Powered by Blogger.

शेयर बाज़ार की महिमा

शेयर बाज़ार के लिए ये सप्ताह भी बहुत ही कमजोर रहा । इन्वेस्टर और दलाल दोनों ही मायूस है । पर सही में देखा जाए तो इस सप्ताह शेयर बाज़ार का नया इतिहास बना दीखता है। एक अहमदाबाद की कंपनी के भाव री-लिस्टिंग सौ रुपिये से शुरू होकर पचपन हज़ार तक सिर्फ़ घंटे दो घंटे में पहुँच गए । अब कोई इंदौर वाले अहमदाबाद वालों से कम पड़ रहे हैं क्या ? अगले ही दिन एक इंदौर की कंपनी के भाव सिर्फ़ ८० पैसे से शुरू हो कर ८०० रुपिये तक पहुँच गए। आपको क्या लगता है बिना ग्रोथ के ही शेयर इतना बढ़ सकता है क्या ? और यह देश के लिए गौरव की बात है।और यह सिद्ध होता है की हम कितने कुशल और मेहनती हैं। इन दोनों ही कंपनी के मालिकों और आपरेटरों को अम्बानी बन्धुवों से भी बड़े उद्योगपती का दरजा दिया जाना चाहिए । हमारे देश के लिए कितना बड़ा योगदान इन्होने किया है। सारा विश्व मंदी की मार झेल रहा है और भारतीय कंपनियों के शेयर इतने जोर से उछाले मार रहे हैं। लोग फोकट ही मंदी मंदी चिल्ला रहें हैं । इतनी तेजी घंटे दो घंटे मे किसी ने देखी है क्या ? आप को कमाई ही करनी थी तो इनके शेयर खरीदते ..... तुरंत मालामाल हो जाते. सही कहा है बुजुर्गों ने की हमेशा समझदार लोगो की संगत करनी चाहिये . पर निगुडकर साहेब की कोई सुने तब तो. अरे हमने नही सुनी आज तक तो और कोई क्या सुनेगा.

खैर जब निगुड्कर साहेब की बात निकली है तो आपको बता दू की निगुड्कर साहेब का वातानुकूलन यंत्र बीमार चल रहा है। और मैने मेकेनिक भेज दीया है। निगुड्कर साहेब अगर ठंडी हवा आने लगे तो हमको भी याद कर लेना । आपको ऐसे ऐसे फारमुले बतायेंगे की हमको याद रखोगे। इस हफ्ते की खास खबर ये रही की जायसवाल साहेब यहाँ हमारा साथ छोड्कर उडीसा के लिये उड़ान भर रहे हैं. भगवान बचाए ओडीसा और बिहार वालों को.... शुकलाजी देखना जरा ...... आप खुद ही समझदार है. और सर जी आपके क्या हालचाल हैं.आप यहाँ से छुटकारा पा के ये मत समझना की हमसे छुटकारा हो गया है . अब भी five स्टार नरक का ठेका हमारे ही पास है सो हमारे भी हालचाल पता करते रहना । वरना ऊपर तो अपना ही राज रहेगा. खैर ...... really I miss you. ----

आज और ज्यादा लिखने का मूड नही बन रहा है । पर कपूर साहेब और पंडीत जी के लिए एक हरयानावी

डोज तो देना ही पडेगा । थम चिंता मत करियो । ताऊ पे भरोसा रखियो । थमने डोज थोड़ी देर म मिल ज्यागा ।

अच्छा भाई तो इब राम राम । कल फिर मिलागे .

---------------------------------------------------------

1 comments: