कुछ ख़बर चुनाव क्षेत्र से : संवाद दाता ताऊ

चुनाव दृश्य न.१


नागनाथ पार्टी अध्यक्ष की तीन पत्नियां,
टिकट दिलवा दिया तीसरे नंबर की जानू को,
बड़ी और मझली ने कोप भवन संभाल लिया,
सौतन  के प्रचार में जाने से मना कर दिया,

चुनाव प्रचार में उलटा असर पड़ते देख,
कार्यकर्ताओं ने और ग्रामीणों  ने पूछा,
तो आदत अनुसार नेताजी बोले,
नही ऎसी कोई बात नही है, एकता बरकरार है

अभी बड़ी और मझली पटेलन को बुलवाता हूँ
घर फोन से बात की , और आने का आदेश दिया
केन्द्रीय नेता की सार्वजनिक सभा समाप्त होगई
पर दोनों पटेलन तो मिटींग में नही आई !

 

चुनाव दृश्य न.२

 

सांपनाथ पार्टी के प्रत्यासी की हैं चार बीबीयाँ
आजकल चारो बीबीयों के साथ वोट मांगने निकलते हैं !
चार होने के बावजूद सम्पूर्ण एकता और तालमेल है
गजब का चुनाव प्रबंधन है

पहली पटेलन, चारों के मायको  के गाँवों को संभाल रही है

दूसरी ससुराल के गाँवों को संभाल रही है
तीसरी सारे कार्यकर्ताओं और अर्थ प्रबंधन देख रही है
चौथी ने , रण ( चुनाव ) क्षेत्र में,

पति के कंधे से कंधा लगा रक्खा है

 

आप ही बताईये किसकी विजय होगी ?


इब खूंटे पै पढो :- 

आदिवासी समाज में आज भी बहुपत्नी प्रथा का चलन है ! म.प्र. के निमाड़ और मालवा के कुछ जिलो में रहने वाले भील,  भीलाला और दूसरी जन जातियों में इसे अघोषित रूप से मान्यता मिली हुई है ! उपरोक्त दोनों चुनाव समाचार आजकल के अखबारों में चर्चा में का विषय हैं ! और दोनों ही शीर्षस्थ पार्टियों से ताल्लुक रखते हैं ! 


Comments

  1. आप ही बताईये किसकी विजय होगी ?
    ताऊ जी चुनावी विजय की छोडो ,बाहर हारें -चाहें जीतें लेकिन घरवाली की लडाई तो हार ही जायेंगे ऐसे पुराने अनुभव लोंगों ने कई बताएं हैं .

    ReplyDelete
  2. 1. HTML tag ko thik kariye, fat para hai.

    2. Ye chunav ke saamp aur naagon ko 1-2 bibi se kaam nahi chalta kya

    3. Abhi tak kuch pata chala ki right side me sabe top me per ke neeche khari ye cute kehan chali ;)

    ReplyDelete
  3. पहली पटेलन, चारों के मायको के गाँवों को संभाल रही है

    दूसरी ससुराल के गाँवों को संभाल रही है
    तीसरी सारे कार्यकर्ताओं और अर्थ प्रबंधन देख रही है
    चौथी ने , रण ( चुनाव ) क्षेत्र में,

    पति के कंधे से कंधा लगा रक्खा है
    "" वाह, क्या आँखों देखा हाल सुनाया है ताऊ जी ने, अब सापनाथ की चारो बीबीयों ने तो सारे मोर्चे सम्भाले जा चुके है पर हम कुछ नही कहेंगे , आप के समाचार का ही इन्तजार करेंगे... वैसे जिसको ताऊ जी वोट देंगे जीतेगा वोही ... हा हा "
    Regards

    ReplyDelete
  4. सांपनाथ जीतना चाहिये।
    पर जीते चाहे सांपनाथ या नागनाथ, हारने वाला करेगा केस - एक से ज्यादा बीवी होने के मामले को ले कर!

    ReplyDelete
  5. ताऊ, इब तो चुनावों तै पाच्छे ई बेरा पाट्टेगा अक कुण सी पाल्टी जित्ती. बोट उनकी घर आलियों नै कोन्या डालने.

    ReplyDelete
  6. कोई भी जीते हारने वाले तो हम ही हैं. खमीर उस्रो ने कहा भी है:
    चुनाव में खड़े हो तो डर कैसा
    हारे तो हल्ला करो, जीते तो पैसा ही पैसा!

    ReplyDelete
  7. कौन जीतेगा ये तो नही बता सकता लेकिन हारेगा कौन ये गारंटी के बता सकता हूं। हारेगी तो सिर्फ़ गरीब जनता,क्यों गलत कहा क्या मैने।वैसे ताऊ सवाल बडा गजब का है,नागनाथ और सांपनाथ दोनो मे से एक को तो चुनना ही पडेगा,यही तो मज़बूरी है।

    ReplyDelete
  8. कल पोस्ट कुछ और दिख रही थी ब्लोगरोल में...पर ब्लॉग पर गई तो पोस्ट गायब! चुनाव का ये बढ़िया लिखा है आपने, खास तौर से कैसे चार पत्नियाँ मिल कर सम्हाल रही हैं इलेक्शन, एक मायका...एक ससुराल और एक सारी व्यवस्था. ऐसी पत्नियाँ हो तो कोई भी आराम से इलेक्शन जीतेगा.

