में नौकरी वाले होंगे हम तो... अब रिसेसन हो या डिप्रेसन, हमें काहे का डर !

    ReplyDelete
  39. @अभिषेक ओझा जी : धन्यवाद की आपने चाँद पर ( सी.ई.ओ. बन कर ) अपनी अमूल्य सेवाए देना कबूल किया ! आपके लिए अभी तक दुनिया के किसी भी सी.ई.ओ. को दिए गए पैकेज का १०० गुणा पॅकेज तैयार है ! आपकी सब शर्ते मंजूर हैं ! आप कब ज्वाईन कर रहे हैं ?

    ReplyDelete
  40. मेरे लिए नॊर्थ या ईस्ट फ़ेसिंग प्लॊट सुरक्षित रखें।

    ReplyDelete
  41. ताऊ हमको तो आज मालूम पडा जब चांद पर पानी मिलने की खबर आ रही हैं. एक प्लाट हमारा भी बुक रल लो प्लिज.

    ReplyDelete
  42. ्बहुत बढिया जी।

    ReplyDelete
  43. राजलाल सिंहSunday, September 27, 2009 5:56:00 PM

    वाह बहुत सही जगह कालोणी काटी है.

    ReplyDelete

Post a Comment