Powered by Blogger.

बाजार की वर्तमान तेजी के सन्दर्भ में !

कल से दुनिया भर के शेयर बाजार रिकार्ड तोड़ तेजी में हैं ! यहाँ एक सतर्कता भी जरुरी है ! सभी देशों की सरकारों ने भी उपाय किए हैं ! अच्छा है सब कुछ आशा के अनुरूप हो ! हमारे भारतीय शेयर मार्केट के सन्दर्भ में एक बात का ख्याल हमको अवश्य रखना चाहिए की यहाँ पर विदेशी निवेशको द्वारा की जाने वाली संभावित सेल तेजी के गणित को प्रभावित कर  सकती है ! 

अगर आंकडो में मोटे तौर पर देखें तो फिरंगियों का निवेश २८० बिलियन डालर का था ! इसमे से १० बिलियन डालर का माल बिक चुका है ! बचे हुए माल की कीमत अब सिर्फ़ ९० बिलियन डालर  के आस-पास  रह गई है ! अब ये जो ९० बिलियन डालर का माल है , ये जब तक बिक कर ४५ बिलियन डालर के आस-पास   नही रह जाता तब तक हर ऊँचे भाव पर सेलिंग प्रेशर आता रहेगा ! 
  
ये मैंने अपने मन की बात, जो महसूस की, वो बताई है ! बाक़ी आप अपने विवेक से काम ले और अपने निवेश सलाहकार की राय से काम करे ! 

13 comments:

  1. अच्छा विश्लेषण किया है ताऊ जी . आभार !

    ReplyDelete
  2. बहुत ही सामायिक अच्छा विश्लेषण किया है अपने धन्यवाद्

    ReplyDelete
  3. बिल्कुल सही विश्लेषण किया है आपने।

    ReplyDelete
  4. वाह ताऊ वाह
    सेंसेक्स शब्द भ्रामक है
    इसमैं सही हिसाब किताब तै
    किसे तजुरबेकार गेल
    ही काम चाल्लै
    सामयिक चिंतन खात्तर बधाई

    ReplyDelete
  5. इस समय सबसे बड़ी फ्रीडम है सेलिंग प्रेशर को झेल जाना।
    इस बीयर मार्केट में आप तब तक हारते नहीं, जब तक बेचते नहीं।
    शुतुरमुर्ग शायद बेस्ट आइकॉन है सामयिक स्ट्रेटेजी का।

    ReplyDelete
  6. बिल्कुल ठीक सलाह सही समय पर दे रहे हो ताऊ ! अपने देश में आकर यह बेचारे भी चौपट हो गए !
    :-)

    ReplyDelete
  7. सही समय पर सही सलाह

    ReplyDelete
  8. भाई ताउ इस मामले मै तो हम ताऊ ही है, मुझे नही पता इस बारे ओर ना ही कभी इच्छा हुयी, लेकिन फ़िरंगी शव्द बहुत अच्छा लगा, ओर इस लेख पर इस फ़िरंगी शवद ने चार चांद लग दिये.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  9. "dkaitee chod kr consultancy vo bhee free mey.....mazra kya hai..'

    regards

    ReplyDelete