    ReplyDelete
  9. jitna to dono ne hai kuke dono ke do se adhik shadiya kari hai ,magar dusare ke management kafi sahi hai .. aapkya kahte ho tauji....

    ReplyDelete
  10. yahan ek se pareshan
    wahan charoan me gamahsan
    regards

    ReplyDelete
  11. @ ताऊ jee, आपका कमेन्ट आदर सहित वहीं हैं, शायद मेरे नेटवर्क मे कुछ गडबड थी, जो ब्लॉग पर नही दिखा..मैंने ठीक कर लिया है , आपकी शुभकामनाओ और प्रोत्साहन के लिए दिल से आभारी हूँ..
    Regards

    ReplyDelete
  12. पहली घटना भीकनगांव चुनाव क्षेत्र से है और दूसरी बडवानी चुनाव क्षेत्र की है !

    यहाँ एक से परेशान और वहाँ तीन /चार में घमासान ! :) बहुत जोरदार !

    ReplyDelete
  13. जीत चाहे सापनाथ की हो चाहे नागनाथ की, हार तो जनता की ही होनी है.
    एक हरयान्वी कहावत है के "शेर का भाई बघेरा - वो कूदै नौ, और वो कूदै तेराह !"

    ReplyDelete
  14. ताऊ बहुत सुन्दर, सब सब साप नाथ, ओर नाग राज भाई भाई है, जीते कोई भी खुन तो हमारा ही चुसेगे.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  15. हम तो किसी कृषि सहायक, विषहीन केंचुए को ढूँढ अपना वोट देंगे । वैसे सांप और नाग कुर्सी पर न बैठे हों तो बहुत सुन्दर लगते हैं ।
    घुघूती बासूती

    ReplyDelete
  16. ताऊ कोई जीते जनता को तो हारना ही है .

    ReplyDelete
  17. मेरा तो मनोबल ही तोड़ दिया,
    मेरे तो एक ही पत्नी है, मैं नही जीत सकता चुनाव, कल ही नाम वापस लेता हूँ...

    ReplyDelete
  18. "वो सुबहा कभी तो आयेगी"

    जब कोई सच्चा वीर आयेगा और दुखी जनता का दर्द समझेगा !

    और हमेँ तो आपके लगाये चित्रोँ मेँ से घटादार हरे पेड बहुत अच्छे लगे
    और
    उस महिला से पूछिये
    "रोटी कब तक तैयार होगी ?"
    तब तक हाथ धो कर हम आ जायेँगेँ ..जीमने :)
    - लावण्या

    ReplyDelete
  19. नागनाथ और सांपनाथ दोनों की ही जमानत जिस दिन जनता जब्त करायेगी वही लोकतंत्र का असली
    चेहरा होगा/ताऊ,विजय किसी की भी हो हर बार की तरह हार मजबूर जनता की होगी/

    ReplyDelete
  20. थारी हर बात निराली से...भाई खूब लिखा है तमने ताऊ...
    नीरज

    ReplyDelete
  21. नागनाथ या सांपनाथ
    दोनों जोड़ गए हाथ
    विवशता है
    इन में से ही
    कोई एक जीतेगा
    छाती पर मूंग दलेगा
    लोग कहते हैं कोई जीते
    हारना जनता को है
    पर जनता लड़ती कहाँ है?
    लड़ती है तो
    हारती कहाँ है?

    ReplyDelete
  22. हारना तो खैर जनता को ही है। लेकिन ताऊ अब आपने रिपोर्टिंग भी शुरू कर दी :) और वह भी सीधे चुनाव क्षेत्र से :) हम तो कहेंगे कि नागनाथ और सांपनाथ को लट्ठ मारकर आप खुद ही इलेक्‍शन में खड़े हो जाओ..हां, उनकी बीवियों से होशियार जरूर रहना, सुनते हैं वे भी कम जहरीली नहीं होतीं :)

    ReplyDelete
  23. सांपनाथ और नागनाथ को आप्पस महं भेड़ कै स्वामी अजगर नारायण सीट निकाल सकैं
    आजकल बाब्बे हिट अर फिट होरे सैं

    ReplyDelete
  24. नागनाथ पार्टी अध्यक्ष की तीन पत्नियां--ticket ek ko hi??badi nainsaafi hai!baqi do virodi ho gayee hongi.ye to haarega buri tarah se!

    -सांपनाथ पार्टी के प्रत्यासी की हैं चार बीबीयाँ-आजकल चारो बीबीयों के साथ वोट मांगने निकलते हैं ! -yahi party jitegi Tau ji--yah to Lalu yadav se bhi bada diplomat lagta hai--

    ReplyDelete
  25. इन्हीं की माया है सब, इसलिए हमारे तो विरक्त होने में ही भला है।

    ReplyDelete
  26. ताऊ जी आज पहली बार आप का ब्लॉग देखा ,बड़ा मजा आया ,फोटो तो कमाल की लग्गा राखी है , भूतनी का बले डांस सबसे मजेदार है

    ReplyDelete
  27. जिसे ताऊ जी वोट देगे वही जीतेगा जी।

    ReplyDelete

Post a Comment