आई लव यू थ्री ..!

ताऊ लद्दा को भैंस चराते चराते अग्रेंजी बोलने का शौक
चढ गया । और ताऊ को ठीक से हिन्दी भी नही
बोलनी आवै थी । पर क्या हो सकता है ? ताऊ कै दिमाग
मे आ गयी, तो आ गयी । बहुत दिन तो घर पर ही
प्रेक्टिस करता रहा, पर बात बणी नही । और ताऊ नै
ये पक्का इरादा कर लिया कि अग्रेंजी बोलना सीख के रहेगा ।
ताऊ बडा उदास हो रहा था । फ़िर किसी ने उसको बताया कि
पडोस के मोहल्ले मे एक मास्टरनी जी अग्रेंजी की क्लास
लेती है और बहुत जल्दी अग्रेंजी सिखा देती है । सो मेरा मट्टा,
ताऊ तो मास्टरनी के पास पहुंच लिया । और फ़ीस भी जमा करा दी ।
दो तीन महिने मे ताऊ थोडी बहुत अन्ग्रेजी की ऐसी तैसी करने
लग गया । इब एक दिन ताउ लद्दा के घर उसकी रिश्ते की
साली आयी हुयी थी । ताऊ क्लास से शाम को घर आया, और
अपनी साली पर अग्रेंजी का रौब झाडने के लिये बोला -
आइ लव यू ...रज्जो ।
साली भी पढी लिखी थी और अपने जीजा पर जान भी
छिडकती थी, सो जवाब मे बोली - जीजा, आइ लव यू टू..!
ताऊ लद्दा भी कहां चुप रहनै वाला था ? ताऊ बोल्या --
आइ लव यू थ्री ......!

Comments

  1. बहुत बढिया, लाजवाब पोस्ट

    ReplyDelete
  2. बहुत बढिया, लाजवाब पोस्ट

    ReplyDelete

Post a Comment